Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

बालाकोट स्ट्राइक के 140 दिन बाद पाक ने भारत के लिए खोला एयरस्पेस….

Published

on

एयरस्पेस

फाइल फोटो

नई दिल्ली। बालाकोट एयर स्ट्राइक के 140 दिन बाद पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस को खोल दिया है। आज पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी ने तत्काल प्रभाव से भारत के सभी नागरिक यातायात के लिए अपने हवाई क्षेत्र को खोलने का आदेश दिया। जिसके अब भारतीय विमानों की पाकिस्तान के एयर स्पेस में आवाजाही शुरू हो जाएगी।

बता दें पुलवामा हमले के 14 दिन बाद 26 फरवरी को बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद  के आतंकी शिविर पर भारतीय वायु सेना द्वारा हवाई हमले किए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ पूर्वी सीमा पर अपना हवाई क्षेत्र पूरी तरह से बंद कर दिया था। ऐसे में पाक ने कहा था कि भारत जब तक अपने लड़ाकू विमानों को वायुसेना के एयरबेस से नहीं हटा लेता, तब-तक वह कमर्शियल उड़ानों के लिए अपना एयर-स्पेस नहीं खोलेगा।

जानकारी के मुताबिक 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मुहम्मद के आतंकियों द्वारा किए गए हमले के जवाब में भारत ने आतंकी ठिकानों पर हमला किया था। इस आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

ये भी पढ़े:बांग्लादेश के पूर्व राष्ट्रपति हुसैन मुहम्मद इरशाद का निधन

मार्च में पाकिस्तान ने आंशिक रूप से अपना हवाई क्षेत्र खोला था, लेकिन भारतीय विमानों को अपने हवाई क्षेत्र में उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी थी। पाकिस्तान के बैन के बाद सभी यात्री उड़ानों को भारत के वैकल्पिक मार्गों की ओर मोड़ दिया गया था। जिसकी वजह से एयरलाइनों पर ईंधन की लागत बढ़ गई थी। एयर स्पेस बंद होने का सबसे ज्यादा असर यूरोप से दक्षिण पूर्व एशिया की उड़ानों पर पड़ा था।

बता दें कि पिछले महीने पाकिस्तान ने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक की ऑफिशियल यात्रा के लिए पीएम मोदी को अपने हवाई क्षेत्र का उपयोग करने की अनुमति दी थी। जबकि पीएम मोदी ने पाक के एयर स्पेस का उपयोग न कर दूसरे रास्ते से जाने का फैसला लिया था।http://www.satyodaya.com

अंतरराष्ट्रीय

पति के बेइंतहा प्यार ने नर्क बना दिया जीवन, महिला ने मांगा तलाक

Published

on

नई दिल्ली। पति-पत्नी के बीच तलाक का मामला जितना पेचीदा होता है, इसकी वजहें उतनी ही हास्यास्पद। कहीं बच्चा चुप न करा पाने पर पत्नी को तलाक दे दिया जाता है तो कहीं दंपति की दलील होती है कि अब उनके बीच प्यार नहीं रहा। इसलिए वह अब अलग होना चाहते हैं। लेकिन संयुक्त अरब अमीरात में एक चौकाने वाला मामला सामना आया है, यहां एक महिला ने अपने पति से तलाक लेने के लिए जो दलील दी है वह हैरान करने वाली है।
महिला ने तलाक की अर्जी लगाते हुए कहा कि उसका पति उसे बेइंतहा प्यार करता है इसलिए वह तलाक लेना चाहती है। यूएई के इस दंपति के तलाक का मुद्दा सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। लोग महिला की इस दलील पर हैरान हैं।

खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार यहां एक शरिया कोर्ट में महिला ने तलाक की मांग करते हुए कहा कि उसका पति उसे बहुत प्यार करता है, वह उस पर न कभी नाराज होता है, न कभी चिल्लाता और न ही कभी उसे उदास होने देता है। पति के इतने प्रेम और स्नेह से उसका दम घुटता है। दोनों की शादी को अभी एक वर्ष हुआ है। महिला ने बताया कि उसका पति घर की सफाई में भी उसकी मदद करता है। जब मैं उससे नाराज होती हूं तो वह मुझे मनाने के लिए गिफ्ट लेकर आता है। महिला ने कहा कि उसने मेरा जीवन नर्क बना दिया है। मैं इतना परेशानी मुक्त जीवन नहीं जी सकती। महिला ने अपनी अर्जी कहा कि मैं एक झगड़े के लिए तड़प रही हूं लेकिन मेरा रोमांटिक पति मुझसे झगड.ा ही नहीं करता। मुझे ऐसा जीवन नहीं चाहिए जिसमें मेरा पति मुझ पर खुशियों की बरसात करे, मेरी हर आज्ञा का पालन करे।

यह भी पढ़ें-श्रीनगर सचिवालय की बिल्डिंग पर लहराया भारतीय तिरंगा

फिलहाल जज ने पति की मांग पर इस मामले को स्थगित कर दिया है। कोर्ट ने दंपति को सुलह समझौते का समय दे दिया है। युवक ने बताया कि उसकी कोई गलती नहीं बल्कि एक अच्छा पति बनने का प्रयास कर रहा था। एक साल में किसी शादी के बारे में निर्णय ले लेना सही नहीं है, हर इंसान अपनी गलतियों से सीखता है। तलाक का यह अनोखा मामला सोशल मीडिया पर बहस का मुद्दा बन गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

फिर भावुक हुए पीएम मोदी, कहा, मैं यहां हूं और वहां मेरा दोस्त अरुण चला गया…

Published

on

नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता, अधिवक्ता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के असमय निधन से पूरा देश दुखी है। अरुण जेटली का व्यवहार ऐसा था कि भाजपा ही नहीं बल्कि विरोधी दल के नेताओं के भी चहेते थे। उनके सहयोगी और उदार व्यक्तित्व के मुरीद राजनीति ही नहीं वकालत, क्रिकेट सहित अन्य क्षेत्रों में भी हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तो वह अनन्य मित्र और सहायक थे। लेकिन विडंबना रही कि पीएम मोदी अपने इस अजीज मित्र और सहयोगी से आखिरी बार न तो मिल सके और न ही अंतिम सफर में कुछ कदम साथ चल सके। अरुण जेटली के निधन की खबर के बाद पीएम मोदी भी काफी दुखी हैं।

रविवार को बहरीन में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब सभी लोग कृष्ण जन्मोत्सव बना रहे हैं, खुश हैं, उस समय मेरे भीतर एक शोक है। मैं अपने सीने में एक गहरा दर्द छिपाए हुए बैठा हूं। मोदी ने कहा कि सपनों को सजाया और सपनों को निभाया, ऐसा लंबा सफर जिस दोस्त के साथ पूरा किया, वो दोस्त अरुण जेटली आज इस दुनिया को छोड़कर चला गया। अरुण जेटली को याद करके भावुक हुए पीएम मोदी ने कहा, छात्र जीवन से जिस दोस्त के साथ सार्वजनिक जीवन का एक के बाद एक कदम मिलाकर चला। राजनीति की यात्रा साथ-साथ शुरू की। एक-दूसरे के साथ जुड़े रहना और साथ मिलकर जूझते रहना, सभी कुछ में हम साथ रहे, आज वह मेरा दोस्त चला गया।

बता दें कि भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को एम्स में निधन हो गया था। रविवार को दिल्ली में उनका अंतिम संस्कार किया गया। पीएम मोदी ने कहा, मैं कल्पना नहीं कर सकता हूं कि मैं इतनी दूर यहां बैठा हूं और वहां मेरा दोस्त अरुण अरुण चला गया। मोदी भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, इसी महीने में कुछ दिन पहले हमारी पूर्व विदेश मंत्री बहन सुषमा स्वराज चली गईं और आज मेरा दोस्त अरुण चला गया। मेरे लिए यह बड़ी दुविधा का पल है। मैं एक तरफ कर्तव्य भाव बंधा हुआ हूं और दूसरी तरफ दोस्ती का एक सिलसिला भावनाओं से भरा हुआ है। मैं बहरीन की धरती से भाई अरुण जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और उनको नमन करता हूं।

यह भी पढ़ें-बहरीन में 200 साल पुराने श्रीकृष्ण मंदिर का होगा पुनर्निमाण, मोदी ने किया शुभारंभ

इससे पहले शनिवार को यूएई में अरुण जेटली को याद करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि भाजपा और अरुण जेटली जी का अटूट रिश्ता रहा। एक छात्र नेता के रूप में आपातकाल के दौर में हमारे लोकतंत्र की रक्षा में वे सबसे आगे रहे। बाद में वह हमारी पार्टी के बहुत पसंदीदा चेहरा बने। मैंने एक मूल्यवान दोस्त खो दिया, जिसे दशकों तक जानने का मुझे सम्मान मिला। वह मुद्दों पर समझ और मामलों की बारीक जानकारी रखने वाली विशेषओं के धनी थे। हम उन्हें हमेशा याद रखेंगे। बता दें कि पीएम मोदी इस समय तीन देशों के दौरे पर हैं। इस बीच उन्हें फ्रांस में हो रहे जी-7 सम्मेलन में हिस्सा भी लेना है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

बहरीन में 200 साल पुराने श्रीकृष्ण मंदिर का होगा पुनर्निमाण, मोदी ने किया शुभारंभ

Published

on

नई दिल्ली। पीएम मोदी शनिवार को बहरीन पहुंचे। इस देश की यात्रा करने वाले पीएम मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। भारत में कृष्ण जन्मोत्सव के बीच बहरीन पहुंचे पीएम मोदी ने रविवार को यहां राजधानी मनामा में एक ऐतिहासिक कृष्ण मंदिर के पुनर्निमाण की परियोजना का शुभारंभ किया। भगवान श्रीकृष्ण का यह मंदिर 200 साल पुराना है, इस मंदिर के पुररुद्धार के लिए 42 लाख डाॅलर की परियोजना का शुभारंभ किया गया है। मनामा स्थित ऐतिहासिक श्रीकृष्ण मंदिर के 45 हजार वर्ग फुट क्षेत्र में तीन मंजिला भवन के साथ नवीनीकरण किया जाएगा। इससे पहले शनिवार को यहां पहुंचे पीएम मोदी ने वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच भारत और बहरीन के बीच मित्रता को मबजूत करने पर चर्चा हुई। इस मौके पर पीएम मोदी को बहरीन ने ‘द किंग हमाद ऑडर ऑफ द रिनेसन्स’ से सम्मानित किया। उन्होंने बहरीन के शाह हमाद बिन इसा अल खलीफा के साथ भी विभिन्न द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर बातचीत की।

इससे पहले शनिवार को यहां पहुंचे पीएम मोदी ने वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच भारत और बहरीन के बीच मित्रता को मबजूत करने पर चर्चा हुई। इस मौके पर पीएम मोदी को बहरीन ने ‘द किंग हमाद ऑडर ऑफ द रिनेसन्स’ से सम्मानित किया। उन्होंने बहरीन के शाह हमाद बिन इसा अल खलीफा के साथ भी विभिन्न द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर बातचीत की।

विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बहरीन के वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा इल खलीफा से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की। वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन के वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से मुलाकात की। उन्होंने खासकर व्यापारिक संबंधों और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के संदर्भ में दोनों देशों के बीच मित्रता मजबूत करने पर बातचीत की।

यह भी पढ़ें-एम्स में इलाज के दौरान जेटली ने अपने वेतन से मरीजों के लिए किया था ये काम, जानिए क्या….

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इन दिनों तीन देशों की यात्रा पर है। सबसे पहले पीएम मोदी पफ्रांस पहंुचे, फिर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और अब यात्रा के अंतिम चरण में बहरीन पहंुचे हैं। दोनों देशों में द्विपक्षीय वार्ता करने के बाद पीएम मोदी जी-7 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए फ्रांस के लिए रवाना हो गए हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 25, 2019, 9:43 pm
Thunderstorms
Thunderstorms
24°C
real feel: 25°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 100%
wind speed: 4 m/s E
wind gusts: 4 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:12 am
sunset: 6:04 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending