Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

पाक गृह मंत्री ने माना- ‘हम पाकिस्तान नहीं आतंकिस्तान हैं’

Published

on

नई दिल्ली। पूरी दुनिया यह बात कहती है आई है कि पाकिस्तान आतंक की फैक्ट्री है लेकिन अब पाक ने भी यह स्वीकार कर लिया है कि वो पाकिस्तान नहीं बल्कि आतंकिस्तान है। इतना ही नहीं उसने यह भी स्वीकार किया कि पाक की छवि एक गैर-जिम्मेदार राष्ट्र की है। यह बातें पाक के गृह मंत्री एजाज अहमद शाह ने एक चैनल को दिए गए इंटव्यू में कही हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन मौजूद हैं। दुनिया में कोई भी कश्मीर मुद्दे पर हमारा यकीन नहीं कर रहा है। हालांकि, उन्होंने कहा कि इमरान खान की सरकार में प्रतिबंधित आतंकी संगठनों पर कार्रवाई की जा रही है।

इंटरव्यू में पाक गृह मंत्री ने माना कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन मौजूद हैं। ये वही आतंकी हैं जिन्होंने अफगानिस्तान युद्ध में हिस्सा लिया और कश्मीर में हिंसा के जरिए अशांति फैलाई। आपको बता दें, पाक पीएम इमरान खान भी इस बात को स्वीकार कर चुके हैं कि पाकिस्तान में 30 से 40 हजार आतंकियों की ट्रेनिंग हुई है।

इसके साथ ही मंत्री एजाज खान ने कहा कि कश्मीर को लेकर पाकिस्तान लगातार बहुत कोशिश कर रहा है लेकिन दुनिया हमारा भरोसा नहीं कर रही है। उन्होंने कहा, ‘कश्मीर पर हम कह रहे हैं कि वहां कर्फ्यू लगाया गया, वहां लोगों को दवाइयां नहीं मिल रही हैं, लोग मारे जा रहे हैं, लेकिन दुनिया हम पर विश्वास नहीं कर रही। दुनिया हिंदुस्तान पर यकीन कर रही है। यह (किसी देश के पक्ष में अंतरराष्ट्रीय माहौल) एक दिन में नहीं बनता इसके लिए सालों लग जाते हैं।’

ये भी पढ़ें: लखनऊ विश्वविद्यालय के स्टूडेंट्स ने पेंटिंग बनाकर दिया डिजिटल इंडिया का संदेश

उन्होंने कहा कि दुनिया आज पाक का भरोसा इसलिए नहीं कर रही है क्योंकि रूलिंग इलीट क्लास ने इस मुल्क को तबाह कर दिया। दुनिया हमें एक गैर-जिम्मेदार राष्ट्र समझती है। जब पाक मंत्री से पूछा गया कि आखिर कौन है ये इलीट क्लास के लोग? जिया-उल-हक, बेनजीर भुट्टो, परवेज मुशर्रफ या इमरान खान का?  इसपर उन्होंने कहा सबका रोल है, सब जिम्मेदार हैं।http://www.satyodaya.com

अंतरराष्ट्रीय

खेलने-कूदने की उम्र में ये 9 साल का बच्चा लेगा इंजीनियरिंग की डिग्री, फिर करेगा Phd

Published

on

फाइल फोटो

नई दिल्ली। दुनिया में ऐसे कई बच्चों के बारे में सुना होगा जो ऐसा काम कर जाते हैं। जिसके बारे में सुनकर हैरान हो जाएंगे। सोचिए अगर आपके आस-पास कोई महज 5 साल का बच्चा रहता हो और उसके माता-पिता बोलें इसने 10 पास कर लिए तो आप हैरान हो जाएंगे। जी हां इसी तरह बेल्जियम में एक 9 साल का बच्चा इतनी कम उम्र में ग्रेजुएशन की डिग्री लेने वाला है। जिसके बारे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। यह बच्चा डिग्री को हासिल करने के लिए वह पूरी तरह से तैयार है। ऐसे में चलिए जानते हैं कौन हैं ये बच्चा और क्या है इसका आगे का प्लान। बेल्जियम में रहने वाले इस बच्चे का नाम लॉरेंट सिमोंस  हैं। वह आइंडहोवन यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (TUE) में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है।

9 साल के बच्चे के लिए इंजीनियर जैसा कोर्स काफी मुश्किल है, लेकिन लॉरेंट दिसंबर में इस कोर्स को कंप्लीट करके इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल कर लेगा। लॉरेंट इंजीनियरिंग की डिग्री लेने के बाद प्लान पीएचडी करने का है। जबकि उनके पिताजी ने बताया कि वह मेडिकल भी डिग्री लेना चाहता है।

लॉरेंट के माता- पिता ने कहा जब ये पैदा हुआ था तो उनके दादा- दादी ने कहा कि हमें भगवान ने बेटे के रूप में तोहफा दिया है। जब स्कूल में पढ़ने के दौरान शिक्षकों ने लॉरेंट की तारीफ की तो हमें भी लगने लगा कि इस बच्चे में कुछ अलग बात है। शिक्षकों ने लॉरेंट में बहुत कुछ खास देखा।

लॉरेंट के माता- पिता से लेकर शिक्षक सब हैरान थे कि इतनी कम उम्र का बच्चा पढ़ने में इतना ज्यादा तेज कैसे हो सकता है। ऐसे में उनकी मां ने बताया कि “जब ये पैदा होने वाला था तो मैंने मछली खूब खाई थी।”

जानकारी के मुताबिक इतनी कम उम्र में अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के लिए लॉरेंट को आइंडहोवन प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय  से अनुमति मिल गई है। वहीं टीयूई स्नातक की डिग्री के शिक्षा निदेशक सॉज़र्ड हल्शोफ़ ने कहा कि “यह असामान्य नहीं है,”।

उन्होंने कहा “लॉरेंट सभी बच्चों में सबसे तेज स्टूडेंट हैं।जिसे हमने कभी यहां रखा है,” वह  न केवल बुद्धिमान है, बल्कि एक बहुत ही सहानुभूति वाला लड़का भी है।”

ये भी पढ़ें:बेहद 2: बेइंतहा प्यार के बाद अब माया करेगी नफरत की सारी हदें पार, देखें टीजर…

लॉरेंट से जब उसके पसंदीदा विषय के बारे में बात की गई तो उसने बताया इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग उसका फेवरेट सब्जेक्ट है और वह आगे जाकर मेडिसिन के बारे में पढ़ना चाहता है। उनके पिता ने कहा ये वक्त लॉरेंट का अपनी नॉलेज को बढ़ाने और नई चीजों कि डिस्क्राइब करने का है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

डायल 112 ने दुबई पुलिस अवार्ड-2019 में बनाया तीसरा स्थान, मिला अवार्ड

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की इमरजेंसी पुलिस सेवा डायल 112 को यूएई में सम्मानित किया गया है। दुबई सरकार और दुबई पुलिस एवं अवाया के संयुक्त तत्वधान में पहली बार आयोजित इंटरनेशनल कॉल सेंटर अवार्ड समारोह में डायल 112 ने पुलिस श्रेणी में तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रथम स्थान पर सिंगापुर पुलिस और दूसरे स्थान पर शारजाह पुलिस रही। इस अवसर पर दुबई पुलिस के ब्रिगेडियर जरनल डॉटर अब्दुल्ला अब्दुल रहमान युसूफ बिन सुल्तान ने अवार्ड प्रदान किया। प्रतियोगिता मैं पुलिस श्रेणी में विश्व भर से कुल 500 से अधिक पुलिस संस्थाओं ने भाग लिया।

अवार्ड समारोह में संयुक्त राज्य अमेरिका 911, ऑस्ट्रेलिया 102 और यूरोप 112 ने भी हिस्सेदारी की। अवार्ड लेते हुए डीजीपी ओपी सिंह ने कहा, यह पुरुस्कार हमें नागरिक सुविधाओं में और सुधार करने के लिए प्रोत्साहित करता है। हम आधुनिक टेक्नोलॉजी और परिश्कृत प्रक्रिया द्वारा कानून का राज स्थापित करने के लिए और अच्छे प्रयास करेंगे। डायल 112 को यह अवार्ड गस्त, कॉल पर तत्काल कार्यवाही, रिस्पांस टाइम, नागरिकों का पंजीकरण सहित बेहतर सेवाओं के लिए मिला है।

यह भी पढ़ें-पीएफ घोटालाः तत्कालीन सचिव पीके गुप्ता का बेटा अभिनव गुप्ता भी गिरफ्तार

डायल 112 प्रभारी असीम अरुण ने कहा, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह पुरस्कार पाना उत्तर प्रदेश पुलिस के लिए अत्यंत गर्व का विषय है। इसका श्रेय 112 में कार्य कर रहे हजारों कर्मियों को जाता है। जिनकी दिन-रात की मेहनत की वजह से बेहतर रिस्पांस टाइम और नागरिक सुविधाएं मिल पा रही हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ट्रम्प बोले, अमेरिका तक पहुंच रही भारत की गंदगी, चीन-रूस पर भी बोला हमला

Published

on

लखनऊ। व्यापार और रोजगार को लेकर भारत की आलोचना करने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर भारत पर निशाना साधा है। टंप ने अमेरिकी शहरों में बढ़ती प्रदूषण की समस्या के लिए भारत समेत अन्य देशों पर तीखी टिप्पणी की है। ईकोनाॅमिक क्लब ऑफ न्यूयार्क में लोगों को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, भारत, चीन और रूस की गंदगी लाॅस एजेंलिस तक पहुंच रही है। क्षेत्रफल और जनसंख्या की तुलना में अमेरिका से काफी बड़े ये देश सफाई-स्वच्छता और धुआ रोकने के लिए कोई प्रयास नहीं कर रहे हैं।

भारत और चीन अपनी गंदगी में समंदर में डाल रहे हैं जो बहकर लाॅस एंजेलिस तक पहुंच रही है। अपने संबोधन में टंप कथित ग्रेट पैसिफिक गार्बेज पैच (जीपीजीपी) का हवाला दे रहे थे। कहा जाता रहा है कि नौवाहनों की यह गंदगी समंदर के जरिए अमेरिका के हवाई और कैलिफोर्निया तक पहुंच रही है। इस गंदगी में फैक्टियों से निकली प्लास्टिक और केमिकल होते हैं। हालांकि कई विशेषज्ञों का कहना है कि यह गंदगी भारत नहीं बल्कि चीन, वियतनाम, इंडोनेशिया, थाईलैंड और फिलीपींस से पहुंच रही है। जीपीजीपी का प्राथमिक स्त्रोत भारत नहीं है। ट्रंप ने अपने संबोधन में अमेरिका को जमीन का छोटा टुकड़ा बताया है जबकि यह दुनिया का चैथा सबसे बड़ा देश है। अमेरिका, भारत से चार गुना बड़ा है।

यह भी पढ़ें-SC ने कहा- सीजेआई पब्लिक अथॉरिटी, आरटीआई के दायरे में होगा ऑफिस

यह पहली बार नहीं है जबकि ट्रंप ने प्रदूषण को लेकर भारत पर हमला बोला है। इससे पहले जून महीने में भी ट्रम्प ने भारत की आलोचना की थी। तब अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था, भारत, रूस और चीन जैसे दुनिया के बड़े देशों में हवा और पानी दोनों प्रदूषित हो चुके हैं। यह देश विश्व पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा रहे हैं। ट्रंप ने कहा था, इन देशों में प्रदूषण और सफाई को लेकर कोई सोच नहीं है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 17, 2019, 5:41 am
Mostly clear
Mostly clear
17°C
real feel: 18°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 96%
wind speed: 2 m/s WSW
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:57 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending