Connect with us

अर्थात- यथार्थ

रोचक चुनावी कथाएं!!

Published

on

-अनूप मणि त्रिपाठी 

(1)

ट्रेन आने वाली थी, जोकि पिछले चार घण्टे से आए जा रही थी। ऐसे में उसने टाइम पास की गरज से अपने को तौलने की सोची। वह खड़ा हो गया मशीन पर। उसमें से एक टिकट निकला। जिसमें एक तरफ उसका वजन पांच सौ किलो अंकित था और दूसरी तरफ ‘आप के अच्छे दिन आ गए हैं। आप का दिन शुभ हो!’ अंकित था।

उसे देखकर वो चौंका। वह मुश्किल से पचास किलो होगा और कहां ये मशीन पांच सौ बता रही है। न तो उसकी खुराक बढ़ी है, न तो उसकी तनख्वाह! कहीं थायराइड तो नहीं हो गया! उसे शंका हुई।

उसने फिर से सिक्का डाला और खुद को तौलने के लिए मशीन को समर्पित किया। नतीजा इस बार भी पांच सौ वाला ही निकला। इस बार वह मुस्कुराया। उसने सोचा कि मशीन भले ही खराब हो मगर परिणाम उसका एक ही आ रहा है।

उस का मन अभी भी नहीं माना। उसने एक बार खुद को तौला। मशीन से बाहर टिकट निकला जिस पर इस बार वजन के साथ कुछ और भी लिखा हुआ था,’ आप बार बार खुद को न तौले। आपका मौजूदा समय में वजन पांच सौ किलो ही है। आप का वजन दरसअल इसलिए बढ़ा गया है, क्योंकि देश में चुनाव चल रहा है। धन्यवाद।’

(2)

‘मां कर ली!’

‘रुक अभी!’

‘मां! मां!’

‘बोला न बैठा रह अभी!’

‘अब नहीं आ रही! हो चुकी है सारी…क्या करूं!’

‘अरे बेटा! बस थोड़ा सा सब्र कर!’

अब पति से नहीं रहा गया। वह गुस्से से बोल पड़ा,‘जब उसने कर ली है तो जा कर क्यों नहीं धुलवा देती हो!’

‘ वोट मांगते हुए अभी कोई न कोई नेता आ धमकता ही होगा!’

यह सुनते ही पति का गुस्सा शांत हो गया।

(3)

कल रात उसकी झोपड़ी में नेता जी ने खाना खाया। इतना ही नहीं बल्कि उसके साथ खाया। अगले दिन अखबार में उसकी फोटो छपी, जिसे देखकर वह गदगद हो गया। वह अखबार लेकर निकल पड़ा। उसे जो-जो मिलता उसे वह बहुत उत्साह के साथ दिखाता। अधिकांश लोगों की प्रतिक्रिया ‘वाह अपना जुमई बड़ा आदमी हो गया अब तो!’ रही।

वह अखबार दिखाते-दिखाते अपनी प्रंशसा पाते-पाते आखिकार उस जगह पर पहुंच गया जहां के लिए वह निकला था। लाला की दुकान पर पहुंचते ही उसने लाला के सामने अखबार बढ़ा दिया। लाला ने जिसे बहुत ध्यान से देखा। इसका परिणाम सुखद निकला। आज यह पहली बार हुआ था कि लाला ने बिना जली-कटी सुनाए हुए उधारी का राशन दे दिया था।

(4)

सभागार में नेता जी का धाराप्रवाह भाषण चल रहा था कि तभी भूकंप आ गया। सभी लोग आनन-फानन में सभागार के बाहर भागने लगे। कुछ ने भूंकप आने का कारण नेता जी के भाषण को दिया। लेकिन मन ही मन। नेता जी पूरी तेजी के साथ भागे। मगर उनके भागने में एक बात हो गई। मारे हड़बड़ी के वह कुर्सी उठाकर भागे।

खैर,कुछ देर बात खतरा टल गया। जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ। जब सारी स्थिति समान्य हो गई तब नेता जी को सहसा एहसास हुआ कि वह गफलत में सभागार के बाहर अपने साथ कुर्सी ही उठा लाए। अब वह परेशान हो गए। चुनाव का समय। विरोधियों को अगर यह बात पता चल गई तो मजाक बनाएंगे और मीडिया की तो खैर पूछो मत! अब क्या किया जाए! नेता जी ने फौरन एक पहुंचे हुए ‘अपने आदमी’ को फोन मिलाया। जो उनकी सभी खबरों को मैनेज करता था और इसके साथ अन्य चैनल-अखबारों को भी। उसने नेता जी को बेफिक्र होने का इतना आश्वासन दिया, जितना नेता जी ने अभी तक जनता से वादा भी न किया होगा। नेता जी बहुत उलझनों के साथ घर पहुंचे। डरते हुए टीवी चलाया। वहां उनकी कोई खबर नहीं थी। अगली सुबह कुछ झिझकते हुए घर में आए हुए अखबारों को एक एक करके उठाया, वहां भी उनकी खबर नादारत थी। सिर्फ एक अखबार में इस घटना का जिक्र मात्र था जिसका शीर्षक इस प्रकार से दिया गया था…

‘भाषण के दौरान आया भूंकप, नेता जी जान हथेली पर लेकर भागे’

(5)

नेता जी पेट के बल लेटे हुए पीठ सहित कमर की मालिश करावा रहे थे तभी उनका साला आ गया। आते ही बोला,‘मिस्त्री कह रहा था कि गाड़ी के शॉकर बदलने पडे़ंगे…और कोई चारा नहीं है!’ नेता जी कछुए की तरह अपना सिर खींचते हुए बोले, ‘यार! तब तो लंबा खर्चा बैठेगा! अभी तो स्याला अपने निर्वाचन क्षेत्र में अपन लोग एक ही बार प्रचार करने गए हैं!!!’ उनका साला इस पर कुछ बोलता कि नेता जी के मुंह से जोर की एक ‘हाय!’ निकली। जिस वक्त नेता जी के मुंह से हाय निकली ठीक उसी वक्त मालिश वाले का हाथ पीठ से फिसल कर उनकी कमर पर आ गया था।  http://www.satyodaya.com

अर्थात- यथार्थ

14 फरवरी राशिफल: इस वैलेंटाइन डे अपनाएं ये ज्योतिषीय टिप्स, प्यार होगा मुकम्मल

Published

on

इस वैलेंटाइन डे अपने लव पार्टनर को समझिए। अगर आपने अपने लव पार्टनर को समझ लिया तो फिर आपका प्यार मुकम्मल होगा। इस वैलेंटाइन को आप बहुत ही शानदार बनाने में कामयाब होंगे। आइए चंद्र राशि से जानते हैं प्रेम के मामले में कैसी होती हैं फीमेल पार्टनर..

राशि फलादेश मेष :- (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
पुराने मित्र व संबंधी मिलेंगे। अच्‍छी खबर मिलेगी। प्रसन्नता रहेगी। जोखिम न लें। लाभ होगा। कार्यपद्धति में विश्वसनीयता बनाएं रखें। आर्थिक अनुकूलता रहेगी। रुका धन मिलने से धन संग्रह होगा। राज्यपक्ष से लाभ के योग हैं। नई योजनाओं की शुरुआत होगी।

राशि फलादेश वृष :- (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। कार्य पूर्ण होंगे। आय बढ़ेगी। मनोरंजक यात्रा होगी। प्रसन्नता रहेगी। सहयोगी मदद नहीं करेंगे। व्ययों में कटौती करने का प्रयास करें। परिवार में प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। व्यापार के कार्य से बाहर जाना पड़ सकता है।

राशि फलादेश मिथुन :- (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
शोक समाचार मिल सकता है। काम में मन नहीं लगेगा। विवाद से बचें। मेहनत अधिक होगी। आवास संबंधी समस्या हल होगी। आलस्य न करें। सोचे काम समय पर नहीं हो पाएंगे। व्यावसायिक चिंता रहेगी। संतान के व्यवहार से कष्ट होगा।

राशि फलादेश कर्क :- (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। प्रसन्नता रहेगी। धनार्जन होगा। रोजगार में उन्नति एवं लाभ की संभावना है। लाभदायक समाचार मिलेंगे। सामाजिक एवं राजकीय ख्याति में अभिवृद्धि होगी। व्यापार अच्छा चलेगा।

यह भी पढ़ें: विपक्ष ने राज्यपाल के अभिभाषण को बताया झूठ का पुलिंदा, किया विरो

राशि फलादेश सिंह :- (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)

संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। प्रसन्नता बनी रहेगी। व्यापार में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कार्य के विस्तार की योजनाएं बनेंगी। स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही न करें। पठन-पाठन में रुचि बढ़ेगी।

राशि फलादेश कन्या :- (ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। कार्यों में विलंब से चिंता होगी। मानसिक उद्विग्नता रहेगी। पारिवारिक जीवन संतोषप्रद रहेगा।

राशि फलादेश तुला :- (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
चोट व रोग से बचें। जल्दबाजी से हानि होगी। दूसरों पर विश्वास हानि देगा। कार्य में बाधा होगी। पत्नी से आश्वासन मिलेगा। स्वयं के निर्णय लाभप्रद रहेंगे। मानसिक संतोष, प्रसन्नता रहेगी। नए विचार, योजना पर चर्चा होगी। दूसरों की नकल न करें।

राशि फलादेश वृश्चिक :- (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
तंत्र-मंत्र में रुचि बढ़ेगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। निवेश शुभ रहेगा। बाहरी सहायता से काम होंगे। ईश्वर में रुचि बढ़ेगी। कामकाज की अनुकूलता रहेगी। व्यावसायिक श्रेष्ठता का लाभ मिलेगा। आपसी संबंधों को महत्व दें। पूंजी संचय की बात बनेगी।

राशि फलादेश धनु :- (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
वरिष्ठ जन सहायता करेंगे। रुके कार्यों में गति आएगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। रोजगार बढ़ेगा। सतर्कता से कार्य करें। संतान के व्यवहार से सामाजिक प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है। व्यापार में नए अनुबंध आज नहीं करें। आर्थिक तंगी रहेगी।

राशि फलादेश मकर :- (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
रुका हुआ धन मिल सकता है। निवेश शुभ रहेगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। स्वयं के ही प्रयासों से जनप्रियता एवं मान-सम्मान मिलेगा। रुका काम समय पर पूरा होने से आत्मविश्वास बढ़ेगा। व्यवसाय लाभप्रद रहेगा, नई योजनाएं बनेंगी।

राशि फलादेश कुंभ :- (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
अप्रत्याशित खर्च होंगे। तनाव रहेगा। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। वस्तुएं संभालकर रखें। जोखिम न लें। नए संबंधों के प्रति सतर्क रहें। भूल करने से विरोधी बढ़ेंगे। कार्यक्षेत्र का विकास एवं विस्तार होगा। उपहार मिल सकता है। संतान की चिंता दूर होगी।

राशि फलादेश मीन :- (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। वरिष्ठ जन सहायता करेंगे। अप्रत्याशित लाभ होगा। यात्रा होगी। व्यावसायिक अथवा निजी काम से सुखद यात्रा हो सकती है। पठन-पाठन में रुचि बढ़ेगी। दूसरों से न उलझें। आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अर्थात- यथार्थ

6 फरवरी राशिफल: जानिए किन राशियों के लिए शुभ रहेगा आज का दिन

Published

on

राशि फलादेश मेष :- (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
पुराने मित्र व संबंधी मिलेंगे। अच्‍छी खबर मिलेगी। प्रसन्नता रहेगी। जोखिम न लें। लाभ होगा। कार्यपद्धति में विश्वसनीयता बनाएं रखें। आर्थिक अनुकूलता रहेगी। रुका धन मिलने से धन संग्रह होगा। राज्यपक्ष से लाभ के योग हैं। नई योजनाओं की शुरुआत होगी।

राशि फलादेश वृष :- (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। कार्य पूर्ण होंगे। आय बढ़ेगी। मनोरंजक यात्रा होगी। प्रसन्नता रहेगी। सहयोगी मदद नहीं करेंगे। व्ययों में कटौती करने का प्रयास करें। परिवार में प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। व्यापार के कार्य से बाहर जाना पड़ सकता है।

राशि फलादेश मिथुन :- (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
शोक समाचार मिल सकता है। काम में मन नहीं लगेगा। विवाद से बचें। मेहनत अधिक होगी। आवास संबंधी समस्या हल होगी। आलस्य न करें। सोचे काम समय पर नहीं हो पाएंगे। व्यावसायिक चिंता रहेगी। संतान के व्यवहार से कष्ट होगा।

राशि फलादेश कर्क :- (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। प्रसन्नता रहेगी। धनार्जन होगा। रोजगार में उन्नति एवं लाभ की संभावना है। लाभदायक समाचार मिलेंगे। सामाजिक एवं राजकीय ख्याति में अभिवृद्धि होगी। व्यापार अच्छा चलेगा।

यह भी पढ़ें: वेब मीडिया नीति में संशोधन, 50,000 हिट्स वाली वेबसाइट का होगा पंजीकरण

राशि फलादेश सिंह :- (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)

संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। प्रसन्नता बनी रहेगी। व्यापार में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कार्य के विस्तार की योजनाएं बनेंगी। स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही न करें। पठन-पाठन में रुचि बढ़ेगी।

राशि फलादेश कन्या :- (ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। कार्यों में विलंब से चिंता होगी। मानसिक उद्विग्नता रहेगी। पारिवारिक जीवन संतोषप्रद रहेगा।

राशि फलादेश तुला :- (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
चोट व रोग से बचें। जल्दबाजी से हानि होगी। दूसरों पर विश्वास हानि देगा। कार्य में बाधा होगी। पत्नी से आश्वासन मिलेगा। स्वयं के निर्णय लाभप्रद रहेंगे। मानसिक संतोष, प्रसन्नता रहेगी। नए विचार, योजना पर चर्चा होगी। दूसरों की नकल न करें।

राशि फलादेश वृश्चिक :- (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
तंत्र-मंत्र में रुचि बढ़ेगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। निवेश शुभ रहेगा। बाहरी सहायता से काम होंगे। ईश्वर में रुचि बढ़ेगी। कामकाज की अनुकूलता रहेगी। व्यावसायिक श्रेष्ठता का लाभ मिलेगा। आपसी संबंधों को महत्व दें। पूंजी संचय की बात बनेगी।

राशि फलादेश धनु :- (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
वरिष्ठ जन सहायता करेंगे। रुके कार्यों में गति आएगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। रोजगार बढ़ेगा। सतर्कता से कार्य करें। संतान के व्यवहार से सामाजिक प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है। व्यापार में नए अनुबंध आज नहीं करें। आर्थिक तंगी रहेगी।

राशि फलादेश मकर :- (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
रुका हुआ धन मिल सकता है। निवेश शुभ रहेगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। स्वयं के ही प्रयासों से जनप्रियता एवं मान-सम्मान मिलेगा। रुका काम समय पर पूरा होने से आत्मविश्वास बढ़ेगा। व्यवसाय लाभप्रद रहेगा, नई योजनाएं बनेंगी।

राशि फलादेश कुंभ :- (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
अप्रत्याशित खर्च होंगे। तनाव रहेगा। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। वस्तुएं संभालकर रखें। जोखिम न लें। नए संबंधों के प्रति सतर्क रहें। भूल करने से विरोधी बढ़ेंगे। कार्यक्षेत्र का विकास एवं विस्तार होगा। उपहार मिल सकता है। संतान की चिंता दूर होगी।

राशि फलादेश मीन :- (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। वरिष्ठ जन सहायता करेंगे। अप्रत्याशित लाभ होगा। यात्रा होगी। व्यावसायिक अथवा निजी काम से सुखद यात्रा हो सकती है। पठन-पाठन में रुचि बढ़ेगी। दूसरों से न उलझें। आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अर्थात- यथार्थ

राशिफल: जानिए किन राशियों के लिए शुभ रहेगा बुधवार

Published

on

राशि फलादेश मेष :- (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
प्रयास सफल रहेंगे। कार्य को सुचारु रूप से पूर्ण कर पाएंगे। कार्य की प्रशंसा होगी। मित्र व संबंधियों का सहयोग मिलेगा। मान-सम्मान मिलेगा। झंझटों में न पड़ें। बेचैनी रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। बड़ा कार्य करने का मन बनेगा। लाभ होगा।

राशि फलादेश वृष :- (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
घर में अतिथियों का आगमन होगा। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। किसी मांगलिक कार्य की योजना बनेगी। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। मान बढ़ेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। आय में वृद्धि होगी। सेहत कमजोर रहेगी।

राशि फलादेश मिथुन :- (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। पार्टनरों से सहयोग प्राप्त होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। सट्टे व लॉटरी से दूर रहें। व्यस्तता रहेगी। पारिवारिक चिंता रहेगी।

यह भी पढ़ें: प्रदेश के 9 और जनपदों में नागरिक सुरक्षा यूनिट खोलेगी योगी सरका

राशि फलादेश कर्क :- (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
मेहनत अधिक होगी। किसी अपने के व्यवहार से स्वाभिमान को ठेस पहुंचेगी। फिजूलखर्ची होगी। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। तनाव रहेगा। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। जल्दबाजी न करें।

राशि फलादेश सिंह :- (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा लाभदायक रहेगी। बड़ा काम करने का मन बनेगा। झंझटों से दूर रहें। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। व्यस्तता रहेगी। घर-परिवार का सहयोग मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। प्रमाद न करें।

राशि फलादेश कन्या :- (ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। योजना फलीभूत होगी। नया काम प्रारंभ करने का मन बनेगा। छोटे भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। उत्साह व प्रसन्नता बने रहेंगे। नए अनुबंध हो सकते हैं। तत्काल लाभ नहीं होगा। जल्दबाजी न करें। आय बढ़ेगी। जोखिम न लें।

राशि फलादेश तुला :- (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
पूजा-पाठ में मन लगेगा। सत्संग का लाभ मिलेगा। देव-दर्शन की योजना बनेगी। राजकीय बाधा दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। सामाजिक कार्य करने का अवसर मिलेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में वृद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। जोखिम लेने का साहस कर पाएंगे। प्रमाद न करें।

राशि फलादेश वृश्चिक :- (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
वाहन व मशीनरी के प्रयोग में लापरवाही न करें। विवाद को बढ़ावा न दें। मेहनत अधिक होगी। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। कीमती वस्तुएं गुम हो सकती है। कुसंगति से बचें। वरिष्ठजनों की सलाह मानें। लाभ होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। जोखिम न उठाएं।

राशि फलादेश धनु :- (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
दांपत्य जीवन सुखमय होगा। राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। आय में वृद्धि होगी। मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। घर-बाहर मांगलिक कार्य हो सकता है। प्रसन्नता रहेगी। दूसरों की बातों में न आएं। लेन-देन में सावधानी रखें। लाभ होगा।

राशि फलादेश मकर :- (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। रोजगार मिलेगा। परीक्षा व प्रतियोगिता आदि में सफलता प्राप्त होगी। भाग्य का साथ रहेगा। कई दिनों से अटके काम अब पूर्ण होंगे। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। विवाद को बढ़ावा न दें।

राशि फलादेश कुंभ :- (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। मित्र व संबंधियों का सहयोग व मार्गदर्शन मिलेगा। कार्य का विस्तार हो सकता है। जरूरी कागजों को ध्यान से पढ़ें।

राशि फलादेश मीन :- (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
किसी के अनुचित व्यवहार से स्वाभिमान को ठेस पहुंच सकती है। विवाद को बढ़ावा न दें। दु:खद समाचार मिल सकता है। दूसरों से अपेक्षा न करें। स्वयं का कार्य खुद करें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। व्यवसाय लाभदायक रहेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 18, 2020, 9:19 pm
Clear
Clear
18°C
real feel: 18°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 63%
wind speed: 0 m/s SW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:11 am
sunset: 5:30 pm
 

Recent Posts

Trending