Connect with us

प्रदेश

बुलंदशहर में रोडवेज बसों की आमने-सामने की टक्कर, तीन की मौत, 50 लोग घायल

Published

on

लखनऊ। दिल्ली से बदायूं जा रही रोडवेज की एक बस और सामने से आ रही दूसरी रोडवेज बस की बुलंदशहर में टक्कर हो गयी। इस दुर्घटना में तीन यात्रियों की मौत हो गयी जबकि 50 यात्री गंभीर रूप घायल हो गए। जानकारी के अनुसार जनपद बुलंदशहर के थाना सलेमपुर चिट्ठा में दिल्ली से बदायूं की ओर जा रही रोडवेज की बस सामने से आ रही रोडवेज बस से भिड. गयी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि दोनों बसों के परखच्चे उड. गए। इस हादसे में तीन यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि करीब 50 लोग घायल हैं। घायलों में से 10 लोगों की हालत गंभीर बतायी जा रही है। पुलिस ने मृतकों के शव पोस्टमार्ट्म के लिए भेज दिए हैं। टक्कर के बाद बसें सड.क किनारे खाईं में गिर गईं। हादसे के बाद स्थानीय लोगों ने बचाव कार्य शुरू करने के साथ पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने सभी घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया है। हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के आरोप है कि रोडवेज बस के ड्राइवर पर शराब के नशे में घुत थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मुख्यमंत्री ने शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद बुलंदशहर में एक सड़क दुर्घटना में तीन लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। सीएम योगी ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को इस हादसे में घायल हुए लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं।http://www.satyodaya.com

देश

पीएम मोदी ने किया युवा सांसदों से मुलाकात, कहा राजनीति के साथ सामाजिक कामों में भी दें योगदान

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोबारा कार्यभार संभालने के बाद लगातार सांसदों के ग्रुप से मिल रहे हैं. इसी क्रम में पीएम मोदी ने गुरुवार को युवा सांसदों के समूह से नाश्ते पर मुलाकात की। अपने आवास पर मुलाकात के वक़्त पीएम ने सभी सांसदों से कई अहम मुद्दों पर चर्चा की।

सुबह प्रधानमंत्री ने अपने निवास पर करीब 40 युवा सांसदों से मुलाकात की। वहीं पीएम ने सभी सांसदों का परिचय जाना। पीएम ने सांसदों से पूछा की वे राजनीति के अलावा और क्या-क्या करते हैं। पीएम ने सांसदों के जरिए किए गए सामजिक कामों के बारे में जाना। पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि वे जनता के सामने अपने सामाजिक कामों को लेकर आएं।

यह भी पढ़ें: योग कर रहे लोगों को कार ने कुचला, छह की मौत

पीएम ने कहा कि राजनीति के अलावा सांसद सामजिक कामों में अपना योगदान दें। प्रधानमंत्री से मुलाकात के लिए सांसदों को 7 ग्रुप में बांटा गया था। सांसदों को युवा, एसटी-एससी, ओबीसी, महिला और अन्य वर्गों में बांटा गया था। मुलाकात में आसानी के लिए सांसदों को अलग-अलग ग्रुप में बांटा गया था। http://WWW.SATYODAYA.COM

Continue Reading

देश

स्टूडेंट बिना कॉलेज गए नहीं दे पाएंगे परीक्षा, लगेगी बायोमैट्रिक उपस्थिति

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ । कॉलेज से मिलकर अपनी अनुपस्थित को उपस्थिति में दर्ज कराने वाले विद्यार्थीयों का ये गेम अब नही चलेगा । उपस्थिति दर्ज करवाने में हो रहे खेल को लेकर लगातार मिल रही शिकायतों के बाद अब राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने बीएड, बीटीसी, डीएलएड व एमएड कोर्सेज की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के लिए बायोमीट्रिक उपस्थिति अनिवार्य कर दी है

सभी शिक्षक शिक्षण संस्थानों को निर्देश दिए गए हैं कि वह 30 दिन के अंदर अपने यहां बायोमैट्रिक की वयवस्था करें। यही नही सभी शिक्षण संस्थानों को उपस्थिति का ब्योरा अपनी वेबसाइट पर हर हफ्ते ऑनलाइन करना अनिवार्य होगा। एनसीटीई की विशेष सेल इसकी निगरानी करेगी। 

बीएड, बीटीसी जैसे कोर्सेज चला रहे अध्यापक शिक्षा संस्थानों में उपस्थिति दर्ज करने की कोई फूलप्रूफ व्यवस्था नहीं है। नियम के अनुसार 200 दिन की पढ़ाई एक शैक्षिक सत्र में होना अनिवार्य है। प्रैक्टिकल के कार्य में 90 फीसद और थ्योरी की कक्षाओं 75 फीसद उपस्थिति अनिवार्य है, मगर उपस्थिति के नाम पर खिलवाड़ हो रहा है।

यह भी पढ़ें: लता दीदी ने धोनी से कहा- देश को आपकी जरूरत है माही, रिटायरमेंट की सोचना भी मत

यूपी में भी करीब पांच हजार से अधिक डिग्री कॉलेजों व अध्यापक शिक्षा संस्थानों में बीएड, बीटीसी, एमएड, बीएलएड आदि कोर्सेज में करीब पांच लाख विद्यार्थी पढ़ते हैं। एनसीटीई के मेंबर सेक्रेट्री संजय अवस्थी की ओर से सभी संस्थानों को निर्देश भेजे गए हैं कि वह बायोमैट्रिक उपस्थिति दर्ज करने की व्यवस्था करें। अगर संस्थानों ने विद्यार्थियों की बायोमीट्रिक उपस्थिति दर्ज करने की व्यवस्था नहीं की तो उनकी मान्यता खत्म कर दी जाएगी।http://WWW.SATYODAYA.COM

Continue Reading

प्रदेश

‘मेरी बेटी अपने निर्णय लेने के लिये आजाद है’, वायरल वीडियो पर आया विधायक पप्पू भरतौल का बयान

Published

on

लखनऊ। बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी ने एक वीडियो जारी कर अपने पिता पर धमकाने का आरोप लगाया था। साक्षी ने कहा था कि उसने एक दलित युवक से शादी कर ली है जिसकी वजह से उसे और लड़के के परिवार को परेशान किया जा रहा है। गुरूवार को बीजेपी विधायक ने कहा है कि उनकी बेटी बालिग है और अपने पसंद के लड़के से शादी करने के लिये आजाद है।

यूपी के बरेली जिले की चैनपुर सीट से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ने कहा कि, उन्होंने कोई धमकी नहीं दी है और उनकी बेटी अपने निर्णय लेने के लिये स्वतंत्र है।

विधायक मिश्रा बोले कि, ”मेरे खिलाफ मीडिया में जो चल रहा है यह सब गलत है बेटी बालिग है, उसको निर्णय लेने का अधिकार है, मैंने किसी को कोई जान से मारने की धमकी नहीं दी है, न ही मेरे किसी आदमी ने दी है, न ही मेरे परिवार के किसी व्यक्ति ने दी है।

मैं व मेरा परिवार अपने काम में व्यस्त हैं, मैं अपनी विधानसभा में जनता का कार्य कर रहा हूं व पार्टी (भाजपा) का सदस्यता अभियान चला रहा हूं। मेरी तरफ से किसी कोई खतरा नहीं है। वो जहां रहे खुश रहे।”

बता दें, साक्षी ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें बताया था कि उसने दलित युवक अजितेश कुमार के साथ शादी कर ली है।

एक और वीडियो जारी कर साक्षी ने कहा था कि उसके पति को पिता से जान का खतरा है। उसने पुलिस से गुहार लगाई थी कि उन्हें सुरक्षा दी जाए। साथ ही यह भी कहा था कि अगर उन्हें कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार उनके पिता होंगे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 11, 2019, 5:20 pm
Fog
Fog
30°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 83%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:51 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending