Connect with us

प्रदेश

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर हुआ हादसा, बाल-बाल बचे आईपीएस राजीव मल्होत्रा

Published

on

लखनऊ । आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे पर सड़क दुर्घटना में एसएसपी एंटी करप्शन राजीव मल्होत्रा गंभीर रूप से घायल हो गए है। बताया जा रहा है कि आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे पर जिस कार में राजीव मल्होत्रा सवार थे वह बुरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गई है और वह घायल भी हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: एक बार फिर मायावती के निशाने पर योगी सरकार, कानून व्यवस्था व बिजली के दरों में बढ़ोतरी पर लिए आड़े हाथ

 इस घटना के बाद राजीव मल्‍होत्रा को मौके पर सैफई PGI में भर्ती कराया गया । वहीं अस्पताल में इलाज के बाद डॉक्टरों ने बताया की राजीव मल्होत्रा की हालत अब खतरे से बाहर है। बता दें कि आईपीएस राजीव मल्होत्रा एक्सीडेंट मामले में प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने उनकी सेहत को ध्यान में रखते हुए एसएसपी इटावा को तत्काल मेडिकल कॉलेज सैफई भेजा और उनसे फोन पर बात भी की । साथ ही डीजीपी ने बताया कि हम उनके स्वास्थ्य को लेकर डॉक्टर्स से लगातार संपर्क में हैं। वहीं डीजीपी ने राजीव मल्होत्रा को आश्वाशन देते हुए कहा कि पूरा पुलिस महकमा आप और आपके परिवार के साथ है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

खुलेआम घूम रहे बलात्कारियों को मिलनी चाहिए सजा : अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाज

Published

on

लखनऊ। अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाज,वर्तिका सिंह पूर्व राष्ट्रपति स्वर्ण पदक से सम्मानित व दिल्ली विश्वविद्यालय के इन्द्रप्रस्थ कॉलेज की पूर्व छात्राध्यक्ष ने आज लखनऊ के एक होटल में प्रेस वार्ता कर महिलाओं के सशक्तिकरण शोषण, देश में महिलाओं के साथ आये दिन हो रहे बलात्कार जैसे मुद्दे पर बोलते हुए सरकार से सात सूत्री मांगों को पूरा करने का आग्रह किया ।

उन्होनें कहा कि जो बलात्कारी सरेआम घूम रहा अगर उनपर सरकार कोई कार्यवाई न कर पाए तो हमें बताए । मैं एक अंतर्राष्ट्रीय शूटर हूं बलात्कारियों को मैं खुद शूट कर सकती हूं ।
एक अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज हूं और देश के नागरिक होने के नाते मेरा यह कर्तव्य है कि अगर किसी लड़की के साथ इस प्रकार का कुकृत्य सामने आता है तो उसको इंसाफ दिलाने के लिए आवाज बुलंद करूं। बलात्कारियों को खुलेआम सजा मिलनी चाहिए, ताकि जनता में यह संदेश पहुंच सके कि यदि ऐसा कोई भी अपराध किया तो हश्र बुरा होगा।

महिलाओं को इतना सशक्त बनाने का प्रावधान किया जाए कि किसी भी प्रकार की विषम परिस्थितियों में एक महिला किसी से भी निपट सके। सिर्फ “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” का नारा देने से काम नहीं चलेगा बेटियां तभी बचेगी जब उनको आरक्षण से सशक्तिकरण की तरफ ले जाया जाएगा।

न्याय मिलने में इतना समय क्यों? ज्यादा समय देकर अपराधी को सबूत मिटाने का अवसर मिल जाता है। अपराधियों को अधिकतम 3 महीने के अंदर सजा देने का प्रावधान किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: समान कार्य-समान वेतन समेत 12 सूत्रीय समस्याओं को लेकर विद्धुत संविदा कर्मियों का धरना-प्रदर्शन

महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 और पुलिस हेल्पलाइन नंबर 100 को सीधा सरकार अपनी निगरानी में कर ले क्योंकि अधिकतर मामलों में 1090 या डायल 100 की तरफ से समुचित रूप से मदद नहीं मिल पाती। इसीलिए अपराधी और भी बेखौफ और बेलगाम हो चुके हैं। हर जिले में शूटिंग रेंज होनी चाहिए। मैंने उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को इसके पूर्व भी इस बाबत एक पत्र लिखा है जिससे पुनः उनको अवगत कराना है।

हमें लगता है कि सरकार की तरफ से कोई न कोई त्वरित कार्यवाही देखने को मिलेगी ताकि भविष्य में लड़कियों के साथ हो रहे घिनौने कुकृत्य को रोकने में सहायता मिल सके।http://WWW.SATYODA.COM

Continue Reading

अपना शहर

समान कार्य-समान वेतन समेत 12 सूत्रीय समस्याओं को लेकर विद्धुत संविदा कर्मियों का धरना-प्रदर्शन

Published

on

Uppcl

लखनऊ । उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन निविदा संविदा संघ के बैनर तले प्रदेश भर से एकत्र हुए विद्युत विभाग में कार्यरत आउटसोर्सिंग संविदा कर्मियों ने हाइकोर्ट द्वारा आदेशित समान कार्य समान वेतन समेत 12 सूत्रीय समस्याओ को लेकर आलमबाग के इको गार्डन पार्क में धरना-प्रदर्शन किया । गुरुवार को कड़ी धूप में सैकड़ो की संख्या में संविदा कर्मियों ने पावर कार्पोरेशन के प्रबंधन के खिलाफ हल्ला बोला ।

धरने का नेतृत्व कर रहे संघ के महामंत्री देवेन्द्र कुमार पांडेय ने बताया कि आउटसोर्सिंग के माध्यम से कार्यरत कर्मचारियों को आधा अधुरा वेतन, ईपीएफ और ईएसआई में घोटाला, अधिकारियों द्वारा सौतेला व्यवहार बिना सुरक्षा उपकरण के दबाव बनाकर कार्य कराने से आये दिन होने वाली दुर्घटनाओं में मृत्यु-अपंग समेत कई समस्याओं के समाधान के लिए अध्यक्ष कारपोरेशन से वार्ता के लिए पत्र भेजा था पर उस पर कोई निर्णय नही लिया गया ।

संविदा कर्मियों के समर्थन में सांसद मोहनलालगंज ने भी प्रस्तावित पत्र भेजा था लेकिन उसमें भी कोई रुचि नही दिखाया गया । इस कारण हम सभी संविदा कर्मी आंदोलन करने को मजबुर हैं । वहीं संघ के प्रदेश अध्यक्ष मो. खालिद ने बताया कि प्रबंधन या सरकार कोई कदम नही उठाती है तो संविदा कर्मी-क्रमिक अनशन करने को मजबूर हो गए हैं । उन्होंने कहा कि रात हो या दिन, बरसात के मौसम हो या तेज धूप संविदा कर्मी हमेशा उपभोक्ताओं को 24 घण्टे बिजली देने के लिए तैयार रहता है, हां उसे बस किसी इंजीनियर के कहने भर का इंतजार होता है । जबकी संविदा कर्मी कार्य करते समय कोई घटना हो जायें तो इंजीनियर का कहना होता है कि वह प्राइवेट कार्य करने गया था ।

यहां तक की दुर्घटना के बाद भी संविदा कर्मी का सही इलाज तक नही हो पाता है । धरना स्थल पर संतोष कुमार फतेहपुर के बिन्दकी सब स्टेशन पर संविदा नौकरी कर रहा था, बीते वर्ष बिजली का कार्य करते समय संतोष का दुर्घटना में पैर और हाथ झुलस गया था । जिसे कुछ दिन तक अधिशासी अभियंता ने इलाज कराया फिर कुछ दिन बाद उसे नौकरी से निकाल दिया गया । धरना स्थल पर संतोष अपनी पत्नी के साथ आया था और अधिकारियों से अपनी गुहार लगा रहा था कि 16 वर्ष विभाग में नौकरी करने के बाद अब कटा हुआ हाथ लेकर किससे नौकरी मांगू । इतना कहते ही धरना स्थल पर मौजूद लोगों की आखो में आशू आ गया ।

यह भी पढ़ें: कल्बे जव्वाद ने सरकार को लिया आड़े हाथ, कहा- पहले करवाती थी एनकाउंटर अब करा रही है मॉब लिंचिंग

प्रदेश महामंत्री देवेंद्र कुमार पाण्डेय ने बताया कि तमाम आश्वासन के बाद भी संविदा कर्मियों को शोषण जारी है । संविदा कर्मियों को समय से वेतन मिलना दूर, कई कई माह से वेतन नहीं दिया जा रहा है, ईपीएफ व ईएसआई के मद्द में करोड़ों का घोटाला किया जा रहा है । यही नहीं संविदा कर्मियों से सौतेला व्यवहार बिजली विभाग में किया जा रहा है ।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कल्बे जव्वाद ने सरकार को लिया आड़े हाथ, कहा- पहले करवाती थी एनकाउंटर अब करा रही है मॉब लिंचिंग

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ । ऐतिहासिक आसिफी मस्जिद से वरिष्ठ शिया धर्मगुरु ने जुमे के खुतबे में मौलाना कल्बे जावाद ने जताई चिंता जताते हुए शिया समुदाय को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में बढ़ रही मॉब लिंचिंग की शर्मनाक है । पहले इनकॉउंटर के जरिए मारा जाता था । अब मॉब लिंचिंग के जरिये लोगो को मारा जा रहा है । जो लोग मॉब लिंचिंग में मुब्तला है वो हिंदुस्तान के दोस्त नही दुश्मन हैं । ऐसे वाकिये मुल्क और सरकार को बदनाम कर रहे हैं ।

मौलाना कल्बे जव्वाद ने देश के विभिन्न हिस्सों में घट रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं को गंभीर अपराध बताया है । ऐसा प्रतीत हो रहा है कि खुद को आधुनिक कहने वाले लोग मध्य युग में रह रहे हैं । बाबरी मस्जिद और राम मंदिर को धार्मिक मसला बताया । कहा कि नेताओं को इससे दूर रखें ।

यह भी पढ़ें: वांछित चोर को पुलिस ने किया गिरफ्तार…

उन्होंने झारखंड में मुस्लिम युवक को पीट-पीटकर मार डालने की घटना पर चिंता जताया । कहा कि अब सरकार एनकाउंटर नहीं कर रही है बल्कि खामोश तरीके से जनता को कानून हाथ में लेने के लिए प्रेरित कर रही है । उन्होंने कहा कि अपने को सभ्य कहने वाले लोग कहा हैं ।
किसी को घेरकर मार देना आदिकाल की याद दिलाता है हम लोग नए दौर की बात करते हैं लेकिन काम मध्य युग का कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि हुकूमत कोई भी हो मुसलमान के साथ जुल्म ज्यादती खत्म नहीं हुई है । सपा सरकार में भी तमाम एनकाउंटर में मुस्लिम युवाओं को मारा गया। http://WWW.SATYODAYA.COM

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 29, 2019, 9:36 am
Partly sunny
Partly sunny
35°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 43%
wind speed: 3 m/s WNW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending