Connect with us

प्रदेश

पुष्पेंद्र यादव के परिवार से मिलने पहुंचे अखिलेश, कहा- ये एनकाउंटर नहीं हत्या है

Published

on

लखनऊ। झांसी के पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर का मामला राजनेताओं की एंट्री के बाद और तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने झांसी से 30 किलोमीटर दूर ग्राम करगुआ खुर्द थाना एरच स्थित पुष्पेंद्र यादव के आवास पर पहुंच कर पीड़ित परिवारीजनों से भेंट की और उन्हें सांत्वना दी। पुष्पेंद्र यादव की विधवा की शादी अभी तीन महीने पहले ही हुई थी। उसका रो-रोकर बुरा हाल है। अखिलेश ने पुष्पेंद्र के परिवार को भरोसा दिलाया है कि समाजवादी पार्टी उनके साथ खड़ी है।

परिवारजनों से मिलने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि किसी को भी पुलिस की कहानी पर भरोसा नहीं है। झांसी का पुलिस प्रशासन जो घटनाक्रम बता रहा है उससे कोई संतुष्ट नही है। परिवार को भी उस पर भरोसा नही है। उन्होंने कहा यह एनकाउंटर नहीं हत्या है। 

 अखिलेश यादव ने विश्वास दिलाया कि पुष्पेन्द्र यादव के परिवार को न्याय दिलाया जाएगा। समाजवादी पार्टी उनके दुख में शामिल है और वह उनका साथ देगी। अखिलेश यादव के साथ उनके समर्थकों की भारी भीड़ थी। अखिलेश के वहां पहुंचते ही लोगों ने पुलिस के खिलाफ काफी नारेबाजी की। अखिलेश भी इस बात से बहुत आक्रोशित थे कि पुलिस निर्दोषों की हत्या कर रही है। उनका कहना है कि कानून के रक्षक ही भक्षक बन रहे हैं। जनता के नागरिक अधिकारों पर डाका डाला जा रहा है। उन्होंने कहा जिस प्रदेश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री हैं वहां जनता को न्याय न मिले तो ताज्जुब हैं।

अखिलेश यादव के आने की खब़र पर पूरा गांव उन्हें देखने उमड़ पड़ा था। आस पड़ोस के गांवो से भी बड़ी संख्या में लोग आए थे। इनमें हजारों नौजवान, महिलाएं, बूढ़े तथा बच्चे तक शामिल थे। पुष्पेंद्र का गांव बेतवा नदी के पास है। यहां लोग नारे लगा रहे थे कि पुष्पेन्द्र के हत्यारों को सजा मिले, पीड़ित परिवार को न्याय मिले।

दरअसल, बीते शनिवार की रात में मोंठ थाने के इंस्पेक्टर पर हमला करने के बाद कार लूटकर भागने वाले पुष्पेंद्र यादव को गुरसराय थाना क्षेत्र में अगली सुबह पुलिस मुठभेड़ में कथित तौर पर मार दिया गया था। पुलिस के मुताबिक उसके 2 साथी भाग निकले थे। पुलिस ये भी आरोप है कि पुष्पेंद्र की कार से दो तमंचे कारतूस और मोबाइल भी बरामद किए गए हैं। जबकि परिजनों का कहना है कि पुष्पेंद्र को जबरन पकड़कर मारा गया है। वे इस मामले में न्याय चाहते हैं। परिजनों का आरोप है कि पुष्पेंद्र के खिलाफ कोई शिकायत नहीं थी। कभी किसी ने उसके बारे में कुछ नहीं कहा। लेकिन पुलिस ने उसे अपराधी बताकर हत्या कर दी।

ये भी पढ़ें: राजस्थान: मालपुरा में राम बारात पर हुआ पथराव, इलाके में लगा अनिश्चितकालीन कर्फ्यू

समाजवादी पार्टी की मांग है कि आरोपी एसओ पर 302 का केस दर्ज किया जाए। घटना की हाईकोर्ट के माननीय सिटिंग जज से जांच कराई जाए। जिसने हत्या की उसे जेल भेजा जाए। उनका कहना है कि इस मामले में पुलिस दोषी है। सबसे ज्यादा मानव अधिकार आयोग की नोटिसें उत्तर प्रदेश सरकार को मिली हैं। हवालात में सबसे ज्यादा मौतें प्रदेश में हुई हैं। कानून व्यवस्था ध्वस्त है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मृतक और उसके शोकाकुल परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए उठ रही आवाजों को ज्यादा समय तक सरकार नहीं दबा सकती।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

काशीराम की 13वीं पुण्यतिथि पर मायावती ने ट्वीट कर दी कर श्रद्धाजंलि

Published

on

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने बुधवार को पार्टी संस्थापक कांशीराम को श्रद्धाजंलि अर्पित की। मायावती ने कहा कि उपेक्षितों को उनका बाजिव हक दिलाने का संघर्ष अनवरत जारी रहेगा।
मायावती ने बुधवार को कांशीराम की 13वीं पुण्यतिथि के अवसर पर एक के बाद एक तीन ट्वीट कर दलित पिछड़ों के मसीहा के संघर्षो को  याद किया। मायावती ने कहा, बामसेफ, डीएस4 एवं बीएसपी मूवमेन्ट के जन्मदाता और संस्थापक कांशीराम को आज उनकी पुण्यतिथि पर बीएसपी द्वारा देश व यूपी में अनेकों कार्यक्रमों के जरिए भावभीनी श्रद्धांजलि व श्रद्धा-सुमन अर्पित। उपेक्षितों के हक में उनका संघर्ष था वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा।”

उन्होंने कहा कि “ दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज रोड पर स्थित प्रेरणा केन्द्र में तथा लखनऊ में बीएसपी सरकार द्वारा वीआईपी रोड में स्थापित भव्य कांशीराम स्मारक स्थल के आयोजनों में बहुजन नायक श्री कांशीराम जी को पुष्पांजलि व श्रद्धा-सुमन अर्पित। उनके सपनों को साकार करने का संकल्प।”

एक अन्य ट्वीट में मायावती ने कहा “ बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के आत्म-सम्मान व स्वाभिमान के मूवमेन्ट को समर्पित श्री कांशीरामजी जानते थे कि जातिवादी व संकीर्ण ताकतें साम, दाम, दण्ड, भेद आदि हथकण्डों से बसपा मूवमेन्ट को चुनौतियाँ देती रहेंगी जिसका सूझबूझ से मुकाबला करके आगे बढ़ना है जिसका बेहतरीन उदाहरण यूपी है।” http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बलरामपुर अस्पताल को मिला NABH अवॉर्ड

Published

on

प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ। हॉस्पिटल में कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से शहर के अस्पतालों में इलाज के लिए पहुंच रहे मरीजों का दर्द दोगुना हो जाता है। सरकारी अस्पतालों में उपेक्षा और दुत्तकार मिलती है तो प्राइवेट अस्पतालों में इलाज के नाम पर मरीजों को लूट लिया जाता है। हालांकि कुछ सरकारी अस्पताल और वहां के डॉक्टर मरीजों का बेहतर तरीके से इलाज व देखभाल कर रहे हैं। मरीजों के प्रति ऐसी ही प्रतिबद्धता और जिम्मेदारी के लिए राजधानी के बलरामपुर अस्पताल को राष्ट्रीय प्रत्यायन बोर्ड (NABH) ने सम्मानित किया है। अस्पतालों व स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के मूल्यांकन के लिए गठित NABH अस्पतालों में मरीजों को मिलने वाली सेवाओं, सुविधाओं, रोगी की सुरक्षा और देखभाल जैसे मानकों के निगरानी करता है।

ये भी पढ़े- लखनऊ में पूर्व केंद्रीय मंत्री शीला कौल का घर होगा प्रियंका गांधी का नया आशियाना

जानिए इसकी विशेषताए:-

  1. रोगी की देखभाल के लिए गुणवत्ता, रोगी सुरक्षा, दक्षता और जवाबदेही की संस्कृति बनाने के लिए प्रतिबद्धता। 
  2. राष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुसार प्रोटोकॉल और नीतियों की स्थापना, रोगी देखभाल, दवा प्रबंधन, सहमति प्रक्रिया, रोग-संबंधी, नैदानिक परिणाम, चिकित्सा रिकॉर्ड, संक्रमण नियंत्रण और स्टाफिंग। 
  3. मरीजों का सम्मान, सम्मान और शिष्टाचार के साथ व्यवहार किया जाता है। 
  4. मरीजों की देखभाल और निर्णय लेने में शामिल हैं। 
  5. मरीजों का इलाज अयोग्य और प्रशिक्षित कर्मचारियों द्वारा किया जाता है। 
  6. मरीजों से प्रतिक्रिया मांगी जाती है और शिकायतों (ifany) को संबोधित किया जाता है। 
  7. बिलिंग और सूची की उपलब्धता में पारदर्शिता। 
  8. सुधार के लिए अपनी सेवाओं की सतत निगरानी। 
  9. उस घटना को रोकने के लिए प्रतिबद्धता जो घटित होती है।http://www.satyodaya.com
Continue Reading

प्रदेश

विस उप चुनाव: 15, 16 व 18 अक्टूबर को चुनावी सभाएं करेंगे सीएम योगी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा उप चुनावों में पार्टी का परचम लहराने के लिए सभी राजनीतिक दलों ने तैयारी कर ली है। 21 अक्टूर को यूपी की 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। जिसके लिए सभी पार्टियों ने अपने संगठनों को सक्रिय करते हुए स्टार प्रचारकों को भी मैदान में उतार दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक होंगे। बुधवार को भाजपा ने सीएम योगी के कार्यक्रमों की लिस्ट जारी कर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 15, 16 और 18 अक्टूबर को चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे। हर दिन वह करीब 3 से 4 विधानसभा सीटों पर प्रचार करेंगे।

जारी लिस्ट के अनुसार सीएम योगी 15 अक्टूबर को कानुपर के गोबिन्दनगर, चित्रकूट की मानिकपुर और लखनऊ कैंट में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में लोगों को संबोधित करेंगे। 16 अक्टूबर को बाराबंकी की जैदपुर, अंबेडकरनगर के जलालपुर, बहराइच के बलहा और मऊ की घोषी विधानसभा में योगी जनसभा को संबोधित करेंगे। 18 अक्टूबर को सहारनपुर के गंगोह, रामपुर और अलीगढ़ में भी चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे।

यह भी पढ़ें-त्यौहारी मौसम को असम को दहलाने की साजिश नाकाम, एक उग्रवादी गिरफ्तार

बता दें कि 21 अक्टूबर को हरियाणा और महाराष्ट विधानसभा चुनावों के साथ देश के भर कई राज्यों में विधानसभा सीटों पर उप चुनाव होने हैं। जिनमें सबसे ज्यादा यूपी की 11 सीटें हैं। यह उपचुनाव एक तरह से 2022 के चुनावों के लिए सेमीफाइनल की तरह हैं। ऐसे में हर पार्टी अपना दम-खम आजमाने के साथ ही अपनी स्थिति मजबूत करने में जुटी हुई है। सभी चुनावों की मतगणना 23 अक्टूबर को होगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 9, 2019, 8:09 pm
Fog
Fog
27°C
real feel: 34°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 88%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:32 am
sunset: 5:15 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending