Connect with us

प्रदेश

अयोध्या: खेत में कराई गई हेलीकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, जानिए वजह…

Published

on

हेलीकॉपटर

फाइल फोटो

अयोध्या। यूपी के अयोध्या में सोमवार को हेलीकॉपटर की खेत में इमरजेंसी लैंडिंग होने से हड़कंप मच गया है। ऐसा कहा जा रहा है कि हेलीकॉप्टर में आयल लीक होने के बाद पायलट ने इमरजेंसी लैंडिंग कराई है। हेलीकॉप्टर में पायलट व पावरग्रिड के इंजीनियर समेत चार लोग सवार थे, जिन्हें सभी ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

ये भी पढ़ें:अलीगढ़ में महिलाओं पर लाठीचार्ज के विरोध में कांग्रेस ने विधानसभा में किया हंगामा

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस के अधिकारियों ने जायजा लिया है। दरअसल हेलीकॉप्टर ने रायबरेली के फुरसतगंज से उड़ान भरी थी। जहां फुरसतगंज से सोहावल पावरग्रिड लाइन सर्वे किया जा रहा था। इस दौरान हेलीकॉप्टर में आयल लीक होने के बाद पायलट ने इमरजेंसी लैंडिंग करा दी। हालांकि की किसी को किसी भी तरह का नुकसान नहीं है।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

इस बार अपने-अपने घरों में ही मनाएं अम्बेडकर जयंती: डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल

Published

on

आंबेडकर महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, लोग दूसरे की मदद करें सभी लोग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष व आंबेडकर महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने इस बार अम्बेडकर जयंती पर किसी तरह का आयोजन न करने की अपील की है। गुरुवार को मीडिया में जारी एक पत्र के माध्यम से लालजी प्रसाद निर्मल ने 14 अपै्रल को डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जयंती घरों पर ही मनाने को कहा है। क्योंकि महामारी के चलते पूरे देश में 14 अपै्रल तक लाॅकडाउन घोषित है। डॉ. निर्मल ने सभी सामाजिक संगठनों से कहा है कि वह हर बार जो धन बाबा साहेब के जन्मदिन पर भव्य समारोह पर खर्च करते थे, उस धन का उपयोग वंचित समाज की मदद में उपयोग करें। यह भी देखें कि कोई गरीब भूखा सोने न पाए।

डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में अपने एक माह का वेतन देने भी की घोषणा की है। डॉ. निर्मल ने कहा, संकट की इस घड़ी में एक-दूसरे का साथ दें। घरों से बाहर न निकलें। लेकिन फोन के माध्यम से दूसरों के घरों में खाने-पीने के सामानों को लेकर जानकारी रखें। यदि किसी भी व्यक्ति के पास खाने-पीने का सामान नहीं है, तो इसकी जानकारी प्रशासन तक पहुंचाएं। खुद भी आसपास के व्यक्तियों द्वारा इस तरह की मदद करने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें-यूपीः एक ही दिन में कोरोना महामारी से पीड़ित दो मरीजों की मौत

डॉ. निर्मल ने कहा, जो व्यक्ति जहां पर है, उसे वहीं पर रहना चाहिए। कोरोना संक्रमण की इस महामारी के बीच कहीं पलायन न करें। एक शहर से दूसरे शहर न जाएं। यह न केवल आपके अपने जान को जोखिम में डालना है, बल्कि आपकी ये कोशिश देश को खतरे में डाल सकती है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

#कोरोना से जंग जारी…लखनऊ के लोगों ने सत्योदय के साथ साझा किये अनुभव

Published

on

लखनऊ। कोरोना वायरस एक जानलेवा महामारी बन चुका है। ये वायरस चीन के वुहान के शहर से निकलकर पूरी दुनिया में फैल चुका है। कोरोना वायरस ( COVID-19 ) ने चीन, अमेरिका, इटली, दक्षिण कोरिया, ईरान, ब्रिटेन, जापान आदि देशों में कहर बरपा रखा है। दुनिया भर में कोरोना वायरस की वजह से अब तक हजारों की जान जा चुकी है, जबकि लाखों लोग संक्रमित है। यह जानलेवा महामारी लगातार तेजी के साथ बढ़ती ही जा रही है। लिहाजा, इसकी चपेट में आकर मरने वालों की बड़ी संख्या को देखते हुए WHO ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया हैं। अब इस वायरस के खतरे से दुनिया को बचाने के लिए कई देशों के वैज्ञानिक कोरोना वायरस के वैक्सीन बनाने में जुटे हुए है। कोरोना वायरस संक्रमण का संक्रमित व्यक्ति के छूने, छींकने या खांसने से फैल सकता है। 

इस महामारी से मुकाबले के पीएम मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आहवान किया और पूरे देश मे 14 अप्रैल तक लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है जिसको देश की जनता ने ऐसा समर्थन दिया कि इतिहास बन गया। लॉक डाउन बाद लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं ।

साथ ही अखबार, टीवी, सोशल मीडिया, दोस्तों, परिजनों सभी में इस समय कोरोना वायरस पर बात हो रही है। इससे कुछ लोगों में डर महसूस किया जा रहा है। खासकर महिलाएं और बुजुर्ग बेचैनी और घबराहट महसूस कर रहे हैं। ऐसे में केंद्र सरकार ने एडवाइजरी जारी कर कुछ ऐसी गतिविधियां सुझाई हैं। जिन्हें करते हुए घरों में समय बिता रहे लोग खुद को व्यस्त रख रहे है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए लोग घरों में रहने के साथ ही साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दे रहे हैं साथ ही घर पर इंडोर गेम टिक टॉक और सोशल मीडिया पर सक्रिय रहकर समय बिता रहे हैं।

सत्योदय से कोरोना जंग हैंडवाश के तहत लोगों ने ऐसा ही अनुभव साझा किया है, सत्योदय से बात करने के दौरान जनता कर्फ्यू में अलीगंज की शिवानी दीक्षित कहती हैं कि परिवार में हम तीन लोग है। हम सब हर तीन घंटे में अपना हाथ धोते है। साथ ही अदरक का पानी भी पिया करते है। इसके अलावा घर में डांस पेटिंग करने में ही वक्त बीत जाता है।

लखनऊ के गोमतीनगर निवासी संजय कहते हैं, कि लॉक डाउन में बाहर जाना माना है, तो हमने आफिस का सारा काम घर से ही शुरु कर दिया है। इसके अलावा घर के सभी लोग हर घण्टे हैंडवाश करते हैं।

वहीं, दैनिक जागरण चौराहा की रहने वाली रश्मि कहती हैं, कि कोरोना से बचाव के लिए पूरी साफ सफाई रख रहे हैं। हाथ बराबर धोते हैं टाइम पास के लिए घर में अपने हाथ से अच्छी अच्छी रेसिपी बनाकर परिवारजनों को खिलाती हैं।

आगे गोमती नगर निवासी गरिमा राजपूत का कहना है, कि जनता कर्फ्यू के दौरान मेरा सारा समय घर पर ही बीतता है। कहीं बाहर से घर आने पर सबसे पहले हाथ धोती हूँ। समय पास के लिए घर पर ही व्यायाम किया करती हूँ।

वहीं, सत्योदय से बात करते हुए, जनता कर्फ्यू के दौरान गोमती नगर निवासी गरिमा कहती हैं , कि कोरोना वायरस को हराना है, तो हाथ धोना भी जरूरी है। मैं इस बात का ध्यान दे रही हूँ। अकारण हाथ मुँह पर न जाए और एक जरुरी दूरी सभी के साथ रख रही हूँ। समय बिताने के लिए अपने दो पैटी के साथ बगीचे में खेलती भी हूँ और उन्हें सैर भी करवाती हूँ।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

लॉकडाउन के दौरान लखनऊ मेट्रो के डिपो से किया जा रहा गरीबों को भोजन वितरण

Published

on

लखनऊ। कोरोना वायरस अब थर्ड स्टेज में अपना रंग दिखा रहा है। देश की सबसे अधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से बुधवार को दो लोगों की मौत हो गई। इस महामारी से बचने के लिए सरकार हर संभव कोशिश कर रही है। देश-प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस को रोकने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वाहन पर पूरे देश को 21 दिन के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। बावजूद इसके कोराना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। संपूर्ण देश में लॉकडाउन का आज 8वां दिन है।

विश्वव्यापी लॉकडाउन का समर्थन करते हुए देश की सभी यातायात सेवाएं लॉकडाउन खत्म होने तक स्थगित कर दी गई है। जिससे देश के कई राज्यों के लोग विशेषकर दिहाड़ी मजदूर जिन्होंने अपना शहर छोड़कर रोजगार के उद्देश्य से दूसरे शहर आए थे।

इसे भी पढ़ें-कोरोना का कहर: यूपी स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस को लेकर जारी किए आंकड़े

जिनमें से राजधानी लखनऊ में भी ऐसे बहुत लोग है। जो रोजी- रोटी की तलाश में अलग-अलग शहरों से आए है। लेकिन पीएम के अचानक लॉकडाउन की घोषणा के चलते यहीं फंस गए हैं। ऐसी आपातकालीन स्थिति में लखनऊ नगर निगम के साथ मिलकर लखनऊ मेट्रो अपने ट्रांसपोर्ट नगर स्थित मेट्रो डिपो से शहर के विभिन्न स्थानों में खाने की आपूर्ति कर रहा है।

उत्तर प्रदेश मेट्रो के प्रबंध निदेशक श्री कुमार केशव ने बताया कि यह खाना ट्रांसपोर्ट नगर स्थित लखनऊ मेट्रो के डिपो की कैंटीन में बनाया जा रहा है। और पैक करके जरूरतमंदों को बांटा जा रहा है। राजधानी के विभिन्न रैन बसेरो और अन्य स्थान जहां पर लोगों के रुकने की व्यवस्था की गई है। वहां भी भोजन वितरित किया जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 2, 2020, 1:52 pm
Sunny
Sunny
32°C
real feel: 35°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 31%
wind speed: 3 m/s NW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 8
sunrise: 5:26 am
sunset: 5:54 pm
 

Recent Posts

Trending