Connect with us

प्रदेश

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा

Published

on

फाइल फोटो

यूपी के बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। रविवार देर रात सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनके इस्तीफे को मंजूर कर लिया। वे योगी सरकार में परिवहन विभाग, प्रोटोकॉल, ऊर्जा के राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार मंत्री थे। बीजेपी अध्यक्ष बनने के बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि वे जल्द ही कैबिनेट से इस्तीफा दे देंगे।

ये भी पढ़े- बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का निधन

बता दें कि योगी मंत्रिमंडल का सोमवार को होने वाले विस्तार को टाल दिया गया है। माना जा रहा है कि नए मंत्रिमंडल में कई नए चेहरों नजर आ सकते हैं। सीएम योगी और यूपी के बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शुक्रवार को बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी.नड्डा से नई दिल्ली में मुलाकात की, जिसमें फेरबदल का विस्तृत निर्णय लिया गया। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन को लेकर सरकार का फैसला, पूर्व आदेश ही लागू रहेंगे

Published

on

लखनऊ: कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए कहा जा रहा था कि एक बार लॉकडाउन लगाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक 31 जुलाई तक वीकेंड लॉकडाउन ही लागू रहेगा। प्रदेश में 16 से 31 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन करने की कोई योजना नहीं है। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने पूर्ण लॉकडाउन लगाने की बातों को पूरी तरह खारिज कर दिया।
उन्होंने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि कोई नया आदेश जारी नहीं किया गया है। 14 जुलाई को जारी शनिवार व रविवार को लॉकडाउन करने का आदेश ही लागू रहेगा। बता दें कि सोशल मीडिया पर प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन करने की अटकलें लगाई जा रही थीं जिस पर अपर मुख्य सचिव गृह ने स्पष्टीकरण दिया।

यह भी पढ़ें: अमर दुबे की पत्नी को मिलेगी रिहाई, पुलिस कोर्ट में देगी बेगुनाही के सुबूत

उत्तर प्रदेश में 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित 1656 नए रोगी मिले हैं।  यह अब तक एक दिन में मिले मरीजों की दूसरी सबसे बड़ी संख्या है। इससे पहले सोमवार को सर्वाधिक 1664 नए मरीज मिले। लगातार दूसरे दिन सूबे में 1600 से अधिक मरीज मिलने के बाद अब कुल रोगियों का आंकड़ा 39,786 हो गया है। वहीं बीते 24 घंटे में 28 और मरीजों की मौत हुई। अब तक यह खतरनाक वायरस 983 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक प्रदेश में कुल 24981 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और अब एक्टिव केस बढ़कर 13760 हो गए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

Lucknow: ठाकुरगंज चौकी प्रभारी समेत 152 मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

Published

on

लविवि कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी व जिला जेल के दो कैदी भी शामिल

लखनऊ। राजधानी में कोरोना का कहर तेज हो गया है। इसकी चपेट में ठाकुरगंज के एक चौकी प्रभारी व लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी भी आ गए हैं। वहीं यह संक्रमण अब जेलों तक भी पहुंच गया है। लखनऊ जिला जेल में बंद दो कैदी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना संक्रमित एक पुरूष व महिला दोनों कैदियों को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके साथ ही पूरे जेल और बैरकों को सेनेटाइज कराया गया है।

वहीं प्रतिदिन मिलने वाले मरीजों की सूची में भी काफी परिवर्तन देखने को मिल रहा है। एक तरफ सीएमओ ने लखनऊ में 149 मरीजों में कोरोना संक्रमण पाए जाने का दावा किया तो वहीं दूसरी तरफ डीएम ने 147 व यूपी स्वास्थ्य विभाग ने 152 मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की। थाना ठाकुरगंज के भुंवर चौकी पर तैनात चौकी प्रभारी विनय मिश्र कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। चौकी प्रभारी में संक्रमण की पुष्टि होते ही पुलिस महकमें में हड़कम्प मच गया। आनन फानन में चौकी को सेनेटाइज कराया गया। स्वास्थ्य विभाग इनके संपर्क में आने वाले लोगों की सूची बना रहा है।

इसके अलावा लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। सूचना पर पहुंची स्वास्थ्य टीम ने कर्मचारी के संपर्क में आने वाले लोगों की सूची तैयार की है। अब इनकी जांच कराई जाएगी। वहीं कर्मचारी के निवास स्थान को सेनेटाइज कराते हुए सील कर दिया गया है। इन सभी को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इसे भी पढ़ें- पायलट और उनके 19 समर्थक विधायकों को स्पीकर ने कारण बताओ नोटिस किया जारी

जिला जेल में भी पहुंचा कोरोना वायरस

लखनऊ जिला जेल में भी कोरोना वायरस पहुंच चुका है। जेल के दो बंदियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। इसमें शामिल दहेज हत्या में बंद एक महिला कैदी किडनी की बीमारी से भी ग्रसित है जिसका पीजीआई में इलाज चल रहा है। इसमें मनी लॉङ्क्षड्रंग केस में बंद दूसरा पुरूष कैदी शामिल है। जेल विभाग के मुताबिक दोनों को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूरे जेल और बैरकों को सेनेटाइज कराते हुए अन्य बंदियों के कोविड टेस्ट कराने के लिए सीएमओ को पत्र लिखा गया है।

सीएमओ प्रवक्ता योगेश रघुवंशी के मुताबिक गोमतीनगर के विभिन्न इलाकों से 12 मरीज कोरोना की जद में आए हैं। वहीं 102 एंबुलेंस हेल्पलाइन के 11 कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इन्दिरानगर के भी 11 मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं अलीगंज के 10 व गनेशपुर में 8 जबकि रायबरेली रोड स्थित अपार्टमेंट में 5, जानकीपुरम तथा आलमबाग के इलाके में 6-6 मरीज संक्रमित पाए गए हैं।

वहीं चौक में पांच व ठाकुरगंज तथा एलडीए में 4-4 संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके अलावा हजरतगंज, महानगर, निशातगंज व वाला कदर रोड में तीन तीन लोगोंं में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। वहीं रकाबगंज, वृन्दावन, बालागंज, ओमेक्स सिटी, हसनगंज, कृष्णानगर, सरोजनीनगर व मोहनलालगंज में दो-दो एवं अमेठी, राजाजीपुरम, डालीगंज, ताल कटोरा, ऐशबाग, यासीनगंज, विकासनगर, अमौसी, मशंकगंज, राजेन्द्रनगर, शारदानगर, गोलागंज, निरालानगर, खदरा, सरोजनी नायडू मार्ग, तेलीबाग, पुराना हैदराबाद व नरही के एक-एक मरीज कोरोना की चपेट में आए हैं। सीएमओ प्रवक्ता ने बताया कि सर्विलान्स एवं कान्टेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 828 लोगों के सैम्पल टीम द्वारा लेकर केजीएमयू भेजे गये। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

अमर दुबे की पत्नी को मिलेगी रिहाई, पुलिस कोर्ट में देगी बेगुनाही के सुबूत

Published

on

कानपुर। बिकरू गांव में हुए एनकाउंटर के बाद पुलिस ने मुठभेड़ में मारे गए बदमाश अमर दुबे की पत्नी खुशी को जेल भेज दिया था। खुशी की शादी वारदात के दो दिन पहले ही हुई थी, ऐसे में साजिश रचने की भूमिका उसकी है, ये बात गले नहीं उतर रही थी। जिसके बाद पुलिस ने उसे जेल से छुड़ाने के लिए 169 की कार्रवाई की है। एक दो दिन में ख़ुशी जेल से रिहा हो जाएगी। बता दें बिकरू गांव में दो जुलाई की रात दहशतगर्द विकास दुबे ने आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मामले में नवविवाहिता खुशी दुबे को भी जेल भेजा था। उसका पति अमर दुबे हमीरपुर में मुठभेड़ में मारा जा चुका है। खुशी की शादी 29 जून को हुई थी। ठीक दो दिन बाद वारदात हुई। पुलिस ने बगैर जांच और साक्ष्यों के उसको साजिश रचने के आरोप में जेल भेज दिया था।

यह भी पढ़ें: पुलिस के सामने फिरौती के 30 लाख की रकम ले उड़े किडनैपर्स, अगवा बेटा भी नहीं मिला

आरोप था, कि उसने हमले के दौरान हमलावरों को उकसाया था। पुलिस की इस कार्रवाई की आलोचना शुरू हो गई थी। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया। कि गलत सूचना पर जल्दबाजी में सबकुछ हुआ। विकास के स्वजन ने उसका नाम लिया था। मामला संज्ञान में आने के बाद जांच कराने पर खुशी की कोई संलिप्तता नहीं मिली है। धारा 169 की अर्जी बुद्धवार को पुलिस अदालत में दायर करेगी। सोमवार को सभी कार्रवाई पूरी कर ली गई है।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 15, 2020, 4:27 pm
Fog
Fog
32°C
real feel: 43°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 81%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 8
sunrise: 4:53 am
sunset: 6:32 pm
 

Recent Posts

Trending