Connect with us

प्रदेश

बसपा-सपा सरकारों ने बहन-बेटियों का सबसे अधिक सम्मान किया : मायावती

Published

on

अखिलेश और मायावती ने मिर्जापुर-चंदौली में की जनसभाएं

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने मिर्जापुर और चंदौली में संयुक्त जनसभाओं को संबोधित करते हुए मिर्जापुर से प्रत्याशी रामचरित्र निषाद, राबट्र््सगंज से भाईलाल कोल और चंदौली से डा संजय चौहान को जिताने की अपील किया।
सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री जी अपनी कमी छिपा रहे है। भाजपा सरकार में ऐसे शौचालयों का निर्माण हुआ है जिनमें दरवाजा और पानी नहीं है। भाजपा बहन-बेटियों का सम्मान करने का झूठा दावा कर रही है। बसपा-सपा सरकारों ने बहन-बेटियों का सबसे अधिक सम्मान किया है गठबन्धन मां-बेटियों के हिफाजत के मामले में सबसे आगे है। बसपा सरकार में डाॅ. भीम राव अंबेडकर ग्रामों का विकास किया गया था। उत्तर प्रदेश की बसपा-सपा सरकार में सोनभद्र को विकास से जोड़ा गया था। नक्सलवाद से प्रभावित लोगों को रोजी-रोजगार से जोड़ने को प्राथमिकता दी गई। मिर्जापुर में भी विकास के कई महत्वपूर्व कार्य हुए। महागठबन्धन काम में विश्वास करता है। भाजपा की तरह हवा-हवाई नहीं है।

यह भी पढ़ें-महापौर ने बड़े मंगल से पूर्व हनुमान मंदिरों का दौरा कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा

मायावती ने कहा कि भाजपा राज में गरीब, मुसलमान, किसान, दलित का विकास नहीं हुआ है। अभी भी दलित और अन्य पिछड़े वर्ग का सरकारी नौकरियों में आरक्षण प्रभावहीन बना हुआ है। सच्चर कमेटी की रिपोर्ट में गरीबों की हालत खराब बताई गई हैै। भाजपा और आरएसएस के चलते अल्पसंख्यकों पर हो रहे जुल्म चरम सीमा तक पहंुच ये है। अपरकास्ट गरीबों की हालत भी खराब है। नोटबंदी और जीएसटी को बिना प्लान के लागू किया गया, जिससे बेरोजगारी बढ़ी है। नोटबंदी से भ्रष्टाचार खत्म नहीं हुुआ। बसपा प्रमुख ने कहा कि भाजपा की नींद उड़ गयी हैै इनके लटके चेहरे बता रहे है कि इनकी सरकार जाने वाली है। प्रधानमंत्री जी चुनावी जनसभाओं में रोना रो रहे है कि विपक्षी दल उन पर व्यक्तिगत हमले कर रहे हैं। जबकि प्रधानमंत्री जी और भाजपा के लोगों ने महागठबन्धन के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया। यह महापरिवर्तन लाने का महागठबन्धन है। यह गठबन्धन तब तक चुप नहीं बैठेगा जब तक केंद्र और प्रदेश से भाजपा को बाहर ना कर दें। भाजपा चुनाव जीतने के लिए साम-दाम-दण्ड-भेद अपना रही है। इससे सावधान रहना जरूरी है।

यह भी पढ़ें-सिर्फ लखनऊ में ही क्यों मनाए जाते हैं जेठ के बड़े मंगल, जानें कब-कैसे चल निकली परंपरा…

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उपस्थित जनसमू हो संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले चरण से आगे अब अंतिम चरण तक मतदाताओं के रूख से स्पष्ट है कि वे भाजपा को विदा करने का मन बना चुके हैं। जनता गठबन्धन को जिताना चाहती है। एक नई सरकार और नया प्रधानमंत्री चुनना चाहती हैै। उन्होने कहा भाजपा की सरकार ने समाज के हर वर्ग को दुःखी किया है,लोग परेशान हैं। उसके सभी वादे झूठे साबित हुए हैं। इसलिए जनता को मतदान के दिन का इंतजार है जब वह देश को धोखा देने वाली सरकार से पूरा हिसाब किताब लेगी। श्री यादव ने कहा कि भाजपा ने झूठ और नफरत से जो सरकार बनाई उसकी दीवार को गठबन्धन गिराएगा। गठबन्धन टूटेगा नही, केंद्र और राज्य दोनों सरकारों का सफाया करेगा। यह सामाजिक न्याय दिलाने का महापरिवर्तन का गठबन्धन है। अब भाजपा सरकार के जाने का छह दिन बचे हैं उसे कोई भी बचा नहीं सकता। भाजपा की फिर सरकार बनी तो देश में लोकतंत्र नही बचेगा। आरक्षण भी नहीं बचेगा। उन्होने कहा प्रधानमंत्री जी पूरे पांच साल विदेशो मेें घूमते रहे वही की पत्रिकाओं ने भी लिखा है कि मोदी सरकार वापस आई तो भारत में लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा। मोदी जी समाज में विभाजन की राजनीति करते है।

अखिलेश यादव ने कहा कि भारत पर पहले 35 लाख करोड़ का कर्ज था भाजपा के पांच साल में यह 70 लाख करोड़ हो गया है। जीएसटी, नोटबंदी ने कामधंधे चैपट कर दिए। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री जी जो कहते है उसका उल्टा करते हैं। अब उनकी चैकी छीनने का वक्त आ गया है। उन्होंने आह््वान किया कि भाजपा की विदाई का समय आ गया है। भाजपा को सबक सिखाने के लिए गठबंधन के प्रत्याशियों को बड़े अंतर से जिताये।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

योगी सरकार के निर्णय पर राज्य कर्मचारी गद्गद, कहा- हर कदम पर हम साथ हैं…

Published

on

लखनऊ। सभी सरकारी कर्मचारियों को बिना कटौती समय से वेतन देने को लेकर सीएम योगी के आदेश का राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने स्वागत किया है। परिषद के अध्यक्ष इं. हरिकिशोर तिवारी ने गुरुवार को मीडिया में जारी अपने बयान में कहा, प्रदेश का एक-एक कर्मचारी इस विपदा की घड़ी में सरकार के साथ खड़ा है। सरकार के हर निर्णय में हम सब उसका कंधे से कंधा मिलाकर काम करेंगे। प्रदेश के सफाई कर्मचारी, स्वास्थ कर्मचारी, बिजली कर्मचारी सहित अन्य कई संवर्ग महामारी के खिलाफ लड़ाई में पूरे मनायोग से जुटे हुए है।

यह भी पढ़ें-प्रियंका ने धार्मिक स्थलों को लिखा खत, ‘मानव सेवा’ में साझीदार बनाने की अपील

परिषद के महामंत्री शिवबरन सिंह यादव ने कहा कि सरकार का लाॅक डाउन के प्रति तटस्थ रहने के कारण प्रदेश में काफी स्थिति ठीक है। सरकार विभिन्न विभागों के निलंबित कर्मचारियों को भी वेतन भुगतान का मन बना रही है। ताकि लाॅकडाउन के चलते उनके परिवारों को कोई परेशानी न हो। शिवबरन सिंह यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने एक मिसाल पेश करते हुए सभी सरकारी कर्मचारियों को पूरे माह का वेतन समय से भुगतान करने का आदेश दिया है। जबकि तेलंगाना और महाराष्ट में राज्य कर्मचारियों के वेतन में कटौती का आदेश दिया गया है। हम सभी कर्मचारी संगठनों की ओर से उत्तर प्रदेश सरकार के निर्णय का स्वागत करते हैं।

एक दिन का वेतन राहत कोष में देंगे कर्मचारी

परिषद के संगठन मंत्री संजीव गुप्ता ने कहा, इस निर्णय से कर्मचारी समाज में सरकार के प्रति विश्वास बढ़ा है। कर्मचारी समाज भी वादा करता है कि इस विपदा की घड़ी में सरकार के सभी आदेशों का शतप्रतिशत पालन होगा। परिषद के संयुक्त मंत्री ने कहा, हमें विश्वास है कि सभी मिलकर इस महामारी पर जल्द ही जीत हासिल करेंगे। उन्होंने प्रदेश के सभी संगठनों एवं उनके सदस्यों से पुनः अपील करते हुए कहा कि प्रत्येक कर्मचारी इस महामारी से निपटने में सहयोग के रूप में अपना एक दिन का वेतन राहत कोष में उपलब्ध करा दें।

जागरूकता अभियान जारी

परिषद की अतिरिक्त मंत्री अमिता त्रिपाठी ने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सरकार जो भी एडवायरी जारी कर रही है वह सोशल मीडिया के माध्यम से अपने कर्मचारी साथियों को अवगत कराने के साथ जागरूकता अभियान चला रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार के प्रयास के चलते स्थिति सामान्य है। इसमें जनता की लाॅकडाउन के प्रति जागरूकता और अनुपालन हमें विजय दिलाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

कोरोना संकट: यूपीएसआरटीसी ने सीएम राहत कोष में 2.47 करोड़ का दिया योगदान

Published

on

लखनऊ। देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐतिहासिक आंकड़ों पर एक नज़र इस तथ्य की ओर इशारा करती है कि पिछले एक हफ्ते में भारत में मामले दोगुने से अधिक हो गए हैं । पिछले गुरुवार को देश में कोविड -19 मामले 700 से कम थे। इस गुरुवार को कोरोना के लगभग 2,000 मरीज हो गए हैं। आंकड़ा में 1,764 सक्रिय मामले, 150 में सुधार और 50 मौतें शामिल हैं।

इस महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 से प्रभावी ढंग से लड़ने को लेकर आर्थिक मदद के आह्वान किया। इस आह्वान पर कई बड़ी हस्तियों ने लोगों के मदद को आगे आए। इस सब के बीच यूपीएसआरटीसी के सभी नियमित कर्मचारियों ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष में 2.47 करोड़ रुपए का योगदान दिया है।

इसमें सभी नियमित कर्मचारियों के एक दिन का वेतन शामिल है। इसके लिए यूपीएसआरटीसी के एमडी राजशेखर ने कर्मचारियों का तहेदिल से आभार जताया है। साथ ही योगदान को स्वीकार करने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का धन्यवाद किया है।

इसे भी पढ़ें- कोरोना राजधानी में महा-अभियान शुरु…लखनऊ शहर को किया जा रहा सैनिटाइज

प्रमुख सचिव परिवहन राजेश कुमार सिंह और यूपीएसआरटीसी के एमडी राजशेखर ने गुरुवार को पांच कालीदास मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चेक सौंपा। उन्होंने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में बड़े पैमाने पर सार्वजनिक हित में स्वेच्छा से एक दिन के वेतन योगदान के लिए सभी नियमित अधिकारियों, कर्मचारियों और सभी संघों का आभार व्यक्त किया है। यूपीएसआरटीसी को भरोसा है कि हम सभी एकजुट होकर लड़ेंगे और कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को जीतेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

कोरोना राजधानी में महा-अभियान शुरु…लखनऊ शहर को किया जा रहा सैनिटाइज

Published

on

लखनऊ। कोरोना संक्रमण से बढ़ते हुए खतरे को रोकने के लिए प्रशासन ने फायर टेंडर की गाड़ियों से सैनिटाइजिंग का अभियान शुरू कर दिया है। आज हजरतगंज में सैकड़ों फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को शहर भर में सैनिटाइजिंग के लिए रवाना किया गया है। इस अभियान में नगर निगम की टीम के साथ-साथ फायर ब्रिगेड के कर्मचारी पूरे शहर में चौक चौराहों हॉस्पिटल और तमाम जगहों पर सैनिटाइजिंग का कार्य करेंगे।

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी ने आज सैकड़ों गाड़ियों को हजरतगंज चौराहे से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है। इस अभियान में नगर निगम, फायर विभाग और स्वास्थ्य विभाग सहित पुलिस के लोग शामिल है। यहां टीम शहर भर में सभी चौराहों हॉस्पिटलों और अन्य जगहों पर सेनेटराइजिंग का कार्य करेगी, इसके अलावा नगर निगम की टीम शहर में साफ-सफाई का भी जायजा लेगी।

यह भी पढ़ें-हजरतगंज में भर-भराकर गिरी जर्जर बिल्डिंग, बड़ा हादसा टला

अधिकारियों के मुताबिक सैनिटाइजिंग का कार्य शहर में प्रतिदिन किया जाएगा जिससे कोरोना के संक्रमण को रोका जा सके, इसके लिए नगर निगम, फायर विभाग और स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम तैयार की जा चुकी है। जो शहर भर में प्रतिदिन सैनिटाइजिंग का काम करेगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 2, 2020, 6:22 pm
Sunny
Sunny
33°C
real feel: 31°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 23%
wind speed: 4 m/s W
wind gusts: 4 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:26 am
sunset: 5:54 pm
 

Recent Posts

Trending