Connect with us

प्रदेश

लॉ छात्रा के साथ दुष्कर्म के आरोपी चिन्मयानंद को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली जमानत

Published

on

चिन्मयानंद

फाइल फोटो

प्रयागराज। लॉ स्टूडेंट से दुष्कर्म के मामले के आरोपी व बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद को इलाहाबाद हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। न्यायमूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने जमानत पर निर्णय सुनाते हुए चिन्मयानंद को रिहा करने का आदेश दे दिया है। इस मामले में पीड़ित छात्रा और उसके साथियों की जमानत हाईकोर्ट से पहले ही मंजूर हो चुकी है। छात्रा और उसके साथियों पर चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने का भी आरोप लगा है।

बता दें चिन्मयानंद के खिलाफ उनकी शिष्या ने वर्ष 2011 में बंधक बनाकर दुष्कर्म करने, गले में रस्सी से फंदा कसकर जान से मारने की कोशिश और बार-बार गर्भपात कराने आदि का आरोप लगाया था। जिसके बाद शिष्या ने इस मामले की 30 नवंबर 2011 को चौक कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस अधिकारी ने चिन्मयानंद के खिलाफ दुष्कर्म और धमकाने का आरोप पत्र कोर्ट में पेश किया था। इसी मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए चिन्मयानंद ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से 25 जुलाई 2018 से स्टे ले रखा था।

ये भी पढ़ें:Munna Bhai 3: एक बार फिर संजय दत्त बड़े परदे पर कॉमेडी करते आएंगे नजर…

बता दें पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद से पांच करोड़ रुपये की फिरौती मामले के आरोपियों की सोमवार को शाहजहांपुर के सीजेएम कोर्ट में पेशी होनी है। सीजेएम कोर्ट में चल रहे इस मुकदमे में लॉ की छात्रा और थाना तिलहर क्षेत्र के गांव बंथरा निवासी संजय सिंह, विक्रम सिंह, गाजियाबाद निवासी सचिन सेंगर उर्फ सोनू पर चिन्मयानंद से पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगने का आरोप भी लगा है। जिसके बाद एसआईटी ने इस मामले में 6 नंवबर को चार्जशीट कोर्ट में दाखिल की थी। फिरौती के सभी आरोपी इलाहाबाद हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद जेल से बाहर हैं। लेकिन लॉ की छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में चिन्मयानंद अभी भी जेल में थे। हालांकि कोर्ट से जमानत मिलने के बाद अब वह भी लगभग 5 महीने बाद जेल से बाहर आ गये हैं।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

पीएम मोदी के ट्वीट से यूपी पुलिस महकमे में मचा हड़कंप, बुलाई गई मीटिंग

Published

on

लखनऊ। देश के लोगों व पुलिस द्वारा लॉक डाउन को गंभीरता से न लिए जाने पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर चिंता व्यक्त की है। ट्वीट में प्रधानमंत्री ने राज्य सरकारों से लॉक डाउन को सख्ती से पालन करवाने को कहा है। जिसके बाद यूपी पुलिस महकमें में हड़कम्प गया। डीजीपी एचसी अवस्थी और अपर मुख्य सचिव ग्रह अवनीश अवस्थी की हाई पावर मीटिंग बुलाई है और लापरवाही बरतने वाले अफसरों को चेतावनी दी है। वहीं लॉक डाउन की समीक्षा करने खुद अपर मुख्य सचिव गृह और डीजीपी के साथ पुलिस हेडक्वार्टर पहुंचे और लॉक डाउन के हालात की रिपोर्ट ली ।

यह भी पढ़ें-हमीरपुर में दोहराया गया निर्भया कांड, नाबालिग के साथ हैवानियत की हदें पार

बता दें कि पीएम मोदी ने लॉक डाउन के बाद भी लोगो पर बाहर निकलने पर चिंता जताई थी । जिसके बाद गृह विभाग ने गैर जरूरी कामों से निकलने वालों पर सकती से पेश आने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। वहीं लखनऊ बॉर्डर की सभी सीमाएं सील कर दी गयी है । किसी भी प्रकार का आवागमन पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है । आकस्मिक सेवाओं को छूट दी गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

लॉकडाउन के नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें राज्य सरकारें: केंद्र

Published

on

नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर कई राज्यों में लॉक डाउन किये जाने के बाद सोमवार को जनता द्वारा इसको गंभीरता से न लिए जाने पर केंद्र ने नाराजगी जताते हुए सख्त रवैया अपनाया है।केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से कहा है कि लॉकडाउन का जनता द्वारा सख्ती से पालन करवायें। नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए देश के 22 राज्यों के 75 जिलों में लॉकडाउन है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी निर्देशों का पालन करने का आग्रह किया है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि, “लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।”

यह भी पढ़ें: लॉक डाउन का पालन न करना युवक को पड़ा भारी, FIR दर्ज

जरूरी सेवाएं रहेंगी जारी
कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को देख सभी राज्य सरकारें कोरोना प्रभावित 75 जिलों में केवल जरूरी सेवाएं ही जारी रखने की तैयार में हैं। मुख्य सचिवों ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा गुरुवार को दिए गए ‘जनता कर्फ्यू’ के आह्वान पर अच्छी और सहज प्रतिक्रिया मिली है। दुनिया भर में 13,049 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और घातक वायरस ने अब तक 3.7 लाख लोगों को प्रभावित किया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

मेरठः ग्रामीणों ने मंदिर में जमकर बजाया घंटा-शंख, दारोगा लाइन हाजिर

Published

on

लखनऊ। रविवार को पूरा दिन जनता जनता कर्फ्यू के बाद शाम 5 बजे पूरे देश में लोगों ने ताली, थाली, शंख, घंटा, घंटी बजाया। लेकिन मेरठ में घंटा और बजाने की यह मुहिम एक दारोगा पर भारी पड. गई। दरअसल यहां एक मंदिर में रविवार को दर्जनों ग्रामीण जमा हो गए। 5 बजने पर पुजारी के सभी ने घंटा, शंख और तालियां बजाकर कोरोना संक्रमण के बीच जनता की सेवा में लगे कर्मचारियों का धन्यवाद किया। लेकिन जब एसएसपी को जब मंदिर में लोगों की भीड. जुटने की सूचना मिली तो उन्होंने संबंधित दारोगा को लाइन हाजिर कर दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार से पूरे देश में जनता कर्फ्यू रहा। लोगों ने भी इसका पूरा समर्थन किया।

यह भी पढ़ें-#LockdownNow: दिहाड़ी श्रमिकों के भरण-पोषण के लिए भत्ता देने के आदेश जारी

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार शाम पांच बजे देश के सभी लोगों से अपने बालकनी में खड़े होकर ताली और थाली बजाने की अपील की थी, ये दरअसल उन लोगों के लिए हौसला अफजाई होगा जो इस संकट की घड़ी में भी आम लोगों को सुरक्षित रखने के लिए घर से बाहर निकलकर काम कर रहे है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

March 23, 2020, 9:26 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
25°C
real feel: 25°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 60%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:37 am
sunset: 5:49 pm
 

Recent Posts

Trending