Connect with us

प्रदेश

श्रीलंका अटैक में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति के लिए क्राइस्ट स्कूल ने निकाला शांति मार्च…

Published

on

श्रीलंका

फाइल फोटो

लखनऊ। श्रीलंका में एक के बाद एक हुए 8 बम धमाको की गूंज ने सबको हिला दिया थी। इस आत्मघाती हमले में लगभग 250 ज्यादा लोगों की मौत और 600 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। ऐसे में इस हमले में मारे गए लोगों की आत्मा के शनि के लिए लखनऊ के हजरतगंज स्थित क्राइस्ट स्कूल के टीचर और बच्चों ने गांधी प्रतिमा पर शांति मार्च निकाला है। इस दौरान सभी बच्चे स्कूल से लेकर गांधी प्रतिम तक पैदल गांधी प्रतिमा तक गए। वहां उन्होंने आतंकियों के खिलाफ नारे लगाए उसके बाद 2 मिनट का मौन धारण कर इस हमले के दौरान मारे गए लोगों के मन की शांति के लिए प्रार्थना की है।

आपको बता दें अभी बीते कुछ समय पहले श्रीलंका में कई जगहों पर बम ब्लास्ट हुआ था। इस दौरान वहां पर 250 से ज्यादा लोग मारे गए थे बल्कि 600 से अधिक लोग घायल हुए थे।

ये भी पढ़े:…जानिए श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट किस ‘जमात’ की है ‘करामातֹ’

जानकरी के मुताबिक कुछ दिनों बाद नैशनल तौहीद जमात जिसे तौहीद-ए-जमात के नाम से भी पहचाना जाता है उसके बारे में पता चला। वह श्रीलंका का एक कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन है। इस संगठन पर श्रीलंका में वहाबी विचारधारा को बढ़ाने का आरोप है। नैशनल तौहीद जमात सबसे पहले 2013 में तब चर्चा में आया जब श्रीलंका के तत्कालीन रक्षा मंत्री ने इस संगठन को लेकर चिंता जताई थी। उस दौरान खुफिया एजेंसियों ने इस संगठन के आईएसआईएस से तार जुड़े होने की बात कही थी। 2014 में इसने भगवान बुद्ध की मूर्तियों को तोड़कर इसने सर्वाधिक सुर्खियां बटोरीं।

बता दें, एनटीजे का सचिव अब्दुल रैजिक अपने भड़काऊ भाषणों के लिए काफी मशहूर हैं। 2014 में ही अब्दुल ने बौद्ध धर्म को लेकर बेहद आपत्तिजनक भाषण दिए थे। उसे इन बयानों के चलते 2016 में पहली बार गिरफ्तार भी किया गया था। इस कट्टरपंथी संगठन का सबसे ज्यादा प्रभाव श्रीलंका के पूर्वी प्रांत में है। साथ ही देश के कई हिस्सों में ये संगठन महिलाओं के लिए बुर्का और मस्जिदों के निर्माण के साथ शरीया कानून को आगे बढ़ाने में भी लगा है।

नैशनल तौहीद जमात कितना खतरनाक संगठन है उसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि खुद मुस्लिम समुदाय के लोग इस पर प्रतिबंद लगवाना चाहते हैं। 2014 में ही पीस लविंग मुस्लिम्स इन श्रीलंका (पीएलएमएमएसएल) ने इस संगठन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी। इसके लिए उन्होंने संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार, श्रीलंका के राष्ट्रपति और कई अन्य राजनयिकों को पत्र तक लिखा था।http://www.satyodaya.com

 

प्रदेश

पशुओं को गोद लें ग्राम प्रधान, लेखपाल और कोटेदार: मण्डलायुक्त

Published

on

कहा, किसी भी जिले में शहरी क्षेत्रों में न चले गाय, भैंस का तबेला

लखनऊ। किसी भी जनपद में शहरी क्षेत्र में गाय, भैंस का तबेला नहीं चलना चाहिए। आवारा जानवरों को गोवंश स्थलों में पहुंचाया जाए। सीडीओ अपने जनपद के बड़े गोवंश स्थलों का निरीक्षण करें और उन्हें बेहतर बनाएं। यह आदेश मण्डलायुक्त मुकेश कुमार मेश्राम ने शुक्रवार को आयुक्त सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में दिए। मण्डलायुक्त ने कहा, अधिकारी सुनिश्चित करें कि आश्रय स्थलों में जानवरों की मौत भूख या बीमारी से न हो। पशुओं के चारा व पोषण के लिए आश्रय स्थलों पर ही चरी, बरसीम औेर नेपियर घास भी उगायी जाए। छाया के लिए पशुओं के शेड (छप्पर) को फायर प्रूफ बनाएं।

नगर पालिका व नगर पंचायत क्षेत्र में भी आवारा पशु न दिखें। ग्राम प्रधान, लेखपाल, ग्राम पंचायत अधिकारी, कोटेदार आदि एक-दो पशुओं को गोद लें। मुकेश मेश्राम ने कहा कि मण्डल के किसी भी जनपद में पराली जलाने की घटना पर त्वरित और सख्त कार्रवाई करें। साथ ही लोगों को इससे होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक भी करें। समीक्षा बैठक में मण्डलायुक्त ने कहा, पात्र गरीबों का आयुष्मान कार्ड बनाने के साथ यह भी सुनिश्चित करें कि जरूरत पड़ने पर एक साल में 5 लाख तक का निशुल्क इलाज हो। खाद्य सुरक्षा के तहत पात्र लोगों के राशन कार्ड बनाए जाएं। अधिकारी किसानों के प्रति संवेदनशीलता बढ़ाएं। क्रय केन्द्रों पर किसानों का धान समर्थन मूल्य पर खरीदा जाए। उनका किसी प्रकार का उत्पीड़न न हो।

मण्डलायुक्त ने कहा, निर्देशों का उल्लंघन करने वाले केन्द्र प्रभारी के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। मण्डल के सभी जनपदों में स्वच्छ शौचालय का निर्माण हो गया है, उनका प्रयोग हो रहा है या नहीं, ग्राम स्तर पर रह रहे अधिकारी कर्मचारी इन शौचालयों का प्रयोग कर रहे हैं कि नहीं, इसकी रिपोर्ट दें। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पूरी पारदर्शिता के साथ पात्रों को पहंुचाया जाए। शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं पर सीडीओ विशेष ध्यान दें। साथ ही पात्र लाभार्थियों के चयन व जागरूकता के लिए खुली बैठक करें।

यह भी पढ़ें-पुलिस को देख रास्ते में अचानक चिल्लाने लगी दुल्हन… और दूल्हा पहुंच गया थाने

कमिश्नर ने कहा कि 30 नवम्बर तक सभी विधालयों में स्वेटर का वितरण हो जा। कोई भी बच्चा बिना जूता पहने विधालय न आए। पर्यटकों के लिए दुधवा व नैमिष्रायण की सड़कों को ठीक करा लिया जाए। सामूहिक विवाह योजना एक अच्छी योजना है, इससे गरीब लोगों को राहत बाल विवाह व दहेज पर रोक लगती है। इसी प्रकार कन्या सुमंगला योजना एक अच्छी योजना है इसका भी बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। इसके साथ ही आशाओं के मानदेय का समय से भुगतान सुनिश्चित करें। मण्डलायुक्त ने कहा, हमे यह सुनिश्चित करना है कि लखनऊ जनपद व मण्डल अच्छे टाॅप टेन जनपद व मण्डल में रहे। समीक्षा बैठक में सीडीओ लखनऊ मनीष बंसल, संयुक्त विकास आयुक्त श्रीकृष्ण त्रिपाठी व मण्डल के अन्य जनपदों के सीडीओ समेत सम्बन्धित मण्डल स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

शादी के दो दिन पहले नाबालिग प्रेमिका को लेकर भाजपा नेता फरार

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के औरेया जिले में एक भाजपा नेता पड़ोस में ही रहने वाली अपनी नाबालिग प्रेमिका को लेकर फरार हो गया। भाजपा नेता कौशलेंद्र राजपूत बिधूना का ब्लॉक प्रमुख है। यही नहीं कौशलेंद्र की दो दिन बाद शादी भी थी। 17 नवंबर को ब्लॉक प्रमुख का तिलक भी हुआ था।

शुक्रवार को जब पता चला कि कौशलेंद्र लड़की को लेकर भाग गया है तो हड़कंप मच गया। दोनों परिवारों के बीच जमकर मारपीट भी हुई। सूचना पाकर मौके पर पुलिस पहुंची तब जाकर मामला शांत कराया गया।

ये भी पढ़ें: मुर्गे की हत्या का मामला पहुंचा थाने, 7 पर एफआईआर दर्ज

थानाध्यक्ष ब्रजेश भार्गव ने बताया कि कौशलेंद्र एक लड़की को लेकर फरार है। कौशलेंद्र के भाई रोहिताश मारपीट की तहरीर दे रहे हैं। जबकि लड़की पक्ष की तरफ से कोई तहरीर नहीं मिली है। जांच में मिले तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें, 24 नवंबर को कौशलेंद्र की शादी थी, उसकी बारात कन्नौज आनी थी। वधू पक्ष को अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

युवती ने ससुर पर रेप के साथ-साथ दहेज प्रताड़ना का लगाया आरोप, FIR दर्ज….

Published

on

शर्मसार

फाइल फोटो

गुरुग्राम। रिश्तों को शर्मसार करने वाले मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। ऐसे में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमे एक विवाहिता ने अपने ससुर पर रेप करने का आरोप लगाया है। वहीं जेठानी पर भी उन्होंने आरोप लगाया कि उसने उस अवस्था में उनकी नग्न फोटो  खींची। विवाहिता का कहना है उसके जेठानी और ससुर के अवैध संबंध हैं। जिनका पता चलने पर उन्होंने उसके साथ भी इस घिनौने काम को अंजाम दिया है।

विवाहित युवती ने ससुराल पक्ष पर दहेज प्रताड़ना का भी आरोप लगाया है। वहीं आरोप में बताया कि ससुराल पक्ष के लोग 15 लाख और फॉर्च्यूनर गाड़ी की लगातार डिमांड कर रहे थे। जिसकी वजह से वह कई बार उसके साथ मारपीट भी करते थे। सोहना पुलिस ने विवाहिता के बयान पर महिला के पति, सास, ससुर, जेठ, जेठानी के खिलाफ के एफआईआर दर्ज कर लिया है।पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें:अगर नहीं देना चाहते दोगुना Toll Tax तो 1 दिसंबर से पहले करें ये काम, जानिए क्या…

ससुराल वालों ने रेप, मारपीट ही नहीं बल्कि 7 महीने की गर्भवती विवाहिता के बच्चे को भी जबरन गिरव दिया। 15 नवंबर 2019 को जब वो अपने प्लॉट से दूध लेकर घर पर आई तो उसने अपने ससुर और जेठानी को आपत्तिजनक स्थिति में देखा। जिस पर ससुर ने उसे जबरन पकड़ लिया और उसके साथ गलत काम किया। वहीं जेठानी ने वीडियो बना ली। ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट की और कहा कि अगर उसने कुछ कहा तो वह उसे बदनाम कर देंगे। हालांकि उसने अब इस पूरी घटना के बारे में पुलिस को बता दिया है। जिसके बाद थाना प्रभारी  ने आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर दिया है। जांच जारी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 22, 2019, 5:26 pm
Intermittent clouds
Intermittent clouds
25°C
real feel: 24°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 53%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:01 am
sunset: 4:44 pm
 

Recent Posts

Trending