Connect with us

प्रदेश

सीएम योगी ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर की उच्चस्तरीय बैठक, सभी अधिकारी रहे मौजूद….

Published

on

सीएम योगी

फाइल फोटो

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा के प्रचंड जीत के बाद यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ एक्शन में आए हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराधों पर सीएम योगी ने सख्ती दिखाई है। सोमवार को सीएम योगी ने महिला सुरक्षा मुद्दे लेकर एक उच्चस्तरीय बैठक की है।   

इस बैठक में चीफ सेक्रेटरी, प्रमुख सचिव गृह, डीजीपी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, एडीजी महिला सम्मान प्रकोष्ठ शामिल हुए हैं। इतना ही नहीं इस उच्चस्तरीय बैठक में सीएम योगी अलीगढ़ हत्याकांड पर अधिकारियों से जवाब तलब किया। उसके उन्होंने अलीगढ़ विधायक से भी मुलाकात की है।

आपको बता दें सीएम योगी अलग-अलग मुद्दों पर बैठक कर रहे हैं और सभी मामलों को निपटाने के निर्देश भी दे रहे हैं। योगी ने 3 जून को लखनऊ में अलग अलग सरकारी परियोजनाओं की समीक्षा की और उन्होंने इस मौके पर कहा कि प्रयागराज कुंभ-2019 में स्वच्छता का जो मानक प्रस्तुत किया गया है, सभी नगर निगमों में इसी मानक के अनुरूप स्वच्छता सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा, “जन सहयोग से इस काम में अच्छे नतीजे पाए जा सकते हैं। मंडलायुक्त पूरे मंडल के नगरीय और ग्रामीण क्षेत्र में स्वच्छता की स्थिति देखकर जवाबदेही तय करें। वहीं सभी नियुक्त सफाईकर्मियों की ओर से सफाई कार्य भी किया जा रहा है या नहीं, इसकी जांच जरूर कराएं।”

ये भी पढ़े:बसपा और भीम आर्मी कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे पर जमकर चलाए लात-घूंसे, कई घायल

सीएम योगी ने लोक भवन में आज साढ़े बारह बजे बैठ आयोजित की है। जिसमें प्रदेश के सभी मंडलायुक्तों और नगर आयुक्तों के साथ-साथ शहरों की सफाई, पॉलीथिन पर रोक, नगरीय क्षेत्र में गोवंश संरक्षण, स्मार्ट सिटी मिशन, अमृत मिशन, शहरों में नालों को टैप किए जाने की प्रगति, एसटीपी के निर्माण की प्रगति और नमामि गंगे परियोजनाओं की समीक्षा की है।

वहीं बैठक के दौरान योगी ने ये भी कहा, “आज की बैठक के एजेंडा के बिंदुओं के अतिरिक्त प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण, सौभाग्य योजना, निराश्रित, विधवा और दिव्यांगजन पेंशन सहित शासन की ओर से संचालित विभिन्न विकास और जनकल्याणकारी योजनाओं पर मण्डलायुक्त की ओर से मंडल स्तर पर भी समीक्षा की जाएगी।

इस उच्चस्तरीय बैठक में योगी ने निर्देश दिया कि मंडलायुक्त 10 जून तक अपनी सभी बताये गए बिंदुओं पर एक समीक्षा रिपोर्ट तैयार कर लें। वहीं 11 जून से 15 जून तक प्रमुख सचिव, अपर मुख्य सचिव और मंत्री स्तर पर भी समीक्षा की जाएगी। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

रामदास अठावले ने सपा-बसपा पर कसा तंज, गठबंधन पर उठाया सवाल….

Published

on

रामदास अठावले

फाइल फोटो

लखनऊ। केन्द्र में मोदी सरकार के सहयोगी पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले आज यूपी राजधानी लखनऊ पहुंचे। जहां उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और उसके बाद उन्होंने लखनऊ स्थित वीवीआईपी गेस्ट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया से बातचीत भी की है।

इतना ही नहीं इस मौके पर उन्होंने सपा-बसपा के गठबंधन को असफल बताते हुए कहा की बसपा को सपा के गठबंधन से फायदा हुआ, लेकिन सपा को बसपा का साथ नही भाया। आपको बता दें इस प्रेस कांफ्रेंस के दौरान रामदास अठावले के साथ कई नेता और पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

जानकारी के मुताबिक बता दें कि मीडिया से बात करते हुए रामदास अठावले ने कहा की यूपी में सीएम योगी के नेतृत्व में तेज़ी से विकास हो रहा है। वहीं उन्होंने ये भी कहा कि सीएम योगी जब पहली बार सांसद चुने जाने के बाद लोकसभा गए थे, तब मैं भी रिपब्लिकन पार्टी से सांसद चुना गया था। इसलिए सीएम योगी का और मेरा अच्छा संबंद्ध है।

वहीं इस दौरान सपा-बसपा पर तंज कसते हुए अठावले ने कहा की पीएम मोदी को हराने के लिए गठबंधन ने जो प्लान किया था उसमें वो सफल नही हो सके।  यूपी में सपा के साथ गठबंधन से बसपा को तो फायदा मिला है, जिससे बसपा ने 10 सांसद बना लिया लेकिन सपा को गठबंधन से कोई फायदा नही पहुंच पाया है। क्योंकि यूपी में अनुसूचित जाति का 12 से 13 प्रतिशत वोट पीएम मोदी को गया है।

ये भी पढ़े:दिल्ली: एनएच-24 में टेम्पो और पानी टैंकर में हुई भिड़ंत, 3 की मौत 10 घायल….

पीएम आवास योजना से 23 से 24 करोड़ लोगो को फायदा मिला है और मुद्रा योजना से 1 करोड़ 60 लाख लोगों में सिर्फ यूपी के लोगो को लाभ पहुंचा है। वही एससी आरक्षण पर अठावले ने कहा की एससी के लिए 21 प्रतिशत आरक्षण है सरकार को उसे और आगे बढ़ाना चाहिए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

1 जुलाई से सचिवालय में बायोमेट्रिक सिस्टम से हाजिरी की शुरुआत…

Published

on

एक जुलाई से सचिवालय में बायोमेट्रिक सिस्टम से हाजिरी व्यवस्था शुरू हो जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसकी शुरुआत करेंगे। सचिवालय प्रशासन विभाग ने इस संबंध में तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए शनिवार को सचिवालय के अनुभागों को खास तौर से खोलने के निर्देश दिए गए हैं। 

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी के बाद पार्टी में हुई इस्तीफों की बरसात, अब तक 150 नेताओं ने छोड़ा अपना पद…

मुख्यमंत्री योगी ने पिछले दिनों सचिवालय प्रशासन विभाग के प्रजेंटेशन के दौरान सचिवालय के अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थित बायोमेट्रिक  सिस्टम से शुरू करने का निर्देश दिया था। सचिवालय प्रशासन विभाग ने इसके लिए सभी विभागों में बायोमैट्रिक्स डिवाइस की स्थापना कराई है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

कानपुर : आर्टिकल-15 फिल्म की रिलीज पर बवाल, कई शो हुए रद्द

Published

on

बदायूं रेप कांड पर आधारित फिल्म आर्टिकल 15 को लेकर विरोध जारी है। शुक्रवार को कानपुर में लोगों ने सिनेमा हॉल में लगे फिल्म के पोस्टरों को फाड़ दिया। कई ब्राह्मण संगठनों ने मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हाल के बाहर धरना प्रदर्शन किया। इसके चलते फिल्म के शो रद्द कर दिए गए।

एसपी सिटी राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि फिल्म के विरोध में प्रदर्शनों को देखते हुये जेड स्क्वेयर मल्टीप्लेक्स समेत सभी सिनेमाघरों में फिल्म के शोर रद्द करवा दिए गए। सिनेमा हालों में जैसे ही फिल्म शुरू हुई बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और जिससे माहौल तनावपूर्ण हो गया था। एसपी ने बताया कि अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद, सर्व ब्राह्मण सभा जैसे कई ब्राह्मण संगठनों ने फिल्म के ऐक्टर और प्रड्यूसर, डायरेक्टर के खिलाफ नारेबाजी की और फिल्म के पोस्टर फाड़ दिए। उन्होंने बताया कि मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हाल के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।

सत्य घटना पर आधारित है फिल्म
साल 2014 में उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में दो चचेरी बहनों के साथ गैंगरेप के बाद उनके शव पेड़ से लटके हुए मिले थे। आर्टिकल 15 इस सत्य घटना पर आधारित फिल्म है। इस फिल्म में लड़कियों और उनके परिवार पर जुल्म करने वाले एक महंत के बेटों को दिखाया गया है, जो ब्राहम्ण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। वहीं पीड़ित लड़कियों को दलित दिखाया गया है। ब्राहम्ण समाज का कहना है कि इस फिल्म के माध्यम से छवि को धूमिल किया जा रहा है और समाज को बांटने का भी काम किया जा रहा है।

अनुभव सिन्हा के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म में आयुष्मान खुराना लीड रोल में हैं। फिल्म की कहानी की बात करें तो तीन नाबालिग लड़कियों के साथ रेप और मर्डर के इर्द-गिर्द घूमती हैं। फिल्म में आयुष्मान खुराना पुलिस अधिकारी की भूमिका में हैं। फिल्म में ईशा तलवार, एम नासर, मनोज पाहवा, सयानी गुप्ता, कुमुद मिश्रा और मोहम्मद जीशान अय्यूब भी महत्वपूर्ण भूमिकाओं में हैं।

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 29, 2019, 3:51 pm
Partly sunny
Partly sunny
41°C
real feel: 44°C
current pressure: 99 mb
humidity: 27%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending