Connect with us

प्रदेश

कॉमनवेल्थ पार्लियामेंट्री सम्मेलन: ओम बिरला की उपस्थिति में संसदीय विषयों पर हुई चर्चा

Published

on

लखनऊ। सातवें कॉमनवेल्थ पार्लियामेंट्री एसोसिएशन (इंडिया रीजन) का सम्मेलन पहली बार राजधानी लखनऊ में बुधवार से आयोजित हुआ। तीन दिनों तक चलने वाले इस सम्मेलन में विधायिका के कामकाज में सुधार पर चर्चा एवं विचार-विमर्श किया जाना है। इसमें शामिल होने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला राजधानी पहुंचे। उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने लखनऊ एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया। इस दौरान मंत्री सुरेश खन्‍ना भी मौजूद रहे।

वहीं, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला एयरपोर्ट से सीधे उप्र राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने पहुंचे। राज्‍यपाल ने उन्‍हें शिष्टाचार भेंट की। इसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की उपस्थिति में भारत प्रक्षेत्र की कार्यकारिणी समिति की बैठक हुई। इस समिति में संसदीय विषयों पर चर्चा एवं विचार-विमर्श किया गया।

यह भी पढ़ें: आगरा-अलीगढ़ हाईवे पर स्कूली बच्चों से भरी बस व वैन में हुई टक्कर, 6 घायल

बता दें आज दूसरे दिन 16 जनवरी को सुबह 11 बजे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला विधान सभा मंडप में सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत मंत्रिमंडल के सदस्य भी मौजूद रहेंगे। इस सम्मेलन मे सत्ता और विपक्ष के भेद न हो। सदन में नेता सदन को भी बोलने का मौका मिलेगा। यह उत्तर प्रदेश के लिए सौभग्य का विषय है यह सम्मेलन यहां आयोजित किया जा रहा है।  

विधानमंडल के विधानसभा मंडप में होने वाले सम्मेलन में देश की सभी विधानसभा व विधानपरिषद के अध्यक्ष व सभापति शामिल हो रहे हैं। लखनऊ में आयोजित होने वाले राष्ट्रमंडल संसदीय संघ, भारत प्रक्षेत्र का 7वां सम्मेलन है। सम्मेलन में राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश भी भाग लेंगे। विधान सभाओं के अध्यक्ष व विधान परिषदों के सभापति भी भाग लेंगे। सम्मेलन का समापन राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेंगी।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

SP यूथ विंग कार्यकर्ताओं का सरकार पर हमला बोले- मोदी-योगी राज में किसान परेशान

Published

on

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय के गेट नंबर एक पर बेरोजगार युवकों और सपाईयों ने भी प्रदर्शन कर अपना विरोध प्रकट किया। सपा छात्र सभा के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा सरकार में अपराध की बढ़ोतरी हुई है। लाखों युवा बेरोजगार हो गए हैं। महिला सुरक्षा के दावे करने वाली सरकार महिलाओं के सुरक्षा को लेकर खिलवाड़ करती नजर आ रही है। इसको लेकर लोगों में आक्रोश है। कायर्कर्ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेजबाजी की। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी। प्रदर्शनकारी सपा कार्यकर्ता पुलिस से भी भिड़ गए तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान उनकी पुलिस से कहासुनी हुई।

इसे भी पढ़ें- निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारियों ने मशाल जुलूस निकालकर किया प्रदर्शन

बता दें कि, समाजवादी पार्टी के यूथ विंग कार्यकर्ताओं ने राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था, गन्ना किसानों का भुगतान करने, किसानों की आय दो गुनी करने, किसानों का कर्ज माफ करने, शिक्षा का बाजारीकरण रोकने, छात्रों की फीस माफ करने सहित तमाम मांगों को लेकर जोरदार प्रदर्शन कर नारेबाजी की। समाजवादी पार्टी की यूथ ब्रिगेड ने सरकार से रोजगार देने की अपील की। उन्होंने कहा कि मोदी-योगी राज में किसान परेशान हैं। शिक्षा महंगी हो गई है। बेरोजगारी बढ़ गई है। आरक्षण को खत्म किया जा रहा है। निजीकरण से रोजगारों की संख्या में कमी आ रही है और योगी सरकार में भ्रष्टाचार फलफूल रहा है। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार चाहिए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारियों ने मशाल जुलूस निकालकर किया प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ। लखनऊ में पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के निजीकरण के फैसले के विरोध में विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने आहवान पर यूपीपीसीएल फील्ड हॉस्टल से मशाल जुलूस निकाला। कर्मचारी हाथों में विभिन्न प्रकार के स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर नारेबाजी कर रहे थे। मौके पर मजूद भारी मात्रा में पुलिस बल ने बिजली कर्मियों को गेट पर रोका लिया। इस दौरान बिजलीकर्मी मशाल जुलूस निकालने पर अड़े रहे।

इसे भी पढ़ें-UP: कोरोना के 5382 रोगी इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज, 60 की मौत

बताते चलें कि, बिजलीकर्मियों ने कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी है। जूनियर इंजीनियर अभियंता मंगलवार को 3 घंटे का कार्य बहिष्कार करेंगे और 5 अक्टूबर से देश भर में बिजलीकर्मी विरोध प्रदर्शन करेंगे। धरना प्रदर्शन के दौरान अलग-अलग बिजली संगठनों के पदाधिकारी जुटे। इसमें विद्युत परिषद अभियंता संघ, जूनियर इंजीनियर संगठन, कार्यालय सहायक संघ, बिजली कर्मचारी संघ, विद्युत मजदूर पंचायत, हाईड्रो एम्पलाइज यूनियन, विद्युत कर्मचारी मोर्चा संगठन समेत कई संगठनों के पदाधिकारी शामिल रहे।

बता दें कि, उत्तर-प्रदेश सरकार के प्रस्ताव के मुताबिक पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम को विघटित कर तीन छोटे निगम बनाए जाएंगे। योजना है कि इन तीनों निगमों का निजीकरण किया जाएगा। इसी फैसले के विरोध में बिजली कर्मचारी प्रदर्शन कर रहे हैं और इसमें सरकार के हस्तक्षेप की मांग कर रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

कोरोना वायरस

UP: कोरोना के 5382 रोगी इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज, 60 की मौत

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 5,382 रोगी इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए है। वहीं इस दौरान 3,838 नए मामले सामने आए है और 60 लोगों की मौत हो गई है। राजधानी लखनऊ में सोमवार को 924 रोगियों को अस्पताल से छुट्टी की गई है।

लखनऊ में सोमवार को 550 नए पाॅजिटिव रोगी मिले हैं। इस दौरान 9 मरीजों की सांसे थम गई है। नए मामलों के साथ ही लखनऊ में कोरोना संक्रमितों की संख्या 51 हजार पहुंच गई है। कुल संक्रमित मामलों में से 43,533 लोगों कोरोना को मात देकर अपने घर लौट चुके है। वहीं 7,531 केस अभी भी एक्टिव है। जिनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। अब तक लखनऊ में 684 लोगों की मौत हो चुकी है।

प्रयागराज में आज 229, गोरखपुर में 189, गौतमबुद्ध नगर में 186, गाजियाबाद में 172, वाराणसी में 156, मेरठ में 151, फर्रुखाबाद में 131,बरेली में 127, मुजफ्फरनगर में 118 और लखीमपुर में 96 नए रोगी मिले है। इस दौरान मेरठ में 5, गोरखपुर, वाराणसी और बलिया में 3-3, प्रयागराज, झांसी, सहारनपुर, इटावा, मथुरा, मैनपुरी, कन्नौज, अमेठी और औरेय्या में 2-2 लोगों की कोविड से जान चली गई है।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि यूपी में 3,31,270 लोगों में कोरोना को अब तक मात देकर अपने घर लौट चुके है। प्रदेश में रिकवरी रेट 84.75 प्रतिशत हो गया है। वहीं 53,953 कोरोना के मामले अभी भी सक्रिय है। अब तक 5,652 संक्रमित दम तोड़ चुके हैं।

यह भी पढ़ें:- विस उपचुनाव: CM योगी ने चुनावी जनसभा को किया संबोधित, उन्नाव को दी सौगात

अमित मोहन प्रसाद बताया कि अबतक 2,08,293 लोगों ने होम आइसोलेशन का विकल्प लिया है, जिसमें करीब 1,82,223 लोगों की होम आइसोलेशन की समय सीमा खत्म भी हो चुकी है। इसके अलावा अभी भी करीब 26,770 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को प्रदेश में करीब 1,51,822 सैंपल की जांच की गई थी।यूपी में अब तक कुल 97,76,894 सैंपल की जांच की जा चुकी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 29, 2020, 8:21 am
Fog
Fog
26°C
real feel: 32°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 88%
wind speed: 1 m/s NE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 5:28 am
sunset: 5:25 pm
 

Recent Posts

Trending