Connect with us

प्रदेश

प्रियंका गांधी नहीं बल्कि इस नेता पर कांग्रेस ने खेला वाराणसी सीट का दांव, PM मोदी के खिलाफ उतारा प्रत्याशी

Published

on

फाइल फोटो

लोकसभा चुनाव 2019 में कयासों को कोई जगह नहीं मिल रही है। लोगों के अनुमान से बिलकुल अलग प्रत्याशी चुने जा रहे हैं। ऐसे ही वाराणसी लोकसभा सीट पर यह कयास लगाये जा रहे थे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस इंदिरा गांधी का क्लोन कही जाने वाली उनकी पोती और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को उतारेगी। मगर गुरूवार को उनके चुनाव मैदान में उतरने के कयासों पर ब्रेक जग गया। कांग्रेस ने वाराणसी से नरेंद्र मोदी के खिलाफ अजय राय को उम्मीदवार बनाया है। हालांकि अजय राय वाराणसी सीट से हारे हुए खिलाड़ी हैं। 2014 में भी अजय राय अपनी जमानत भी नहीं बचा सके थे। लेकिन इसके बावजूद कांग्रेस ने एक बार फिर उन्हीं पर दांव खेला है।

अजय राय वाराणसी सीट से विधायक रह चुके हैं। अजय राय ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1996 में बीजेपी प्रत्याशी के रूप में उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़कर की थी, जिसमें उन्‍हें विजय प्राप्‍त हुई थ। इसके बाद अजय राय ने सपा में शामिल हो गए थे। सपा के 2009 में लोकसभा चुनाव लड़े, लेकिन जीत नहीं सके थे। इसके बाद वो कांग्रेस में शामिल हो और 2012 में विधायक बने।

इसके बाद 2014 में नरेंद्र मोदी के खिलाफ ताल ठोका था। इस दौरान उन्होंने कहा था कि  नरेंद्र मोदी को बाहरी (बनारस से बाहर का) और अरविंद केजरीवाल को भगोड़ा करार दिया था। लेकिन उनका ये दांव काम नहीं आया। उन्हें महज 75 हजार वोट ही मिल सके थे।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पिछले दिनों पूर्वांचल के लिए लोकसभा चुनाव अभियान का पहला दौरा प्रयागराज से वाराणसी का किया था। इस दौरान वो गंगा नदी में बोट के सहारे पहुंचीं। रास्ते में वो मंदिर और मजार पर माथा टेकते हुए और गंगा के दोनों किनारे बसे हुए लोगों से संवाद करते हुए काशी पहुंचीं थी।

प्रियंका ने जिस तरह से वाराणसी में सीधे तौर पर नरेंद्र मोदी को लेकर घेरा और सवाल खड़े किए हैं। इसके बाद से कायास लगाया जा रहा था कि मोदी के खिलाफ प्रियंका गांधी चुनावी मैदान में उतर सकती हैं। इतना ही नहीं प्रियंका ने खुद भी रायबरेली में लोगों से कहा था कि वाराणसी से लड़ जाऊं तो। इसके बाद माना जा रहा था कि कांग्रेस प्रियंका को उतार सकती है, लेकिन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार प्रियंका के वाराणसी से उतरने पर पूर्ण विराम लगा दिया था।

वाराणसी लोकसभा सीट पर सातवें चरण में वोट डाले जाएंगे। यहां के जातीय समीकरण को देखें तो ब्राह्मण, वैश्य और कुर्मी मतदाता काफी निर्णायक भूमिका में हैं। करीब तीन लाख वैश्य, ढाई लाख कुर्मी, ढाई लाख ब्राह्मण, तीन लाख मुस्लिम, 1 लाख 30 हजार भूमिहार, 1 लाख राजपूत, पौने दो लाख यादव, 80 हजार चौरसिया, एक लाख दलित और एक लाख के करीब अन्य ओबीसी मतदाता हैं।

देखना ये होगा कि कांग्रेस द्वारा खेला गया ये दांव कितना सही बैठता है। इस चुनाव में अजय राय कुछ अच्छा कर पाएंगे या फिर उनका हाल पिछले लोकसभा चुनाव जैसा ही होगा। ये सब तो पता चलेघा 23 मई को परिणाम घोषित होने के बाद ही।  http://www.satyodaya.com

प्रदेश

फिल्म ‘आयशा’ को लेकर मुश्किल में फंसे वसीम रिजवी, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

Published

on

तहफ्फुज-ए नामूस-ए रिसालत एक्शन के राष्टीय अध्यक्ष जीशान मिर्जा ने अदालत में दाखिल की याचिका

लखनऊ। उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी अपनी फिल्म ‘आयशा’ को लेकर मुश्किल में घिरते नजर आ रहे हैं। फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद तहफ्फुज-ए नामूस-ए रिसालत एक्शन के राष्टीय अध्यक्ष जीशान मिर्जा ने वसीम रिजवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। जीशान मिर्जा ने फिल्म के ट्रेलर को आपत्ति जनक बताते हुए 21 अगस्त को लखनऊ के एक थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जीशान मिर्जा ने पुलिस को दी गयी तहरीर में बताया है कि वसीम रिजवी मुस्लिम धर्म के अंतिम पैगम्बर मोहम्मद साहब की धर्मपत्नी (जो मुस्लिम समुदाय की मां भी हैं) पर एक अश्लील फिल्म बना रहे हैं। जिसका एक आपत्तिजनक ट्रेलर सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया है।

वसीम रिजवी ने इस्लामिक हदीसों का गलत हवाला देकर मां आयशा पर एक आपत्तिजनक ट्रेलर वायरल किया है। जिससे मुस्लिम समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं। बता दें कि आपत्तिजनक ट्रेलर रिलीज होने के बाद मुस्लिम समुदाय में काफी आक्रोश था। इस फिल्म के विरोध में देशभर के मुस्लिम समुदाय ने वसीम रिजवी के खिलाफ धरना प्रदर्शन भी किया था। हालांकि राजनीतिक संरक्षण के चलते वसीम रिजवी के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की थी। मुस्लिम समुदाय ने फिल्म पर रोक न लगने व रिजवी के खिलाफ कार्रवाई न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी थी।

यह भी पढ़ें-भारत योजनाओं का देश है, हमारे पास सिनेमा की खेती की योजना है: सत्यकाम आनन्द

इस मामले में तहफ्फुज-ए नामूस-ए रिसालत एक्शन ट्रस्ट के नेशनल प्रसिडेंट जीशान मिर्जा ने न्यायालय की शरण ली थी। जिसके बाद 2 सितंबर को वसीम रिजवी के खिलाफ न्यायालय में 156(3) में परिवाद दायर किया। परिवाद पर सुनवाई के बाद न्यायालय ने लखनऊ पुलिस से प्रगति रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए। लखनऊ पुलिस द्वारा पेश रिपोर्ट देखने के बाद अदालत ने मामले को गम्भीर मानते हुए एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। जिसके बाद लखनऊ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

नेशनल मुए थाई चैम्पियनशिप में गाजियाबाद के तीन खिलाड़ियों ने जीता गोल्ड मेडल

Published

on

गाजियाबाद। दिल्ली स्थित त्यागराज स्टेडियम में 8 से 12 सितंबर तक 5 दिवसीय नेशनल मुए थाई चैम्पियनशिप का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता का शुभारंभ साउथ एशियन एथलेटिक्स फेडरेशन के प्रेसिडेंट ललित कुमार भनोट ने किया। उत्तर प्रदेश मुए थाई के सह-सचिव व टेक्निकल डायरेक्टर अजय अग्रवाल ने बताया कि प्रतियोगिता में गाजियाबाद से 12 खिलाड़ियों ने भाग लिया। जिसमें ज्योति यादव, मनीष सिंह व नीरज सिंह ने गोल्ड मेडल जीता। दिशा सिंह ने सिल्वर और हर्षित भाटी, राहुल शर्मा, वरुण भटनागर, अभिषेक त्यागी व शिवम शर्मा ने ब्रांच मेडल जीता। प्रतिभोगिता में अभिषेक पाण्डेय, विजय उत्तम गाजरे ने भी भाग लिया। प्रतियोगिता में गाजियाबाद के संदीप राव टीम कोच के रूप में, रंजीत मिश्रा टीम मैनेजर व लखनऊ के धीरज मिश्रा निर्णायक समिति में उपस्थित रहे।

Continue Reading

प्रदेश

सीएम की सख्ती का असर, प्रशासन ने भू-माफिया के कब्जे से छुड़ाई सरकारी जमीन

Published

on

जमीनों पर कब्ज़ा

फाइल फोटो

लखनऊ। सरकारी जमीनों पर कब्ज़ा करने वाले भू-माफियों के खिलाफ सीएम योगी ने सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है। एसडीएम सदर के आदेशानुसार आईआईएम के निकट ग्राम सभा मुत्तकीपुर में करीब पौने दो बीघा जमीन जिसका खसरा नंबर 270 /268 /268/ 177 ख़ाली कराई गई है।

ये भी पढ़ें:बैंक की दीवार काटकर चोरों ने उड़ाई रकम, मामले की जांच में जुटी पुलिस

जमीन को खाली कराने के दौरान स्थानीय चौकी प्रभारी के साथ भारी संख्या में पीएससी बल मौजूद रहा। इस मौके पर लेखपाल, कानूनगो व नायबतहसीलदार सदर भी मौजूद रहे। बता दें कि यह सरकारी जमीन खेल-कूद मैदान के नाम पर दर्ज है, जिसे प्रॉपर्टी डीलरों ने महंगे दामों पर बेच दी। कार्रवाई के दौरान ग्रामप्रधान मुत्तकीपुर के पति भी मौजूद रहे। http://www.satyodaya.com 

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 17, 2019, 8:48 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 33°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:22 am
sunset: 5:39 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending