Connect with us

प्रदेश

हैदराबाद में प्रियंका रेड्डी की निर्मम हत्या के विरोध में कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च

Published

on

लखनऊ। हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी की निर्मम हत्या व प्रदेशभर में महिलाओं और बेटियों के साथ हो रहे अपराधों को लेकर उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने सोमवार को कैंडल मार्च निकाला। यह कैंडल मार्च प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में परिवर्तन चौक स्थित सुभाष चन्द्र बोस की प्रतिमा से जीपीओ पार्क स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा तक निकाला गया।

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने संबोधित करते हुए कहा कि हैदराबाद में जिस प्रकार महिला चिकित्सक की नृशंस हत्या की गयी है। उससे पूरा देश स्तब्ध है। निश्चित तौर पर आज देश में कानून व्यवस्था चरमराई हुई है। प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है। मैनपुरी, शाहजहांपुर, संभल और बदायूं की घटनाएं इस बात का उदाहरण है कि प्रदेश में जंगलराज कायम हो गया है और प्रदेश की महिलाएं असुरक्षित हैं। बीजेपी का ‘बेटी बचाओ’ नारा खोखला साबित हुआ है। जिस प्रकार मैनपुरी में घटना हुई है। उस पर सरकार को बिना विलंब किए सख्त कार्यवाही करनी चाहिए। गांधी प्रतिमा पर बैठे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि देश में अजीबों गरीब स्थित है। चाहे हैदराबाद की घटना हो या फिर रांची की और यूपी में मैनपुरी, इटावा की घटना हो। इससे यह साबित हो गया है कि देश व पदेश में कानून का राज खत्म हो गया है। मैनपुरी की घटना पर कहा कि पुलिस के द्वारा कार्रवाई न करने पर प्रियंका गांधी के द्वारा सरकार को चिट्ठी लिखे जाने के बाद सरकार नींद से जागी और एसपी को हटाया और सीबीआई जांच की सिफारिश की। वहीं बेटियों और महिलाओं में भय व्याप्त है। कहा कि जबतक इन सभी को इंसाफ नहीं मिल जाएगा। कांग्रेस प्रदर्शन करती रहेंगी।

यह भी पढ़ें:- भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां असुरक्षित: अखिलेश यादव

कैंडल मार्च में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी, कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा, पूर्व विधायक श्यामकिशोर शुक्ल, वीरेन्द्र मदान, अनूप गुप्ता, शमीना शफीक, ममता चैधरी, अमरनाथ अग्रवाल, जीशान हैदर, गौरव चौधरी, शिव पाण्डेय, डा. उमाशंकर पाण्डेय, पंकज तिवारी, पूर्व पार्षद प्रदीप कनौजिया और अजय श्रीवास्तव अज्जू सहित कार्यकर्ता शामिल हुए।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

रालोद ने महंगाई को लेकर भाजपा सरकार पर बोला हमला, कही ये बात

Published

on

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डां. मसूद अहमद ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा सरकार को आम जनता के जन-जीवन से कोई लेना-देना नहीं रह गया है। यही कारण है कि आम जरूरत की वस्तुएं लगातार महंगी होती जा रही हैं। प्याज और टमाटर के दाम आसमान छू रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गरीब की थाली इस शासन में खाली हो गई है। महंगाई की वजह से गरीब केवल नमक रोटी खाने के लिए मजबूर है। रसोई गैस की कीमते किश्तों में लगातार बढ़ रही है। जबकि कामर्शियल गैस का सिलेंडर उम्मीद से कम बढ़ोत्तरी के साथ बिक रहा है। वहीँ घरेलू गैस सिलेंडर पर 13 रुपये की बढ़ोत्तरी और वजन 14 किलो है, साथ ही कामार्शियल गैस सिलेंडर पर 5.50 रुपये की बढ़ोत्तरी है जबकि उसका वजन 19 किलो है। आखिर आम जनता भाजपा को सत्ता के शिखर तक पहुंचाने का दंड कब तक झेलती रहेगी।

डां. अहमद ने कहा कि कई दिनों से लगातार अन्तरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कम हो गयी है। जबकि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमते लगातार बढ़ रही है। जिससे यह सिद्ध होता है कि केन्द्र सरकार और पेट्रोलियम कंपनियों में किसी लंबी डील का ही यह परिणाम है। वहीं केन्द्र सरकार के 6 वर्ष के शासन में जीडीपी सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है, परन्तु सरकार को इससे कोई लेना देना नहीं है।

ह भी पढ़ें:- झूठी है भाजपा सरकार, किसानों से किया वादा भी पूरा नहीं कियाः रालोद

रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता भली प्रकार समझ चुकी है कि उसने भाजपा को सत्ता में लाकर देश के लिए अच्छा नहीं किया। यही कारण है कि भाजपा का ग्राफ लगातार राष्ट्रीय स्तर पर घट रहा है। जनता ने भी तय कर लिया है कि जिस तरह लगातार जीडीपी घटती गई है, ठीक उसी प्रकार भाजपा भी घटती चली जाएंगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

नहीं रहा ‘उन्नाव का गांधी’, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने घर जाकर दी श्रद्धांजलि

Published

on

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व 7 बार विधायक रहे भगवती सिंह का निधन

लखनऊ। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं पूर्व विधायक भगवती सिंह ‘विशारद’ (99) के निधन पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने उन्नाव पहुंच कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। कांग्रेस नेता ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के निधन पर शोक संवेदनी व्यक्त की। बता दें कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रहे भगवती सिंह भगवन्तनगर विधानसभा क्षेत्र से 7 बार विधायक भी रहे हैं।

श्री विशारद उन्नाव के गांधी के रूप में प्रसिद्ध रहे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि स्व. विशारद के निधन से जहां आजादी के एक नायक का अंत हो गया वहीं सार्वजनिक जीवन की अपूर्णीय क्षति हुई है, जिसकी निकट भविष्य में पूर्ति असम्भव है।

यह भी पढ़ें-कानपुर में गंदगी और डेंगू के खिलाफ कांग्रेस ने निकाला विरोध मार्च

बता दें कि पूर्व विधायक भगवती सिंह ने सोमवार सुबह अंतिम सांस ली। उनका जन्म सितंबर 1921 में उन्नाव के झगरपुर गांव में हुआ था। वर्तमान समय में वह कानपुर के धनकुट्टी में रह रहे थे। अंग्रेजों के खिलाफ लोहा लेने वाले भगवती सिंह ‘विशारद’ आजादी के बाद भगवंत नगर विधानसभा सीट से 7 बार विधायक रहे। उन्होंने अपना पूरा जीवन देश सेवा और समाज सेवा में गुजार दिया। बी.काॅम के बाद हिन्दी साहित्य में विशारद करने के चलते उनके नाम के साथ विशारद उपाधि भी जुड. गयी। भगवती सिंह ‘विशारद’ के दो बेटे रघुवीर और नरेश सिंह हैं। दोनों बेटों का भी भरा-पूरा परिवार है। रघुवीर उन्नाव में ही रहते हैं। भगवती सिंह का पार्थिक शरीर सोमवार को उन्नाव लाया गया। यहीं उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

अंतिम संस्कार से पहले होगा नेत्रदान

अपनी सादगी और समाज सेवा के चलते वह ‘उन्नाव के गांधी’ के रूप में भी चर्चित थे। भगवती सिंह ने वर्ष 2010 में देहदान की शपथ ली थी। मंगलवार को अंतिम संस्कार से पूर्व डाॅक्टरों की एक टीम पार्थिव देह को ले जाएगी। देहदान के बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां असुरक्षित: अखिलेश यादव

Published

on

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। वे घर से बाहर निकलें, पढ़ने जाएं, किसी समारोह में जाएं या अपनी नौकरी पर जाएं उनके लिए असुरक्षा का भय आतंक बनकर साथ चलता है। हर दिन बलात्कार और यौन हिंसा के मामले दर्ज होते हैं। नाबालिग बच्चियां भी इस क्रूरता की शिकार होती हैं। किसी भी सभ्य समाज के लिए यह स्थिति अत्यंत शोचनीय और निंदनीय है।

अखिलेश ने कहा कि उत्तर प्रदेश में तो हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं। हर दिन दुष्कर्म के कांड होते हैं। बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओं के कथित प्रचारक सत्ता में रहते हुए भी अमानवीय घटनाओं पर रोक लगाने में विफल हैं। अभियोजन पक्ष तो और भी कमजोर है जिसका अपराधी फायदा उठाते हैं। इसमें सत्ता पक्ष की नीतियां भी दोषी हैं। आज जंगलराज का शिकार हर बेटी हत्या प्रदेश में खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है। समाजवादी सरकार में महिलाओं से छेड़छांड़ की घटनाएं रोकने के लिए 1090 योजना शुरू की गई थीं। इस व्यवस्था को भाजपा सरकार ने शिथिल कर दिया है। अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 की व्यवस्था की गयी थी उसको भी भाजपा सरकार द्वारा 112 संख्या में बदलकर निष्प्रभावी बना दिया गया है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में मैनपुरी नवोदय विद्यालय में छात्रा की संदिग्ध मौत दो महीने पहले हुई लेकिन जांच कार्यवाही में लेट लतीफी हुई, सीतापुर में मछेरहटा के एक गांव में किशोरी से बंधक बनाकर दुराचार किया गया, आजमगढ़ में भी एक किशोरी से दुष्कर्म, संभल में कई दिन जीवन से संघर्ष के बाद रेप पीड़िता की मौत, हरदोई के सुरसा थाना क्षेत्र में 7 वर्ष की कक्षा 3 की छात्रा गांव में बारात देखने निकली थी, जो दुष्कर्म की शिकार हुई। अम्बेडकरनगर में मालीपुर थाना क्षेत्र में ननिहाल से लौट रही एक नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है। प्रदेश के तमाम जनपदों से ऐसी ही घटनाएं सामने आई हैं। ये ताजा घटनाएं हैं जो दिल दहलाती हैं।

ये भी पढ़ें: ‘ट्विटर वाड्रा’, ‘ट्विटर यादव’ पर कांग्रेस का ‘चीटर मौर्या’ पलटवार

सपा प्रमुख ने कहा कि दिल्ली के निर्भया कांड से लेकर हैदराबाद के प्रियंका कांड तक सरकारों का संवेदनहीन रवैया ही सामने आता है। प्रदेश में उन्नाव कांड, शाहजहांपुर कांड जैसी दुष्कर्म की घटनाएं इंसानियत को कलंकित करने वाली रही हैं, जो आज भी सिहरन पैदा करती हैं। कानून व्यवस्था बनाए रखने पर करोड़ों का बजट खर्च करने वाली सरकार क्या दिन या रात में बेटियों-बहुओं का घर से बाहर निकलना सुरक्षित नहीं बना सकती है? सरकार सुरक्षित व्यवस्था नहीं बना सकती हैं तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

December 2, 2019, 9:16 pm
Fog
Fog
15°C
real feel: 14°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 87%
wind speed: 1 m/s W
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:08 am
sunset: 4:43 pm
 

Recent Posts

Trending