Connect with us

प्रदेश

पंखुड़ी पाठक के साथ शादी करने जा रहे सपा नेता पर पूर्व पत्नी ने लगाए गंभीर आरोप

Published

on

कहा, बेटे की हत्या का डर दिखाकर देवर ने भी बनाए शारीरिक संबंध

लखनऊ। कांग्रेस की मीडिया पैनलिस्ट पंखुड़ी पाठक के साथ 1 दिसंबर को शादी करने जा रहे समाजवादी पार्टी के नेता अनिल यादव विवादों में घिर गए हैं। अनिल यादव पहले से ही एक शादी कर चुके हैं। जिसके साथ उनका तलाक हो चुका है। विवाह से ठीक पहले मीडिया के सामने आकर सपा प्रवक्ता अनिल यादव की पहली पत्नी ने गंभीर आरोप लगाए हैं। अनिल यादव की पहली पत्नी ने आरोप लगाया है कि उनसे जबरन तलाक लिया गया है। साथ ही यह भी आरोप है कि बेटे की हत्या का डर दिखाकर देवर ने कई बार शारीरिक संबंध बनाए।

सपा नेता की पूर्व पत्नी ज्योति यादव ने शुक्रवार को भी प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया था कि बेटी की हत्या का डर दिखाकर उससे जबरन तलाक के कागजात पर हस्ताक्षर करवाए गए। उसके ससुर और देवर ने उसे कई महीने तक बंधक बनाकर रखा। ज्योति यादव का आरोप है कि जब उसने सास-ससुर से शिकायत की तो उन्होंने कहा, उसका ओहदा बढ़ गया है। तुम्हारे पिता ने शादी में डेढ़ करोड़ रुपए खर्च किए थे, अब वह 10 करोड़ का आदमी है। पति के व्यवहार का विरोध करने पर ससुर और देवर उस पर निगरानी करने लगे। उसे बंधक बनाकर रखा जाने लगा।

ब्लैकमेल कर शादी कर रहीं पंखुड़ी पाठक

पीड़िता ज्योति यादव का आरोप है कि पंखुड़ी पाठक गलत तरीके से दबाव बनाकर अनिल यादव के साथ शादी कर रही हैं। पत्नी का कहना है कि अनिल यादव ने बताया था कि वह कांग्रेस में मीडिया सलाहकार पंखुड़ी पाठक (पूर्व सपा प्रवक्ता) के साथ विदेश घूमने गया था। वहां उसने मेरे साथ एक वीडियो बना ली। इस कारण मैं फंस गया हूं और अब मुझे तुमसे छुटकारा चाहिए। पति ने बच्चे की हत्या की धमकी दी और 2018 में जबरन कड़कड़डूमा कोर्ट में आपसी समझौते से तलाक के कागजात पर साइन करा लिए।

यह भी पढ़ें-आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान 6 महीने के लिए जिला बदर घोषित

पूर्व पत्नी ज्योति यादव के वकील विजय कुमार पांडे ने पत्रकारों को बताया कि अनिल यादव और पीड़िता की शादी 2013 में हुई थी। जिसके बाद मई 2015 में दोनों को एक बेटा हुआ। 2016 के बाद से अनिल यादव और उनके परिवार ने ज्योति यादव के साथ गलत बर्ताव शुरू कर दिया।

प्रापर्टी हथियाने की साजिश: अनिल यादव

पूर्व पत्नी के आरोपों पर सपा नेता अनिल यादव का कहना है कि आरोप निराधार हैं। यह सब केवल प्रापर्टी हथियाने के लिए किया जा रहा है। हम दोनों की सहमति से तलाक हुआ था। पिछले तीन वर्ष से हम दोनों अलग-अलग रह रहे हैं। कोर्ट के आदेश पर बच्चे व पत्नी के खर्च के लिए 50 लाख रुपए भी दिए हैं। सपा प्रवक्ता ने कहा, मुझे बदनाम किया जा रहा है। मैं कानूनी कार्रवाई करूंगा।

होने वाले पति पर आरोप लगने से पंखुड़ी आहत

होने वाले पति पर शादी से पूर्व लगाए गए आरोपों पर पंखुड़ी पाठक भी गुस्से में हैं। शादी की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। इस बीच पूर्व पत्नी के सामने आने के बाद शनिवार को पंखुड़ी पाठक ने ट्वीट किया, सत्य वह सूरज है, जिसे फरेब के बादल ढक सकते हैं लेकिन बुझा नहीं सकते। अनिल यादव और पंखुड़ी पाठक 1 दिसंबर को दिल्ली में शादी के बंधन में बंधेंगे।

ट्वीटर भी हलचल

अनिल यादव और पंखुड़ी पाठक की शादी को लेकर ट्वीटर पर भी हलचल दिख रही है। तमाम यूजर्स ने पूर्व पत्नी के आरोपों के बाद अनिल यादव को आड़े हाथ लिया है। साथ ही यूजर्स पंखुड़ी पाठक को भी एक महिला का घर उजाड़कर अपना घर बसाने का आरोप लगाकर खरी-खोटी सुना रहे हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रदेश

मैनपुरी: नवोदय छात्रा की मौत के मामले में प्रियंका ने सीएम योगी को लिखा पत्र…

Published

on

नवोदय विद्यालय

फाइल फाइल

लखनऊ। मैनपुरी के जवाहर लाल नेहरू नवोदय विद्यालय के हॉस्टल में सुभाष पांडे की बेटी का शव मिलने का मामला एक बार फिर सुर्ख़ियों में है। 19 सितंबर को नवोदय विद्यालय के हॉस्टल से छात्रा का शव मिलने के बाद से पिता सुभाष पाण्डेय ने न्याय की गुहार लगाई है। अब इस मामले कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने छात्राओं की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए यूपी सीएम  योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मैनपुरी के पीड़ित सुभाष पांडेय को न्याय दिलाने की लिए सीएम योगी पत्र लिखा है। लगभग दो महीने पुराने इस मामले पर कांग्रेस गंभीर हो गई है। प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को पत्र लिखकर 16 सितंबर को मैनपुरी में सुभाष पांडेय की बेटी की नवोदय विद्यालय के हॉस्टल हुई हत्या के बारे में याद दिलाया है। प्रियंका गांधी ने पत्र में लिखा है कि सुभाष पाण्डेय की बेटी नवोदय विद्यालय में पढ़ती थी। उनका आरोप है कि छात्रा की हत्या के बाद प्रशासन ने छात्रा के परिवार वालों की गैरमौजूदगी में उसके शव को पानी में बहा दिया। इस मामले में नामजद एफआईआर दर्ज कराने के बाद भी किसी भी तरह की जांच नहीं कराई गयी है।

प्रियंका गांधी ने पत्र में लिखा है कि सुभाष पांडेय की बेटी नवोदय विद्यालय में पढ़ती थी। एक दिन छात्रा स्कूल के छात्रावास में मृत अवस्था में पाई गई। शव का पंचनामा करने के दौरान छात्रा के शरीर पर कई चोट होने का जिक्र किया गया। हालांकि पोस्टमॉर्टम में किसी भी तरह की चोटों का जिक्र नहीं किया गया है। छात्रा के घर वाले लगातार इसे हत्या बता रहे हैं। एफआईआर में भी आरोपियों के नाम का जिक्र किया गया है। छात्रा के शरीर पर चोट के निशान होने की बात भी सामने आ चुकी है, लेकिन इसके बाद भी कोई जांच नहीं कराई गई है।

पत्र में प्रियंका गांधी ने लिखा की इतने बड़े मामले में किसी के खिलाफ कोई एक्शन भी नहीं लिया गया है। उन्होंने मांग करते हुए कहा है कि घर वालों को जानने का पूरा हक है कि उनकी बेटी के साथ क्या हुआ। परिवार वाले जानना चाहते है कि इस दर्दनाक हादसे को अंजाम देने वालों में कौन-कौन लोग शामिल थे। क्या प्रशासन किसी को बचाने की कोशिश कर रहा है। छात्रा के मामले में असंतोष जताते हुए कार्रवाई और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का अनुरोध किया गया है।

ये भी पढ़ें:आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान 6 महीने के लिए जिला बदर घोषित

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के किसी भी मामले को लेकर बेहद गंभीर हो जाती हैं और हर मामले में पार्टी को भी एक्टिव करने में जुटी रहती हैं। ऐसे में प्रियंका का आरोप है कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। प्रदेश सरकार अपराधियों को संरक्षण दे रही है। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर कार्य योजना बनानी होगी। एनसीआरबी के डाटा के अनुसार महिलाओं के अपराध यूपी में बहुत ज्यादा बढ़े हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान 6 महीने के लिए जिला बदर घोषित

Published

on

लखनऊ। रामपुर से सांसद व पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां को भू-माफिया घोषित किया जा चुका है। आजम के साथ उनके सगे-संबंधी भी सरकार के लपेटे में हैं। रामपुर जिला प्रशासन ने सांसद आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान शानू को जिला बदर घोषित कर दिया है। शनिवार को जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने भी इस कार्रवाई की पुष्टि कर दी है। फसाहत अली खान पर यतीमखाना और डूंगरपुर मामले में गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। पिछले 6 महीने से फसाहत खान भूमिगत चल रहे हैं। पुलिस की रिपोर्ट पर रामपुर के एडीएम रामभरत तिवारी ने फसाहत को 6 महीने के लिए जिला बदर घोषित किया है। जिला बदर करने की यह कार्रवाई काफी समय से चल रही थी।

यह भी पढ़ें-बलिया: दलित किशोरी का अपहरण के बाद हुआ गैंग रेप, आरोपी गिरफ्तार

डीएम अन्जनेय कुमार सिंह ने बताया, फसाहत खान को पुलिस रिपोर्ट के आधार पर जिला बदर घोषित किया गया है। इस समयावधि में यदि फसाहत जिले की सीमा में कहीं दिखाई दिए तो उन्हें गिरफ्तार कर अलग से मुकदमा दर्ज किया जाएगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

संभल: 9 दिनों तक मौत से लड़ने के बाद रेप पीड़िता ने तोड़ा दम….

Published

on

रेपकांड

फाइल फोटो

संभल। दुनियाभर से आए दिन निर्भया,आसिफा जैसी रेपकांड की खबरें सुनने को मिलती हैं, लेकिन फिर भी सरकार इन दरिंदों के खिलाफ कोई सख्त कानून देश में लागू नहीं कर रही हैं। देश में रोजाना महिलाओं और बेटियों के साथ घर में बाहर हर जगह रेप होता है। ऐसे में हैदराबाद में एक 22 साल की महिला डॉक्टर से गैंगरेप और फिर उसे जिंदा जलाने का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है। आज के समय इन हैवानों से भरी दुनिया में किसी की बहू, बेटियां सुरक्षित नहीं है। ऐसे में एक खबर यूपी के संभल से भी गैंगरेप पीड़िता की आई है। जिसका दिल्ली में ईलाज के दौरान मौत हो गई। 9 दिन से जिंदगी से जंग लड़ते-लड़ते उसने आज दम तोड़ दिया।

महिला डॉक्टर प्रियंका रेड्डी की तरह ही जघन्य घटना पीड़िता के साथ उत्तर प्रदेश के संभल में हुई थी। दरअसल संभल में एक नाबालिग लड़की के साथ पहले तो पड़ोस के दबंग युवक ने रेप किया और फिर विरोध करने पर उसे मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। हालांकि चीख पुकार सुनकर पड़ोस के लोगों ने किसी तरह युवती के शरीर पर लगी आग बुझाई। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया था और पीड़ित युवती को गंभीर हालत में ईलाज के लिए दिल्ली भेज दिया था। लेकिन आज 9 दिन से जिंदगी और मौत के बीच लड़ रही रेप पीड़िता ने दम तोड़ दिया।

ये भी पढ़ें:प्रयागराज में स्थापित होगा मिश्रित आसवनी, आबकारी विभाग ने दी अनुमति

जानकारी के मुताबिक घटना की सूचना के बाद मुरादाबाद रेंज के आईजी रमित शर्मा और संभल के एसपी यमुना प्रसाद मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का जायजा लेते हुए चश्मदीदों और पड़ोसियों से जानकारी ली थी। पीड़ित युवती ने अपने बयान में कहा था कि पड़ोस में रहने वाले जीशान ने उसके साथ बलात्कार किया और विरोध करने पर आग लगा दी। आरोपी युवक पड़ोस का ही रहने वाला है और ज़बरदस्ती खींच कर ले गया था।

वहीं इस रेप की घटना के बारे में पीड़ित की मां ने पुलिस में शिकायत करने की धमकी दी तो आरोपी युवक ने पीड़ित के घर में घुस कर युवती को आग लगा दी। पुलिस के मुताबिक आरोपी बलात्कार के बाद युवती को आग लगा कर भाग गया था जिसे बाद में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया है और आरोपी के खिलाफ सख्त क़ानूनी कार्रवाई की जा रही है। हालांकि इस दर्दनाक घटना से यूपी की कानून व्यवस्था भी सवालों के घेरे में हैं।

यूपी के बाद हैदराबाद की बेटी के साथ भी हुआ ऐसा

जानकारी के मुताबिक हैदराबाद में 22 साल की महिला डॉक्टर रोजाना की तरह ड्यूटी पर जा रही थीं। लेकिन बुधवार को रास्ते में उनकी स्कूटी में पंचर हो गया और वह वहां रुक गईं। इसके बाद महिला ने अपनी बहन को फोन करके बताया कि स्कूटी खराब हो गई है। उन्होंने ये भी कहा कि मुझे बहुत डर लग रहा है। लेकिन बाद में महिला के साथ गैंगरेप होता है और उसे जलाकर मार दिया जाता है। पुलिस को महिला का शव जली हुई हालत में हाईवे पर ब्रिज के नीचे मिला था। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा चरम पर है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 30, 2019, 5:25 pm
Cloudy
Cloudy
23°C
real feel: 23°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 77%
wind speed: 1 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:07 am
sunset: 4:43 pm
 

Recent Posts

Trending