Connect with us

प्रदेश

अंधकार में जा रहा बच्चों का भविष्य, स्कूल-काॅलेज भी खोले सरकार: रालोद

Published

on

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश प्रवक्ता सुरेन्द्र नाथ त्रिवेदी ने कोरोना काल में प्रदेश में चरमराती शिक्षा व्यवस्था को लेकर चिंता जाहिर की है। रालोद प्रवक्ता ने एक बयान जारी कर कहा है कि अनलॉक के प्रथम चरण से लेकर अब तक स्कूल, कालेज और विश्वविद्यालयों को छोड़कर लगभग सभी तरह की व्यावसायिक गतिविधियों को चालू कर दिया गया है। लेकिन इन सभी स्थानों पर सामाजिक दूरी का घोर उल्लंघन हो रहा है। न तो पुलिस व प्रशासन बाजारों व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में मास्क-सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करा रहा है और न ही जनता को इसके लिए जागरूक किया जा रहा है।

श्री त्रिवेदी ने कहा कि स्कूल और कालेज बंद होने से बच्चों की शिक्षा निश्चित रूप से प्रभावित हो रही है। ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था सरकारी स्कूलों और कालेजों के छात्रों के लिए संतोषजनक नहीं है। व्यावसायिक गतिविधियों के साथ अब स्कूल और कालेजों को भी सशर्त खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए। क्योंकि इनमें सामाजिक दूरी का निरीक्षण करने के लिए प्रधानाचार्य के साथ अध्यापक, अध्यापिकाएं और अन्य कर्मचारी भी रहते हैं। यदि कक्षाओं को दो या तीन पालियों में विभाजित कर कक्षाएं चालू कर दी जाएं तो बच्चों का ज्यादा नुकसान न होगा।

प्रदेश सरकार ने शिक्षा व्यवस्था पर नहीं दिया ध्यान

रालोद प्रवक्ता ने कहा कि सरकार ने इस बार शिक्षा के क्षेत्र पर ध्यान नहीं दिया। एक भी सत्र में छात्रों को समय से पाठ्य सामग्री न उपलब्ध कराना प्रमाण के लिए काफी है। कहा कि सीबीएसई और आईसीएसई बोर्डों से प्रतिस्पर्धा के कारण यूपी बोर्ड का कोर्स और शिक्षण व्यवस्था को नुकसान हुआ है। जबकि यूपी बोर्ड एशिया में सबसे अच्छा बोर्ड था। वर्तमान महामारी के समय यूपी बोर्ड की कक्षाएं आनलाइन शिक्षण में अन्य बोर्डों से पिछड़ गईं।

ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था नाकाफी

रालोद प्रवक्ता ने कहा हमारे शिक्षकों के अतिरिक्त समाज का प्रबुद्ध वर्ग और सभी अभिभावक इसी मत के रहे हैं कि बच्चों को स्मार्ट फोन से दूर रखा जाए। ताकि वे पढ़ने में मन लगा सकें। लेकिन समय की करवट ने सब उल्टा कर दिया। कोरोना काल में हर अभिभावक को अपने बच्चे को स्मार्ट फोन खरीद कर देना पडा। हालांकि हमारे बच्चे इस शिक्षण व्यवस्था में समुचित लाभ नहीं ले सके।

यह भी पढ़ें-फिरोजाबाद: भाजपा सांसद के बेटे पर कोरोना फैलाने का आरोप

क्योंकि न तो हमारे शिक्षक और न ही शिक्षा अधिकारी तथा अभिभावक एवं बच्चे ही इस व्यवस्था के प्रति जागरूक थे। श्री त्रिवेदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग की है कि वह प्रदेश की डूबती हुई शिक्षा व्यवस्था को बचाने का प्रयास करें। ताकि बच्चों का भविष्य अन्धकार के गर्त में जाने से बच सके।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

राजधानी में चल रहा था नकली शराब बनाने व बेचने का कारोबार, तीन गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। राजधानी पुलिस ने नकली शराब के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी स्प्रिट और खाने में प्रयोग होने वाले रंग का इस्तेमाल कर नकली शराब बनाते थे। सभी आरोपी लखनऊ के हसनगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। राजधानी में नकली शराब निर्माण व सप्लाई के कारोबार का भंडाफोड़ विकासनगर थाना की पुलिस ने किया है। पुलिस ने बताया कि मंगलवार देर रात अवैध शराब सप्लाई करने जा रहे युवक को पकड़ा गया।

यह भी पढ़ें-रामपुर में नाबालिग हुई हैवानियत की शिकार, पूरी रात किया गैंगरेप, FIR दर्ज

उसकी निशानदेही पर दो अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद की गयी है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान तुषार जायसवाल, पिंकू उर्फ अमरेंद्र जायसवाल हैं। एक आरोपी नाबालिग है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

रामपुर में नाबालिग हुई हैवानियत की शिकार, पूरी रात किया गैंगरेप, FIR दर्ज

Published

on

रामपुर। उत्तर प्रदेश की सरकार भले ही चाहे कानून कितने ही सख्त करले लेकिन हवस के पुजारी आज भी अपने मंसूबो को अंजाम से नहीं चूकते ऐसे ही दरिंदगी की एक दासता रामपुर से सामने आई है जहां एक नाबालिग लड़की से गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है आरोप है कि गांव के ही दो युवकों ने लड़की के साथ गैंगरेप किया हैउन्होंने उसे खेत में ले जाकर पूरी रात उसके साथ दुष्कर्म किया मामले में पीड़ित लड़की के पिता ने थाना कैमरी में तहरीर दी है पुलिस ने 376DA, 506 और लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 3 और 4(2) में मुक़दमा दर्ज कर लिया है शिकायत के अनुसार, घटना थाना कैमरी क्षेत्र के एक गांव की है 15 अक्टूबर की रात को घटना को अंजाम दिया गया फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है

यह भी पढ़ें: राजस्थान: जयपुर में ऑटोमोबाइल कंपनी के गोदाम में लगी भीषण आग

बता दें पीड़िता के पिता ने तहरीर दी है कि गांव में उसका मकान बन रहा थायहां गांव के ही रिजवान उर्फ गुड्डू और मोहम्मद आलम मजदूरी का काम कर रहे थे दोनों ने उसकी लड़की को प्रेम जाल में फंसाया और 15 अक्टूबर की रात करीब 11 बजे खेत में उसके साथ गलत काम किया और फिर सुबह 5 बजे लड़की को छोड़ा वह लौटी तो उसने हमें आपबीती बताई पिता ने कहा कि यही नहीं दोनों आरोपी दबंग किस्म के हैं और मुझे थाने न जाने की धमकी भी दी थी वह किसी तरह से हिम्मत जुटाकर इनसे छिपते हुए अपनी बेटी के साथ थाने पहुंचे हैं फिलहाल पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही हैhttp://satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

ऑपरेशन के नाम पर ऐंठे 80 हजार रूपए, ऑपरेशन न होने का आरोप

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की सरकार भले ही स्वास्थ्य विभाग को लेकर चिंतित हो। लेकिन प्राइवेट हॉस्पिटलों की मनमानियां आए दिन देखने को मिल रही है। उसके बावजूद सीएमओ व डीएम इन प्राइवेट हॉस्पिटल पर कोई भी कार्यवाही नहीं करते। जिसके कारण ही प्राइवेट हॉस्पिटलों की मनमानियां बढ़ती जा रही हैं और इसके शिकार गरीब तबके के लोग होते दिख रहे हैं। ऐसा ही एक मामला जानकीपुरम के न्यू इंडिया नर्सिंग होम का देखने को मिला है। आरोप है पथरी का ऑपरेशन करने के नाम पर मोटी रकम वसूली और बिना ऑपरेशन किये ही उसको घर भेज दिया।

जानकीपुरम थाना क्षेत्र स्थित जानकीपुरम गार्डन में न्यू इंडिया नर्सिंग होम में सीतापुर से पथरी का इलाज कराने आया दीपक नामक युवक इस नर्सिंग होम का शिकार हो गया। पीड़ित दीपक का आरोप है हॉस्पिटल के डॉक्टर ने पथरी के इलाज के नाम पर उससे 80000 ₹ ऐंठ लिए लेकिन उसका ऑपरेशन नहीं किया गया। आरोप है कि नर्सिंग होम के डॉक्टर ने न चीरा लगाया न टाका सिर्फ पेट पर पट्टी को टेप से चिपकाकर बोला ऑपरेशन हो गया। पीड़ित जब घर पहुंचा तो उसके दर्द फिर उठा इस तरह दर्द उठने पर जब अल्ट्रासाउंड कराया तो उसमें फिर पथरी निकलने पर उसके होश उड़ गए। इस बात की शिकायत लेकर जब पीड़ित हॉस्पिटल पहुंचा तो उसको धमकाकर भगा दिया गया। जिसके बाद पीड़ित अपने परिवार के साथ जानकीपुरम थाने पर बैठ कर न्याय की गुहार लगा रहा है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान: कराची में एक बिल्डिंग में बड़ा धमाका, 3 की मौत 15 घायल

पीड़ित की मां का आरोप है जब वह सभी लोग न्यू इंडिया नर्सिंग होम पहुंचे तो डॉक्टरों ने उन सभी को धमकाना शुरू कर दिया। तभी बुजुर्ग मां ने पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो डॉक्टर आग बबूला हो गए और उन्होंने जहर का इंजेक्शन लगाने की बात कह डाली। इस तरह की बातों से घबराकर जब परिजन थाने पहुंचे तो न्यू इंडिया नर्सिंग होम के डॉक्टर ने महमूदाबाद में हुए अल्ट्रासाउंड को मानने से ही इनकार कर दिया। जिसके बाद ही पीड़ित ने एक बार फिर लखनऊ में अपना अल्ट्रासाउंड कराया जिसमें पथरी होने की बात सामने आई।

अब देखने वाली बात तो यह है कि प्राइवेट नर्सिंग होम पर लगातार गरीब मजदूरों के साथ धन उगाही की जा रही है। लेकिन जिम्मेदार इन नर्सिंग होम कर कोई कार्रवाई नहीं करते नजर आते हैं। साथ ही बताते चलें कि इस घटना पर जब नर्सिंग होम के जिम्मेदारों से बात की गई तो उन्होंने कुछ भी बोलने से साफ इंकार कर दिया है। लेकिन देखने वाली बात तो यह होगी कि प्राइवेट नर्सिंग होम पर जिस तरह धन उगाही के मामले सामने आ रहे हैं उस पर जिम्मेदार अधिकारी किया कुछ कार्रवाई करते हैं।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 22, 2020, 1:28 am
Fog
Fog
22°C
real feel: 24°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 82%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:40 am
sunset: 5:01 pm
 

Recent Posts

Trending