Connect with us

प्रदेश

डेंगू से अधिवक्ता की मौत पर HC ने 25 लाख मुआवजा देने का दिया आदेश

Published

on

लखनऊ: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने डेंगू से हुई युवा अधिवक्ता की मौत के मामले में 25 लाख रुपए का मुआवजा पीड़ित परिवार को देने का निर्देश दिया है। साथ ही कोर्ट ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश भी दिया है कि डेंगू की रोकथाम व बचाव के लिए सभी जरूरी उपाय को अपनाया जाए। इसी कड़ी में डेंगू से बचाव के लिए स्थापित जांच केंद्रों और ब्लड सेपरेशन यूनिट को पूरी तरीके से क्रियाशील रखा जाए ताकि, डेंगू के मरीजों को इलाज में परेशानी न होने पाए। कोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया है कि स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में डायलिसिस यूनिट के लिए धन उपलब्ध कराया जाए।

ये भी पढ़ें: इस बैंक ने की नई शुरुआत, अब यहां इंसान नहीं रोबोट लेगा इंटरव्यू…..

इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता बीपी मिश्रा की जनहित याचिका पर यह आदेश न्यायमूर्ति पीकेएस बघेल और न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल की खंडपीठ ने दिया है। अधिवक्ता बीपी मिश्रा के युवा पुत्र जो खुद वकील थे, जिनकी साल 2016 में डेंगू से मौत हो गई थी। उन्होंने इलाज में लापरवाही बरतने की शिकायत करते हुए मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखा था। इस पत्र को अदालत ने जनहित याचिका के तौर पर स्वीकार करते हुए सुनवाई शुरू की। कोर्ट के मुताबिक युवक की मौत डॉक्टरों द्वारा बीमारी का सही कारण पता न लगा पाने के चलते हुई है। डॉक्टरों द्वारा एंटीबायोटिक दिए जाने के कारण मरीज की स्थिति खराब हो गई और उसे बचाया नहीं जा सका। कोर्ट ने इस मामले में राज्य सरकार से जवाब मांगा था। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

दारापुरी व सदफ जफर की रिहाई पर प्रियंका ने कहा- झूठ कभी नहीं जीत सकता

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में 19 दिसम्बर को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में गिरफ्तार पूर्व आईपीएस एसआर दारापुरी व कांग्रेस नेता सदफ जफ़र की रिहाई पर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर योगी सरकार पर हमला बोला है। प्रियंका ने अपने ट्वीट में कहा है कि यूपी पुलिस ने निर्दोषों को फंसाया। लेकिन झूठ कभी नहीं जीत सकता।

यह भी पढ़ें: लखनऊ में CAA के खिलाफ हुई हिंसा के आरोपी दारापुरी और सदफ जफर जेल से रिहा

बता दें मंगलवार सुबह दारापुरी, सदफ जफ़र समेत दर्जनों आरोपी कोर्ट से जमानत मिलने के बाद रिहा हो गए। इसके बाद प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा, “अंबेडकरवादी चिंतक और पूर्व आईपीएस श्री दारापुरी और कांग्रेस नेता सदफ जफ़र आज जेल से रिहा हो गए। कोर्ट द्वारा सबूत मांगने पर यूपी पुलिस बगलें झांकने लगी थी। भाजपा सरकार ने निर्दोष लोगों और बाबासाहेब की विरासत को आगे बढ़ाने वाले लोगों को गिरफ्तार करके अपनी असली सोच दिखाई है। मगर झूठ कभी नहीं जीत सकता।

http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

Social media पर 8 जनवरी को भारत बंद की चर्चा के बाद प्रदेश में अलर्ट जारी

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ: सोशल मीडिया पर किसान, श्रमिक और छात्र संगठनों की ओर से 8 जनवरी को भारत बंद की चर्चा के बीच डीजीपी ऑफिस की तरफ से प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया।  बता दें कि कई मुद्दों के विरोध में भारत बंद के ऐलान के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है। साथ ही सभी जिले के पुलिस कप्तानों को विशेष चौकसी भी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।  

ये भी पढ़ें: लखनऊ में CAA के खिलाफ हुई हिंसा के आरोपी दारापुरी और सदफ जफर जेल से रिहा

बताया जा रहा है कि केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने 8 जनवरी को हड़ताल का आह्वान किया है।  इस देशव्यापी हड़ताल को कई बैंक यूनियनों समेत छात्र व किसान संघठन भी समर्थन दे रहे हैं।  वहीं सोशल मीडिया के माध्यम से इस बंद को सफल बनाने के लिए भी मुहीम जारी है।  भारत बंद के दौरान केंद्र सरकार की हालिया बैंकिंग सुधारों और श्रम नीतियों के खिलाफ विरोध किया जाएगा। वहीं सोशल मीडिया के माध्यम से इस बंद को सफल बनाने के लिए भी मुहीम जारी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

कड़ी सुरक्षा के बीच 82 केंद्रों पर 8 जनवरी को होगी टीईटी परीक्षा

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश अध्यापक पात्रता परीक्षा 8 जनवरी को दो पालियों में होगी, जिसके लिए जिले में बनाए गए 82 परीक्षा केंद्रों में लगभग 45 हजार अभ्यर्थी एग्जाम देंगे। परीक्षा को लेकर कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी प्रयागराज से संचालित उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 8 जनवरी को होगी, जिसमें प्राथमिक स्तर की परीक्षा पहली पाली में सुबह 10 बजे से 12:30 बजे तक तथा उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा दूसरी पाली में अपराह्न 2:30 बजे से 5 बजे तक होगी।

परीक्षा केंद्र पर पर्यवेक्षक गोपनीय परीक्षा सामग्री स्टेटिक मजिस्ट्रेट से प्राप्त कर अपनी उपस्थिति में नियत समय पर गोपनीय पैकेट खुलवाएंगे और परीक्षा समाप्ति पर सामग्री के पैकेट अपनी देखरेख में सील करवाएंगे। परीक्षा समाप्ति के बाद सील्ड गोपनीय पैकेटस कोषागार में उसी दिन तत्काल भेजने का प्रधान दायित्व स्टेटिक मजिस्ट्रेट का होगा।

यह भी पढ़ें: बदमाशों के हौसले बुलंद, दिनदहाड़े युवती से मोबाइल लूटने का किया प्रयास

परीक्षा केंद्र पर किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रानिक्स गैजेट्स मोबाइल, केलकुलेटर, लैपटॉप आदि पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगे। सघन तलाशी के बाद अभ्यर्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षा केंद्रों के आसपास भी कड़ी सुरक्षा रहेगी। अधिकारियों ने कहा कि परीक्षा को देखते हुए जिले में धारा 144 प्रभावी है।

आठ जनवरी कार्य दिवस के दिन परीक्षा का आयोजन पुलिस और प्रशासन के लिए भी सकुशल परीक्षा कराना चुनौतीपूर्ण होगा। क्योंकि इस दिन 40 हजार से अधिक परीक्षार्थियों के होने से शहर में अतिरिक्त यातायात दबाव होगा। डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि सुरक्षा और यातायात व्यवस्था की जिम्मेदारी एसएसपी देख रहे हैं। रेलवे-बस और टेंपो स्टैंड पर अतिरिक्त पुलिसबल तैनात किए जाएंगे। इसके अलावा केंद्रों में भी सतर्कता बरती जाएगी। फ्लाइंग स्कॉट और पुलिस की टीमें निरीक्षण करती रहेंगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 12:06 pm
Partly sunny
Partly sunny
17°C
real feel: 20°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 74%
wind speed: 2 m/s SE
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending