Connect with us

प्रदेश

मोबाइल पर बधाई मैसेज भेजने से हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश हुए नाराज, जारी किया ये आदेश

Published

on

उत्तर प्रदेश। इलाहाबाद हाईकार्ट के चीफ जस्टिस गोविंद माथुर पर्सनल मोबाइल पर डिस्ट्रिक जजों के बधाई संदेश मिलने से खफा हो गए हैं। इलाहाबाद हाईकोर्ट के महानिबंधक मयंक जैन ने प्रदेश के सभी जिला जजों व न्यायिक अधिकारियों को मुख्य न्यायाधीश को किसी पर्व पर वाट्सएप पर शुभकामना संदेश व मैसेज न भेजने को कहा है।

यह भी पढ़ें: छात्र राजनीति से शुरू हुआ था अरुण जेटली का सफर, ऐसा था राजनीतिक करियर

मयंक जैन ने शुक्रवार को सभी जिला न्यायाधीशों के साथ ही अन्य न्यायिक अधिकारियों को निर्देश जारी करके बताया कि मैसेज भेजने से मुख्य न्यायाधीश को काफी असुविधा हो रही है। उन्हें बहुत आवश्यक संदेश ही दिए जाएं। इसकी अवहेलना करने को गंभीरता से लिया जाएगा। महानिबंधक ने जिला जजों से कहा है कि इस महत्वपूर्ण सूचना की जानकारी सभी न्यायिक अधिकारियों को दी जाए, जिससे उसका पालन हो सके। उन्होंने बाकायदा इसको लेकर एक आदेश जारी किया है। चीफ जस्टिस का लेटर सभी डिस्ट्रिक जज व न्यायिक अधिकारियों को भेजा गया है, जिसमें कहा गया है कि वह लोग इमरजेंसी के अलावा कभी भी व्हाट्सएप पर मैसेज ना भेजें।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

लखनऊ: मोबाइल स्नेचिंग करने वाले दो शातिर लुटेरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Published

on

मोबाइल स्नेचिंग

फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी लखनऊ की जानकीपुरम पुलिस ने मोबाइल स्नेचिंग करने वाले दो शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया है। जो राजधानी की सड़कों पर घूम-घूम कर आने जाने वालों को निशाना बनाकर लोगों से लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। वहीं पकड़े गए आरोपियों की पहचान धर्मेंद्र गौतम, गौतम कुमार उर्फ गौरव के रूप में हुई है। इसके साथ ही बताया गया है कि उनके पास से दो मोबाइल फोन, एक बाइक बरामद किया है।

ये भी पढ़ें:इमरजेंसी कॉल बॉक्स, बटन दबाते ही मिलेगी ग्रीन कारीडोर की व्यवस्था

वहीं डीसीपी उत्तरी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी का कहना है कि पकड़े गए ये लुटेरे राजधानी लखनऊ के क्षेत्रों में घूम-घूम कर लूट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। इन पकड़े गए लुटेरों की कई चेन स्नेचिंग, पर्स स्नेचिंग मोबाइल स्नेचिंग की घटनाओं के बाद से इनकी पुलिस को तलाश थी। वहीं पुलिस की माने तो आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद अभी जांच पड़ताल के दौरान और घटनाओं  का खुलासा होने की पुलिस को उम्मीद है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

इमरजेंसी कॉल बॉक्स, बटन दबाते ही मिलेगी ग्रीन कारीडोर की व्यवस्था

Published

on

एम्बुलेंस

फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी में अब जाम में नही फंसेंगी एम्बुलेंस और पलक झपकते ही मरीज हॉस्पिटल पहुंच जाएगा। लखनऊ कमिश्नर सुजीत पांडेय ने यातायात व्यवस्था को और बेहतर बनाने की शुरुवात की है। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के आईटीएमएस सिस्टम के तहत इमरजेंसी कॉल बॉक्स सेवा की शुरूवात की गई है। जिसका बटन दबाते ही आपको चंद मिनटों में पुलिस के साथ ही ट्रैफिक सहायता मिलेगी।

बदलते प्रवेश में राजधानी की यातायात व्यवस्था में जहां अब काफी सुधार दिखाई दे रहा है। वहीं अक्सर तमाम चौराहों पर जाम में फंसी एम्बुलेंस की तस्वीरे सामने आती है। जिसके बाद अब लखनऊ के कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने इमरजेंसी काल बॉक्स की शुरुवात की है। जिसके जरिए यदि कोई एम्बुलेंस जाम में फंसी है तो इस बॉक्स का बटन दबाते ही वो काल सेंटर के जरिये तमाम अधिकारियो से जुड़ जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर उसे ग्रीन कारीडोर की व्यवस्था कराकर मरीज को हॉस्पिटल तक चंद मिनटों में पहुंचाया जा सकेगा। शुरुवात में हजरतगंज, इंदिरागांधी प्रतिष्ठान, पालीटेक्निक, 1090 सहित 8 चौराहों पर इन इमरजेंसी काल बॉक्स को लगाया गया है। जिसका कमांड काल सेंटर स्मार्ट सिटी कार्यलय में बनाया गया है।

ये भी पढ़ें:जानिए कौन हैं ताहिर हुसैन, जिन पर IB कर्मचारी अंकित शर्मा को मारने का लगा आरोप

एम्बुलेंस को मेडिकल फैसिलिटी के साथ ही इस इमरजेंसी काल बॉक्स का इस्तेमाल आप राजधानी की सड़कों पर जाम में फंसने व अन्य ट्रैफिक समस्याओं के दौरान भी कर सकते हैं। स्मार्ट सिटी कार्यालय में बनाए गए काल सेंटर से 24 घंटे इसकी निगरानी होती है, जहां पुलिसकर्मी और सीसीटीवी की निगरानी करने वाले एक्सपर्ट राजधानी के 51 चौराहों पर नजर रखते है।

इसके साथ ही यदि आप अपने निजी वाहन में मरीज को लेकर जाम में फंसे हैं तो गाड़ी में ब्रिंकर का इस्तेमाल करते ही आपको तत्काल पास कराया जायेगा। बहरहाल अब राजधानी में इमरजेंसी के वक्त ये इमरजेंसी कॉल बॉक्स लोगो के लिए कितना कारगार साबित होता है ये देखने वाली बात होगी। तो वही आने वाले वक्त में इसे राजधानी के अन्य कई चौराहों पर भी लागू करने पर विचार किया जा रहा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

रामपुर से सीतापुर जेल में शिफ्ट किए गए आजम खान, मिलने पहुंचे अखिलेश यादव

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ। सांसद आजम खान और विधयक पत्नी व बेटे अब्दुल्ला आजम को गुरुवार तड़के रामपुर से सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया गया है। जिसके बाद दोपहर के समय सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उनसे मिलने के लिए सीतापुर पहुंचे हैं।

पुलिस गुरुवार सुबह करीब 5 बजे आजम खान, पत्नी तजीन फात्मा और बेटे अब्दुल्ला आजम को रामपुर के जिला कारागार से सीतापुर ले गई। जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने इसकी पुष्टि की है। वहीं, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी आज आजम खान से मिलने सीतापुर पहुंच चुके हैं।

बता दें इससे पहले सपा सांसद और पूर्व मंत्री आजम खां, उनकी विधायक पत्नी डॉक्टर तजीन फात्मा और बेटे अब्दुल्ला आजम को स्थानीय अदालत ने बुधवार को रामपुर जेल भेजा था। कोर्ट ने यह आदेश अब्दुल्ला के दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के मामले में दिया था। आजम ने पत्नी और बेटे के साथ रामपुर की अदालत में आत्मसमर्पण किया था। इसके बाद इन सभी को 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में रखने का आदेश जारी किया गया।

ये भी पढ़ें:लखनऊ: ट्रेन की चपेट में आने से एक युवक की मौत, पुलिस ने परिजनों की दी जानकारी

बता दें अब तक आजम पर 85 मुकदमे दर्ज हैं। कई मुकदमों में आजम के साथ पत्नी तजीन और पुत्र अब्दुल्ला भी आरोपी हैं। हालांकि तीनों पर दर्ज मुकदमों की सुनवाई कोर्ट में चल रही है लेकिन कोई भी सुनवाई के दौरान अदालत में पेश नहीं हो रहा था। जिसके बाद कोर्ट ने उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट और संपत्ति कुर्क करने का आदेश जारी किया था। इस आदेश के जारी होने के बाद तीनों ने बुधवार दोपहर लगभग 12 बजे के करीब एडीजे-6 धीरेंद्र कुमार की अदालत में आत्मसमर्पण किया।

वहीं उनके वकीलों ने 17 मामलों में जमानत की याचिका लगा रखी थी। अदालत ने उन्हें आचार संहिता के उल्लंघन के पांच मामलों में जमानत दी है और नौ मामलों में पुलिस से रिपोर्ट तलब की गई है। जबकि दो अन्य मामलों में गुरुवार को अभी सुनवाई होगी।

अब्दुल्ला के दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के मुकदमे में कोर्ट ने जमानत की याचिका पर सुनवाई की तिथि दो मार्च तय करी है। जिसके बाद कोर्ट ने आजम, तजीन और अब्दुल्ला को न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया है। रामपुर के जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने बताया कि अदालत के आदेश पर आजम, पत्नी तजीन और बेटे अब्दुल्ला को कड़ी सुरक्षा के बीच जिला कारागार भेजा गया है। पूरे जिले में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 27, 2020, 3:50 pm
Intermittent clouds
Intermittent clouds
25°C
real feel: 26°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 52%
wind speed: 0 m/s NNE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 6:03 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending