Connect with us

प्रदेश

पुलिस ईमानदारी से दर्ज करे FIR तो अपराध में पहले स्थान पर होगा यूपी: कांग्रेस

Published

on

लखनऊ। यूपी कांग्रेस विधान परिषद् दल के नेता दीपक सिंह ने प्रदेश की बढ़ रही घटनाओं पर सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि सरकार जहां बढ़ते अपराधों को छुपाने की कोशिश कर रही है। वहीं एफआईआर में दर्ज अपराधों के ऑकड़ों को छुपाने की कोशिश करती रही है। यदि ईमानदारी से एफआईआर में अपराध दर्ज हो जाए तो प्रदेश प्रथम स्थान पर पहुँच जाएंगा। प्रदेश की राजधानी सुरक्षित नही है। रोज कोई न कोई घटना घटित होती रहती है। चाहे वह गोमती नगर के अलकनन्दा अपार्टमेंट में बीबीडी प्रशांत की चाकू मारकर हत्या हो या फिर नाका के तिलक नगर निवासी समीर अग्रवाल की चौक स्थित गुटखा के कर्मचारी सुभाष की हत्या। यह सब प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था का नतीजा है।

दीपक सिंह ने कहा एक निजी कम्पनी पैन्टेल टेक्नालाॅजीज जिसे इण्डेपेंडेंट टीवी के नाम से डीटीएच सेवाएं संचालित करने का लाइसेंस मिला हुआ है। कम्पनी द्वारा प्रदेश के लाखों ग्राहकों और हजारों डिस्ट्रीब्यूटरों के साथ करोड़ों की धोखाधड़ी की गई है। प्रदेश के ग्राहकों व डिस्ट्रीब्यूटरों को सूचित किये बगैर कम्पनी अपने ऑफिस बन्द करके भाग गई। जिससे आहत ग्राहकों व डिस्ट्रीब्यूटरों द्वारा प्रदर्शन भी किये गये परन्तु अभी तक किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें:- अलीगढ़: पुलिस की लाठीचार्ज पर अराधना मिश्रा ने विधानसभा में सरकार की निन्दा की

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों को अधिनियम में प्राप्त अधिकारों के अनुसार ग्राम पंचायतों को विकास करने के पूर्ण अधिकार प्राप्त हैं। परन्तु सम्बन्धित विभागीय अधिकरियों के व्यवधान की वजह से ग्राम पंचायतों को उनके अधिकारों व उनकी ग्राम पंचायतों को विकास से वंचित किया जा रहा है। ग्राम पंचायतों को उनके अधिकारों व उनको मिलने वाली सुविधाओं से वंचित रखा जाता है। विभागीय अधिकारी प्राॅपर्टी डीलरों के माध्यम से कई सारी जमीनों को नियमों को अनदेखा करके अपने लाभ के लिए बेच दे रहे हैं।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

राशन वितरण में बॉयोमेट्रिक अनिवार्यता से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा: कांग्रेस

Published

on

अजय कुमार लल्लू ने मुख्यमंत्री योगी पर बोला हमला

लखनऊ। प्रदेश भर में सरकारी राशन दुकानों से गरीब, मजदूर, और दिहाड़ी मजदूरों को मुफ्त राशन वितरण पर कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि लाॅकडाउन की घोषणा के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता को 3 महीने तक निःशुल्क राशन देने को कहा था। लेकिन अब महज एक महीने का राशन दिया जा रहा है।

कांग्रेस विधायक ने आरोप लगाते हुए कहा है कि घोषणा के विपरीत अंत्योदय कार्ड धारकों को छोड़ कर दूसरे गरीबों व मजदूरों से पैसे की वसूली की जा रही है। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि राशन वितरण में बॉयोमेट्रिक की अनिवार्यता से कोरोना संक्रमण फैलने का भी डर है। इसलिए बॉयोमेट्रिक को स्थगित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें-UP: 4 आईपीएस का तबादला, विश्वजीत पात्रा बने पुलिस महानिदेशक सीवीसीआईडी

बुधवार को अपने जारी बयान में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, राशन वितरण के लिए कोटेदारों से उठान स्थल पर पैसे जमा कराए जा रहे हैं। यह पैसे बाद में वापस करने की बात कही जा रही है। कोटेदारों का यह शोषण तत्काल बंद होना चाहिए। लल्लू ने कहा कि संकट की इस घड़ी में राशन कार्ड की अनिवार्यता भी खत्म कर देनी चाहिए। क्योंकि प्रदेश में बड़ी संख्या में गरीबों के पास कार्ड नहीं है। ताकि कोई भी गरीब भूख से न मरे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

UP: 4 आईपीएस का तबादला, विश्वजीत पात्रा बने पुलिस महानिदेशक सीवीसीआईडी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने 4 आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। इस स्थानांतरण के माध्यम से दो महत्वपूर्ण पदों पर अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गयी है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी एक पत्र जारी कर यह जानकारी दी। पुलिस महानिदेशक फायर जावीद अहमद और पुलिस महानिदेशक सीवीसीआईडी विरेन्द्र कुमार के 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने के बाद इन पदों पर नई नियुक्ति हो गयी है। विश्वजीत पात्रा को नया पुलिस महानिदेशक सीवीसीआईडी बनाया गया है। अपर पुलिस महानिदेशक नियम एवं ग्रन्थ चन्द्र प्रकाश को पुलिस महानिदेशक विशेष जांच, पुलिस महानिदेशक/अपर पुलिस महानिदेशक पीटीसी मुरादाबाद बृजराज को पुलिस महानिदेशक पीटीसी मुरादाबाद के पद पर तैनात किया गया है।

यह भी पढ़ें-लखनऊः जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में चले लाठी-डंडे, एक की मौत

पुलिस महानिदेशक, उप्र पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड आरके विश्वकर्मा को पुलिस महानिदेशक पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के साथ-साथ पुलिस महानिदेशक फायर सर्विस का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

सीएम योगी की टीम 11 के साथ बैठक, युद्ध स्तर पर हेल्थ प्रोटोकॉल का हो पालन

Published

on

लखनऊ। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अपने सरकारी आवास पर लॉकडाउन के दौरान गठित की गई टीम 11 के साथ बैठक की। बैठक में सीएम ने तमाम निर्देश देते हुए। युद्ध स्तर पर हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करने की हिदायत भी दी, साथ ही बैठक में गरीबो को मुफ्त में राशन मुहैया कराने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने बैठक में गरीबों को मुफ्त राशन दिए जाने की योजना की समीक्षा की और निर्देश दिया,कि जरूरी सामानों की आपूर्ति में जो वाहन लगे है। उन्हें बिल्कुल भी न परेशान किया जाए। लेकिन साथ ही इस बात का ध्यान रखा जाए, कि इन वाहनों से सवारियां न ढोई जाएं। इसके साथ ही हर गरीब, जरूरतमंद और श्रमिक तक सरकार की तरफ से दी जा रही। एक हजार रुपय की मदद अवश्य पहुंच जाए।

इसे भी पढ़ें-COVID-19 को लेकर सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस करेंगे पीएम मोदी

सरकार की तरफ से दावा किया गया, कि बुधवार को सुबह 10 बजे तक 40 लाख लोगों तक मुफ्त राशन बांटा जा चुका है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिया कि जरूरी सामानों की आपूर्ति चेन टूटनी नहीं चाहिए। जरूरी सामान पहुंचते ही रहना चाहिए मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ राज्यों में लोगों की मदद करने के लिए सरकारी कर्मचारियों के वेतन से कटौती की जा रही है। उत्तर प्रदेश में किसी भी सरकारी कर्मचारी के वेतन आदि से कोई कटौती नहीं की जाएगी उल्टे उनका पूरा वेतन पहले सप्ताह में ही उनके अकाउंट में पहुंचा दिया जाएगा। सरकार अपने संसाधनों से ही लोगों की पूरी मदद करेगी।

उन्होंने कहा कि आपदा कार्य में लगे पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों, सफाई कर्मियों समेत हर सरकारी कर्मचारी और संविदा कर्मियों की सैलरी हर हाल में पहले सप्ताह में पहुँच जाए। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी कर्मचारी के वेतन से जुड़ी समस्या सामने नहीं आनी चाहिए, यदि ऐसी समस्या आयी तो जवाबदेही तय कर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के अन्य बिलों का भी अतिशीघ्र भुगतान किया जाएगा। उन्होंने यह स्पष्ट तौर पर कहा कि आपदा कार्य में लगे हर कर्मचारी का 50 लाख का बीमा सुनिश्चित कराया जाए।

इसे भी पढ़ें-मस्जिद खाली कराने को तैैयार नहीं थे मौलाना, रात 2 बजे पूरा हुआ ‘ऑपरेशन मरकज’

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कहीं भी कोई भूखा नहीं रहना चाहिए। अनाज के सरकारी गोदाम जरूरतमंदों के लिए 24 घंटे खुले रहने चाहिए हर ज़रूरतमंद तक भोजन अवश्य पहुँचे। मुख्यमंत्री ने सीएम पोर्टल के अलावा हर ज़रूरतमंद की मदद के लिए तत्काल एक टोल फ़्री नंबर शुरू करने का आदेश राजस्व विभाग को दिया और कहा कि कंट्रोल रूम शुरू करके पूरे प्रदेश की विधिवत मॉनिटरिंग की जाए। वहीं, जो लोग आश्रय स्थलों में रह रहे हैं उनकी काउंसलिंग के लिए विशेषज्ञ, डॉक्टरों, सोशल स्टडी के विद्वानों की मदद से हर कैंप में काउंसिलिंग करने के निर्देश दिए गए हैं।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन के दौरान पूरे प्रदेश में विधिवत सफाई और सैनिटाइजेशन के आदेश दिए और कहा कि नियमित तौर पर फॉगिंग कराई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि पशुओं के चारे को लेकर कहीं कोई कमी नहीं होनी चाहिए। पर्याप्त चारा मौजूद है और इसका पूरा उपयोग होना चाहिए। फसलों की कटाई के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि मंडियों को तैयार रखा जाए और ख़रीदारी के लिए जल्द से जल्द सारी तैयारियां सुनिश्चित करा ली जाएं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 1, 2020, 6:14 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
34°C
real feel: 32°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 22%
wind speed: 3 m/s WNW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:27 am
sunset: 5:54 pm
 

Recent Posts

Trending