Connect with us

प्रदेश

प्रदेश में हर दिन हो रहीं हत्या, लूट और बलात्कार की घटनाएं : अखिलेश यादव

Published

on

सपा मुखिया ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में अंधेरनगरी, चैपट राजा की कहावत चरितार्थ हो रही है। भाजपा सरकार आंकड़े दबाकर प्रदेश में कानून व्यवस्था के नियंत्रण में होने का खोखला दावा कर रही है। जबकि कोई दिन ऐसा नहीं जाता है जब प्रदेश में हत्या, लूट और बलात्कार की घटनाएं न हो रही हों। भाजपा सरकार के बड़बोलेपन का अपराधियों पर तो कोई असर हुआ नहीं, उल्टे पुलिस ही कानून हाथ में लेकर लोगों को प्रताड़ित करने लगी है। भाजपा राज में स्थिति यह है कि अपराधी भयमुक्त हैं और जनसामान्य भयभीत।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ में एक किशोर को घर से उठाकर पुलिस चैकी में बंद रखा गया। निर्दोष से जुर्म जबरन कबूलवाने के लिए उसको बर्बरता से पीटा और बूट से पैर कुचल डाले। जब ये हाल है तो मुख्यमंत्री किस मुंह से अपने राज में शांति व्यवस्था बने रहने की बात करते हैं? मामला भाजपा के किसी नेता का हो तो उसकी रिपोर्ट तक दर्ज नहीं होती है। पुलिस विवेचना ठंडे बस्ते में चली जाती है।

यह भी पढ़ें-शहर की प्रतिभाओं को लखनऊ में ही मिलेगा बेहतर मंच : महापौर संयुक्ता भाटिया

वहीं दूसरी ओर संडीला (हरदोई) में 8 साल के एक बच्चे का अपहरण करके अपराधियों ने उसकी हत्या कर दी। देहरादून-नैनीताल हाइवे पर बिजनौर पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान एक अनुसूचित जाति के युवक की ऐसी पिटाई की कि उसकी मृत्यु हो गई। लखनऊ में निगोहा थाने के चौकीदार ने एक युवती से छेड़खानी कर दी। गुडम्बा इलाके में बदमाशों ने घर में घुसकर एक महिला की हत्या कर दी। मेरठ में 44वीं पीएसी वाहिनी के कमाण्ड हाउस से इंसास रायफलें गायब, लौटाने के लिए 3.50 लाख रुपए की मांग की गई। इटावा में छह दिनों से एक युवक को थाने में बंद रखा गया। संवेदनहीनता का यह उदाहरण है।
सपा मुखिया ने कहा कि सच तो यह है कि प्रदेश में भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल है। उसके राज में कोई भी व्यक्ति न तो सड़क पर सुरक्षित है और नहीं जेल में। जेलों में माफिया डान अपने दरबार सजा रहे हैं और वहीं से अपराधिक गतिविधियों का विस्तार कर रहे है। अवैध खनन पर कोई रोक नहीं है। धोखाधड़ी करनेवाली कम्पनियां आराम से लोगों के पैसे लूटकर गायब हो जाती हैं। तमाम अपराधिक मामलों का लम्बे समय से खुलासा ही नहीं हो सका है। पीड़ित का ही उत्पीड़न करना पुलिस ने अपना कर्तव्य मान लिया है।

यह भी पढ़ें-निदेशक के शोषण व मनमानी से आयुर्वेदिक फार्मासिस्टों में रोष, सीएम योगी को लिखा पत्र

हद तो यह है कि अगर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र भी अपनी कोई मांग उठाते हैं तो उनके ऊपर लाठियां बरसाई जाती है और गिरफ्तारियां होती है। उनके लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है। यह छात्रसंघ समाप्त किये जाने की साजिश है। भाजपा सरकार की वजह से चारों तरफ अराजकता है। जनता के सब्र का ज्यादा इम्तिहान लेना खतरनाक होगा।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

मोदी-योगी के खिलाफ जो नारेबाजी करेगा उसे जिंदा दफन कर दिया जाएगाः रघुराज

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के श्रम मंत्रालय राज्यमंत्री रघुराज सिंह अपने बयान पर घिरते नजर आ रहे है। वह रविवार को अलीगढ़ में सीएए के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ जो नारेबाजी व प्रदर्शन करेगा उसे जिंदा दफन कर दिया जाएगा।

मंत्री ने आगे कहा कि एक प्रतिशत लोग सीएए का विरोध कर रहे हैं। भारत में रहते हैं और हमारे नेताओं के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाते हैं। यह देश सभी धर्मों के लोगों का है, लेकिन प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी अस्वीकार्य है। उन्होंने भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नेहरू की जाति क्या थी? उनका खानदान नहीं था।

कांग्रेस का पलटवार
रघुराज सिंह के बयान के बाद कांगेस ने पलटवार करते हुए निशाना साधा है। यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता द्विजेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि लोगों को सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने का अधिकार है। सरकार कितने लोगों को दफन करेंगी? करोड़ो लोग नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार सिंह लल्लू ने रघुराज सिंह के बयान पर पलटवार किया है। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि हिंसा कराना और हिंसा में शामिल रहना बीजेपी का पुराना इतिहास रहा हैं। जितने भी आंदोलन सीएए और एनआरसी के खिलाफ हुए हैं। अहिंसात्मक तरीके से किए जाने वालों का दमन किया गया है। लाठी डंडे चलाए गए हैं। गोली मारकर हत्या भी की गई है।

यह भी पढ़ें:- यूक्रेन विमान हादसे को लेकर खामनेई के खिलाफ प्रदर्शन, इस्तीफा देने की मांग

वहीं भाजपा के नेता अपने मंत्री के बयान का बचाव करते नजर आ रहे है। यूपी बीजेपी के प्रवक्ता संजय राय ने कहा कि हमने रघुराज सिंह ने बात की हैं। उन्होंने हमें बताया कि मेरे बयान का गलत मतलब निकाला गया। उनके अनुसार उन्होंने उस विचारधारा को दफनाने की बात कही जो सीएए के खिलाफ लोगों को गुमराह कर रही है। उन्होंने ये लोगों को दफनाने को नहीं कहा। संजय राय ने कहा कि बीजेपी एक लोकतांत्रिक पार्टी है और हम हिंसा में विश्वास नहीं करते। केरल और बंगाल में हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है, लेकिन हम उनके साथ लोकतांत्रिक तरीके से लड़ रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

यूपी: देवरिया महोत्सव में बॉलीवुड कलाकार भी बिखेरेंगे जलवा…

Published

on

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में 21 जनवरी से शुरू होने वाले देवरिया महोत्सव की तैयारियां जोर-शोर से शुरू हो गई हैं। वहीं 21 से 31 जनवरी तक आयोजित महोत्सव में बालीबुड कलाकार लोगों के बीच अपना जलवा बिखेरेंगे ।

इस संबंध में जिलाधिकारी अमित किशोर ने सोमवार को यहां बताया कि देवरिया महोत्सव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। आगामी 21 से 31 जनवरी तक होने वाले देवरिया महोत्सव में चीनी मिल ग्राउंड पर 10 दिनों तक बॉलीवुड कलाकार रंग जमाते हुए नजर आयेंगे। वहीं ग्राउंड में जन कल्याणकारी योजनाओं की प्रदर्शनी भी लगेगी।

ये भी पढ़ें: बिहार: शॉर्ट सर्किट से लगी आग में 9 घर जलकर स्वाहा, मची सनसनी

जिलाधिकारी महोत्सव समिति के अघ्यक्ष भी हैं। महोत्सव से पर्यटन खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। जिले के लोग एक ही जगह पर कला, संस्कृति, शिल्प, व्यंजन, योग ,गीत-संगीत व जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठा सकेंगे। स्थानीय कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए सभी तहसील क्षेत्रों में दो दिवसीय तहसील स्तरीय महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जहां से बेहतर प्रतिभाओं का चयन कर मुख्य मंच पर लाया जाएगा।

आगे बताया कि राष्ट्रीय कलाकारों द्वारा प्रस्तुति का लुफ्त शहरवासी उठा सकेंगे । पूरे महोत्सव पर ड्रोन कैमरे से नजर रखी जाएगी। भारत और राज्य सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए समाज कल्याण, पशुपालन, कृषि, शिक्षा, चिकित्सा सहित विभिन्न विभागों द्वारा स्टाल लगाकर लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाएगा।  

Continue Reading

प्रदेश

1994 बैच के IPS सुजीत पांडे होंगे लखनऊ के पहले पुलिस कमिश्नर

Published

on

आलोक सिंह को मिली नोएडा की कमान, अन्य कई आईपीएस अफसरों के हुए तबादले

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और नोएडा में अब पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होगी। सोमवार को योगी कैबिनेट ने इस प्रस्ताव पर मुहर लगा दी। इसके साथ ही लखनऊ और नोएडा में पहले पुलिस कमिश्नर के नामों का भी ऐलान हो गया है। राजधानी लखनऊ की कमान 1994 बैच के आईपीएस अफसर सुजीत पांडे को मिली है जबकि 1995 बैच के आईपीएस आलोक सिंह को नोएडा का पुलिस कमिश्नर नियुक्त किया गया है। पिछले दिनों नोएडा के एसएसपी वैभव कृष्ण की बर्खास्तगी और लखनऊ के एसएसपी कलानिथि नैथानी का गाजियाबाद में तबादला होने के बाद से ही यूपी के इन दोनों प्रमुख शहरों में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम लागू होने की चर्चा गरम थी। लंबी कवायद के बाद सोमवार को हुई योगी कैबिनेट ने इसकी मंजूरी दे दी। देश के कई बड़े शहरों में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम लागू है, लेकिन यूपी के किसी शहर में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम पहली बार लागू होगा।

आलोक सिंह

लखनऊ पुलिस कमिश्नर के नाम की घोषणा के साथ लखनऊ पुलिस के कुछ नए अफसरों के नामों का ऐलान हुआ है। नवीन अरोड़ा को लखनऊ का ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड आर्डर) बनाया गया है। नीलाब्जा चौधरी को ज्वाइंट कमिश्नर क्राइम एंड हेड क्वार्टर, अखिलेश कुमार को एडिशनल कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर, श्रीपर्णा गांगुली को एडिशनल कमिश्नर क्राइम व मुख्यालय बनाया गया है। इसके अलावा दोनों जनपदों में कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद 6 आईपीएस अफसरों को नई तैनाती दी गयी है। जिसमें संदीप सालुंके को एडीजी टेक्निकल सर्विस, असीम अरुण को एडीजी 112, जेएन सिंह को एडीजी कानपुर जोन, प्रेम प्रकाश को एडीजी प्रयागराज जोन, प्रवीण कुमार को आईजी रेंज मेरठ और लव कुमार को डीआईजी गोरखपुर रेंज बनाया गया है।

यह भी पढ़ें-राजधानी लखनऊ शहर होगा मेट्रोपॉलिटियन, पुलिस आयुक्त संभालेंगे कमान

पुलिस से जुड़े विभागों के नेतृत्व में भी बदलाव

यूपी में पहली बार कमिश्नरी सिस्टम का फार्मूला अपनाने जा रही योगी सरकार ने सोमवार को प्रदेश पुलिस में कई महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं। पुलिस विभाग से जुड़े अन्य विभागों के नेतृत्व में बदलाव करते हुए शासन ने 4 अन्य आईपीएस अफसरों का तबादला किया है। जिसके तहत जावीद अहमद को डीजी फायर सर्विस, विश्वजीत महापात्रा को डीजी रूल्स एण्ड मैनुअल्स, जीएल मीना को डीजी मानवाधिकार अयोग और डीएल मीना को डीजी मानवाधिकार बनाया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 13, 2020, 7:01 pm
Intermittent clouds
Intermittent clouds
13°C
real feel: 12°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 90%
wind speed: 2 m/s E
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:27 am
sunset: 5:03 pm
 

Recent Posts

Trending