Connect with us

आजमगढ़ के बिलरियागंज में प्रियंका ने महिलाओं से की मुलाकात

लखनऊ। सीएए, एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं से मिलने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी बुधवार को आजमगढ़ के बिलरियागंज पहुंचीं। यहां उन्होंने महिलाओं को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, आप लोगों के दुख और संघर्ष में शामिल होकर मुझे तसल्ली मिली है। इससे पहले मैं बिजनौर, मुजफ्फरनगर, लखनऊ, बनारस भी गई हूं। प्रियंका ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जहां भी दमन होगा, अत्याचार होगा, नाइंसाफी होगी, मैं वहां-वहां जाऊंगी। यह मेरा फर्ज है, मुझे इससे कोई भी रोक नहीं सकता। प्रियंका ने बिलरियागंज में महिलाओं और मौलाना के साथ हुई पुलिस ज्यादती की निंदा की।

इससे पहले कांग्रेस महासचिव ने महिलाओं से मुलाकात कर उनका हाल जाना। प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने पुलिस पर हिंसा और उत्पीड.न करने का आरोप लगाया। महिलाओं ने कांग्रेस महासचिव को बताया कि वह 4 फरवरी को हम लोगों ने शांतिपूर्ण तरीके से धरना प्रदर्शन शुरू किया। अगले दिन सुबह तड.के जिलाधिकारी व पुलिस कप्तान पूरी फोर्स के साथ मौके पर पहंुचे और धरना खत्म करने को कहा। अधिकारियों ने महिलाओं को समझाने के लिए मौलाना ताहिर मदनी को भी बुलवाया। महिलाओं ने कहा कि हम लोगों ने प्रशासन से कहा कि फजर की नमाज अदा वह अपने घरों को चली जाएंगी। लेकिन पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। महिलाओं पर आंसू गैस के गोले और रबर की गोलियां बरसाईं। जिसमें करीब तीन दर्जन महिलाएं घायल हुईं, कई बच्चे भी घायल हुए।

महिलाओं ने प्रियंका गांधी को बताया कि पुलिस की ओर से किए गए पथराव में घायल सरवरी बानों नाम की महिला आईसीयू में हैं। महिलाओं ने एक-एक कर पुलिस की सभी ज्यादतियां बयां की। महिलाओं को समर्थन करते हुए प्रियंका ने कहा, सीएए-एनआरसी के खिलाफ चल रहे आंदोलनों में हुई पुलिसिया हिंसा को लेकर कांग्रेस ने मानवाधिकार आयोग में शिकायत की है। पुलिस महानिदेशक और मुख्य सचिव तलब किये गये हैं। प्रदेश में जहां भी उत्पीड़न-दमन होगा, मैं आवाज बुलंद करूंगी। उन्होंने कहा कि आजमगढ़, बिलरियागंज के पुलिसिया उत्पीड़न की रिपोर्ट भी मानवाधिकार आयोग को वे भेजेंगी।

यह देश बचाने की लड़ाई है

प्रियंका ने कहा कि यह देश बचाने की लड़ाई है। अपनी गौरवशाली विरासत को बचाने की लड़ाई है। संविधान बचाने की लड़ाई है। इस लड़ाई में हम भी इंच भर पीछे नहीं हटेंगे, और देश बचाने की इस लड़ाई का हिस्सा हूँ, मुझे इसका फक्र है। लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा गरीब और वंचित विरोधी कानून की पैरोकार है। सुप्रीम कोर्ट में आरक्षण विरोधी कानून के लिए वकील खड़ा किया। आरक्षण संविधान के मौलिक अधिकारों में है। संविधान विरोधी इस कानून के खिलाफ भी कांग्रेस संघर्ष करेगी।

यह भी पढ़ें-स्कूल के वार्षिकोत्सव में बच्चों ने मचाई धूम, नृत्य व शेरो-शायरी से लूटी महफिल

भाजपा सरकार सामाजिक न्याय विरोधी है, दलित-पिछड़ा विरोधी है। प्रियंका गांधी के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विधायक दल नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’ ने चुंगी अस्पताल जाकर सरवरी बानो से मुलाकात की।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

UP: शादी समारोह में शराब पीने से दो लोगों की मौत, पसरा मातम

Published

on

संभल: यूपी के जनपद संभल में रविवार रात एक शादी समारोह में शराब पीने से दो लोगों की मौत हो गई। दो लोगों की मौत से शादी वाले घर में मातम पसर गया। वहीं ग्राम प्रधान ने मौत का कारण जहरीली शराब बताया है, लेकिन इस मामले में एसपी का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह स्पष्ट हो पाएगी।

मामला धनारी थाना के गांव नगला चतुर्भानपुर में एक शादी समारोह में शराबखोरी हो रही थी। इस बीच शराब पीने के बाद दो लोगों की हालत अचानक से बिगड़ गई। जिसके बाद दोनों को डॉक्टर के पास ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। वहीं देर रात हुई दो मौतों के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

ये भी पढ़ें: अश्लील टिप्पणी का विरोध करने पर शोहदों ने छात्रा को जमकर पीटा

ग्राम प्रधान ललतेश प्रधान का आरोप है कि युवकों की मौत की वजह जहरीली शराब है। वहीं एसपी यमुना प्रसाद का कहना है कि शादी समारोह में और लोग भी शराब का सेवन कर रहे थे। इसलिए पोस्टमार्टम के बाद ही वजह साफ हो पाएगी। वहीं एक रिश्तेदार ने बताया कि दो लोगों ने दो क्वार्टर शराब खरीदी थी। जिसमें से एक क्वार्टर शराब पीते ही दोनों बेहोश हो गए। आनन-फानन में दोनों को एक प्राइवेट डॉक्टर के पास ले जाया गया, जहां दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। वहीं प्रमाण के रूप में एक क्वार्टर मौके से बरामद हुआ है।  पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

मुख्यमंत्री प्रदेश की जनता को मुक्ति दें, वापस अपने मठ जाएं: अजय कुमार लल्लू

Published

on

लखनऊ। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू अयोध्या में नाबालिग रेप पीड़िता के घर पहुंचे। मृतक लड़की के परिवार से उन्होंने मुलाकात कर बीजेपी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराध खुले आम हो रहा है। बीजेपी सरकार में जंगलराज है। मुख्यमंत्री कानून व्यवस्था संभाल पाने में फेल हैं। मुख्यमंत्री प्रदेश की जनता को मुक्ति दें। वापस अपने मठ जाएं।

लल्लू ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि प्रदेश में अपराधियों, बलात्कारियों व माफियाओं का बोलबाला है। बीजेपी सरकार में दलितों पर अत्याचार बढ़ा है। खासतौर पर महिलाओं के साथ घटनायें बढ़ी हैं। जो अयोध्या की घटना है इस तरह की घटनाएं रोज हो रही हैं। बीजेपी के सांसद बलात्कारी हैं जेल जातें हैं वापस आने पर उनका फूल मालाओं से स्वागत किया जाता है। बीजेपी सरकार की मानवता मर चुकी है। सरकार का इन्हें सरंक्षण है जिसकी वजह से अधिकारी शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही नही करते।

यह भी पढ़ें: शराब बंदी के लिए काम कर रहे संगठनों ने शराब मुक्त भारत का लिया संकल्प

वहीं परिवार वालों ने प्रशासन की लापरवाही से बिटिया की जान चले जाने का आरोप लगाया। मृतक लड़की की मां ने आरोप लगाया कि मेरी नाबालिग बिटिया जो अभी सही से दुनिया भी नही देख पाई थी। उसकी जान ले ली। बिटिया से गैंगरेप के बाद अश्लील वीडियो बनाकर घर वालों को ब्लैकमेल करने की शिकायत SSP से करने पर कोई कार्यवाही नही हुई। अगर SSP थोड़ा ध्यान दे देते तो मेरी बिटिया बच जाती। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

उन्नाव: वैन व ट्रक की भिड़ंत, आग लगने से सात लोग जिंदा जले…

Published

on

लखनऊ: लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे स्थित बांगरमऊ कट के पास हरदोई जा रही वैन का टायर फटने से वह बेकाबू होकर सामने से आ रहे ट्रक से जा टकराई। बताया जा रहा है कि टक्कर इतनी जोरदार थी, कि वैन में तेज धमाके के साथ आग लग गई। आग लगने से वैन में सवार सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई। वैन में सीएनजी सिलेंडर लगा होने के कारण आग तेजी से फैल गई।

सीएम योगी ने सड़क हादसे में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिवारीजन के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

वहीं दूसरी तरफ ट्रक में भी आग लग गई, तो चालक व क्लीनर उसे जलता छोड़कर भाग निकले। पुलिस की सूचना पर पहुंची दमकल की 3 गाड़ियों ने आग पर काबू पाया, तो वैन के अंदर से सात शव बरामद हुए। पुलिस शवों की शिनाख्त में जुट गई है।

बता दें कि बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के बांगरमऊ कट से 100 मीटर दूर हरदोई-उन्नाव रोड पर रविवार रात सवारियों से भरी वैन उन्नाव से हरदोई जा रही थी। जानकारी के अनुसार वैन की रफ्तार काफी तेज थी और सामने से और भी कई वाहन तेज रफ्तार में आ रहे थे। इस बीच वैन का अगला टायर अचानक फट गया, जिससे वैन अनियंत्रित होकर सामने से आ रहे ट्रक में भिड़ गई। दोनों वाहनों की टक्कर इतनी तेज थी कि वैन में आग का गोला बन गई।

ये भी पढ़ें: शराब बंदी के लिए काम कर रहे संगठनों ने शराब मुक्त भारत का लिया संकल्प

देखते ही देखते आग ने इतना विकराल रूप धारण कर लिया कि वैन में सवार लोगों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला और उसी में जिंदा जलकर खाक हो गए। ट्रक को भी आग की चपेट में आता देख चालक और क्लीनर मौके से भाग निकले। रस्ते से गुजरते वाहन चालकों ने घटना की दमकल विभाग के साथ पुलिस को भी दी। जानकारी पर पहुंची पुलिस और फायर ब्रिगेड दस्ते ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। करीब आधा घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका, लेकिन तब तक वैन में सवार लोग जिंदा जल चुके थे। 

घटनास्थल पर पहुंचे एसपी विक्रांत वीर ने शवों को वैन से बाहर निकलवाया। पुलिस ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त ट्रक में सरसों के तेल के डब्बे लदे हुए थे। आग ट्रक के केबिन से होकर पीछे बंधे तिरपाल तक पहुंची और भीतर लदे सरसों के तेल के डब्बों तक पहुंच गई। देखते ही देखते तेल ने भी आग पकड़ ली। इसके चलते वैन में लगी आग और भयंकर हो उठी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Trending