Connect with us

प्रदेश

जेसीपी नवीन अरोड़ा ने किया फ्लैगमार्च, पुलिस ने ड्रोन कैमरों से की निगरानी

Published

on

ईद करीब, कल चांद रात, रमजान पाक का अलविदा जुमा आज मस्जिदों में नहीं घर पर अदा हुई नमाज

लखनऊ। कोरोना वायरस के खौफ के बीच आज जुमा अलविदा की नमाज बेहद सादगी के साथ अदा की गई, मस्जिदों में केवल 5 लोगों ने ही नमाज अदा की बाकी लोगों ने घरों पर ही नमाज अदा की जुमा अलविदा की नमाज निपटने के बाद अब प्रशासन की निगाह ईद पर टिक गई है। ईद के त्यौहार को सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कर कराते हुए मनाने का फैसला लिया गया है। इसको लेकर प्रशासनिक अफसरों और उलेमाओं के बीच कई दौर की वार्ता भी हो चुकी है, जिसमें ईद की नमाज ईदगाह पर अदा न करने का फैसला लिया गया है। ईद की नमाज भी मस्जिद में केवल 5 लोगों की मौजूदगी में ही अदा करने की बात कही गई है।

बाकी लोग ईद की नमाज घरों में ही अदा करेंगे इस फैसले के बाद पुलिस प्रशासन ने सतर्कता और बढ़ा दिया है। ईद के मौके पर सड़कों पर भीड़ एकत्र न हो साथ ही मस्जिदों में भी 5 से ज्यादा लोग एकत्र न हो इसके लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं। अलविदा जुमा की नमाज को लेकर पुलिस-प्रशासन बेहद सख्त है।

नमाज घरों में ही पढ़ी जाए इस अपील के साथ ही पुलिस ने कस्बे भर में पैदल मार्च निकालकर लोगो से अपील भी कि हर हाल में इसका पालन करना है। पुलिस प्रशासन द्वारा शांति व्यवस्था की अपील की गई साथ ही भरोसा दिया कि संकट के समय पुलिस सबके साथ है। आज अलविदा की नमाज अदा की गयी।

इसे भी पढ़ें-प्रवासी मजदूरों के आने से UP में कोरोना का चढ़ा पारा, 1200 से ज्यादा पॉजिटिव

लेकिन कोरोना के कहर के चलते धर्मस्थलों में भीड़ लगाने पर शुरू लॉकडाउन से ही मनाही है। अभी लॉकडाउन का समय है और तेजी के साथ कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। अलविदा की नमाज घरों की अदा करने के निर्देश हैं। इसको लेकर पुलिस-प्रशासन हर तरह तैयारी में है।

वहीं राजधानी के बाजारखाला, हैदरगंज चौराहा, भवानीगंज सहित तमाम क्षेत्रो में ड्रोन कैमरों से पुलिस प्रशासन ने निगरानी कर जायजा लिया। जेसीपी नवीन अरोड़ा ने भारी पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च करते हुए टीले वाली मस्जिद पहुंच कर जायजा लिया और डीसीपी एडीसीपी समेत ड्यूटी कर रहे पुलिस बल को ब्रीफ भी किया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
1 Comment

प्रदेश

अजय कुमार लल्लू की रिहाई के लिए कांग्रेस सेवा दल ने प्रदेश भर में दिया धरना

Published

on

राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर तत्काल रिहाई की मांग

लखनऊ। कांग्रेस सेवा दल ने आज पूरे प्रदेश में सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की रिहाई की मांग की। उप्र कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष डाॅ. प्रमोद कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने दिनभर उपवास एवं धरने के बाद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को सम्बोधित ज्ञापन प्रशासन को सौंपा। ज्ञापन में कांग्रेस सेवकों ने कहा है कि अजय कुमार लल्लू केवल पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ही नहीं हैं बल्कि वह विधानसभा के सदस्य भी हैं। जेल में अजय कुमार लल्लू के मौलिक अधिकारों का हनन हो रहा है।

उन्हें किसी से भी मिलने नहीं दिया जा रहा है। उन्हें अपनी ही पार्टी के सांसदों और विधायकों, नेता विधानमंडल दल से नहीं मिलने दिया जा रहा है। उनके साथ जेल में आम अपराधी जैसा बर्ताव हो रहा है। ज्ञापन में कहा गया है कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने प्रवासी श्रमिकों की भलाई के लिए अपना जी-जान लगाकर प्रयास किया। लेकिन सरकार उनकी बात नहीं मानी। उल्टे उन्हें गिरफ्तार कर 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। सेवादल के स्वयंसेवकों ने राज्यपाल से अजय कुमार लल्लू के खिलाफ सभी फर्जी मुकदमे वापस करवाने और तत्काल उनकी रिहाई की मांग की है।

प्रदेश भर में दिया गया धरना

सेवादल मध्य जोन के अध्यक्ष राजेश सिंह काली ने बताया कि इसी प्रकार वाराणसी में सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. प्रमोद कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में, लखनऊ में मध्य जोन के अध्यक्ष राजेश सिंह काली के नेतृत्व में, पश्चिमी जोन बागपत में अनिल देव त्यागी, बुन्देलखण्ड जोन में लक्ष्मी नारायण दीक्षित एवं संगीत तिवारी के नेतृत्व में कानपुर में, पूर्वी जोन के चन्दौली में सतीश बिन्द के नेतृत्व में सेवादल ने उपवास एवं धरना दिया।

यह भी पढ़ें-देश के सबसे ज्यादा लोकप्रिय मुख्यमंत्री चुने गए योगी आदित्यनाथ

आज पूरे प्रदेश में सेवादल द्वारा उपवास एवं धरने का आयोजन किया गया। लखनऊ में आयोजित उपवास एवं धरना में श्यामकिशोर शुक्ल पूर्व विधायक, प्रभारी प्रशासन दिनेश सिंह, प्रभाकर मिश्रा, संजीव सिंह, राजेन्द्र भदौरिया, राजमणि शुक्ला, जीवन श्रीवास्तव, राकेश तिवारी, आलेख पाण्डेय, मो. रईस, मो. लईक आदि ने भाग लिया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

UP: अखिलेश ने कहा, अपनी ‘दिव्य राजनीतिक गणित’ का खुलासा करें सीएम योगी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे है। जिसके बाद विपक्ष हमलावार हो गया है। प्रियंका गांधी के बाद अखिलेश यादव ने भी योगी सरकार के दावों पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मुख्यमंत्री जी की ‘दिव्य राजनीतिक गणित’ के हिसाब से अगर महाराष्ट्र से लौटे 75 फीसदी, दिल्ली से लौटे 50 फीसदी, अन्य राज्यों से लौटे 25 फीसदी लोग कोरोना-संक्रमित हैं। तो फिर यूपी में कोरोना का प्रकाशित आंकड़ा कुछ हजार ही क्यों है? इसके साथ ही उन्होंने श्रमिकों के लिए नया आयोग बनाने को लेकर भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने अन्य राज्यों का हवाला दिया है जहां लौटे प्रवासियों के कारण कोरोना के आंकड़े में बड़ी बढ़ोतरी देखी जा रही है।

अखिलेश यादव ने ट्वीट में लिखा है मुख्यमंत्री जी की दिव्य राजनीतिक गणित के हिसाब से यदि मुंबई-महाराष्ट्र से लौटे 75%, दिल्ली से लौटे 50% व अन्य राज्यों से लौटे 25% लोग कोरोना-संक्रमित हैं तो फिर पचीसों लाख लौटे लोगों को मिलाकर उप्र में कोरोना का प्रकाशित आंकड़ा कुछ हजार ही क्यों है। कुछ तो है जिसकी पर्दादारी है! वहीं दूसरे ट्वीट में कहा है कि जो भी प्रवासी श्रमिक बाहर से आए हैं उन्हें सरकार राशनकार्ड, मनरेगा रोजगार, जनधन खाता, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर और शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि जमीन संबंधित समस्याओं में रूचि लेकर अधिकारी उसका निदान करें। साथ की ग्रामीण योजनाओं का सरकारी लाभ प्रवासी श्रमिको को दिया जाए।

यह भी पढ़ें:- WHO की नई चेतावनी, बरसात व सर्दियों में और घातक होगा कोराना संक्रमण

बता दें कि यूपी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 6500 के करीब पहुंच चुकी है। साथ ही प्रदेश में कोरोना वायरस से आगरा सर्वाधिक प्रभावित है। वहीं 229 नए कोरोना वायरस के मरीजों की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 6497 तक पहुंच चुकी है। इसके साथ ही 122 मरीजों को डिस्चार्ज भी किया गया। जिसके कारण उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 3660 कोरोना वायरस के मरीजों को इलाज के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

देश के सबसे ज्यादा लोकप्रिय मुख्यमंत्री चुने गए योगी आदित्यनाथ

Published

on

पीएम मोदी के बाद दूसरे सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता, अमित शाह तीसरे नंबर

लखनऊ। वैश्विक महामारी और लाॅकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक सच्चे कर्मयोद्धा बनकर उभरे हैं। अथक परिश्रम व निरंतर अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर योगी आदित्यनाथ देश के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री बन गए हैं। फेम इंडिया मैगजीन के एक सर्वे में सीएम योगी ने लोकप्रियता के मामले में पीएम मोदी के बाद दूसरा स्थान हासिल किया है। योगी ने देश के गृहमंत्री अमित शाह को भी पीछे छोड़ दिया है।

फेम इंडिया ने देश के 50 प्रभावशाली लोगों की सूची जारी की है। जिसमें नेता, उद्योगपति, नौकरशाह और पत्रकार शामिल हैं। फेम इंडिया के सर्वे के अनुसार लोकप्रियता के मामले में देश में पीएम मोदी पहले नंबर पर हैं। दूसरे नंबर पर सीएम योगी हैं। जबकि गृहमंत्री अमित शाह तीसरे पायदान पर हैं।

यह भी पढ़ें-लाॅकडाउन ने ‘लाॅक’ किया सोने का आयात, अप्रैल महीने में 100 प्रतिशत आई गिरावट

दिग्गत उद्योगपति रतन टाटा चौथे, भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी पांचवें, केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन छठे और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक 10वें नंबर पर हैं। सूची में सीएम योगी सहित 8 मुख्यमंत्रियों ने जगह बनाई है। सर्वे में 99 प्रतिशत से अधिक लोगों ने पीएम मोदी को बेहद प्रभावशाली नेता और जननायक माना है। फेम इंडिया ने व्यक्तित्व, प्रभाव, दूरदर्शिता, विकासात्मक शैली आदि विषयों पर देश भर के 12 हजार प्रबुद्ध लोगों के बीच सर्वे किया है।

जनता के सच्चे सेवक बनकर उभरे सीएम योगी

बता दें कि कोरोना महामारी के बाद से ही सीएम योगी ने जनता को तरह से राहत पहुँचाने के लिए दिन-रात अथक मेहनत और लगातार माॅनीटरिंग की है। योगी ने प्रभावित जिलों का दौरा कर खुद व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे हैं। जिम्मेदारी में लापरवाही करने वाले अधिकारियों को सीएम योगी सबक सिखाने में भी देरी नहीं की। चाहे वह नोएडा के जिलाधिकारी रहे हों या फिर आगरा के सीएमओ। प्रवासी श्रमिकों को लेकर भी सीएम योगी ने बेहतर से बेहतर इंतजाम किए। हालांकि विपक्ष लगातार इस मुद्दे पर योगी सरकार पर हमलावर है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 26, 2020, 6:51 pm
Partly sunny
Partly sunny
40°C
real feel: 38°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 19%
wind speed: 3 m/s WNW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:44 am
sunset: 6:23 pm
 

Recent Posts

Trending