Connect with us

प्रदेश

जानिए, BSP सुप्रीमो मायावती का मिशन 2022…

Published

on

लखनऊ। लोकसभा चुनाव में यूपी में बसपा नंबर दो की पार्टी बन कर उभरी है। जिसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने मिशन 2022 को धार देने की दिशा में काम शुरू कर दिया है। वह बसपा का मजबूत संगठन खड़ा करने जा रही हैं। इसके लिए प्रत्येक स्तर पर कमेटियां बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जोनल व्यवस्था के बाद अब जिला स्तर पर तीन-तीन सक्रिय सदस्यों की कमेटियां बनाने का निर्देश दिया गया है। यही कमेटी विधानसभा से लेकर बूथ स्तर तक संगठन का मजबूत आधार तैयार करेगी।

य़ह भी पढ़ें: आम्रपाली ग्रुप के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 42000 ग्राहकों को दी राहत, अब NBCC करेगा सपनों को साकार….

उसके पास 10 सांसद हैं। मायावती लोकसभा चुनाव से उत्साहित हैं। इसीलिए आमतौर पर उप चुनाव न लड़ने वाली बसपा इस बार विधानसभा उप चुनाव पूरी मजबूती से लड़ने जा रही है। उप चुनाव से पहले बसपा कॉडर को पूरी तरह से मजबूत बनाने की तैयारी है। संगठन में पुराने लोगों को महत्व दिया जा रहा है। ऐसे कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां दी जा रही हैं जो नि:स्वार्थ भाव से पार्टी को आगे बढ़ने में सालों से लगे हुए हैं।मायावती का विधानसभा उप चुनाव पर पूरा ध्यान है। वह उप चुनाव से पहले संगठन को मजबूत बनाने में लगी हुई हैं। वह चाहती हैं कि विधानसभा चुनाव 2022 से पहले होने वाले उप चुनाव को टेस्ट के रूप में लिया जाए। संगठन की कार्यप्रणाली का इसमें परीक्षण किया जाए। इसमें अगर कोई कमी रह जाती है तो उसे समय रहते ठीक कर लिया जाए। मायावती भाजपा के खिलाफ बसपा को सबसे मजबूत विकल्प मान रही हैं। उनका मानना है कि कांग्रेस और सपा से बसपा काफी मजबूत है।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

यूपी सरकार जल्द ही आगरा का नाम बदलकर करेगी अग्रवन

Published

on

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के ऐतिहासिक शहर आगरा का नाम अग्रवन करने में उत्तर प्रदेश सरकार अभी कोई जल्दबाजी नहीं दिखाएगी। भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेताओं ने इस बारे में हाल ही में बयान जारी किये हैं कि आगरा का नाम बदलकर अग्रवन कर दिया जाएगा। आगरा में अग्रवालों की संख्या बहुत अधिक है और महाराजा अग्रसेन की वो पूजा भी करते हैं। आगरा उत्तरी सीट से पांच बार विधानसभा का चुनाव जीत चुके भाजपा के नेता जगन प्रताप गर्ग ने इस शहर का नाम बदलने के लिये पत्र लिखा है।

यह भी पढ़ें: दो दिवसीय बलरामपुर दौरे पर सीएम योगी

अंगिरा से आगरा का सफर…
महाभारत के समय पूर्व आगरा को अग्रवन या अग्रबाण कहा जाता था। आगरा का संबंध ऋषि अंगिरा से भी है, जो 1000 ईसा पूर्व हुए थे। अंगिरा से आगरा हो गया। बता दें तौलमी पहला व्यक्ति था, जिसने इसे आगरा कहकर संबोधित किया।

इन शहरों के नाम बदले…
मुगलसराय : पंडित दीनदयाल उपाध्याय इलाहाबाद: प्रयागराज
फैजाबाद : अयोध्या
बनारस : वाराणसीhttp://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

दो दिवसीय बलरामपुर दौरे पर सीएम योगी

Published

on

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर बलरामपुर जाएंगे। उनके आगमन को देखते हुए नेपाल सीमा सहित पूरे जिले मे सुरक्षा के कडे इंतजाम किए गए है।

यह भी पढ़ें: अगर टाटा स्टील कंपनी में कर रहे हैं काम तो जल्द जा सकती है नौकरी, जानिए वजह….

पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने सोमवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री योगी मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर देवीपाटन मंदिर पहुंचेगे और वही रात में विश्राम करेगे। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री के दौरे के मद्देनजर जिले से सटे नेपाल सीमा पर तैनात सशस्त्र सीमा बल(एसएसबी)ने अपनी चौकसी कड़ी कर दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

लखनऊ से जनकपुर के बीच चलने वाली एसी बस सेवा हुई बंद…

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ: यूपी राज्य सड़क परिवहन निगम के अधिकारियों की लापरवाही के चलते लखनऊ-जनकपुर वाया अयोध्या बस सेवा बंद हो गई। इस बस सेवा को चलाने का मकसद नेपाल के तीर्थ स्थल जनकपुर को अयोध्या और लखनऊ से जोड़ना था और यह सीएम का ड्रीम प्रोजेक्ट भी था। लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के चलते 1 साल के अंदर ही यह बस सेवा बंद कर दी गई है।

जिसके कारण यात्रियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। ये बस आलमबाग बस टर्मिनल से रोजाना दोपहर 2 बजे रवाना होकर अगले दिन तड़के जनकपुर पहुंचती थी। वापसी में जनकपुर से दोपहर 12 बजे चलकर अगले दिन सुबह 4 बजे आलमबाग आती थी। लखनऊ से जनकपुर के बीच 692 किलोमीटर की यात्रा पर प्रति यात्री 928 रुपये किराया था।

ये भी पढ़ें: CM योगी की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक आज, कई प्रस्तावों को मिलेगी मंजूरी

आपको बता दें कि साल 2018 नवंबर में लखनऊ के आलमबाग बस टर्मिनल से सीएम ने जनकपुर बस सेवा को हरी झंडी दिखाया था। सस्ते किराए की एक जोड़ी जनरथ बस को नेपाल सरकार ने मंजूरी दी थी। बस परमिट यूपी सरकार को लेना था। वहीं परमिट नहीं मिलने की वजह से इस बस सेवा को 2 माह पहले बंद कर दिया गया था। ये बस आलमबाग बस टर्मिनल से रोजाना दोपहर 2 बजे रवाना होकर अगले दिन तड़के जनकपुर पहुंचती थी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 19, 2019, 11:31 am
Partly sunny
Partly sunny
25°C
real feel: 27°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 46%
wind speed: 1 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:58 am
sunset: 4:45 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending