Connect with us

प्रदेश

जानिए, BSP सुप्रीमो मायावती का मिशन 2022…

Published

on

लखनऊ। लोकसभा चुनाव में यूपी में बसपा नंबर दो की पार्टी बन कर उभरी है। जिसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने मिशन 2022 को धार देने की दिशा में काम शुरू कर दिया है। वह बसपा का मजबूत संगठन खड़ा करने जा रही हैं। इसके लिए प्रत्येक स्तर पर कमेटियां बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जोनल व्यवस्था के बाद अब जिला स्तर पर तीन-तीन सक्रिय सदस्यों की कमेटियां बनाने का निर्देश दिया गया है। यही कमेटी विधानसभा से लेकर बूथ स्तर तक संगठन का मजबूत आधार तैयार करेगी।

य़ह भी पढ़ें: आम्रपाली ग्रुप के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 42000 ग्राहकों को दी राहत, अब NBCC करेगा सपनों को साकार….

उसके पास 10 सांसद हैं। मायावती लोकसभा चुनाव से उत्साहित हैं। इसीलिए आमतौर पर उप चुनाव न लड़ने वाली बसपा इस बार विधानसभा उप चुनाव पूरी मजबूती से लड़ने जा रही है। उप चुनाव से पहले बसपा कॉडर को पूरी तरह से मजबूत बनाने की तैयारी है। संगठन में पुराने लोगों को महत्व दिया जा रहा है। ऐसे कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां दी जा रही हैं जो नि:स्वार्थ भाव से पार्टी को आगे बढ़ने में सालों से लगे हुए हैं।मायावती का विधानसभा उप चुनाव पर पूरा ध्यान है। वह उप चुनाव से पहले संगठन को मजबूत बनाने में लगी हुई हैं। वह चाहती हैं कि विधानसभा चुनाव 2022 से पहले होने वाले उप चुनाव को टेस्ट के रूप में लिया जाए। संगठन की कार्यप्रणाली का इसमें परीक्षण किया जाए। इसमें अगर कोई कमी रह जाती है तो उसे समय रहते ठीक कर लिया जाए। मायावती भाजपा के खिलाफ बसपा को सबसे मजबूत विकल्प मान रही हैं। उनका मानना है कि कांग्रेस और सपा से बसपा काफी मजबूत है।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

सपा नेता आजम खान के जेल जाने पर लखनऊ में मिठाई बांट कर मनाई गई खुशी

Published

on

लखनऊ। सपा नेता आजम खान को आज कोर्ट ने दो मार्च तक जेल में रहने की सजा सुनाई है। उनके साथ उनकी विधायक पत्नी तंजीन फातिमा और बेटा अब्दुल्ला आजम भी इस दौरान जेल में रहेंगे। दो जन्म प्रमाण पत्र मामले में एडीजे-६ ने आजम खान को सजा सुनाई है। कई तारीखों से गैर हाजिर चल रहे थे आजम खान, जिस पर कोर्ट ने कुर्की करने के आदेश दिए। जिसमें आजम आज कोर्ट में पेश हुए। अदालत में आजम के वकीलों ने कई तर्क दिए, लेकिन कोर्ट ने उन्हें जेल भेजने के निर्देश दिए।

वहीं दूसरी तरफ आजम खान के जेल जाने पर शमील शम्शी खुशी मना कर लोगों में मिठाई बांट रहे हैं। आपको बता दें कि ये वही शमील शम्शी हैं जिनको सपा सरकार में अवैध निर्माण व कई अन्य केसों में जेल भेजा गया था। अगर दूसरी बात करें तो शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी उस वक्त आजम खान के बहुत करीबी माने जाते थे। सपा सरकार में वसीम रिजवी को चैयरमैन पद से हटाने के लिए शिया समुदाय ने प्रदर्शन किया था। लेकिन आजम के करीबी रहे वसीम अपने पद पर बने रहे। सपा सरकार जाते ही वसीम अपनी कुर्सी बचाने के लिए बीजेपी में शामिल हो गए। वो अलग बात है कि इस सरकार में वसीम रिजवी को चेयरमैन पद से हटाने के लिए कोई प्रदर्शन नही हुआ।

यह भी पढ़ें: बदमाशों ने शराब की दुकान पर बोला धावा, सेल्समैन को गोलीमार मारकर की लूटपाट

वहीं खुशी मनाते हुए शम्शी ने कहा कि आजम खान अपनी सरकार में शिया समुदाय और मुसलमानों के दुसरे वर्ग पर जुल्म किया था। जिसकी सजा आज उनको मिली है। उन्होंने ने जो घोटाले किये थे उनकी सजा उनको पूरे परिवार के रूप में मिला है। उन्होंने ने योगी सरकार का शुक्रिया अदा कर वसीम रिजवी के खिलाफ भी सजा की मांग की और कहा है कि इसी सरकार से हमें उम्मीद है की जल्द से जल्द करवाई होगी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

रामपुर: परिवार सहित जेल भेजे गए सपा नेता आजम खान

Published

on

लखनऊ। सपा नेता आजम खान को आज कोर्ट ने दो मार्च तक जेल में रहने की सजा सुनाई है। उनके साथ उनकी विधायक पत्नी तंजीन फातिमा और बेटा अब्दुल्ला आजम भी इस दौरान जेल में रहेंगे। दो जन्म प्रमाण पत्र मामले में एडीजे-६ ने आजम खान को सजा सुनाई है। कई तारीखों से गैर हाजिर चल रहे थे आजम खान, जिस पर कोर्ट ने कुर्की करने के आदेश दिए। जिसमें आजम आज कोर्ट में पेश हुए। अदालत में आजम के वकीलों ने कई तर्क दिए, लेकिन कोर्ट ने उन्हें जेल भेजने के निर्देश दिए।


कोर्ट ने दिए थे कुर्की के आदेश

कोर्ट ने दिए थे कुर्की के आदेश आपको बता दें कि दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के मामले में बुधवार को सपा सांसद आजम खां और स्वार से विधायक रहे अब्दुल्ला आजम कोर्ट में सरेंडर करने पहुंचे थे। उन्होंने एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट में आत्मसमर्पण की अर्जी लगाई। जिस पर कोर्ट ने उन्हें दो मार्च तक जेल भेजने के निर्देश दिए। आजम खान लगातार कोर्ट से गैरहाजिर चल रहे थे। इस मामले में कोर्ट की सख्ती के बाद भी सपा सांसद आजम खां और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम के कोर्ट में हाजिर न होने पर स्पेशल कोर्ट ने मंगलवार को सीआरपीसी की धारा-83 के तहत संपत्ति कुर्क करने के आदेश जारी किए थे।

यह भी पढ़ें: UP विधान परिषद की शिक्षक व स्नातक खंड निर्वाचन क्षेत्र की 11 सीटों पर होगा चुनाव

आपको बता दें ​कि भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने हजरत गंज थाना में धारा 420, 467, 468 और 471 के अंतर्गत आजम खां, तजीन फातमा और अब्दुल्ला के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप है कि आजम के पुत्र अब्दुल्ला ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर दो अलग-अलग जन्म प्रमाण पत्र बनवाए हैं। एक प्रमाण पत्र रामपुर नगर पालिका से और दूसरा लखनऊ के अस्पताल से जारी किया गया। दोनों में जन्म की तारीख अलग-अलग है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

UP विधान परिषद की शिक्षक व स्नातक खंड निर्वाचन क्षेत्र की 11 सीटों पर होगा चुनाव

Published

on

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधान परिषद के शिक्षक व स्नातक खंड निर्वाचन क्षेत्र की 11 सीटों पर अप्रैल में होने वाले चुनाव के लिए तैयारी तेज हो गई है। इनमें 6 सीटें शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की और 5 सीटें स्नातक निर्वाचन की हैं। इन 11 सीटों पर मौजूदा विधान परिषद सदस्यों (एमएलसी) का कार्यकाल इस साल 6 मई को खत्म हो रहा है। इससे पूर्व इन सीटों का चुनाव होना है।

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय ने 28 जनवरी को इन सभी 11 सीटों की मतदाता सूची अपडेट कर दी है। भाजपा पहली बार शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव में उम्मीदवार उतारेगी। इस चुनाव के लिए आयोग मार्च में अधिसूचना जारी करेगा। लखनऊ खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय एमएलसी कांति सिंह हैं। वाराणसी खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से केदारनाथ सिंह एमएलसी हैं। आगरा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय डा.असीम यादव एमएलसी हैं। मेरठ स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से हेम सिंह पुण्डीर एमएलसी हैं।

ये भी पढ़ें: बेरोजगारी के आंकड़ों व जनगणना के मुद्दे को लेकर सपा सदस्यों ने सदन में किया हंगामा

लखनऊ शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय उमेश द्विवेदी विधान परिषद सदस्य हैं। वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय चेत नारायण सिंह एमएलसी हैं। आगरा खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय जगवीर किशोर जैन एमएलसी हैं। मेरठ शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद में शिक्षक दल के नेता ओम प्रकाश शर्मा एमएलसी हैं। बरेली-मुरादाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से संजय कुमार मिश्रा एमएलसी हैं। गोरखपुर फैजाबाद शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से इस समय ध्रुव कुमार त्रिपाठी एमएलसी हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 27, 2020, 5:32 am
Fog
Fog
14°C
real feel: 15°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:03 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending