Connect with us

प्रदेश

जानें उत्तर प्रदेश से गठबंधन के कितने मुस्लिम प्रत्याशी पहुंचे संसद, क्या रहा आंकड़ा

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ । सपा-बसपा से गठबंधन के मुस्लिम प्रत्याशी संख्या के हिसाब से प्रथम श्रेणी में पास हुए । गठबंधन ने कुल 10 मुस्लिम प्रत्याशियों को मैदान में उतारा था । जिनमें से छह जीत गए । यानी मुस्लिम प्रत्याशियों के लिहाज से गठबंधन का रिजल्ट 60 फीसदी रहा ।

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में यूपी से एक भी मुस्लिम प्रत्याशी संसद तक नही पहुच पाया । बाद में कैराना उपचुनाव से रालोद की तबस्सुम बेगम जीत कर संसद पहुंची थी । इस बार सपा ने चार व बसपा ने छह मुस्लिम प्रत्याशियों को मैदान में उतारा था । सपा के चार में से तीन प्रत्याशी मुरादाबाद से डॉ. एसटी हसन, संभल से डॉ. शफीकुर्रहमान और रामपुर से पार्टी के फायर ब्रांड नेता आजम खां विजयी रहे । आजम खां सारे समीकरणों को ध्वस्त करते हुए करीब एक लाख 10 हजार मतों से जीते हैं । कैराना से सपा प्रत्याशी तबस्सुम बेगम नहीं जीत पाईं । वे दूसरे नंबर पर रहीं ।

यह भी पढ़ें : सीएम योगी ने दी पीएम मोदी को बधाई, दिल्ली हुए रवाना

सहारनपुर से बसपा उम्मीदवार हाजी फजलुर्रहमान कांग्रेस की ओर से इमरान मसूद को मैदान में उतारे जाने के बावजूद भाजपा प्रत्याशी को पटखनी देने में कामयाब रहे । अमरोहा से बसपा के कुंवर दानिश अली और गाजीपुर से अफजाल अंसारी ने भी जीत दर्ज की । वहीं, धौरहरा से बसपा प्रत्याशी अरशद इलियास सिद्दीकी, डुमरियागंज से आफताब आलम और मेरठ से हाजी महमूद याकूब के सिर जीत का सेहरा नहीं बंध सका ।

कांग्रेस से मुस्लिम प्रत्याशियों का क्या रहा हाल
कांग्रेस ने यूपी में आठ मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे, लेकिन सभी को शिकस्त का सामना करना पड़ा । मुरादाबाद से इमरान प्रतापगढ़ी, खीरी से जफर अली नकवी, फर्रुखाबाद से सलमान खुर्शीद, सहारनपुर से इमरान मसूद, सीतापुर से कैसर जहां, बिजनौर से नसीमुद्दीन सिद्दीकी बदायूं से सलीम इकबाल शेरवानी,और देवरिया से नियाज अहमद नहीं जीत सके ।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

UP: अयोध्या पहुंचे सीएम योगी, राम मंदिर भूमिपूजन की तैयारियों का लिया जायजा

Published

on

सुरक्षा व्यवस्था जायजा लेते अधिकारियों को दिए निर्देश

लखनऊ। ब्रह्मांड नायक भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। अयोध्या रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के उल्लास में डूबी नजर आ रही है। घर-घर में तैयारी और उल्लास का माहौल है। भूमिपूजन शुरू हो चुका है। 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों भूमि पूजन और राम मंदिर निर्माण के कार्य का शुभारंभ होना है। बताया जा रहा है, कि पीएम मोदी अयोध्या में भूमि पूजन के साथ हनुमानगढ़ी के भी दर्शन करेंगे। अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के लिए आज गौरी-गणेश पूजा से तीन दिन का अनुष्ठान शुरू हो गया है।

इन सबके बीच सीएम योगी आदित्यनाथ आज भूमि पूजन की तैयारियों का जायजा लेने अयोध्या पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हनुमानगढ़ी, राम जन्मभूमि परिसर, राम की पैड़ी का निरीक्षण किया। जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू पूजन किया। सरयू के जल से आचमन कर महंत शशिकांत दास ने सरयू पूजन कराया। इस दौरान योगी आदित्यनाथ सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते और मौजूद अधिकारियों को निर्देश देते नजर आए।

अंतिम दौर की तैयारियों का जायजा लेने के लिए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंच गए हैं। इससे पहले सीएम योगी रविवार को ही अयोध्या जाने वाले थे लेकिन यूपी सरकार की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण के निधन की वजह से उनका दौरा रद्द हो गया था।

सीएम ने हेलीकॉप्टर से अयोध्या नगरी का हवाई सर्वेक्षण किया। इसके बाद उनका हेलीकॉप्टर साकेत महाविद्यालय में बनाए गए हेलीपैड पर उतरा। पीएम नरेंद्र मोदी का हेलीकॉप्टर भी पांच अगस्त को यहीं लैंड करेगा। मुख्यमंत्री यहां करीब चार घंटे रहेंगे। पीएम ने कहा कि, 4 और 5 अगस्त को देशवासी अपने घर, मंदिरों में 5-5 दीपक जलाएं। अखंड रामायण का पाठ करें और उन पूर्वजों को याद करें जिन्होंने मंदिर के लिए बलिदान दिया।

इसे भी पढ़ें- राममंदिर भूमिपूजन के लिए बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को मिला निमंत्रण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या के साथ-साथ देश और दुनिया के लिए एक ऐतिहासिक क्षण होगा, जब प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या में लगभग 500 सालों की इस परीक्षा के परिणाम के साथ भगवान श्री राम के भव्य मंदिर के निर्माण की आधारशिला रखेंगे। सीएम ने कहा कि कार्यक्रम के महत्व को समझते हुए, यहां अयोध्या में कार्यों का अवलोकन करने के लिए मैं स्वयं आया हूं।

सीएम ने कहा कि बाहर व्यवस्था आदि देखने, निरीक्षण करने के लिए हम यहां आए हैं, कहीं भी कोई कोताही न बरती जाए, हम लोगों ने इसके लिए पूरी तत्परता के साथ तैयारी की है। कोविड-19 के प्रोटोकॉल को मजबूती से लागू करने पर प्रशासन का मुख्य फोकस है। यहां केवल वे ही आमंत्रित हैं जिन्हें आना चाहिए। सभी भक्त आना चाहते हैं लेकिन पीएम इन सभी का प्रतिनिधित्व करेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

UP: बिजली चोरी पकड़ने पर विद्युत विभाग के कर्मचारियों के साथ मारपीट, मामला दर्ज

Published

on

मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को कराया शांत 

लखनऊ। लखनऊ के सीतापुर रोड स्थित गोहनाकलां क्षेत्र में उस समय हंगामा मच गया। जब रविवार को बिजली चोरी पकड़ने पर नाराज लोगों ने कर्मचारियों के साथ मारपीट की और मोबाइल तोड़ दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को शांत कराया। विभाग ने आरोपियों के खिलाफ बीकेटी थाने में तहरीर दी है।

लेसा ने जानकीपुरम स्थित न्यू कैंपस लखनऊ उपकेंद्र के अंतर्गत चेकिंग अभियान चलाया। दोपहर 3.15 बजे एसएसओ रमेश चन्द्र गौतम के नेतृत्व में टीम गोहनाकलां पहुंची। इस दौरान क्षेत्र में धड़ल्ले से बिजली चोरी हो रही थी। जिसके बाद कर्मचारियों ने सभी अवैध कनेक्शन पोल से हटा दिये। इससे स्थानीय निवासी सचित भड़क गया और मोहल्ले वालों को इक्कठा करके हंगामा करने लगा। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर तीखी नोकझोंक हुई। 

इसे भी पढ़ें- राज्य सभा सांसद अमर सिंह के निधन पर गम में डूबे मुलायम सिंह ने लिखा शोक संदेश

आरोप है कि सचित ने अपने साथियों के साथ मिलकर कर्मचारियों को पीटा और चेकिंग दस्ते का मोबाइल भी तोड़ दिया। हंगामा बढ़ने पर कर्मचारियों ने अवर अभियंता और एसडीओ को सूचित किया। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने चेकिंग दस्ते को छुड़वाया। एसडीओ मनोज पुष्कर ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ बीकेटी थाने में तहरीर दी गई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

राज्य सभा सांसद अमर सिंह के निधन पर गम में डूबे मुलायम सिंह ने लिखा शोक संदेश

Published

on

मैंने अपना एक महत्वपूर्ण शुभचिंतक, मित्र और अनुज खो दिया

लखनऊ। राज्य सभा सांसद अमर सिंह का शनिवार को निधन गया। अमर सिंह का अंतिम संस्कार आज दिल्ली में किया गया। अमर सिंह को समाजवादी पार्टी के बड़े नेता के तौर पर पहचाना जाता रहा है। अमर सिंह के निधन पर भावुक उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने शोक संदेश लिखा है। मुलायम सिंह यादव ने एक पत्र जारी करते हुए लिखा, ”मैंने अपना एक महत्वपूर्ण शुभचिंतक, मित्र और अनुज खो दिया।

मुलायम सिंह यादव ने कहा, ‘अमर सिंह कुशल राजनीतिज्ञ, रणनीतिकार और मिलनसार स्वभाव के व्यक्ति थे। उन्हें हमेशा अमूल्य सहयोगी और शानदार इंसान के रूप में याद रखा जाएगा. वह अंतिम सांस तक जीवन के विभिन्न आयामों में योद्धा की तरह लड़ते रहे। वह अपने मित्रों के लिए संकटमोचक सिद्ध होते थे। ईश्वर उनके परिजनों को यह दु:ख सहने की शक्ति दे।

इसे भी पढ़ें- देश में बढ़ रहा कोरोना का कहर, इस काल में ना सीमाएं सुरक्षित है ना कारोबार- अखिलेश

गौरतलब अमर सिंह का 64 साल की उम्र में शनिवार की दोपहर निधन हो गया। वो काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। इसी साल मार्च महीने में अपनी किडनी से जुड़ी बीमारी की वजह से सिंगापुर के बड़े अस्पताल में सर्जरी करवाई थी। अमर सिंह को समाजवादी पार्टी के बड़े नेता के तौर पर पहचाना जाता रहा। वह समाजवादी पार्टी से राज्य सभा सांसद थे। बताया जाता रहा है कि साल 2013 में अमर सिंह की किडनी खराब हो गई थी। जिसके बाद उन्हें सिंगापुर के एक अस्पताल भर्ती कराया गया। जहां उनकी मौत हो गई। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 4, 2020, 6:45 am
Fog
Fog
28°C
real feel: 34°C
current pressure: 99 mb
humidity: 88%
wind speed: 1 m/s WSW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:03 am
sunset: 6:22 pm
 

Recent Posts

Trending