Connect with us

प्रदेश

लखनऊ: मॉल में कर्नल की वर्दी पहन मूवी देख रहा था नकली युवक, आर्मी इंटेलिजेंस ने किया अरेस्ट

Published

on

आर्मी इंटेलिजेंस

फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली क्षेत्र के एसएसपी आवास के निकट स्थित सहारागंज मॉल से आर्मी इंटेलिजेंस ने फर्जी लेफ्टिनेंट कर्नल को गिरफ्तार किया है। तलाशी में उसके पास से संदिग्ध दस्तावेज और होटल के रूम की चाबी मिली है। सूचना पाकर लोकल पुलिस भी पहुंची, लेकिन आतंकी गतिविधियों में शामिल होने की आशंका में इंटेलिजेंस यूनिट पूछताछ के लिए उसे अपने साथ ले गई।

सूत्रों का कहना है कि पूछताछ में आर्मी के अफसरों से उसकी जान पहचान का पता चला है। आशंका जताई जा रही है कि मिलिट्री अफसर की वर्दी पहनकर वह सेना क्षेत्र में घुसपैठ करके सूचनाएं जुटा रहा था। सहारागंज के पीवीआर सिनेमा में लेफ्टिनेंट कर्नल की वर्दी पहनकर आरोपित मूवी देखने पहुंचा था। उसके बारे में पहले से सूचना जुटा रही इंटेलिजेंस ब्यूरो की टीम जानकारी मिलते ही पहुंच गई। टीम के अफसरों ने उससे पूछताछ की उसके बाद हज़रतगंज पुलिस के हवाले कर दिया है।

ये भी पढ़े:अखिलेश यादव ने अम्बेडकर जयंती पर भीम राव की फोटो पर किया माल्यार्पण, दिखाई समाजवादी वीर सम्मान यात्रा को हरी झंडी

वहीं पकड़े गए फर्जी कर्नल ने बताया कि उसने शौक से वर्दी पहनी थी और घर में पता है की वह सेना में भर्ती हो गया है। इस वजह से वह वर्दी पहनकर घूम रहा था। पकड़ा गया फर्जी कर्नल बलिया का निवासी बताया जा रहा है। वहीं पकड़े गए युवक ने बताया कि उससे गाजीपुर निवासी फिरोज नामक युवक ने सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर पैसे और उसके ओरिजिनल कागजात लेकर फरार हो गया जिसके बाद उसने लखनऊ कैंट से वर्दी खरीदी और पहन कर घूमने लगा। अपने शौक पूरे करने के लिए और रौब झाड़ने के लिए वर्दी पहन कर घूम रहा था ।

वहीं एसपी पूर्वी सुरेश चंद्र रावत का कहना है कि एक फर्जी मिलिट्री का आदमी पकड़ा गया है। जिस पर सहारागंज चौकी इंचार्ज राहुल सोनकर की तहरीर पर मामला भी दर्ज किया गया है। वहीं आरोपी की पहचान अभिषेक यादव बलिया निवासी के रूप में हुई है।

ऐसा बताया कि कहा जा रहा है कि आरोपी अपने आप को कर्नल बता कर रॉब झाड़ते हुए घूम रहा था। जिसके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है। उसके पास से फर्जी यूनिफॉर्म और कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं जिसके विषय पर पूछताछ की जा रही है। वहीं उन्होंने कहा कि आरोपी से इंटेलिजेंस विंग ने भी पूछताछ की है और उनको भी इस विषय पर पूरी जानकारी दे दी गई है। हालांकि पकड़े गए व्यक्ति से सख्ती के साथ पूछताछ की जा रही है कि वह यह वर्दी शौक में पहना था या फिर इसके पीछे को साजिश है।http://www.satyodaya.com

 

 

प्रदेश

बाराबंकी में शराब कांड के पीड़ित परिवारों से मिले अखिलेश यादव

Published

on

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को बाराबंकी के रामनगर विधानसभा क्षेत्र के रानीगंज गंाव में जहरीली शराब काण्ड के पीड़ित परिवारों से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने मृतक आश्रितों को सांत्वना दी और सरकार से पीड़ित परिवारों को 20-20 लाख रूपए की मदद दिए जाने की मांग की।
पीडि.तों ने पूर्व मुख्यमंत्री को बताया कि जनपद में जहरीली शराब पीने से अब तक 27 से ज्यादा मौंते हो चुकी हैं। जहरीली शराब सरकारी ठेके की थी। भाजपा की शराब माफियाओं से साठगांठ का यह नतीजा है। रानीगंज में ही 8 पीड़ित परिवार हैं। इन पीड़ित परिवारों में महिलाएं और बच्चे ही बचे हैं। इनके जीवनयापन का कोई जरिया न होने पर श्री यादव ने चिंता जाहिर की। मृतकों के घरों में कोई कमाने वाला नहीं है। उनके घरों में कुछ सामान भी नहीं बचा है। एक ही परिवार के चार मृतक बाल्मीकि समाज के थे।

यह भी पढ़ें-युवा रालोद ने कैंडिल मार्च निकाल कर अलीगढ़ की गुड़िया को दी श्रद्धांजलि

सपा मुखिया ने शिवकुमार पुत्र राम, सतीश कन्नौजिया पुत्र बरसाती, छोटेलाल पुत्र घोरू, मुकेश पुत्र छोटे लाल, रमेश पुत्र छोटे लाल एवं सोनू पुत्र छोटे लाल मृतक के परिवारीजन से मुलाकात की। पीडि.त परिवारों ने बताया कि शराब के सरकारी ठेके से पावर हाउस और बोल्डर नाम की देशी शराब खरीदी गई थी। अखिलेश यादव ने सवाल उठाया कि अभी तक शराब काण्ड के दोषियों को कड़ी सजा दिलाने के लिए सख्त कदम क्यों नहीं उठाये गये?

रानीगंज से लौटते हुए अखिलेश यादव पौराणिक महत्व के आस्था केन्द्र महादेवा मंदिर भी गए। वहां उन्होंने श्रद्धापूर्वक भगवान शिव की आरती और पूजा अर्चना की। कहा जाता है कि इस मंदिर की स्थापना धर्मराज युधिष्ठिर ने की थी और पाण्डवों ने भी इसकी परिक्रमा की थी। पुजारियों ने महादेवा मंदिर के प्रवेशद्वार पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का स्वागत किया गया।
अखिलेश यादव के साथ सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी, पूर्वमंत्री अरविन्द सिंह गोप, राकेश वर्मा विधायक, राजेश यादव ‘राजू‘ सदस्य विधान परिषद, पूर्व जिलाध्यक्ष डाॅ0 कुलदीप सिंह तथा पूर्व विधायक रामगोपाल रावत भी इस मौके पर मौजूद थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

यूपी एसटीएफ के हाथ लगा बावरिया गैंग का इनामी बदमाश

Published

on

लखनऊ। यूपी एसटीएफ की नोएडा यूनिट को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। शनिवार को 25 हजार रुपए के इनामी अपराधी अमर सिंह बावारिया को नोएडा के थाना फेज-2 के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया है। अमर सिंह पूर्व में कुख्यात रमेश बावरिया, राज किशोर और काले प्रधान जैसे कुख्यात गिरोहों का सक्रिय सदस्य रह चुका है। अमर सिंह कई मामलों में वांछित था। वर्ष 2007 में जनपद जालोन में पड़ी डकैती में भी उसका ही हाथ था। 12 सालों से अमर सिंह पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था।

बता दें, इसके गिरोह ने एक रात में दो घरों में डकैती डालकर कई लोगों को घायल कर दिया था और कैश व गहनों के अलावा एक 12 बोर बंदूक और 315 बोर राइफल लूट ली थी। इसके अलावा पूछतांछ में बताया कि उसने साल 2000 में रमेश बावारिया गैंग के साथ सहारनपुर में निर्भय पाल शर्मा के घर में सनसनीखेज डकैती डाली थी जिसमें उनकी हत्या भी हो गई थी। साथ ही बताया कि वह इस केस में जेल भी गया था।

अमर सिंह बावरिया पर थाना फेज-2 के एक मुठभेड़ के मुकदमे में 25 हजार का इनाम घोषित था। इस मुठभेड़ में 1 लाख का इनामिया सूरज बावरिया पकड़ा गया था और अमर सिंह मौके से भाग निकला था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

शिवपाल ने ‘घर वापसी’ से किया इनकार, कहा- सपा में जाने का कोई इरादा नहीं

Published

on

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल के साथ गठबंधन कर आम चुनावों में उतरी समाजवादी पार्टी को मुंह की खानी पड़ी है। बसपा ने जहां मैदान मारते हुए शून्य से 10 का आंकड़ा छू लिया वहीं सपा और रालोद के हिस्से में मायूसी और शिकस्त आई। सपा की हालत यह रही कि 2014 में 5 लोकसभा सीटें जीतने वाली पार्टी को जातीय गठबंधन के बावजूद पांच से आगे नहीं बढ. सकी। अलबत्ता उपचुनावों में जीतने वाली 2 सीटें भी गंवा बैठी।
सपा की दुर्गति देखकर पार्टी को अपने खून-पसीने से सींचने वाले मुलायम सिंह यादव को कष्ट होना स्वाभाविक है। सपा की खिसकती जमीन को फिर से हरी भरी करने के लिए मुलायम सक्रिय भी हो गए हैं। इसके लिए वह सबसे अपने भाई और कभी पार्टी में दूसरे नंबर के नेता रहे शिवपाल यादव की घर वापसी में जुटे हुए हैं। लेकिन अब लगता नहीं कि शिवपाल और सपा की राहें एक हो पाएंगी।

यह भी पढ़ें-पीएम मोदी को एक लाख पोस्टकार्ड भेजकर धन्यवाद देंगे लखनऊ के व्यापारी….

क्योंकि शनिवार को शिवपाल यादव ने साफ कर दिया कि अब सपा में जाने का उनका कोई इरादा नहीं हैं। प्रगतिशील समाजवादी मोर्चा के अध्यक्ष ने कहा कि हम अपनी पार्टी का विस्तार करेंगे। इस संबंध में जल्द ही पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक होगी। ताकि आने वाले यूपी विधानसभा चुनावों में प्रसपा मजबूती के साथ मैदान उतर सके।
वहीं दूसरी ओर मीडिया में खबरें आ रही हैं कि पार्टी को फिर से खड़ा करने के लिए सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पूरी लगन से जुट गए हैं। इसके लिए वह पार्टी से दूर हुए पुराने नेताओं औ कार्यकर्ताओं को फिर से साइकिल की सवारी कराने की तैयारी कर रहे हैं। मुलायम की इस लिस्ट में शिवपाल यादव का नाम सबसे ऊपर है लेकिन अखिलेश यादव उनका विरोध कर रहे हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 9, 2019, 7:49 am
Hazy sunshine
Hazy sunshine
32°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 55%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 3
sunrise: 4:42 am
sunset: 6:29 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending