Connect with us

प्रदेश

कलेक्ट्रेट ऑफिस पर पुलिस विभाग ने मीडिया कर्मियों के साथ की अभद्रता, दी गालियां

Published

on

कलेक्ट्रेट ऑफिस

फाइल फोटो

लखनऊ। यूपी पुलिस की बुराई से ज्यादा अच्छाई दिखने के लिए पत्रकारों ने गुड वर्क चलाए। आए दिन पत्रकार उनकी अच्छाई और मेहनत को दिखने के के लिए वर्क करते हैं। लेकिन आज वहीं पुलिस पत्रकारों के साथ अभद्रता करने पर उतर आई है।

आज नामाकंन के दौरान कलेक्ट्रेट ऑफिस में मौजूद पुलिस विभाग ने मीडियाकर्मी कैमरापर्सन, और फोटोग्राफर्स को धक्का दिया और उन्हें खूब गालियां भी दी हैं। पुलिस के इस व्यवहार को देख कर तो यही, लग रहा है शहर के अंदर पत्रकारों का शोषण हो रहा है। जबकि बीजेपी पार्टी ने पत्रकारों के प्रति शालीनता बरतने की बात की थी।

ये भी पढ़े:हेमा मालिनी ने चुनाव जीतने के बाद गेंहू काटने का किया वादा, वायरल तस्वीरों को बताया झूठा

इस तरह पत्रकारों को धक्के और गालियां देकर पुलिस सरकार के अच्छे व्यवहार और शालीनता की धज्जियां उड़ा रही है। पुलिस विभाग के इस तरह के व्यवहार से पूरा मीडिया आहत है। अगर उनके साथ ऐसा ही व्यवहार होता रहा, तो किस तरह लोगों की आवाज बनेंगे। कैसे वह देश हित में सरकार का साथ निभा पाएंगे।http://www.satyodaya.com

 

प्रदेश

सीएम योगी के राम राज्य में दिनदहाड़े हो रहीं हत्याएं: अजय कुमार लल्लू

Published

on

कहा, प्रदेश में अराजकता का माहौल, कोई भी नहीं सुरक्षित

लखनऊ। राजधानी के अलग-अलग क्षेत्रों में गुरुवार को हुई दो हत्याओं व लूट की घटना से पुलिस प्रशासन हलकान रहा। दिनदहाड़े हुई इन गंभीर घटनाओं पर कांग्रेस ने चिंता व्यक्त की है। साथ ही प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि एक ही दिन में हुईं इन घटनाओं से साबित हो गया है कि यूपी में अराजकता का माहौल है। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर अपनी पीठ थपथपाते नहीं थक रहे हैं। मुख्यमंत्री प्रदेश में राम राज्य स्थापित करने की बात कर रहे हैं, जबकि सरकार की नाक के नीचे दिनदहाड़े हत्याएं हो रही हैं। लल्लू ने कहा कि अपराधियों पर सरकार और पुलिस का कोई नियन्त्रण नहीं रह गया है।

यह भी पढ़ें-लुटेरों ने पान मसाला एजेंसी पर बोला धावा, विरोध करने पर युवक की गोली मारकर हत्या

कहा कि लखनऊ के रकाबगंज स्थित एक पान मसाला एजेंसी में लूट के इरादे से पहुंचे चार बदमाशों का विरोध करने पर एक कर्मचारी की गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी गयी। वहीं राजधानी के बेहत महत्वपूर्ण क्षेत्र गोमतीनगर के अलकनन्दा अपार्टमेन्ट में एक छात्र की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गयी। बदमाश इस कदर बेखौैफ थे कि कार का शीशा तोड़कर बदमाशों ने चाकुओं से छात्र को गोदकर मौत के घाट उतार दिया। कांग्रेस नेता ने कहा, प्रदेश की राजधानी सहित सभी जनपदों में रोजाना हत्या, लूट, बलात्कार, राहजनी, महिलाओं का उत्पीड़न हो रहे हैं। खुद मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में पुलिस थाने में पुलिसकर्मियों द्वारा युवती को अगवा कर बलात्कार की घटना को अंजाम दिया जा रहा है। ऐसे में सरकार द्वारा प्रदेश की जनता के सामने बेहतर कानून व्यवस्था का झूठा ढिंढोरा पीटना बेहद शर्मनाक है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायन दीक्षित ने महाशिवरात्रि पर प्रदेशवासियों को दी बधाई

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष हृदय नारायन दीक्षित ने महाशिवरात्रि के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी है। विधानसभा अध्यक्ष ने अपने संदेश में कहा है कि महाशिवरात्रि भारत के अध्यात्मिक उत्सवों में सबसे महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़ें:- राजकीय निर्माण निगम कर्मचारियों ने एमडी का किया घेराव

उन्होंने कहा भगवान शिव के रुद्र नाम का उल्लेख सर्व प्रथम ऋग्वेद में मिलता है। इस दिन शिव-भक्त शिव मंदिरों में बेल-पत्र आदि चढ़ाकर जलाभिषेक करते हैं। धार्मिक, आध्यात्मिक और ज्योतिषीय दृष्टि से इस पर्व का बहुत महत्व है। उन्होंने महाशिवरात्रि के अवसर पर समूचे जगत के साथ ही समस्त जनमानस के सुख-समृद्धि की कामना की।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

राजकीय निर्माण निगम कर्मचारियों ने एमडी का किया घेराव

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के कर्मचारियों का प्रदेश व्यापी आन्दोलन जारी है। वहीं 24 फरवरी से अनिश्चितकालीन प्रांतव्यापी धरना प्रदर्शन और कार्य बहिष्कार का ऐलान किया गया है। गुरुवार को कार्य बहिष्कार के दौरान आयोजित आमसभा में एमडी इंजीनियर यू. के. गहलोत का कर्मचारियों ने घेराव किया। इस दौरान गहलोत ने प्रदर्शनकारियों से कहा कि इस सम्बंध में निगम प्रबंधन द्वारा सरकार के समक्ष अपना पक्ष प्रस्तुत किया जा चुका हैै। सरकार ने पुर्नविचार आश्वासन दिया गया है।

उन्होंने कहा कि निगम प्रबंधन इस संबंध में मुख्यमंत्री के सामने भी समस्याओं को प्रस्तुत करने का प्रयास कर रहा है। वहीं एमडी ने कर्मचारियों को आश्वासन दिया कि निर्माण कार्यो के क्षेत्र में उत्कृष्ट संस्था को बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास किये जा रहे है। प्रबंध निदेशक होने के नाते मेरा यह कर्तव्य है कि मैं अपने अधीनस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों के हितों की रक्षा का हर सम्भव प्रयास करूॅगा।

यह भी पढ़ें:- निर्माण निगम कर्मचारी 24 फरवरी से करेंगे अनिश्चितकालीन प्रदर्शन

संयोजक राज बहादुर सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार की तरह अगर राजकीय निर्माण निगम को ईपीसी मोड पर कार्यदायी संस्था नामित नही किया तो 24 फरवरी से अनिश्चितकालीन प्रान्त व्यापी धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया जाएगा। निगम मुख्यालय पर संघर्ष समिति के सह संयोजक इंजीनियर संदीप कुमार सिंह, रविराज सिंह और इंजीनियर एस.डी. द्विवेदी ने कहा कि सरकार द्वारा जो व्यवस्था अचानक दो माह पूर्व की गई है इससे आने वाले समय में सरकारी परियोजनाओ की लागत और समयावधि में बढ़ोत्तरी होना तय है। उन्होंने उदाहरण देते हुए बताया कि प्रदेश सरकार की अति महात्वकांक्षी अटल आवासीय विद्यालय योजना पर भी इसका प्रतिकूल असल पड़ेगा। एक तो इसकी लागत में डेढ़ गुना वृद्धि का अनुमान है। तो दूसरी तरफ इसकी समयावाधि में बढ़ोत्तरी होगी। सभा के दौरान समिति के एस.पी. पाण्डेय, नान बच्चा तिवारी, राजेश कुमार चौहान, संतोष कुमार वर्मा, एस.पी. खण्डूरी, और पी. एन. सिंह उपस्थिति रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 21, 2020, 12:35 am
Thunderstorms
Thunderstorms
18°C
real feel: 16°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:08 am
sunset: 5:32 pm
 

Recent Posts

Trending