Connect with us

प्रदेश

विश्व बंधुत्व दिवस के मौके पर नेशनल पीजी कॉलेज में हुआ कार्यक्रम आयोजित

Published

on

लखनऊ। विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी की समस्त शाखाएं स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक शिकागो उद्बोधन दिवस को विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाती है। प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी की लखनऊ शाखा द्वारा आज नेशनल पोस्ट ग्रैजुएट कॉलेज के सभागार में कार्यक्रम को आयोजित किया गया। जहां कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि के रूप में डॉक्टर सतीश द्विवेदी बेसिक शिक्षा मंत्री ने दीप प्रज्वलन कर किया।

स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक शिकागो भाषण पर आधारित प्रतियोगिता केंद्र ने इस वर्ष पूरे उत्तर प्रदेश में आयोजित की। लखनऊ में 40 शिक्षण संस्थानों ने अपने संस्थान स्तर पर प्रतियोगिता कराई थी। जिसमें कक्षा 3 से परास्नातक स्तर तक के छात्र सम्मिलित हुए थे। संस्थान स्तर पर चयनित 250 प्रतिभागियों के बीच दूसरे चरण की प्रतियोगिता लखनऊ में हुई। जिसमें अंतिम रूप से 30 विजेताओं का चयन किया गया। आज उन सभी 30 विजेताओं को पुरस्कार और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं पोस्टर प्रतियोगिता का भी आयोजन केंद्र द्वारा किया गया। जहां 3 सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

प्राचार्या नेशनल पीजी कॉलेज डॉ नीरजा सिंह ने अपने स्वागत संबोधन में मुख्य अतिथि व उपस्थित अन्य सभी अतिथियों का स्वागत किया। स्वामी विवेकानंद के शिकागो धर्म सम्मेलन पर प्रकाश डालते हुए विवेकानंद केंद्र प्रदेश प्रांत संगठन जीवनव्रती शिवपूजन ने विवेकानंद केंद्र के परिचय संबोधन में बताया कि इस वर्ष विवेकानंद केंद्र के कार्यक्रमों का महत्व और भी बढ़ गया है। क्योंकि कन्याकुमारी में हिंद महासागर के एक टापू पर स्थित विवेकानंद शिला स्मारक जो 2 सितंबर 1970  को बनकर पूरा हुआ था। जिस पर स्वामी विवेकानंद ने ध्यान कर अपने जीवन के लक्ष्य और धेय्य को प्राप्त किया था। इस वर्ष 2 सितंबर को उसका 50 वां वर्ष आरंभ हुआ है।

ये भी पढ़े- बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ व्यापारियों ने किया प्रदर्शन

विवेकानंद शिला स्मारक के 50 वर्ष में प्रवेश करने पर पूरे वर्ष चलने वाली राष्ट्रव्यापी महा संपर्क का अभूतपूर्व उत्सव 2 सितंबर गणेश चतुर्थी के पावन तिथि को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व 3 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संपर्क होने के साथ ही प्रारंभ हो चुका है। संपर्क के दौरान हम स्वामी विवेकानंद का संदेश देने के साथ ही समाज के कल्याण वह संवर्द्धन के लिए योगदान देने के लिए भी लोगों को प्रेरित कर रहे हैं। विवेकानंद केंद्र इस वर्ष ‘एक भारत विजयी भारत’ के संकल्प के साथ कार्यरत है। हमारा मानना है कि जब-जब भारत ने एकजुट होकर राष्ट्रीय समस्याओं का सामना किया तब-तब भारत विजयी हुआ है।

वहीं बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ सतीश द्विवेदी ने स्वामी विवेकानंद के शिकागो उद्बोधन को दुनिया का सर्वोत्तम उद्बोधन व मानवता से ओतप्रोत बताया। मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा कि मैं स्वामी विवेकानंद के कर्म योग और शिक्षा के दर्शन से बहुत प्रभावित हूं। जिसे मैं मंत्री पद पर रहते हुए समाज में साकार करने का भरपूर प्रयास कर रहा हूं। सभी बेसिक स्कूलों में प्रात योग उसी दिशा में एक कदम है। शिक्षा की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि स्वामी ने जिस शिक्षा का संदेश दिया था। उससे बच्चों और युवाओं में चरित्र निर्माण के साथ ही राष्ट्र को सही दिशा देने की परिकल्पना थी। लेकिन आज के शिक्षा स्तर में अत्यंत सुधार की आवश्यकता है। युवाओं को अपने चरित्र निर्माण पर विशेष ध्यान देना होगा। जिससे युवाओं में चरित्र निर्माण के साथ-साथ राष्ट्रीय चेतना जागृत होगी। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

सावधानी के साथ नागरिक व व्यापारिक गतिविधियां बहाल करें: सीएम योगी

Published

on

मुख्यमंत्री ने टीम-11 के साथ बैठक में लाॅकडाउन 5.0 को लेकर दिए निर्देश

लखनऊ। आज से पूरे देश में लाॅकडाउन-5.0 प्रभावी हो गया है। केन्द्र सरकार ने इसे अनलाॅक चरण करार दिया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी 1 जून से कई सहूलियतें दी हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को टीम-11 के साथ बैठक कर कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण रखने के साथ ही जन सुविधाएं और व्यापारिक गतिविधियां बहाल करने का निर्देश दिया है। सीएम योगी ने कहा है कि केन्द्र सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए अनलाॅक व्यवस्था को आगे बढ़ाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन पूरी सावधानी बरते। बाजारों में भीड. न एकत्र होने दी जाए। इसके लिए पुलिस पेट्रोलिंग बढ़ाने के साथ अधिकारियों को भी सक्रिय रहने को कहा है। सड.क, हाइवे, पार्क और बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया जाए।

यह भी पढ़ें-परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने कैसरबाग बस अड्डे का किया दौरा

राजस्व वृद्धि पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जून माह में लक्ष्य के अनुरूप राजस्व वसूली का प्रयास किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों, कामगारों को समय से राशन किट व भरण-पोषण भत्ता उपलब्ध कराया जाए। प्रदेश में कोई भी भूखा न रहे। सभी जरूरतमंदों को राशन उपलब्ध कराया जाए। बाहर से आने वाले कामगारों व श्रमिकों को स्वारंटीन सेंटर ले जाकर उनकी स्वास्थ्य जांच की जाए। जांच में स्वस्थ मिलने वाले श्रमिकों को राशन किट उपलब्ध कराकर उन्हें होम क्वारंटीन कराया जाए। संक्रमित लोगों के उपचार के लिए बेहतर प्रबंध किए जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्वारंटीन सेन्टर तथा कम्युनिटी किचन व्यवस्था को पहले की ही तरह चालू रखा जाए।

हमें हर हाल में महामारी को रोकना है

बैठक में मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग को कोविड अस्पतालों की व्यवस्था बेहतर से बेहतर करने के निर्देश दिए। योगी ने कहा, हमें हर हाल में इस महामारी से मौतों पर रोक लगानी है। डाॅक्टर एवं नर्सिंग स्टाफ नियमित राउण्ड लें। समय से मरीजों को दवा उपलब्ध कराई जाए। अपनी पाली में ड्यूटी ज्वॉइन करते समय तथा ड्यूटी समाप्त होने के पूर्व डाॅक्टर तथा नर्स अनिवार्य रूप से राउण्ड लेते हुए मरीजों के उपचार के संबंध में जानकारी लें।

अस्पतालों में साफ-सफाई का रखें विशेष ध्यान

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी अस्पतालों में साफ-सफाई सहित अन्य सभी व्यवस्थाएं चुस्त-दुरुस्त रखें। मरीजों को कोई परेशानी न होने पाए। हर दिन बेड शीट बदली जाएं। अस्पतालों में बिजली आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने नाॅन कोविड अस्पतालों में मरीजों के उपचार में तेजी लाई जाए। साथ ही सभी अस्पतालों की इमरजेंसी सेवाओं में मरीजों के उपचार व आवश्यक ऑपरेशन की हर दिन समीक्षा की जाए।

निगरानी समितियों को सक्रिय रखें

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि प्रदेश में जनपद स्तर पर नई टेस्टिंग लैब की स्थापना के कार्य में तेजी लाई जाए। इन लैब को किसी भी समय जरूरत के हिसाब से शुरू किया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने में निगरानी समितियां महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती हैं। प्रदेश के सभी शहरी व ग्रामीण इलाकों में निगरानी समितियों को सक्रिय रखा जाए।

औद्योगिक इकाइयों की करें मैपिंग

जनता को रोजगार देने के लिए मुख्यमंत्री ने सिक इन्डस्ट्रियल यूनिट्स को चालू करने के लिए कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया है। इसके लिए औद्योगिक इकाइयों की मैपिंग की जाए। मुख्यमंत्री ने आम के निर्यात के लिए भी कार्य योजना बनाने को कहा है।

रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की अवश्य हो स्वास्थ्य जांच

मुख्यमंत्री ने कहा, आज से रेल सेवा शुरू हो गयी है। इसलिए प्रदेश के सभी रेलवे स्टेशनों पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। स्टेशन पर प्रशासन, पुलिस के साथ स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी अवश्य तैनात रहें। स्टेशन पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग की जाए। रेलवे स्टेशन पर हर यात्री को कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में हैण्डबिल उपलब्ध कराया जाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

Lucknow: फूलबाग में मौत के बाद कोरोना पॉजिटिव निकली वृद्ध महिला

Published

on

जांच रिपोर्ट से पहले ही महिला का किया दाह संस्कार

लखनऊ। राजधानी के फूलबाग में वृद्ध महिला की ब्रेन हेमरेज से मौत के बाद उसमें कोरोना की पुष्टि हुई। वृद्ध महिला का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। लेकिन उसकी हालत में जब कोई सुधार नहीं हुआ, तो परिजन वृद्धा को घर ले गए। जहां उसकी मौत हो गयी। महिला का सैम्पल जांच के लिए निजी लैब भेजा गया था। जहां रविवार की शाम को उसमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। कोरोना रिपोर्ट के बाद वृद्धा के घर से लेकर निजी अस्पताल तक हड़कंप मच गया।

रिपोर्ट के मिलने के बाद आनन- फानन में निजी अस्पताल को सैनिटाइज करने के लिए 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया। सीएमओ कार्यालय के मुताबिक मृतक वृद्धा के घर के सभी लोगों को क्वारेंटाइन में रहने की सलाह देते हुए नमूने लिए गए हैं। पीड़ित वृद्धा की मौत के बाद कुछ लापरवाही भी देखने को मिली है। महिला का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया था। लेकिन जांच रिपोर्ट के आने का इंतजार नहीं किया गया। महिला का दाह संस्कार कर दिया गया। 

कैसरबाग के हॉटस्पॉट इलाके में शामिल फूलबाग की रहने वाली वृद्धा (75) को दो दिन पहले ब्रेन हेमरेज हुआ था। घरवालों ने महिला को गोलागंज के निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। वहां डॉक्टरों ने उसे अस्पताल के होल्डिंग एरिया में रखा और कोरोना की जांच कराना बेहतर समझा। महिला का नमूना निजी पैथालॉजी भेजा गया। 

इसे भी पढ़ें-लखनऊ: अर्जुनगंज ओवरब्रिज पर डिवाइडर से टकराई स्कूटी, सचिवालय कर्मी की मौत

अस्पताल संचालक के मुताबिक रिपोर्ट आने में देरी होने पर परिजन महिला को घर ले जाने की बात कर रहे थे। महिला की हालत गंभीर होने के बावजूद वह मरीज की फाइल पर लामा (अपनी स्वेच्छा से) लिखवाकर शनिवार को घर ले गए। बताया जा रहा है कि घर पर ही कुछ देर बाद महिला की मौत हो गयी। कोरोना की रिपोर्ट का इंतजार किए बगैर ही घरवालों नें आनन-फानन में वृद्धा के शव का अंतिम संस्कार कर दिया। हालांकि अंतिम संस्कार में परिजनों में कोरोना का खौफ दिखायी दिया और 20 लोगों की उपस्थिति में अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

रविवार की देर शाम महिला की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आयी जिसके बाद घर वालों के हो उड़ गए। रिपोर्ट की जानकारी निजी चिकित्सालय को भी मिली जिसके बाद सीएमओ के निर्देश पर निजी अस्पताल को सैनिटाइज करने के लिए बंद कर दिया गया तथा अस्पताल कर्मचारियों व डाक्टरों को क्वारेंटाइन कर दिया गया। 

सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि निजी लैब की रिपोर्ट में वृद्धा कोरोना पॉजिटिव पायी गयी है। परिजनों के साथ अंतिम संस्कार में शामिल सभी लोगों की सूची तैयार कर उन्हें क्वारेंटाइन करने के निर्देश दिए गए हैं। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कार्रवाई की जा रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने कैसरबाग बस अड्डे का किया दौरा

Published

on

यात्री सेवाओं व कोरोना बचाव को लेकर दिए निर्देश

लखनऊ। लाॅकडाउन-5.0 शुरू होने के साथ ही 1 जून से प्रदेश में रोडवेज बस सेवा को भी बहाल कर दिया गया। सोमवार सुबह परिवहन मंत्री अशोक कटारियों ने कैसरबाग बस अड्डे का दौरा कर वहां की गई तैयारियों का जायजा लिया। मंत्री के साथ परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक डाॅ. राज शेखर भी मौजूद रहे। मंत्री ने बसों में बैठे यात्रियों से सैनिटाइजेशन आदि को लेकर जानकारी हासिल की। साथ सभी को मास्क आदि लगाकर ही यात्रा करने को कहा।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए परिवहन मंत्री ने कहा, करीब दो महीने बाद उत्तर प्रदेश में सार्वजनिक यातायात फिर से शुरू हो रहा है। प्रदेश में रोडवेज सहित निजी बसों को भी सेवा शुरू करने की अनुमति दी गयी है। छोटी दूरी के लिए टैक्सी सेवा को भी बहाल कर दिया गया है। कोरोना महामारी के लिए बस स्टेशनों पर व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सभी यात्रियों को कहा गया है कि वह मास्क लगाकर और सैनिटाइजर लेकर ही यात्रा करें। थोड़ी-थोड़ी देर पर हाथ को सैनिटाइज करते रहें।

यह भी पढ़ें-बिजली कर्मचारियों ने हाथ में काली पट्टी बांधकर निजीकरण का किया विरोध

परिवहन विभाग को भी यात्रियों को सैनिटाइज कराने व मास्क उपलब्ध कराने को कहा गया है। मंत्री ने बताया कि ड्यूटी पर आने वाले बस ड्राइवरों, कंडक्टरों व यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है। रोडवेज कर्मचारियों को महामारी के संक्रमण से बचाने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 1, 2020, 5:07 pm
Partly sunny
Partly sunny
33°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 51%
wind speed: 2 m/s E
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:26 pm
 

Recent Posts

Trending