Connect with us

प्रदेश

विभिन्न मुद्दों पर सपा कार्यकर्ताओं ने सरकार को घेरा, जोरदार प्रदर्शन कर की नारेबाजी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में समाजवादी पार्टी के यूथ विंग कार्यकर्ताओं ने राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था, गन्ना किसानों का भुगतान करने, किसानों की आय दो गुनी करने, किसानों का कर्ज माफ करने, शिक्षा का बाजारीकरण रोकने, छात्रों की फीस माफ करने सहित तमाम मांगों को लेकर जिलाधिकारी कार्यलय पर जोरदार प्रदर्शन कर नारेबाजी की। कायर्कर्ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेजबाजी की।

इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी। प्रदर्शनकारी सपा कार्यकर्ता डीएम को ज्ञापन देने जा रहे थे तभी पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान उनकी पुलिस से कहासुनी हुई। प्रदर्शन के चलते परिवर्तन चौक और कैसरबाग के आस-पास का इलाका जाम के झाम में जकड़ गया। पुलिस ने परिवर्तन चौक से चारबाग जाने वाले मार्ग को बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। इससे वाहन चालक चौराहे के चक्कर काटते नजर आए। वाहन चालक घंटों जाम में फंस कर परेशान हुए।

यह भी पढ़ें: पुलिस और फोरेंसिक साइंस विवि में होंगे 10 विभाग, जल्द सृजित होंगे कुलपति, कुलसचिव व वित्त अधिकारी के पद

लखनऊ में सपा कार्यालय बारादरी से कैसरबाग कलेक्ट्रेट ऑफिस तक कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। वहीं सपा कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन के साथ पीएसी भी कार्यालय के बाहर तैनात की गई थी।

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि भाजपा सरकार में अपराध की बढ़ोतरी हुई है। लाखों युवा बेरोजगार हो गए हैं। महिला सुरक्षा के दावे करने वाली सरकार महिलाओं के सुरक्षा को लेकर खिलवाड़ करती नजर आ रही है। इसको लेकर लोगों में आक्रोश है।

सरकार खुद पुलिस से फर्जी एनकाउंटर करवा रही

सपा के नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। इस सरकार में चारों तरफ जंगलराज है। सरकार खुद ही पुलिस से फर्जी एनकाउंटर करवा रही है। सरकार में महिलाओं के साथ छेड़खानी व दुष्कर्म के साथ हत्याओं की घटनाएं बढ़ गई हैं। भाजपा सरकार अपराध रोकने में पूरी तरह फेल होती दिख रही है। उन्होंने कहा इस सरकार में नौजवान और मजदूर बेरोजगारी के शिकार हो रहे हैं। अनेक उद्योगों में छटनी के निरंतर बेकारी की समस्या और उग्र होती जा रही है। पार्टी मांग करती है कि बेरोजगारी की बढ़ती समस्या के समाधान के प्रति सरकार को गंभीर नीति निर्धारित करनी होगी।

पुलिस और सपा डेलिगेशन के बीच हई नोंकझोंक

समाजवादी पार्टी का डेलिगेशन प्रतापगढ़ जा रहा था। जिसको 1090 चौराहे पर रोके जाने के बाद बछरावां मे पुलिस ने सपा प्रदेश अध्यक्ष समेत पूरे डेलिगेशन को रोका। वहीं समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, MLC सुनील साजन, उदयवीर सिंह को पुलिस ने रोका। बता दें कि प्रतापगढ़ की घटना पर समाजवादी पार्टी का डेलिगेशन सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर जा रहा था। इस दौरान पुलिस और समाजवादी पार्टी के डेलिगेशन के बीच नोकझोंक भी हुई।http://satyodaya.com

प्रदेश

कोरोना काल में CM योगी की कैबिनेट मीटिंग आज, इन प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी

Published

on

लखनऊ। कोरोना महामारी के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार की शाम को 5 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है। काफी समय से कैबिनेट बाईसुर्कलेशन प्रस्तावों को मंजूरी दी जा रही थी। लेकिन कोरोना महामारी के चलते इसे स्थगित कर दिया गया था। कैबिनेट की बैठक में राजस्व विभाग के उत्तर प्रदेश आबादी सर्वेक्षण और अभिलेख संक्रिया विनियमावली 2020 को मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। मुख्यमंत्री आवास पर शाम को होने वाली इस बैठक में उन्हीं मंत्रियों को बुलाया गया है।

इसे भी पढ़ें- समाज की बहन-बेटियाँ प्रदेश में सुरक्षित नहीं, जो अति-शर्मनाक और निन्दनीय- मायावती

जिन विभागों के प्रस्ताव पास होने हैं। बाकी सभी मंत्री अपने आवास से ऑनलाइन बैठक से जुड़ेंगे। कैबिनेट बैठक में राजस्व, औद्योगिक विकास विभाग, स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग समेत कई विभागों के महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। बैठक में राजस्व विभाग के उत्तर प्रदेश आबादी सर्वेक्षण और अभिलेख संक्रिया विनियमावली 2020 को मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। बरेली में अस्पताल बनाने के लिए औद्योगिक विकास विभाग की जमीन देने संबंधी प्रस्ताव को भी मंजूरी मिल सकती है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

समाज की बहन-बेटियाँ प्रदेश में सुरक्षित नहीं, जो अति-शर्मनाक और निन्दनीय- मायावती

Published

on

लखनऊ। हाथरस में 19 वर्ष की दलित युवती के साथ दुष्कर्म के बाद उसकी जीभ काटने के मामले पर बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर तंज कसा है। सोशल मीडिया पर बेहद एक्टिव बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने हाथरस में 19 वर्ष की दलित युवती से साथ दुष्कर्म को बेहद ही शर्मनाक बताया है।

मायावती ने मंगलावार को ट्वीट करके कहा कि यूपी के हाथरस में गैंगरेप के बाद दलित पीड़िता की आज हुई मौत की खबर अति-दुःखद। सरकार पीड़ित परिवार की हर संभव सहायता करे व फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर अपराधियों को जल्द सजा सुनिश्चित करे, बीएसपी की यह माँग।

इसे भी पढ़ें- रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी: 1 अक्टूबर से 4 जोड़ी नई पैसेंजर ट्रेनें चलेंगी, देखें शिड्यूल

ये है पूरा मामला

बता दें, कि हाथरस में एक दलित युवती के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है। यहां एक 19 वर्ष की लड़की के साथ आरोपियों ने पहले तो दुष्कर्म किया और उसके साथ मारपीट कर रीढ़ की हड्डी तोड़ दी, इतने से भी हैवानों का मन नहीं भरा तो उन्होंने पीड़ित लड़की की जीभ भी काट दी। इस दौरान उसका जेएन मेडिकल कॉलेज, अलीगढ़ के आईसीयू वार्ड में इलाज चल रहा था। लेकिन हालत में कोई सुधार ना होने के चलते उसे सोमवार की सुबह दिल्ली एम्स में भेज दिया गया। जहां इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो गई।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

हाथरस: गैंगरेप की शिकार गुड़िया हारी जिंदगी की जंग, दिल्ली में इलाज के दौरान मौत

Published

on

हाथरस। सामूहिक दुष्कर्म के बाद 19 वर्षीय युवती के साथ अमानवीय कृत्य से हाथरस शर्मसार है। इस घटना को निर्भया पार्ट-2 का नाम दिया गया है। हाथरस में 14 सितंबर को सामूहिक दुष्कर्म के बाद अमानवीय कृत्य झेलने वाली पीड़िता का संघर्ष मंगलवार को नई दिल्ली के सफदरजंग हॉस्पिटल में समाप्त हो गया। हाथरस की गुड़िया के साथ इस कृत्य के बाद मानवता शर्मसार है। सामूहिक दुष्कर्म के बाद दलित गुड़िया की जुबान काटी गई और भयानक जख्म दिए गए थे। इस मामले में पीड़िता के बयान के बाद चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 14 सितंबर के इस कांड के बाद पुलिस को सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज करने में आठ दिन लगे। अगर पीड़िता का बयान सामने ना आता तो पुलिस दरिंदो को बचाती रहती। पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर ने पीड़िता की मौत की पुष्टि की है। सोमवार को हालत बेहद गंभीर होने पर उसे अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कॉलेज से दिल्ली के दिल्ली एम्स में रेफर किया गया था। जहां इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें: रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी: 1 अक्टूबर से 4 जोड़ी नई पैसेंजर ट्रेनें चलेंगी, देखें शिड्यूल

हाथरस में 14 सितंबर को एक 19 वर्ष की युवती के साथ उसके गांव के ही रहने वाले चार दबंग युवकों ने दुष्कर्म किया था और वह कुछ किसी को बता न पाए इसके लिए उसकी जीभ काट दी थी। इसके बाद से पीडि़ता जिंदगी-मौत से संघर्ष कर रही है। इस दौरान उसका जेएन मेडिकल कॉलेज, अलीगढ़ के आईसीयू वार्ड में इलाज चल रहा था। इसके बाद उसको सोमवार को दिल्ली सफदरजंग हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया। अलीगढ़ में पीड़िता की हालत में यहां कोई सुधार नही दिख रहा था। जवाहर लाल नहरू मेडिकल कालेज अस्पताल के अधीक्षक डा हारिस मंजूर खान ने बताया कि पीड़िता की हालत अब भी गंभीर बनी थी वह जीवन रक्षक प्रणाली (वेंटीलेटर) पर थी। उसके परिवार के लोगों ने उसका इलाज दिल्ली में कराने की इच्छा जतायी तो इसके बाद उसे सोमवार की सुबह दिल्ली एम्स में भेज दिया गया।

पीड़िताके भाई ने 14 सितंबर को थाना चन्दपा में लिखित सूचना दी कि संदीप पुत्र गुड्डु निवासी थाना चंदपा जनपद हाथरस ने आकर गला दबाकर पीड़िता की हत्या करने की कोशिश की। इसके बाद संदीप पुत्र गुड्डू उपरोक्त के विरुद्ध पंजीकृत किया गया था। विवेचना के क्रम में पीड़िता के बयान के आधार पर तीन अन्य लोग प्रकाश में आये। इसके बाद सभी नामजद की गिरफ्तारी की गई।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 29, 2020, 1:10 pm
Hazy sunshine
Hazy sunshine
34°C
real feel: 41°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 62%
wind speed: 3 m/s NW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 5:28 am
sunset: 5:25 pm
 

Recent Posts

Trending