Connect with us

प्रदेश

प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कांग्रेस और सपा नेताओं को दिलाई भाजपा की सदस्यता….

Published

on

स्वतंत्रदेव सिंह

फाइल फोटो

लखनऊ। भाजपा में शामिल हुए पूर्व सांसद संजय सिंह, पूर्व मंत्री अमिता सिंह, पूर्व सांसद संजय सेठ और सुरेंद्र नगर ने आज रविवार को यूपी के प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर अपनी ताकत दिखाई। कांग्रेस से आने वाले संजय सिंह और अमिता सिंह ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर औपचारिक तौर पर पार्टी में शामिल हो गए। संजय सिंह को राहुल गांधी का करीबी माना जाता है। वह इन सभी नेताओं के साथ सैकड़ों समर्थकों ने भी बीजेपी की सदस्यता ली।

ये भी पढ़ें:मुरादाबाद: बस और ट्रक में जबरजस्त भिड़ंत, 24 यात्री घायल, 7 की हालत गंभीर

बता दें कि समाजवादी पार्टी के पूर्व राज्यसभा सांसद संजय सेठ, सुरेन्द्र नागर ने नई दिल्ली में 10 अगस्त को बीजेपी ज्वाइन किया था। इसके बाद दोनों पहली बार यूपी बीजेपी के कार्यक्रम में शामिल हुए। इन दोनों नेताओं ने सुबह मुख्यमंत्री आवास पर सीएम योगी अदित्यनाथ से मुलाकात की थी। स्वतंत्र देव सिंह और सुनील मंत्री की मौजूदगी में दोनों ने सीएम योगी अदित्यनाथ से मुलाकात की थी। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने संजय सेठ, सुरेंद्र नगर, संजय सिंह और अमिता सिंह को को बीजेपी का अंगवस्त्र पहनाकर स्वागत किया और खुद की सक्रिय सदस्यता के लिए 50-50 साधारण सदस्य बनाने की पुस्तिका भी भेंट की गई। बताते चलें कि इस सदस्यता ग्रहण में जय-जय-जय अखिलेश की तर्ज पर बीजेपी दफ्तर में जय-जय-जय महाराज के नारे भी लगाए गए।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

रामबाबू रस्तोगी ने स्वर्णकार समाज की राजनीतिक उपेक्षा का लगाया आरोप

Published

on

लखनऊ। प्रदेश के सुनार समाज ने राजनीतिक दलों पर अपनी उपेक्षा का आरोप लगाया है। रविवार को हजरतगंज स्थित प्रेस क्लब में स्वर्णकार सामाजिक संगठन ने एक बैठक का आयोजन किया। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में रामबाबू रस्तोगी मौजूद रहे। अपने समाज का नेतृत्व करते हुए रामबाबू रस्तोगी ने कहा कि वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश में करीब 1 करोड. 90 लाख हमारी आबादी है। सरकार को सबसे ज्यादा राजस्व सुनार समाज की देता है। फिर भी हमारे समाज के लोगों को राजनीतिक दल अपना प्रत्याशी नहीं बनाते। लेकिन अब हमारे समाज का युवा वर्ग जागरूक हो चुका है, अब हमारे समाज का कोई शोषण नहीं कर पाएगा। श्री रस्तोगी ने कहा कि हमारा समाज उसी पार्टी को समर्थन देगा जो हमारे समाज से लोगों को टिकट देकर लोकसभा व विधानसभा प्रत्याशी बनाएगी।

यह भी पढ़ें-शिक्षकों ने भरी हुंकार, 6 नवम्बर को होगी शिक्षक सम्मान बचाओ महारैली

रामबाबू रस्तोगी ने मांग की कि किसी सुनार भाई के घर या दुकान में चोरी, लूट, डकैती आदि की घटनाओं पर पीडि.त को व्यापारी राहत कोष से मुआवजा दिया जाए। कहा कि जाति के आधार पर मुआवजा नहीं देना चाहिए। सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सबका साथ सबका विकास कहने के बाद भी सरकार दोहरी राजनीति कर रही है। कार्यक्रम में हरपाल सिंह वर्मा, संजय वर्मा, अभय सोनी, पवन सोनी, गौरव वर्मा, मोहित, रवि सोनी, मृदुल सोनी, विनोद वर्मा और अन्य कई जिलों से स्वर्णकार समाज के लोग शामिल हुए। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

भाजपा देश पर तानाशाही लादने की रच रही साजिश: अखिलेश यादव

Published

on

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव रविवार को पूर्व सांसद और समाजवादी नेता मोहन सिंह की छठीं पुण्यतिथि पर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने श्रद्धांजलि सभा में उनके चित्र पर माल्यार्पण किया। इस दौरान उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। भाजपा देश पर तानाशाही लादने की साजिश कर रही है। नागरिक अधिकारों का हनन हो रहा है। गलत आर्थिक नीतियों के कारण भारत की अर्थव्यवस्था बिगड़ती जा रही है। जनता का ध्यान बुनियादी मुद्दों से हटाने के लिए भ्रमात्मक प्रचार किए जा रहे हैं। ऐसे में देश को बचाने की लड़ाई जनता के साथ समाजवादी ही लड़कर जीत सकते हैं।

 अखिलेश ने कहा कि मोहन सिंह की जीवनपर्यन्त समाजवादी पार्टी में निष्ठा बनी रही थी। वे अच्छे लेखक, कुशल वक्ता, संसदीय प्रणाली के मर्मज्ञ थे। गरीबों, किसानों, नौजवानों में काफी लोकप्रिय थे।

 उन्होंने कहा कि, समाजवादी विचारों के रास्ते पर चलकर ही समाज और देश तेजी से प्रगति कर सकता है। समाजवादी विरासत को आगे तक ले जाने की जिम्मेदारी नई पीढ़ी की है। दुःखी लोगों की आवाज समाजवादी पार्टी ही उठाती रही है। भाजपा के पास बस लोगों को गुमराह करने की ताकत है। भाजपा कारपोरेट संसार के पक्ष में खड़ी है। भाजपा कारपोरेट संस्थाओं को ताकत देने का काम करती है। वह स्वदेशी उत्पादन के विरोध में है। प्रधानमंत्री अमेरिका में बैठकर अमेरिकन कृषि उत्पादों के आयात की बात करना भारत के हित में नहीं है। इससे किसान भी बुरी तरह प्रभावित होगा। फिर भारतीय किसानों के उत्पाद का क्या होगा?

 अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति सेवा का माध्यम है। आज राजनीति में विचारों के बीच भी संघर्ष है। इसलिए कार्यकर्ता समाजवादी पार्टी की नीति-सिद्धांत की जानकारी गांव-गांव, जन-जन तक पहुंचाने में लग जाएं। उन्होंने कहा कि गैर-बराबरी के विरूद्ध समानता और सांप्रदायिकता के विरूद्ध सामाजिक सद्भाव तथा लोकतंत्र को सशक्त बनाने के लिए समाजवादी सरकार बनाना जरूरी है।

इस अवसर पर अन्य वक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि समाजवादी विचारधारा को ताकत देने के लिए 2022 में अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी सरकार का बनना समय की जरूरत है। इसी में प्रदेश का हित सन्निहित है। सपा प्रमुख के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी समाजवादी नीतियों एवं मूल्यों को आगे बढ़ा रही है।

ये भी पढ़ें: Happy Daughters day 2019: ‘जुन्को ताबेई’ ने हिमालय का नहीं पुरुषवादी मानसिकता का गुरूर तोड़ा था

बता दें, इस श्रद्धांजलि सभा में उदय प्रताप सिंह पूर्व सांसद, माता प्रसाद पाण्डेय पूर्व विधानसभा अध्यक्ष, नेता विरोधी दल विधानसभा रामगोविन्द चौधरी, नेता प्रतिपक्ष विधानपरिषद अहमद हसन, पूर्व मंत्री राजेन्द्र चौधरी, पूर्व सांसद कनकलता सिंह, सांसद विशम्भर प्रसाद निषाद, एम.एल.सी. एस.आर.एस. यादव एवं अरविन्द कुमार सिंह ने भी स्वर्गीय मोहन सिंह के प्रति अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

पुलिस लाइन के सामने गाड़ी की टक्कर से युवक की मौत, परिजनों ने किया रोड जाम

Published

on

पुलिस लाइन

फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के महानगर थाना क्षेत्र स्थित रिजर्व पुलिस लाइन के सामने बीती रात गाड़ी की टक्कर से एक युवक की मौत हो गई थी। जिसके शव को आज रविवार को डीएम आवास के पास चौराहे पर रखकर परिजनों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया। परिजनों ने सड़क जाम कर मुआवजे की मांग करने के साथ ही कार्रवाई करने की बात कही। वहीं जाम होने के कारण आने जाने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिसकी जानकारी पाते ही मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस के साथ-साथ आस पास के थाने की पुलिस ने मोर्चा संभाला और लोगों के बीच से शव को किनारे कर रास्ता खुलवाया।

ये भी पढ़ें:अक्षरधाम मंदिर के पास बदमाशों ने पुलिस पर की ताबड़तोड़ फायरिंग, मौके से फरार….

वहीं अगर मृतक अब्दुल के परिजनों की मानें तो बीती रात अब्दुल अपनी पत्नी व बच्चों के साथ मोटरसाइकिल से जा रहा था, तभी पुलिस लाइन के सामने पुलिस की गाड़ी से टक्कर लगने से सभी लोग गिर गए और अब्दुल की मौत हो गई। जिसके बाद ही परिजनों ने शव को रखकर सड़क जाम कर थाने का घेराव किया। परिजन सरकार से मुआवजे की मांग कर रहे हैं। वहीं इस प्रदर्शन को रोकने के लिए मौके पर भारी पुलिस बल भी तैनात रहा। बता दें कि मृतक अब्दुल का एखलाक उसकी पत्नी यास्मीन व बेटा अल्तमस मोटरसाइकिल पर बैठा हुआ था जब उसका एक्सीडेंट हुआ था। इस एक्सीडेंट में अब्दुल इकलाख की मौत हो गई व नाबालिक बेटे व पत्नी का अस्पताल में इलाज जारी है। मृतक अब्दुल मकैनिक का काम कर करता था और परिवार का भरण पोषण करता था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 23, 2019, 8:12 am
Fog
Fog
25°C
real feel: 29°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 1 m/s NE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:25 am
sunset: 5:32 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending