Connect with us

प्रदेश

वाराणसी में सपा को लगा बड़ा झटका, तेज बहादुर यादव की उम्मीदवारी रद्द, जानिए क्या है वजह   

Published

on

वाराणसी से समाजवादी पार्टी को निर्वाचन योग की तरफ से बड़ा झटका लगा है। सपा ने यहां से पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ मैदान में बीएसएफ के बर्खास्त सिपाही तेज बहादुर यादव को चुनावी रण में उतरा था लेकिन अब सपा प्रत्याशी का नामांकन खारिज कर दिया गया है।

ख़बरों के मुताबिक मंगलवार को प्रेक्षक प्रवीण कुमार की मौजूदगी में नामांकन पत्रों की जांच शुरू हुई। जांच में जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेन्द्र सिंह यादव द्वारा बीएसएफ से बर्खास्तगी के संबंध में दो नामांकन पत्रों में अलग अलग जानकारी देने पर नोटिस देकर 24 घंटे में बीएसएफ से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेकर मौजूद होने को कहा था।

जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से तेज बहादुर को कहा गया था कि वो बीएसएफ से प्रमाणपत्र लेकर आएं जिसमें यह साफ साफ लिखा हो कि उन्हें नौकरी से किस वजह से बर्खास्त किया गया था। बता दें कि जांच में सामने आया था कि तेज ने पहले नामांकन में भारत सरकार या राज्य सरकार के अधीन पद धारण करने के दौरान भ्रष्टाचार या अभक्ति के कारण पदच्युत किया गया के सवाल पर हां में जवाब दिया और विवरण में 19 अप्रैल, 2017 लिखा है। वहीं दूसरे शपथ पत्र में लिखा था कि तेज बहादुर यादव को 19 अप्रैल 2017 को बर्खास्त किया गया था लेकिन भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा पद धारण के दौरान भ्रष्टाचार एव अभक्ति के कारण पदच्युत नहीं किया गया।

बता दें कि सपा ने पीएम मोदी के खिलाफ शालनी यादव का टिकट काट कर तेज प्रताप यादव को टिकट। लेकिन अब तेज बहादुर यादव का नामांकन खारिज होने के बाद से सपा की ओर से फिर शालिनी यादव मैदान में हैं। वहीं नामांकन पत्र के नोटिस का जवाब देने के दौरान तेज के समर्थक और पुलिस के बीच बहस भी हो गई। जिसके बाद पुलिस ने तेज के समर्थकों को परिसर से बाहर कर दिया। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

कमलेश तिवारी की पत्नी को मिली हत्या की धमकी, इस शख्स के खिलाफ दर्ज हुई FIR

Published

on

कमलेश तिवारी

फाइल फोटो

लखनऊ। हिंदू समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद अब उनकी पत्नी किरन तिवारी को भी मारने की धमकी मिल रही है। वहीं किरन का आरोप है कि बीते हफ्ते उन्हें पत्र भेजकर जान से मरने की धमकी दी गई

हालांकि उन्होंने नाका थाने में महाराष्ट्र के लातूर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इंस्पेक्टर सुजीत दुबे ने बताया कि किरन तिवारी के नाम से 14 नवंबर की दोपहर खुर्शेदबाग स्थित घर के पते पर एक बंद लिफाफा भेजा गया था।

ये भी पढ़ें:मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन आज, क्या इस बार साथ होगा परिवार….

इसे खोलने पर उसके अंदर नौ पन्ने का एक पत्र निकला। दो पन्ने में उर्दू भाषा में कुछ लिखा हुआ था। किरन का कहना है कि उन्होंने उर्दू के पन्नों में लिखी बातों का हिंदी में अनुवाद कराया तो जान से मारने कि धमकी की बात सामने आई।

जिसके बाद उन्होंने इस घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी। पत्र महाराष्ट्र के लातूर के मुडखेड़  ताल्लुका स्थित शिवाजी चौक अंबेडकरनगर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के नाम से भेजा गया था। इंस्पेक्टर ने बताया कि महाराष्ट्र पुलिस से संपर्क कर पत्र भेजने वाले के बारे में जानकारी इकठ्ठा कर ली गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

एटा: कार और ट्रैक्टर की जोरदार टक्कर, ADJ के पिता की मौत, जज सहित 6 घायल

Published

on

यूपी: उत्तर प्रदेश के एटा जिले में गुरुवार रात भीषण सड़क हादसा हो गया। जहां कार और ट्रैक्टर की जोरदार भिडंत गई। जिसमें कार सवार एटा के अपर जिला जज प्रथम के पिता की मौत हो गई और जज सहित 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे की बाद तीन की हालत गंभीर देखते हुए उनको आगरा रेफर किया गया है। 

बता दें कि हादसा थाना अवागढ़ क्षेत्र के गांव मोहनपुर के निकट हुआ। अपर जिला जज प्रथम अशोक कुमार अपने पिता शिवमंदिर बर्नवाल को ट्रेन में बैठाने के लिए टूंडला छोड़ने जा रहे थे। जज के साथ अर्दली राजपाल भी था। इस दौरान गांव मोहनपुर के समीप कार और ट्रैक्टर की आमने-सामने की जोरदार भिड़ंत हो गई।

ये भी पढ़ें: एक बार फिर योगी सरकार ने बदला इस विभाग का नाम

हादसे में अपर जिला जज प्रथम अशोक कुमार, पिता शिवमंदिर बर्नवाल, अर्दली राजपाल और ड्राइवर चंक्रेश घायल हो गए। घायल शिवमंदिर बर्नवाल की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई, जबकि जज सहित उनका ड्राइवर और अर्दली की हालत गंभीर बनी हुई है। बताया जा रहा है कि वहीं दोनों वाहनों की चपेट में एक और गाड़ी आ गई। उसमें सवार नंद निवासी धुमरी, शिवराम सिंह, मानव घायल हो गए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

एक बार फिर योगी सरकार ने बदला इस विभाग का नाम

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के इतिहास में आज से वाणिज्य कर विभाग का अस्तित्व खत्म हो जाएगा। योगी आदित्यनाथ की सरकार ने वाणिज्य कर विभाग को खत्म कर दिया। इस विभाग का विलय अब राज्य कर विभाग में कर दिया गया है। संस्थागत वित्त कर एवं निबंधन विभाग ने इस संबंध में शुक्रवार को अधिसूचना जारी कर दी हैं। इस फैसले के बाद वाणिज्य कर विभाग के सभी अधिकारी और कर्मचारी अब राज्य कर विभाग के अधीन काम करेंगे।

यह भी पढ़ें: लखनऊ पुलिस ने सीरियल किलर सोहराब को किया गिरफतार

आपको बता दें कि विलय के बाद वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों के पदनाम तो बदल जाएंगे लेकिन उनके वेतन बैंड और ग्रेड वेतन में कोई बदलाव नहीं होगा। संस्थागत वित्त अनुभाग को वित्त विभाग के अधीन किया गया है। वहीं निबंधन विभाग अब स्टांप एवं निबंधन विभाग होगा में विलय कर दिया गया हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 22, 2019, 11:36 am
Partly sunny
Partly sunny
23°C
real feel: 26°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 68%
wind speed: 1 m/s NW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 6:01 am
sunset: 4:44 pm
 

Recent Posts

Trending