Connect with us

प्रदेश

ट्रेन में चाय-नाश्ते के लिए अब ज्यादा ढीली करने पड़ेगी जेब, IRCTC ने बढ़ाई कीमत…

Published

on

रेल यात्रियों

फाइल फोटो

नई दिल्ली। रेल यात्रियों को ट्रेन में यात्रा करना महंगा पड़ेगा। क्योंकि यात्रियों को चाय नाश्ते के लिए अब जेब ढीली करनी पड़ेगी। दरअसल, रेलवे बोर्ड में पर्यटन एंव खान पान विभाग के निर्देशक की ओर से एक सर्कुलर जारी किया गया है। जिसके अनुसार, शताब्दी, दुरंतो और राजधानी ट्रेनों में खाने के पैसे बढ़ा दिए गये हैं।

बता दें कि इन सभी ट्रेनों में जब आप टिकट लेतें है उसी में चाय और खाने के पैसे भी दे देने पड़ते हैं। इतना ही नहीं दूसरी ट्रेनों के यात्रियों को भी इस महंगाई का सामना करना पड़ सकता है।

खाने और चाय पर लागू की गई नई दरों के अनुसार, शताब्दी, दुरंतों और राजधानी में सफर करने वाले यात्रियों को चाय के लिए अब 10 रुपये की जगह 20 रुपये चुकाने होंगे। वहीं बात करें स्लीपर क्लास की तो यहां यात्रियों को इसके लिए सिर्फ 15 रुपये का भुगतान करना पड़ेगा। वहीं दुरंतो के स्लीपर क्लास में नाश्ता या खाना पहले 80 रुपये में मिलता था। जोकि अब 120 रुपये का हो गया है। शाम को जो चाय दी जाती थी इसकी कीमत सिर्फ 20 रुपये थी। अब उसके लिए आपको 50 रुपये चुकाने होंगे।

ये भी पढ़ें:भव्य राम मंदिर के साथ अयोध्या को विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन का मिलेगा तोहफा

जानिये कब लागू होंगी नई दरें

जानकारी के मुताबिक इस नए मेन्यू को टिकटिंग सिस्टम में 15 दिनों के अंदर अपडेट कर दिया जाएगा। हालांकि इसे लागू करने में थोड़ा समय लगेगा। इसे लगभग चार महीने बाद लागू किया जाएगा। नई दरें लागू होने के साथ ही राजधानी के फर्स्ट एसी कोच में खाना 145 रुपये की जगह 245 में मिलेगा।

रेग्युलर ट्रेन के यात्रियों को भी भरने पड़ेंगे इतने रुपये

इन दरों से सिर्फ प्रीमियम ट्रेनों के यात्री ही प्रभावित नहीं होंगे बल्कि आम जनता भी इससे काफी प्रभावित होगी। राजधानी और रेग्युलर मेल में शाकाहारी भोजन 80 रुपये का मिलेगा। हालांकि, वर्तमान में यात्रियों को इसके लिए 50 रुपये देने पड़ते थे। आईआरसीटीसी रेल यात्रियों को जो चिकन बिरयानी देती है उसके लिए 110 रुपये और एग बिरयानी के लिए 90 रुपये देनें होंगे। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

प्रयागराजः अजय कुमार लल्लू ने सोरांव के पीड़ित परिवार से की मुलाकात

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने प्रयागराज के सोरांव में पीड़ित परिवार से मुलाकात की। परिवार में बचे मोनू तिवारी को ढांढस बंधाते हुए वादा किया कि पार्टी उनकी इंसाफ की लड़ाई मजबूती से लड़ेगी। बता दें कि सोरांव के युसूफपुर गांव में ऑटो चालक सोनू तिवारी, उसके पिता विजय शंकर, पत्नी सोनी और दो मासूम बेटों कान्हा व कुंज की शनिवार रात घर के भीतर बेरहमी से सिर कूंचकर हत्या कर दी गई।

यह भी पढ़ें:- जेएनयू हमला केन्द्र सरकार के इशारे पर हुआः डां. मसूद अहमद

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पूरे सूबे में जंगलराज फैला हुआ है। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। प्रदेश में कोई भी सुरक्षित नही है। हर दिन कोई ने कोई घटना घटित होती रहती है। वहीं मुख्यमंत्री को कानून व्यवस्था से कोई मतलब नहीं है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि वह सिर्फ निर्दोष लोगों से बदला लेना जानते है और पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट है। श्री लल्लू ने कहा कि पार्टी हर अन्याय और अत्याचार के खिलाफ लोगों के साथ खड़ी है। उन्होंने इस हत्याकांड की उच्च स्तरीय जांच कराने और दोषियों को तत्काल गिरफ्तार किए जाने की मांग की। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

जेएनयू हमला केन्द्र सरकार के इशारे पर हुआः डां. मसूद अहमद

Published

on

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डां. मसूद अहमद ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में हुए हमले को लेकर केन्द्र सरकार को घेरा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि जेएनयू हमला भाजपा के इशारे पर हुआ है। ऐसा करके सरकार ने तनावपूर्ण महौल में घी डालने का काम किया है। सरकार अपना दामन अब बचा नही सकती। क्योंकि इस हमले की जिम्मेदारी हिन्दू रक्षा दल नामक संगठन ने लें ली है। जिसकी घोषणा संगठन के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने की हैं।

यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान की जेल में बंद 20 भारतीय मछुआरे रिहा, लौटे वतन

डां. अहमद ने कहा कि जेएनयू भारत का श्रेष्ठ शिक्षण संस्थान है। जहां बाहरी तत्वों से सरकार ने हिंसा कराकर छात्र गुटों में फूट डालने की कोशिश की हैं। देश के युवाओं में जहर घोलने का काम किया जा रहा है। जो बड़े दुर्भाग्य की बात है साथ ही उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थानों को राजनीति का अखाड़ा नही बनने दिया जाएगा। जेएनयू हमले की सर्वोच्च न्यायालय के वर्तमान जज से जांच कराने की मांग की। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

यूपी एसटीएफ ने तस्करों के पास से 45 लाख की अवैध शराब बरामद की

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ: यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बाराबंकी जिले के रामसनेही घाट क्षेत्र से मंगलवार को 820 पेटी शराब बरामद की। बताया जा रहा है कि पकड़ी गई शराब तस्करी करने के लिए ट्रक से बिहार ले जाई जा रही थी।  जिसकी कीमत लगभग 45 लाख रुपए तक बताई जा रही है।  

ये भी पढ़ें: 40 लाख ऐठने के बाद 50 लाख और न मिलने पर लड़के पक्ष ने तोड़ी शादी

एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने बताया कि हमको यह सूचना प्राप्त हुई थी कि कि हरियाणा से शराब की तस्करी करने वाले गिरोह अन्तर्राज्यीय स्तर पर सक्रीय है। वहीं गिरोह को पकड़ने के लिए एसटीएफ की टीमों को लगाया गया था। इसी क्रम में सोमवार रात को सूचना मिली कि एक ट्रक द्वारा हरियाणा से शराब तस्करी करके बिहार ले जाई जा रही है। जिसके बाद ट्रक बाराबंकी के कस्बा भिटरिया स्थित एक ढाबे पर आएगा। इस सूचना पर हमने ट्रक में लदी 820 पेटी शराब बरामद कर ली है। http://www.satyodaya.com 

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 7:56 pm
Fog
Fog
17°C
real feel: 17°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 82%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending