Connect with us

प्रदेश

यूपी: यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर पलटी, 5 की मौत, दर्जनों घायल

Published

on

कुशीनगर: यूपी के कुशीनगर जिले के हेतिमपुर मुजहना स्थित टोल प्लाजा के पास रविवार रात एक भीषण हादसा हो गया। बताया जा रहा है कि बिहार के सीतामढ़ी से राजस्थान के जयपुर जा रही यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर पलट गई। वहीं इस हादसे में 5 यात्रियों की  मौत हो गई, जबकि दर्जन भर यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को कसया स्थित सीएचसी भिजवाया। जहां घायलों का इलाज जारी है। घायलों में 3 को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। कुछ घायलों को सीएचसी हाटा ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने 2 लोगों को मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ें: बीकानेर: बस और ट्रक में हुई जोरदार भिड़ंत, 10 की मौत 20 से ज्यादा घायल…

बता दें कि जयपुर निवासी मोनू ठेकेदारी करता है। महराजगंज और बिहार के मजदूरों को बस से लेकर वह जयपुर जा रहा था। रात 9 बजे के करीब बस टोल प्लाजा के समीप पहुंची कि चालक अचानक नियंत्रण खो बैठा और बस फोरलेन से नीचे खेत में पलट गई। बस में कुल 80 यात्री सवार थे। सीएम योगी ने रविवार को में हुई सड़क दुर्घटना में पांच लोगों की मृत्यु पर गहरा दुख जताया है। दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए उन्होंने शोक संतप्त परिवारीजन के प्रति संवेदना व्यक्त की है। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

40 लाख ऐठने के बाद 50 लाख और न मिलने पर लड़के पक्ष ने तोड़ी शादी

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

कानपुर: नौबस्ता थानाक्षेत्र में दहेज के नाम पर 40 लाख रुपए ऐंठने के बाद शादी तोड़ने का मामला सामने आया है। जी हां पूरे मामले एक कारोबारी पिता ने लड़के पक्ष पर दहेज़ का आरोप लगाते हुए पुलिस को 5 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। साथ ही बताया कि उनकी बेटी एमबीए करने के बाद 13 लाख के पैकेज पर मुंबई में नौकरी करती थी।

जिसकी शादी मूलरूप से दिल्ली निवासी कारोबारी दुर्गेश राय के बेटे तिलकनगर निवासी पुनीत के साथ 23 सितंबर को तय हुई थी।  शादी तय होने के उपरांत ही लड़के पक्ष वालों ने मेरी बेटी की नौकरी भी छुड़वा दी थी। लड़की पक्ष ने 11 जुलाई को हुई बरीक्षा में लड़के पक्ष को पांच लाख की ज्वैलरी समेत 10 लाख का सामान दिया।

ये भी पढ़ें: गाड़ी चेकिंग के वक्त पुलिस ने तीन वाहन चोरों को किया गिरफ्तार

लड़की पक्ष का आरोप है कि लड़के के पिता ने शादी की तैयारियों व 5 स्टार होटल बुक कराने के नाम पर उनसे 30 लाख रुपए ऐंठ लिए और साथ ही 50 लाख रुपए दहेज के रूप में मांगे।  पैसे देने की असमर्थता पर लड़के पक्ष ने शादी तोड़ दी। जिसके बाद लड़की पक्ष ने जब बरीक्षा में दिया हुआ अपना नकद और सामान वापस मांगा, तो उल्टा फंसाने की धमकी दी। पुलिस का कहना है कि मामले की रिपोर्ट दर्ज कर जांच-पड़ताल की जा रही है। 

Continue Reading

प्रदेश

लविवि के खाते से करोड़ों का चूना लगाने वाले जालसाज को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ पुलिस

फाइल फोटो

लखनऊ।राजधानी लखनऊ पुलिस ने ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो लखनऊ विश्वविद्यालय की फर्जी चेक पर करोड़ों रुपयों का गबन किया था। बता दें कि इस बात की जानकारी लगते ही विश्वविद्यालय के कुलसचिव की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस जांच कर रही थी। जांच के दौरान पुलिस ने लखनऊ में यूको बैंक का पूर्व अधिकारी का शामिल होना पाया गया था। जिसकी पहचान आनंद शुक्ला के रूप में हुई है। जो गोमतीनगर निवासी है। पुलिस ने उनको हिरासत में लेकर और लोगों से पूछताछ कर रही है।

एसपीटीजी राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया की लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने हसनगंज थाना में एक मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें उनका कहना था कि फर्जी चेक लगा कर करोड़ों रुपयों का गबन किया गया है। जिसमें पुलिस ने 420 की धारा में मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है। वहीं जांच के दौरान पुलिस ने यूको बैंक के पूर्व अधिकारी आनंद शुक्ला के साथ मानस कुमार उर्फ रोशन को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि आनंद शुक्ला को फर्जी चेक का डिमोशन कर सर्विस ब्रांच आईटी शाखा लखनऊ में तैनात किया गया था। जहां से यह आरोपी चेक की सूचनाएं फैजाबाद भेजता था।

ये भी पढ़ें:यूपी में चुनावी नैया पार लगाने के लिए पिछड़ा, अति पिछड़ा को साधने में जुटी कांग्रेस

इतना ही नहीं इसके साथ ही चेक की रंगीन छाया प्रति कॉपी तैयार कर उसका इस्तेमाल करते थे और इन चेकों का इस्तेमाल कर चूना लगा रहे थे। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है। साथ ही इसमें और कौन-कौन से बैंक के कर्मचारी या अधिकारी शामिल है इसके बारे में भी अभी जांच की जा रही है। फिलहाल इस मामले में तीन आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार करके जेल भेजा जा चुका है अन्य जो भी साक्ष सामने आएंगे उसके आधार पर लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

यूपी में चुनावी नैया पार लगाने के लिए पिछड़ा, अति पिछड़ा को साधने में जुटी कांग्रेस

Published

on

कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग की मंडलीय बैठक संपन्न

लखनऊ। करीब तीन दशक से यूपी की सत्ता से बाहर कांग्रेस अब पूरे जोर-शोर से मिशन 2022 में जुट गयी है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को उसकी जमीन वापस दिलाने के लिए प्रियंका गांधी खुद चुनावी मैदान में उतर चुकी हैं। हालांकि 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रियंका कोई करिश्मा नहीं दिखा सकीं। लेकिन अब पार्टी आगामी यूपी विधानसभा चुनावों में कामयाबी के लिए सोशल इंजीनियरिंग में जुट गयी है।
सोमवार को लखनऊ स्थित कांग्रेस कार्यालय में पूर्व सांसद राजाराम पाल के नेतृत्व में कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग की मंडलीय बैठक आयोजित हुई। पार्टी को मजबूत करने के लिए प्रियंका गांधी का जोर उन निचले संगठनों को पुनर्जीवित करने पर है, जो कभी पार्टी की ताकत हुए करते थे। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राजाराम पाल ने कहा, प्रियंका गांधी मुझे प्रदेश में पिछड़े वर्ग व अति पिछड़े वर्ग को पार्टी से जोड़ने का जिम्मा सौंपा है।

समाज के इस वर्ग को पार्टी से जोड़ने के लिए राजाराम पाल प्रदेश के सभी 18 मंडलों में भ्रमण के लिए 18 दिवसीय यात्रा कर रहे हैं। अभियान के 12वें दिन मंगलवार को राजाराम पाल लखनऊ मंडल पहुंचे। पूर्व सांसद ने बताया कि 13 जनवरी को आगरा में इस अभियान की समाप्ति होगी। 15 जनवरी को प्रदेश मुख्यालय में समीक्षा बैठक कर प्रियंका गांधी खुद प्रदेश के पिछड़ा और अति पिछड़ा समाज के लोगों के साथ संवाद करेंगी।

निचले संगठनों में जान फूंक रही कांग्रेस

मीडिया से बात करते हुए राजाराम पाल ने कहा, उत्तर प्रदेश में पिछले 30 वर्षों से कांग्रेस सत्ता से बाहर है। कांग्रेस को सत्ता में लाने के लिए राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी को जिम्मेदारी दी थी। पार्टी ने 2019 के आम चुनाव से पहले प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया था। लोकसभा चुनाव के बाद प्रियंका गांधी कांग्रेस के सभी संगठनों में आमूल-चूल परिवर्तन किया है। सभी संगठनों में समाज के हर वर्ग को प्रतिनिधित्व दिया गया है। जिलों में पदाधिकारी बनाने में हमारी पार्टी ’जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी’ का फार्मूला अपनाया है। वरिष्ठ कांग्रेसजनों से भी सलाह ली जा रही है।

भाजपा और सपा बसपा में बंट गए कांग्रेस के 3 मैटीरियल

राजाराम पाल ने कहा कि पिछले कुछ समय में कांग्रेस ने चिंतन और मंथन किया है कि आखिर किन कारणों से कांग्रेस पिछले 30 वर्ष से सत्ता से बाहर है? जिसके बाद इस निष्कर्ष पर पहुुंचा गया कि कांग्रेस जिन तीन मैटीरियलों से बनी थी, पिछले 3 दशकों में वह तीनों मैटीरियल बिखर गए हैं। पूर्व सांसद ने कहा कि 30 साल पहले पूरी अपर कास्ट, सभी अल्पसंख्यक व दलित कांग्रेस में थे, 30 वर्षों में तीन दल बने हैं, जिसके बाद अपर कास्ट भाजपा में चला गया है, दलित बसपा में चला गया और मुसलमान सपा-बसपा दोनों में बंट गया।

यह भी पढ़ें-राष्ट्रीय युवा उत्सव की तैयारियां तेज, मंडलायुक्त ने मांगा आयोजन का पूरा प्लान

प्रदेश में आधी आबादी पिछड़ा, अति पिछड़ा की है, उसमें 95 प्रतिशत आबादी मुसलमानों की है, जिस पर कांग्रेस ने ध्यान नहीं दिया। राजाराम पाल ने कहा कि यह जो पिछड़ा, अति पिछड़ा में आधी से ज्यादा आबादी है, उसके बिना कांग्रेस खड़ी नहीं हो सकती है। इसलिए अब इन सभी लोगों को कांग्रेस से जोड़ा जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 4:51 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
20°C
real feel: 19°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 63%
wind speed: 1 m/s NE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending