Connect with us

प्रदेश

यूपी: सीएचसी में इलाज न मिलने से मां और नवजात की मौत…

Published

on

हरदोई: स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही एक बार फिर उजागर होकर आई है। जहां एक तरफ टड़ियावां थाना क्षेत्र में अहिरोरी गांव के मजरा व्यास पुरवा निवासी प्रसूता और उसके नवजात बच्चे ने सीएचसी में इलाज न मिलने से दम तोड़ दिया। वहीं दूसरी तरफ सवायजपुर तहसील क्षेत्र के  हरपालपुर गांव में घोड़ीथर निवासी प्रसूता और उसके नवजात बच्चे को एंबुलेंस न मिलने के कारण तांगे से अपने घर वापस जाना पड़ा।

आपको बता दें कि इन दोनों मामलों में सीएमओ ने कार्रवाई की बात कही है। पहले मामले में अहिरोरी गांव के मजरा व्यास पुरवा निवासी रमाकांत ने बताया कि प्रसव पीड़ा होने पर शनिवार को उसने पत्नी लक्ष्मी को अहिरोरी सीएचसी में भर्ती कराया था। लेकिन जब पत्नी की तबीयत बिगड़ी तो उसने सीएचसी में मौजूद डॉक्टर से इलाज करने को कहा, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद रविवार शाम वह प्राइवेट वाहन से पत्नी लक्ष्मी को हरदोई के नर्सिंग होम ले जा रहा था, तभी रास्ते में उसकी पत्नी ने मृत बच्चे को जन्म दिया। इस दौरान उसकी पत्नी की भी मौत हो गई। जिसके बाद रमाकांत ने बताया कि वह पूरे मामले की शिकायत अधिकारियों से करेगा।

ये भी पढ़ें: शिवपाल ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर उठाए सवाल, 8 अगस्त को लखनऊ में प्रदर्शन करेगी प्रसपा

दूसरे मामले में हरपालपुर गांव के घोड़ीथर निवासी प्रदीप ने प्रसव पीड़ा होने पर रविवार को पत्नी मनोरमा को सीएचसी में भर्ती कराया था। सीएचसी स्टाफ ने प्रसव में वक्त होने के बात कहकर उसे लौटा दिया था। देर शाम फिर से पीड़ा बढ़ी तो परिजन मनोरमा को लेकर सीएचसी पहुंचे और उसे भर्ती कराया। सोमवार सुबह चार बजे मनोरमा ने बेटे को जन्म दिया। दोपहर को मनोरमा व नवजात दोनों के स्वस्थ्य होने पर अस्पताल प्रशासन ने उनकी छुट्टी कर दी। प्रदीप ने घर वापसी के लिए एम्बुलेंस दिलाए जाने को कहा तो सीएचसी स्टाफ ने हाथ खड़े कर दिए। काफी देर तक एंबुलेंस की व्यवस्था न होने पर आखिर में प्रदीप प्रसूता पत्नी मनोरमा व नवजात को तांगे से लेकर घर रवाना हुआ। सीएमओ ने बताया कि प्रसूता को सुविधाएं न मिलना व सीएचसी में वसूली किया जाना गंभीर विषय है। अगर ऐसा पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी।  http://www.satyodaya.com

प्रदेश

कानपुर मेट्रो के 50 दिन पूरे, जल्द शुरू होगी यू-गर्डर की कास्टिंग

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लि. की देख-रेख में चल रही कानपुर मेट्रो परियोजना के सिविल निर्माण कार्य के 50 दिन पूरे हो चुके हैं। 15 नवंबर, 2019 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सिविल निर्माण कार्य उद्घाटन के बाद महज 50 दिनों के भीतर ही कानपुर मेट्रो परियोजना के लगभग 9 किमी. लंबे प्रयॉरिटी कॉरिडोर (आईआईटी, कानपुर से मोतीझील) के अंतर्गत 3 पियर्स (पिलर्स) तैयार किए जा चुके हैं। 6 पियर्स के रीइन्फ़ोर्समेन्ट का काम भी पूरा हो चुका है। जल्द ही यू-गर्डर की कास्टिंग का काम भी शुरू हो जाएगा। जिसकी तैयारियां अपने अंतिम चरण में पहुंच चुकी हैं।

आज यूपीएमआरसी के वरिष्ठ अधिकारियों (परियोजना) ने पूरे कॉरिडोर के साथ-साथ पॉलिटेक्निक स्थित डिपो और कास्टिंग यार्ड का दौरा किया। उन्होंने मुख्य रूप से कास्टिंग यार्ड में हो रही यू-गर्डर की कास्टिंग की तैयारियों का जायजा लिया। काम की प्रगति देखकर संतुष्टि जताई। इसके बाद मेट्रो अधिकारियों ने राष्ट्रीय शर्करा संस्थान के पास तैयार हो चुके तीनों पियर्स की फिनिशिंग की भी काफी तारीफ की। सिविल निर्माण कर रही एजेंसी को साफ तौर पर हिदायत दी गई कि मार्शलों की तैनाती में और बैरिकेडिंग के स्थानों पर सफाई व सुरक्षा की व्यवस्था में किसी तरह की ढील न बरती जाए।

यह भी पढ़ें: शोहदों ने स्कूटी सवार नाबालिग से की छेड़छाड़, विरोध करने पर स्कूटी से खींचकर की अभद्रता

मेट्रो के वरिष्ठ अधिकारी लगातार सिविल निर्माण कार्य की प्रगति पर नजर बनाए हुए हैं। यूपीएमआरसी के अधिकारी शहर के यातायात और साफ-सफाई को सुव्यवस्थित बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के वीसी ने लगायी सुरक्षा की गुहार

Published

on

15 दिसंबर से बंद विवि 13 जनवरी से फिर खुलेगा

लखनऊ। यूपी के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के कुलपति प्रोफेसर तारीख मंसूर ने डीजीपी ओपी सिंह को एक पत्र लिखकर सुरक्षा की गुहार लगायी है। वीसी ने डीजीपी व प्रमुख सचिव को चिट्ठी लिखकर अपनी व अपने परिवार को सुरक्षा उपलब्ध करवाने की मांग की है। वीसी की चिट्ठी सामने आने के बाद अलीगढ़ एसएसपी ने कहा कि वीसी को सुरक्षा प्रदान की जाएगी। बता दें कि पिछले वर्ष 15 दिसंबर को एएमयू परिसर में सीएए विरोध को लेकर छात्रों व पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई थी। जिसके बाद विवि बंद कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें-फिरोजाबाद में सीएए हिंसा के पीड़ित परिवारों से मिले अखिलेश यादव

अब एक बार फिर से 13 जनवरी से एएमयू दोबारा खुलने वाला है। लेकिन उससे पहले एएमयू वीसी ने अपनी जान का खतरा बताकर सुरक्षा की मांग की है। वीसी ने कुछ असामाजिक तत्वों और विवि के निष्कासित छात्रों द्वारा किसी हिंसक वारदात की आशंका जाहिर की है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

बकाया वेतन 15 दिन के अन्दर न मिला तो संविदा कर्मी करेंगे कार्य बहिष्कार

Published

on

लखनऊ। विद्युत संविदा मजदूर संगठन की प्रदेश कार्यकारिणी बैठक आज संगठन कार्यालय नरही में हुआ। जो संबिदा संगठन के नव-निर्वाचित प्रान्तीय अध्यक्ष भोला सिंह कुशवाह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।

बैठक को विद्युत संविदा मजदूर संगठन के संरक्षक आर. एस. राय, व अरुण कुमार, आलोक सिन्हा, प्रताप सिंह, पुनीत राय, अभिजीत भट्टाचार्य, वीरेंद्र मिश्रा, नवल किशोर सक्सेना, आशीष कुमार, अजय भट्टाचार्य, अविनाश श्रीवास्तव, उदय प्रताप सिंह, राहुल कुमार और मीडिया प्रभारी विमल चंद्र पांडे ने सम्बोधित किया।

बैठक मे संविदा कर्मियों के चार से पाँच माह के बकाया वेतन की चर्चा करते हुये वरिष्ठ मजदूर नेता आर. एस. राय ने कहा कि ऊर्जामंत्री श्रीकान्त शर्मा द्वारा बकाये वेतन के भुगतान का आश्वासन के बावजूद अभी तक पूरे प्रदेश के संविदा कर्मियों का चार से पांच माह का वेतन बकाया रखना निन्दनीय है। उन्होंने कहा कि एक पखवाड़े के अन्दर वेतन का भुगतान नही किया गया तो-1 फरवरी से पूरे प्रदेश मे संविदा कर्मियों द्वारा कार्य बहिष्कार किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि बकाया वेतन के भुगतान न होने की स्थिति मे 1 फरवरी से प्रदेश व्यापी कार्य बहिष्कार किया जायेगा। संविदा कर्मियों को रेगुलर कर्मियों के बराबर वेतन दिये जाने पर विचार किया जाय तथा विभाग मे कार्यरत सैनिक कल्याण निगम के कर्मचारियों के बराबर संविदा कर्मियो को भी वेतन दिया जाए। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के आलोक में 35000 रिक्त पदों पर वीभाग मे कार्यरत संबिदा कर्मियों को समायोजित किया जाए। 10 फरवरी 2015 को 155 संबिदा कर्मियों पर किया गया फर्जी मुकदमे वापस लिया जाय।

यह भी पढ़ें: व्यापारी से मारपीट कर ढाई लाख रुपये की लूट, गले में पहनी चेन भी छीनी

प्रदेश कार्यकारिणी ने अलीगढ़ के प्रताप सिंह को कार्यवाहक अध्यक्ष, नवल किशोर सक्सेना को मध्यांचल डिस्काम अध्यक्ष व वीरेन्द्र मिश्रा को महामंत्री और शशिभूषण सिंह को पूर्वांचल डिस्काम अध्यक्ष और रमेश मौर्या को महामंत्री मनोनीत किया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 12, 2020, 1:41 am
Mostly clear
Mostly clear
9°C
real feel: 10°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 92%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:27 am
sunset: 5:02 pm
 

Recent Posts

Trending