Connect with us

प्रदेश

UP एसआई भर्ती 2017 का परिणाम रद्द, फिर से रिजल्ट जारी करने का आदेश

Published

on

उत्तर प्रदेश एसआई भर्ती 2017 का परिणाम रद्द कर दिया गया है। जिसके बाद नए सिरे से रिजल्ट जारी करने का आदेश भी जारी हुए हैं। वहीं इस भर्ती में चयनित अभ्यर्थी ट्रेनिंग लेकर नियुक्ति भी पा चुके हैं। अब ऐसे में परिणामों को रद्द कर देने के बाद उनकी नौकरियां खतरे में आ सकती हैं।

यह भी पढ़ें: अभिषेक मनु सिंघवी का मोदी सरकार पर तंज, कहा- मीठा-मीठा गप, कड़वा-कड़वा थू

बता दें कि 2017 में दरोगा पद की भर्ती के लिए 2707 पदों का विज्ञापन जारी किया गया था। इसकी परीक्षा के बाद कई बार संशोधित परिणाम जारी किए गए। अंतिम बार 28 फरवरि 2019 को इसके रिजल्ट जारी किए गए थे। उसके बाद भी परिणामों के खिलाफ 130 याचिकाएं दाखिल हुईं। याचिकाओं में सामान्यीकरण और गलत उत्तरों के आधार पर परीक्षा परिणामों को चुनौती दी गई थी। जिसके सुनवाई करते हुए अदालत ने बुधवार को सभी शिकायतों का निवारण करके फिर से परिणाम जारी करने के आदेश दिए है। http://www.satyodaya.com

प्रदेश

नशे में धुत वैन चालक ने कार को मारी टक्कर, दहशत में आई छात्रा ने मचाया शोर

Published

on

जानकीपुरम

फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी के जानकीपुरम स्थित एक निजी स्कूल की वैन के चालक ने सामने आ रही कार में टक्कर मार दी। हादसा टेढ़ी पुलिया चौराहे के पास हुआ है। वहीं इस हादसे के दौरान कार में बैठी छात्रा दहशत में आ गई और वह चीखने चिल्लाने लगी। तभी छात्रा की चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर राहगीर रुक गए। इसी दौरान चालक भागने की कोशिश करने लगा तो राहगीरों ने धरदबोचा लिया। वहीं इस दौरान राहगीरों ने वैन चालक की धुनाई कर दी।

राहगीरों के मुताबिक, चालक शराब के नशे में धुत था। इसकी सूचना मिलते ही टीएसआई ने विकासनगर पुलिस को सूचना दी। पुलिस आरोपी चालक को थाने लेकर गई जहां दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया। जिसके बाद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

ये भी पढ़ें:हापुड़: संदिग्ध हालत में रेलवे ट्रैक पर मिला युवक-युवती का शव, जांच में जुटी पुलिस

बता दें कि, नशे में धुत चालक द्वारा स्कूली वैन चलाने की जानकारी लगते ही भीड़ आक्रोशित हो गई। लोगों ने आरोपी चालक को पकड़ लिया। उसकी धुनाई करनी शुरू कर दी। इसी दौरान टीएसआई वहां पहुंच गए। उनके हस्तक्षेप से मामला शांत हुआ। बताते चलें कि चालक नशे में गाड़ी न चलाने की बात कहकर राहगीरों से हाथ जोड़ कर माफी मांगने लगा। इस बीच लोगों ने चालक का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया।

प्रभारी निरीक्षक विकासनगर धीरज शुक्ला ने बताया कि, जानकीपुरम स्थित एक निजी स्कूल की वैन का चालक कक्षा नौ की छात्रा को छोड़ने के लिए गुडंबा जा रहा था। टेढ़ी पुलिया चैराहे के पास वैन ने खुर्रमनगर की तरफ से आ रही कार में टक्कर मार दी। इसे लेकर विवाद होने लगा। गाड़ी टकराने और झगड़ा होते देख वैन में सवार छात्रा सहम कर मदद के लिए शोर मचाने लगी। हंगामा होते देख चैराहे पर तैनात टीएसआई छात्रा की मदद के लिए दौड़े और चालक को थाने ले आए। छात्रा के अभिभावकों को सूचना दी गई थी। जिस पर परिवार वाले उसे साथ ले गए, जबकि चालक को थाने लाया गया था। इस बीच कार सवार भी थाने आ गए थे जहां दोनों पक्षों ने समझौता कर लिया। इसकी वजह से कार्रवाई नहीं की गई।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

हापुड़: संदिग्ध हालत में रेलवे ट्रैक पर मिला युवक-युवती का शव, जांच में जुटी पुलिस

Published

on

रेलवे स्टेशन

फाइल फोटो

हापुड़। दिल्ली से हापुड़ जिले के गढ़मुक्तेश्वर रेलवे स्टेशन के निकट रेलवे ट्रैक पर एक युवक व युवती का शव मिलने पर लोगों में अफरातफरी मच गई। मृतक युवक व युवती दोनों नगर के ही रहने वाले थे। हालांकि पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। स्थानीय लोग दोनों के द्वारा आत्महत्या करने और युवती के परिजन मृतक युवक पर युवती को घर से बुलाकर हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं। फिलहाल युवती के परिजनों ने कोई तहरीर नहीं दी है।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सुबह कुछ लोग नगर स्थित रेलवे स्टेशन के निकट रेलवे ट्रैक के पास घूम रहे थे। इस दौरान उन्होंने रेलवे ट्रैक पर एक युवती व युवक का शव पड़ा देखा। शव को देखकर लोगों ने स्थानीय पुलिस को सूचना दी है। सूचना मिलने पर पुलिस में हड़कंप मच गया।

वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शिनाख्त का प्रयास किया तो युवक की शिनाख्त नगर के एक मोहल्ला निवासी 20 वर्षीय के रूप में हुई, जबकि युवती की शिनाख्त भी उसी मोहल्ला निवासी 21 वर्षीय के रूप में हुई। हलांकि पुलिस द्वारा दोनों के परिजनों को घटना की जानकारी दी। जानकारी मिलने पर पहुंचे दोनों के परिजनों में कोहराम मच गया।

ये भी पढ़ें: बंगाल: भारत बंद के असर के बीच नॉर्थ परगना के रेलवे ट्रैक के पास मिला 4 देसी बम…

वहीं परिजनों ने बताया कि दोनों देर रात घर से निकल गए थे। शुक्रवार सुबह मृतक युवक ने युवती के परिजनों को फोन कर स्याना फाटक के निकट खड़ा होने की जानकारी दी थी।

युवती के परिजनों ने आरोप लगाया है कि युवक ने उनकी युवती को घर से बुलाकर ट्रेन के सामने फेंक दिया और उसके बाद खुद आत्महत्या कर ली। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कोतवाली प्रभारी राजपाल सिंह तोमर ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

राज्य बाल संरक्षण आयोग ने बेसहारा बच्चों को पढ़ाने की उठाई जिम्मेदारी

Published

on

लखनऊ। राज्य बाल संरक्षण आयोग ने बाल श्रमिकों और बेसहारा बच्चों के लिए एक नयी पहल की शुरुवात करने जा रहे है। अब गरीब बच्चों के हाथों में चाय के गिलास और कचरे की बोरी की जगह किताबें होंगी। राज्य बाल संरक्षण आयोग ने ऐसे बच्चों को ABCD और क, ख ग पढ़ाने की जिम्मेदारी उठाई है।

बता दें कि राज्य बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष डॉ विशेष गुप्ता के मुताबिक इस पहल के जरिए प्रदेश के ऐसे बच्चों को प्री प्राइमरी शिक्षा देकर शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत स्कूलों में उनका दाखिला कराएगा। उन्होंने बताया कि इस पहल का मकसद बच्चों को मुख्य धारा से जोड़कर उन्हें शिक्षित करना है। उन्होने कहा कि पायलट प्रॉजेक्ट के तौर पर इसकी शुरुआत मुरादाबाद से की जा रही है। इसके तहत आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को पढ़ाने का काम किया जाएगा। साथ ही उनके पोषण की जिम्मेदारी बाल विकास एवं पुष्टाहार को सौंपी जाएगी।

यह भी पढ़ें: प्रयागराज में आज माघ मेले का आगाज, CM योगी ने दी कल्पवासियों को शुभकामनाएं

इस काम में आंगनबाड़ी के शिक्षक, एनजीओ सहित यूनिसेफ के विशेषज्ञ भी बच्चों को पढ़ाएंगे। प्रॉजेक्ट की सफलता के बाद लखनऊ शहर में भी शुरुआत की जाएगी। इस पर चर्चा चल रही है। उन्होंने बताया कि इस प्रॉजेक्ट में बेसिक शिक्षा विभाग के साथ-साथ श्रम विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार, पंचायती विभाग और जिला प्रशासन से भी कोऑर्डिनेट किया जा रहा है। बता दें कि बच्चों को ब्रिज कोर्स से पढ़ाई कराई जाएगी। इसमें बच्चों की उम्र और उनके ज्ञान को देखकर ही उन्हें बेसिक लर्निंग की जानकारी दी जाएगी। पढ़ाई के लिए 40 बच्चों का समूह बनाया जाएगा। उन्हें रोचक तरीके से पढ़ाने की कोशिश की जाएगी। बच्चे रेगुलर पढ़ाई करने आए इसकी मॉनिटरिंग श्रम विभाग करेगा।

अभिभावकों को रोजगार परक कोर्स भी सिखाएं जाएंगे, उन्होंने बताया कि पूरी पहल में बच्चों के साथ-साथ उनके अभिभावकों को भी बेहतर रोजगार के अवसर दिए जा रहे है। इसके लिए अभिभावकों को कौशल विभाग रोजगार परक कोर्स कराएगा। इससे अभिभावक अपनी आमदनी के लिए बच्चों पर निर्भर न रहे और बच्चे बेहतर पढ़ाई कर सकें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 10, 2020, 12:11 pm
Fog
Fog
12°C
real feel: 13°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 83%
wind speed: 2 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 6:27 am
sunset: 5:01 pm
 

Recent Posts

Trending