Connect with us

प्रदेश

उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी 15 फरवरी से शुरू करेगी त्रैमासिक मीडिया पाठ्यक्रम : आसिफा जमानी

Published

on

उर्दू अकादमी

फाइल फोटो 
लखनऊ । उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी के तत्वावधान में 15 फरवरी 2019 से मीडिया क्षेत्र में व्यावसायिक प्रशिक्षण के उद्देश्य से त्रैमासिक मीडिया पाठ्यक्रमों का शुभारम्भ उर्दू मीडिया सेंटर के माध्यम से किया जाएगा । इसमे सबसे पहले 15 फरवरी को ‘रेडियो जॉकी और रेडियो टेक्नोलॉजी’ के पाठ्यक्रम का संचालन अकादमी भवन में किया जाएगा ।

इन विषयों पर बात करते हुए अकादमी की अध्यक्ष एवं प्रोफेसर एमेरिटस आसिफा जमानी (पद्मश्री) ने बताया कि छात्र-छात्राओं को रेडियो के क्षेत्र में आगे लाने के लिए हम सभी लोगों को काफी मेहनत और चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है । ऐसे में हम छात्र और छात्राओं को नए प्रयोगों के माध्यम से शिक्षित करने का पूरा प्रयास करेंगे । उन्हें विषयों के ज्ञान के साथ-साथ ब्राडकास्टिंग, स्टूडियो उपकरणों, आउटडोर रिकॉर्डिंग के साथ रेडियो विधा, फोर्मट्सलेखनरेडियो, अभिनयकॉमर्शियल तथा विज्ञापन निर्माण आदि विषयों पर व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया जाएगा ।

प्रशिक्षण प्राप्त करने के 3 महीने बाद सर्टिफिकेट देने के लिए अकादमी द्वारा विशेषज्ञों को बुलाया जाएगा । जिनमें रेडियो, दूरदर्शन, लेखन व रंगमंच से जुड़ी नामचीन हस्तियों जैसे प्रतुल जोशी, उर्मिल कुमार थपलियाल, ललित सिंह पोखरिया, फैसल रियाज, राजा अवस्थी आदि शामिल होंगे । आसिफा जमानी ने ये भी कहा कि अकादमी द्वारा पढ़ाई खत्म होने के अगले महीने छात्र-छात्राओं को असिस्टेंट व अकादमी के इंटरनेट रेडियो चैनल के माध्यम से अपने कार्यक्रमों का प्रसारण का भी मौका मिलेगा ।

इस पाठ्यक्रम की सबसे खास बात यह है कि 3 महीने के अंदर दो प्रोजेक्ट कराए जाएंगे । जिसमें एक असिस्टेंट और दूसरा सेल्फ प्रोजेक्ट होगा । इन्ही प्रोजेक्टों के आधार पर प्रमाणपत्र दिए जाएंगे । प्रेस वार्ता में बताया गया की अकादमी द्वारा मीडिया सेण्टर के माध्यम से वर्ष में तीन पाठ्यक्रम चलाये जायेंगे जिनमें रेडियो जॉकी एंड रेडियो टेक्नोलॉजी, सिनेमेटोग्राफी व फिल्म मेकिंग तथा ऑडियो व विडियो एडिटिंग के पाठ्यक्रम होंगे ।http://www.satyodaya.com

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टेक्नोलॉजी

jio के ‘‘डिजिटल उड़ान’’ लांन्च से पहली बार इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों को होगा फायदा…

Published

on

नई दिल्ली। जिओ ने आज भारत में डिजिटल साक्षरता अभियान की शुरूआत की घोषणा की है। ‘डिजिटल उड़ान’ नाम की यह नई पहल, पहली बार इंटरनेट इस्तेमाल कर रहे उपभोक्ताओं में डिजिटल साक्षरता और इंटरनेट की समझ विकसित करने में मदद करेगी। जिओ की बदौलत 30 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता आज डिजिटल वर्ल्ड का हिस्सा हैं, जिनमें से कई पहली बार इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं। डिजिटल उड़ान में हर शनिवार जिओ अपने उपयोगकर्ताओं को जिओ फोन के फीचर्स के बारे में जानकारी देगा। विभिन्न ऐप और इंटरनेट सुरक्षा का उपयोग कैसे करें, खासतौर पर जिओ फोन पर फेसबुक से जुड़ने का सरल व सुरक्षित तरीका कौन सा है, यह जियो अपने ग्राहकों को बताएगा। इसे 10 क्षेत्रीय भाषाओं में आॅडियो-ट्रेनिंग के माध्यम से किया जाएगा। जिओ ने फेसबुक के साथ मिलकर यह सुनिश्चित करने की कोशिश की है कि डिजिटल उड़ान का माॅड्यूल लोगों के लिए प्रासंगिक हो। साथ ही ट्रेनर्स को ट्रेन करने के लिए भी विशेष प्रशिक्षण सत्र के साथ ट्रेनिंग वीडियो और सूचना ब्रोशर दिए जाएंगे। शुरुआत में यह कार्यक्रम को 13 राज्यों में लगभग 200 विभिन्न स्थानों में लाॅन्च किया जाएगा। इसके जल्द ही 7 हजार से अधिक स्थानों तक पहुंचने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें :- मौलाना कल्बे सादिक से मिलने पहुंचे राज्यपाल, जाना उनकी सेहत का हाल

रिलायंस जिओ के निदेशक, आकाश अंबानी ने कहा कि जिओ हमेशा भारतीय उपभोक्ता के डिजिटल लाइफ एक्सपिरियंस को बढ़ाने के लिए प्रमुख वैश्विक भागीदारों के साथ काम करना चाहता है। डिजिटल उड़ान पहला एक ऐसा उदाहरण है, जो सूचना की बाधाओं को दूर कर, वास्तविक समय में सूचना को उपभोक्ताओं तक पहुंचाने में मदद करेगा। यह समावेशी सूचना, शिक्षा और मनोरंजन का एक विशेष कार्यक्रम है, हमारी कोशिश है कि कोई भी भारतीय इस डिजिटल ड्राइव से नहीं छूटे। देश में 100 प्रमिशत डिजिटल साक्षरता हासिल करने के लिए जिओ ने भारत के हर शहर और गांव में इसे ले जाने का संकल्प लिया है।

अजीत मोहन, वीपी और एमडी फेसबुक इंडिया ने इस पहल के बारे में बात करते हुए कहा, जिओ लाखों भारतीयों को सशक्त बनाने और इंटरनेट तक पहुंच का विस्तार करके भारत की डिजिटल क्रांति को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। फेसबुक इस मिशन में एक सहयोगी है, जिओ के साथ नए इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को आकर्षित करने और उनके लिए तंत्र बना कर हम खुश हैं। यह अनूठी पहल प्रतिभागियों को डिजिटल रूप से देश और दुनिया से जोड़ेगी। फेसबुक के माध्यम से ग्राहकों के पास ज्ञान का भंडार, सरकारी योजनाओं के लाभ, आवश्यक सेवाओं और मनोरंजन तक पहुंच के साथ जिओ ऐप्स भी होंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

मौलाना कल्बे सादिक से मिलने पहुंचे राज्यपाल, जाना उनकी सेहत का हाल

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक बुधवार को वरिष्ठ शिया धर्म गुरू मौलाना कल्बे सादिक से मिलने एरा मेडिकल कॉलेज पहुंचे। यहां उन्होंने उनकी सेहत का हालचाल जाना साथ ही उनके जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना की। इस दौरान उन्होंने अटल जी को भी याद किया।

मौलाना कल्बे सादिक काफी समय से बीमार चल रहे हैं। एरा मेडिकल कॉलेज में उनका इलाज हो रहा है। राज्यपाल ने आज उनसे मुलाकात की और कहा कि, ‘जल्द ठीक होइये, आपको अभी समाज के लिये बहुत काम करना है। मैं जब कैंसर रोग से पीड़ित था तो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने हिम्मत दिलाई थी। ठीक होने पर कहा कि राम भाऊ बोनस में मिला जीवन ईश्वर ने समाज सेवा के लिये दिया है।’ जैसे अटल जी ने मुझसे कहा था वैसे ही मैं भी आपसे कहता हूं कि, अपनी इच्छा शक्ति बनाये रखिये।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

प्रियंका ने साधा योगी सरकार पर निशाना, कहा- प्रदेश में अपराधियों के कारनामे चरम पर

Published

on

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार से योगी सरकार पर निशाना साधा है। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में दिनदहाड़े बदमाशों द्वारा उप निरीक्षक को गोली मारकर घायल कर देने और पेशी में आये अपने साथी को छुड़ा ले जाने पर कांग्रेस महासचिव प्रदेश सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि प्रदेश में अपराधों की बाढ़ आ गयी है।

प्रियंका ने बुधवार को ट्वीट किया कि “उप्र सरकार के नेता प्रदेश में लगातार बढ़ते अपराध पर मेरे ट्वीट का कुछ भी झूठ मूठ जवाब दे दें, मगर पुरानी कहावत है ‘हाथ कंगन को आरसी क्या, पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या’। उत्तर प्रदेश में अपराधियों के कारनामे चरम पर हैं और जनता पूछ रही है कि ऐसा क्यों?”

बता दें, प्रियंका ने पिछले दिनों एक ट्वीट कर प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर योगी सरकार को आड़े हाथों लिया था। उन्होंने लिखा था कि, पूरे उत्तर प्रदेश में अपराधी खुलेआम मनमानी करते घूम रहे हैं। एक के बाद एक अपराधिक घटनाएं हो रही हैं। मगर उ.प्र. भाजपा सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। क्या उत्तर प्रदेश सरकार ने अपराधियों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है? लेकिन प्रियंका के हमले का जवाब देने यूपी पुलिस सामने आ गई थी।

ये भी पढ़ें: राहुल के ऐलान के बाद मोतीलाल वोहरा हो सकते हैं अंतरिम अध्यक्ष

प्रदेश पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया था कि, ‘गंभीर अपराधों में यूपी पुलिस द्वारा अपराधियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की गई है। दो वर्षों में 9,225 अपराधी गिरफ्तार हुए और 81 मारे गए हैं। रासुका में प्रभावी कार्रवाई कर लगभग दो अरब की संपत्ति जब्त की गई है। डकैती, हत्या, लूट और अपहरण जैसी घटनाओं में अप्रत्याशित कमी आई है।’

साथ ही प्रदेश पुलिस ने लिखा था कि, ‘यूपी पुलिस द्वारा प्रभावी कार्रवाई करने के फलस्वरूप अपराधों में 20 से 35 फीसदी की कमी आई है। सभी सनसनीखेज अपराधों का यथासंभव 48 घंटे में खुलासा हुआ है। प्रभावशाली अपराधियों के विरुद्ध भी कठोर पुलिस कार्रवाई अमल में लाकर कानून का राज स्थापित किया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 3, 2019, 8:06 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
33°C
real feel: 38°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 62%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:48 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending