Connect with us

प्रदेश

वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस में काम कम बजट ज्यादा

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ । वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस के आयोजन में यूपी प्रवासी दिवस की जिम्मेदारी से जुड़ी दो कार्यदाई संस्थाओं के कामकाज पर उठ रहे हैं गंभीर सवाल । जिम्मेदारी से जुड़ी संस्था ने कम काम करने के बावजूद अधिक भुगतान का बिल शासन को किया है पेश । शासन ने प्रवासी भारतीय दिवस के साथ ही यूपी प्रवासी दिवस का किया था आयोजन ।

यह भी पढ़ें : कोलकाता पुलिस ने अमित शाह पर दर्ज की एफआईआर

कार्यदाई संस्था को टेंडर के जरिए 6.25 करोड़ में इवेंट के आयोजन की दी गई थी जिम्मेदारी आयोजन समाप्त होने के बाद संस्था ने 51 लाख की अतिरिक्त की थी मांग । पड़ताल में पाया गया कि संस्थानों ने खर्च के दावे बढ़ा चढ़ाकर किए हैं पेश । शासन ने संस्था द्वारा बिलो में कटौती करने का किया फैसला । मंडलायुक्त वाराणसी की अध्यक्षता में गठित परिवहन समिति के सत्यापन के बाद वास्तविक आधार पर भुगतान करने के दिए गए निर्देश । प्रमुख सचिव एन आर आई की समीक्षा में तथ्य सामने आने के बाद मंडल आयुक्त वाराणसी व अन्य अफसरों को कार्यवाही के दिए गए निर्देश ।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रदेश

व्यापारी पेंशन योजना लागू करने के लिए आदर्श व्यापार मंडल ने पीएम मोदी का जताया आभार

Published

on

व्यापारियों को पेंशन योजना मोदी सरकार का मील का पत्थर निर्णय है : संजय गुप्ता

लखनऊ। 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद व्यापारियों को पेंशन प्रदान करने के अपने वादे को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल, संबद्ध कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया है। उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा कि यह व्यापारियों की काफी पुरानी और लंबे समय से चली आ रही मांग थी। केंद्र सरकार के इस निर्णय से देश के लगभग तीन करोड़ व्यापारियों को लाभ मिलेगा।
उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल ने सरकार के इस कदम की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह सार्वभौमिक सामाजिक सुरक्षा की दिशा में पहला कदम है। यह इतिहास में पहली बार है जब किसी सरकार ने व्यवसाय समुदाय के पक्ष में कोई ऐतिहासिक निर्णय लिया है। इसे एक मील के पत्थर बताते हुए संजय गुप्ता ने कहा कि यह देश के व्यापारियों को विशेष रूप से उनके बुढ़ापे के दौरान गरिमा और वित्तीय सुरक्षा का जीवन सुनिश्चित करेगा।

यह भी पढ़ें-अब वीजा देने से पहले आवेदकों का सोशल मीडिया अकाउंट भी चेक करेगा अमेरिका

उन्होंने कहा कि इस योजना के अंदर 18 से 40 वर्ष की आयु के सभी छोटे दुकानदारों और स्वरोजगार के साथ-साथ खुदरा व्यापारियों जो जीएसटी में पंजीकृत हैं हैं और जिनका वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ रुपये तक है को पेंशन का लाभ मिलेगा और वे इसके लिए अपना पंजीकरण करा सकते हैं। इसका अर्थ है कि पहली पेंशन आज से 20 साल बाद व्यापारियों को वितरित की जाएगी। हालांकि, वर्तमान में देश में लगभग 1.5 करोड़ व्यापारी हैं जो 60 वर्ष की आयु के पास हैं और उन्हें इस योजना से वंचित नहीं किया जाना चाहिए आदर्श व्यापार मंडल ने सुझाव दिया कि अगले वित्तीय वर्ष से योजना को तत्काल प्रभाव देने के लिए 41 साल से 60 साल तक के व्यापारियों को पेंशन दी जानी चाहिए जो उनके द्वारा दायर जीएसटी रिटर्न के साथ जुडी हो सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि देश में बड़ी संख्या ऐसे व्यापारियों की है जिन्हें जीएसटी के तहत पंजीकृत होने की आवश्यकता नहीं है और इस तरह वे भी इस योजना से वंचित रहेंगे। उन्होंने सुझाव दिया है कि उन व्यापारियों को भी उस योजना में भी शामिल किया जाना चाहिए जो उनके वार्षिक कारोबार से जुड़ी हो सकती है। इस तरह, यह योजना व्यापारियों को बड़े पैमाने पर कवर करेगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल एवं कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स जल्द ही प्रधान मंत्री को एक ज्ञापन भेजकर उनसे उक्त सुझाव पर विचार करने का आग्रह करेगा ताकि योजना का अधिकतम लाभ सभी व्यापारियों, स्व-नियोजित व्यक्तियों और अन्य लोगों को दिया जाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

ईद से पहले बाजारों में छाई रौनक, कपड़ों और गहनों से सजा नजर आया अमीनाबाद…

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ। रमजान के इस पाक महीने में सभी रोजादार अब ईद का इंतजार कर रहे हैं। घरों के साथ-साथ अब बजारों में भी ईद की रौनक नजर आने लगी है। ऐसे में राजधानी लखनऊ की सभी बाजारें कपड़ों और गहनों से सजी हुई नजर आ रही हैं। इस त्योहार में छोटे-बड़े सभी लोग नई कपड़े पहनते हैं।

अमीनाबाद के बाजार में डाले नजर

अमीनाबाद वैसे भी भीड़ के लिए पूरे शहर में फेमस हैं। अमीनाबाद की तंग गलियां लोगों को बड़ा परेशान करती हैं। लेकिन वहां के बाजारों में जो रौनक रहती है वह पूरे लखनऊ में कहीं देखने को नहीं मिलती हैं। वहां के किसी भी गली में आप घुस जाएंगे तो खूबसूरत कपड़े, चप्पल और चमकती हुई ज्वैलरी आपका का मन मोह लेंगी।

चालिए अज हम आपको अमीनाबाद के बाजारों की सैर कराते हैं। आप वीडियों में देख सकते हैं किस तरह लोग इस चिचिलाती धूप और गर्मी के बीच खुशी-खुशी ईद की शॉपिंग कर रहे हैं। अमीनाबाद एक ऐसा बाजार हैं जहां अमीरों और गरीबों सभी शौक पूरे हो जाते हैं। यहां आपको कपड़ों से लेकर घर के रसोई तक के सामान सही दामों में अच्छे मिल जाएंगे।

सड़कों के किनारे लगी दुकानों पर चिकन के कुर्ते, चप्पल चूड़ी कंगन बड़े अच्छे और सस्ते दामों में बिकते हुए नजर रहे हैं। इतना नहीं ईद में सबसे ज्यादा सेवईयों का महत्व होता हैं। जब हम किसी के घर मिलने जाते हैं तो हमें मीठे में कई तरह की सेवईयां खाने को मिलती है। इस सेवई में जो स्वाद होता है वह आपको कहीं नहीं मिल सकता हैं।  

आपको बता दें अमीनाबाद की दुकानों में थोक में सेवईयां सस्ती और अच्छी मिलती हैं। ऐसे में ईद आते ही इनका भी बाजार गर्म हो जाता है। चारो तरफ बस चिकन के कुर्तों और सेवईयों की धूम होती है।  

करें गड़बड़झाला की सैर

जितना लोग चिकन के कुर्ते में दिचास्पी दिखाते हैं उससे कहीं ज्यादा महिलाएं और लड़कियां आर्टिफिशियल गहनों और मेकअप के समानों को खरीदती नजर आती हैं। ऐसे में आज चलिए हम आपको गड़बड़झाला की सैर कराते हैं। वीडियों में आप देख सकते हैं किस तरह महिलाएं और बच्चे जेवरों और रंग-बिरंगी चूड़ियों की खरीदारी कर रहे हैं।  

नख्खास मार्केट

जो हाल अमीनाबाद का है वही हाल पुराने लखनऊ का है। पुराने लखनऊ के नख्खास मार्केट भी अमीनाबाद की तरह हमेशा सजी रहती हैं। वहां भी लोगों के इस्तेमाल और खाने-पीने की चीजें बड़ी सस्ती और अच्छी मिलती हैं।

कहा जाता हैं न लखनऊ नवाबों और तहजीबों का शहर है जहां लोग खाने पीने के साथ अच्छे कपड़ों के बड़े शौकीन होते हैं। http://www.satyodaya.com   

Continue Reading

प्रदेश

राम मंदिर को लेकर सोमवार को बड़ी बैठक करेंगे संत, हो सकता है बड़ा ऐलान

Published

on

लखनऊ। केन्द्र में एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनने के बाद अयोध्या में राम मंदिर का मुद्दा गरमाने लगा है। सोमवार को साधु-संत अयोध्या में एक बड़ी बैठक का आयोजन करने जा रहे हैं। इस बैठक में राम मंदिर को लेकर कोई बड़ी घोषणा की जा सकती है। मणिराम दास छावनी में होने वाली इस बैठक की अध्यक्षता रामजन्मभूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास करेंगे। सोमवार को होने वाली इस बैठक में अयोध्या के संत महंत शामिल होंगे। इसमें विश्व हिंदू परिषद के नेता भी शामिल होंगे। संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास, रामजन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य डॉ रामविलास दास वेदांती, रामवल्लभा कुंज के अधिकारी राजकुमार दास, दशरथ महल के बिंदुगद्दाचार्य, रंगमहल के महंत रामशरण दास, लक्ष्मणकिलाधीश महंत मैथिली शरण दास, बड़ा भक्तमाल के महंत अवधेश दास भी इस बैठक में शामिलन होंगे।

यह भी पढ़ें-राजधानी में फिर डकैतों ने दी दस्तक, तीन घरों को बनाया निशाना…

बता दें कि पिछले तीन दशकों में शायद पहली बार ऐसा हुआ है कि 2019 के आम चुनाव में राम मंदिर मुद्दा नहीं बना। इससे पहले 2014 में भी भाजपा नेताओं ने राम मंदिर के नाम पर वोट बैंक साधा था। लेकिन इस बार का लोकसभा चुनाव केवल और केवल पीएम मोदी और उनकी नीतियों पर केन्द्रित रहा। आम चुनावों से पहले एनडीए की सहयोगी शिवसेना और विश्व हिन्दू परिषद ने राम मंदिर का मुद्दा उछाला लेकिन भाजपा ने कुछ ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाई। आम चुनाव से राम मंदिर मुद्दा गायब ही रहा। अब एक बार फिर संत समाज ने राम मंदिर को लेकर हंुकार भरने की तैयारी कर ली है। लेकिन फिलहाल मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है और शीर्ष अदालत ने इसे मध्यस्तता के माध्यम से निपटाने के लिए एक पैनल बनाया है। मध्यस्तता पैनल दोनों पक्षों के बीच सहमति बनाने पर काम रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्तता पैनल को अपनी रिपोर्ट देने के लिए जुलाई तक समय दिया हुआ है।

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 2, 2019, 6:41 pm
Hazy sunshine
Hazy sunshine
37°C
real feel: 40°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 44%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:26 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending