Connect with us

बिहार

बिहार: अनियंत्रित ट्रक ने ऑटो को रौंदा, 6 लोगों की मौत, अन्य घायल…

Published

on

बिहार: नालंदा में गिरियक थाना क्षेत्र में घोराही गांव स्थित एनएच 31 पर बुधवार को एक ट्रक ने ऑटो को जोरदार टक्कर मार दी। वहीं इस हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन लोगों की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। घायलों को पावापुरी मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

बताया जा रहा है कि इस हादसे में ऑटो के परखच्चे उड़ गए। घटना की सूचना मिलते ही गिरियक थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई और घायलों को इलाज के लिए पावापुरी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। वहीं घटना के बाद चालक ट्रक को लेकर फरार हो गया।

ये भी पढ़ें: जल निगम मुख्यालय पर कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर किया प्रदर्शन…

जानकारी के मुताबिक बिहारशरीफ-रांची एनएच पर ऑटो सवारी लेकर आ रहा था। इस दौरान दूसरी ओर से आ रहे एक अनियंत्रित ट्रक ऑटो को रौंदते हुए निकल गया। हादसे के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। बता दें कि टक्कर इतनी जोरदार थी कि ऑटो मुख्य सड़क से काफी दूर जा कर गिरी। हादसे की तेज आवाज सुनते ही स्थानीय लोग बचाव के लिए दौड़े और घायलों को गाड़ी से बाहर निकाला। मृतकों की पहचान नवादा जिला के कुटरी गांव निवासी पूनम देवी व यूपी के एटा निवासी नंद किशोर के रूप में हुई है। वहीं अभी 4 मृतकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मृतकों में दो बच्चे भी शामिल हैं। घायलों में दौलती देवी, सुनीता देवी व सुधांशु कुमार हैं। http://www.satyodaya.com

बिहार

बिहार: अंतिम यात्रा में शामिल हुए 16 लोग निकले कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

Published

on

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। बिहार में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना के लगातार मरीज मिल रहे है। राजधानी पटना में एक साथ 16 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए है।

जानकारी के अनुसार पाए गए सभी 16 लोग एक अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे। यह घटना पटना से 30 किलोमीटर दूर मनेर की है। पिछले दिनों मनेर के देवी स्थान में एक व्यक्ति की मौत हुई थी और उसके बाद उसके शव यात्रा में कई लोग शामिल हुए थे। बताया जा रहा है कि शव यात्रा में शामिल होने के बाद से ही ज्यादातर लोगों की तबीयत खराब हो गई। जिसकी जानकारी प्रशासन को दी गई। 

यह भी पढ़ें:- यूपीः शाॅपिंग माॅल में अब सोमवार से मिलेगी महंगी ब्रांड्स की बीयर व शराब

स्वास्थ्य विभाग ने आनन-फानन से अंतिम यात्रा में शामिल हुए सभी 38 लोगों का कोविड-19 टेस्ट कराया जिसमें से 16 लोग संक्रमित पाए गए। अब  जिला प्रशासन इन 16 लोगों के संपर्क में आए अन्य लोगों की छानबीन शुरू कर दी है। ताकि उन सभी लोगों का भी कोविड-19 जांच कराया जा सके। बता दें कि पिछले ही महीने पटना के पालीगंज इलाके में एक शादी समारोह में शामिल होने वाले 113 लोग एक साथ कोविड-19 संक्रमित हो गए थे। जिसमें शादी के दो दिन बाद ही दूल्हे की कोरोना से मौत हो गई थी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

बिहारः 263 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट पुल 29 दिन भी नहीं चल सका

Published

on

नई दिल्ली। बिहार के गोपालगंज जिले में 263 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट पुल टूट गया है। जिसका उद्घाटन बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 29 दिन पहले किया था। जो 18 किलोमीटर लम्बा है। पुल टूटजाने के कारण आवागमन बाधित हो गया है। इस बीच मांझा प्रखंड के भैसही गांव समीप सारण मुख्य तटबंध में तेजी से हो रहे रिसाव से ग्रामीणों में दहशत फैल गयी है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सत्तरघाट पुल का एक भाग टूटने का आरोप लगाया।

सरकार के सूचना व जनसंपर्क विभाग ने बताया कि टूटा एप्रोच पथ सत्तरघाट पुल से दो किमी दूर स्थित एक छोटे पुल से जुड़ा था। यह पुल गंडक के बांध के भीतर गोपालगंज की ओर तथा 18 मीटर लंबा है। गंडक के दबाव के कारण इसका पहुंच पथ टूट गया है। हालांकि, छोटा पुल भी सुरक्षित है। राज्य सरकार ने कहा है कि सत्तरघाट पुल सुरक्षित है और पानी का दबाव कम होने पर इसपर आवागमन बहाल कर दिया जाएगा।

बिहार सरकार में पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर सत्तरघाट पुल के ध्वस्त होने की झूठी खबर फैलाने का आरोप लगाया है। गुरुवार को एक वीडियो ट्वीट कर नंद किशोर यादव ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष सत्तर घाट पुल के क्षतिग्रस्त होने की झूठी खबर फैला रहे हैं। इस मामले में सही तथ्य निम्नवत है। सत्तर घाट मुख्य पुल से लगभग दो किमी दूर गोपालगंज की ओर एक 18 मी लम्बाई के छोटे पुल का पहुंच पथ (एप्रोच पथ) कट गया है। यह छोटा पुल गंडक नदी के बांध के अन्दर स्थित है।

यह भी पढ़ें:- HRD मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइन, जानें कितने मिनट चलेगी ऑनलाइन कक्षाएं

जानकारी के अनुसार वाल्मीकि नगर बराज से लगातार पानी छोड़े जाने के बाद गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने से सारण तटबंध पर दबाव बढ़ गया है। तटबंधों पर पानी का दबाव बढ़ने से गुरुवार की सुबह प्रखंड के भैसही गांव के समीप सारण मुख्य तटबंध में तेजी से पानी का रिसाव होने लगा। बांध में रिसाव होते देख आसपास के ग्रामीणों में दहशत फैल गई। मुखिया संजय सिंह के नेतृत्व में ग्रामीण बोरी में मिट्टी व बालू भरकर रिसाव की मुहाने को बंद करने का प्रयास किया गया। ग्रामीणों ने बताया कि बांध में रिसाव की सूचना बाढ़ नियंत्रण विभाग व जिला प्रशासन को दिया गया है। प्रशासन के नहीं पहुंचने के कारण स्थानीय लोग खुद मिट्टी व बालू भरकर बांध को बचाने का प्रयास कर रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

आकाशीय बिजली गिरने से हुई मौतों पर पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने जताया दुख

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश और बिहार में गुरुवार हुई तेज बारिश व आंधी- तूफान के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 100 सब ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। इस दैवीय आपदा पर पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव समेत कई नेताओं ने शोक जताते हुए पीड़ित परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। प्राकृतिक आपदा में बिहार में 83 लोगों की मौत हो गई। जबकि उत्तर प्रदेश में कम से कम 24 लोगों की जान गई है। वहीं बड़ी संख्या में लोग घायल भी हुए हैं।  यूपी के देवरिया जिले में सबसे ज्यादा 11 लोगों की मौत हुई है और 9 लोग झुलस गए है। दोनों राज्यों की सरकारों ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों के निधन का दुखद समाचार मिला। राज्य सरकारें तत्परता के साथ राहत कार्यों में जुटी हैं। इस आपदा में जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी संवेदना प्रकट करता हूं। वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी इस हादसे पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि आपदा से जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र ही स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर प्राकृतिक आपदा में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि बिहार में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत की ख़बर सुनकर स्तब्ध हूं। भगवान उनके प्रियजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मेरी अपील है कि पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करें। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों में वज्रपात से 83 लोगों की मृत्यु दुःखद। मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया गया है।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट पर इस हादसे पर शोक जताया। उन्होंने लिखा बिहार के विभिन्न जिलों में वज्रपात के कारण हुई 83 लोगो की असमायिक मौत से मर्माहत हूं। मृतको के परिजनों के प्रति गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूँ। भगवान सभी की आत्मा को शान्ति प्रदान करें।

यह भी पढ़ें:- यूपी: बारिश के साथ खूब बरसी आकाशीय बिजली, 13 लोगों की मौत, 9 झुलसे

बिहार के 83 लोग मारे गए हैं। 23 जिलों में आकाशीय बिजली गिरने के मानवीय क्षति हुई है। सबसे ज्यादा मौत गोपालगंज में हुई जहां पर 13 लोग मारे गए। जबकि मधुबनी और नबादा में 8-8 लोग मारे गए। वहीं उत्तर प्रदेश में मारे गए 24 लोगों में से देवरिया में 11 लोगों के अलावा प्रयागराज में 6, अंबेडकर नगर में 3, बाराबंकी में 2 और कुशीनगर, फतेहपुर, उन्नाव और बलरामपुर में 1-1 लोग की मौत हुई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 7, 2020, 8:08 pm
Intermittent clouds
Intermittent clouds
31°C
real feel: 38°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 83%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:04 am
sunset: 6:20 pm
 

Recent Posts

Trending