Connect with us

बिहार

राहुल गांधी को आना था समस्तीपुर लेकिन वापस लौट गए दिल्ली, ट्वीट कर बताया ये कारण   

Published

on

फाइल फोटो

लोकसभा चुनाव के दौरान हर पार्टी अपने प्रचार प्रसार में जुटी हुई है। ऐसे में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी देश भर में अपनी जनसभाओं से लोगों के बीच कांग्रेस की स्थिति को मजबूत करने में जुटे हुए हैं। इसी क्रम में राहुल गांधी शुक्रवार को समस्तीपुर में चुनावी सभा को संबोधित करने वाले थे लेकिन ऐसा नहीं हो सका। राहुल गांधी के विमान में तकनीकी खराबी आने की वजह से उन्हें दिल्ली वापस लौटना पड़ा। राहुल गांधी ने ट्वीट कर बताया कि जिस विमान से वो पटना आने वाले थे उसमें खराबी आ गयी है जिसकी वजह से वे वापस दिल्ली लौट गए। बता दें कि इस जनसभा के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी उनके साथ मंच शेयर करने वाले थे।

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा कि, ” पटना जाने वाले हमारे विमान में खराबी की वजह से हमें दिल्ली लौटना पड़ा है। बिहार के समस्तीपुर, उड़ीसा के बालासोर और महाराष्ट्र के संगमनेर में होने वाली बैठकों में विलंब होगा। इस असुविधा के लिए माफी चाहता हूं।”

चूंकि, राहुल गांधी ने बैठकों में विलंब की बात कही है तो इससे पता चलता है कि उनकी चुनावी सभाएं रद नहीं हुई हैं, वे दिल्ली पहुंचकर किसी अन्य विमान से पटना पहुंचेंगे।

बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान राहुल और तेजस्वी को अबतक एक साथ, एक मंच पर नहीं देखा गया है। अभी तक बिहार में राहुल गांधी ने चार चुनावी सभाएं की हैं, लेकिन किसी सभा में तेजस्वी ने हिस्सा नहीं लिया है। इस मामले पर सत्तापक्ष अक्सर महागठबंधन में आपसी फूट होने का आरोप लगाता रहा है। इसके जवाब में तेजस्वी को जवाब भी देना पड़ा है कि हम एक साथ हैं और हम अपनी नीति के तहत मंच शेयर नहीं कर रहे।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

आकाशीय बिजली गिरने से हुई मौतों पर पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने जताया दुख

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश और बिहार में गुरुवार हुई तेज बारिश व आंधी- तूफान के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 100 सब ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। इस दैवीय आपदा पर पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव समेत कई नेताओं ने शोक जताते हुए पीड़ित परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। प्राकृतिक आपदा में बिहार में 83 लोगों की मौत हो गई। जबकि उत्तर प्रदेश में कम से कम 24 लोगों की जान गई है। वहीं बड़ी संख्या में लोग घायल भी हुए हैं।  यूपी के देवरिया जिले में सबसे ज्यादा 11 लोगों की मौत हुई है और 9 लोग झुलस गए है। दोनों राज्यों की सरकारों ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों के निधन का दुखद समाचार मिला। राज्य सरकारें तत्परता के साथ राहत कार्यों में जुटी हैं। इस आपदा में जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी संवेदना प्रकट करता हूं। वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी इस हादसे पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि आपदा से जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र ही स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर प्राकृतिक आपदा में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि बिहार में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत की ख़बर सुनकर स्तब्ध हूं। भगवान उनके प्रियजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मेरी अपील है कि पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करें। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों में वज्रपात से 83 लोगों की मृत्यु दुःखद। मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया गया है।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट पर इस हादसे पर शोक जताया। उन्होंने लिखा बिहार के विभिन्न जिलों में वज्रपात के कारण हुई 83 लोगो की असमायिक मौत से मर्माहत हूं। मृतको के परिजनों के प्रति गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूँ। भगवान सभी की आत्मा को शान्ति प्रदान करें।

यह भी पढ़ें:- यूपी: बारिश के साथ खूब बरसी आकाशीय बिजली, 13 लोगों की मौत, 9 झुलसे

बिहार के 83 लोग मारे गए हैं। 23 जिलों में आकाशीय बिजली गिरने के मानवीय क्षति हुई है। सबसे ज्यादा मौत गोपालगंज में हुई जहां पर 13 लोग मारे गए। जबकि मधुबनी और नबादा में 8-8 लोग मारे गए। वहीं उत्तर प्रदेश में मारे गए 24 लोगों में से देवरिया में 11 लोगों के अलावा प्रयागराज में 6, अंबेडकर नगर में 3, बाराबंकी में 2 और कुशीनगर, फतेहपुर, उन्नाव और बलरामपुर में 1-1 लोग की मौत हुई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

सुशांत सुसाइड केस: अभिनेता सलमान खान, करण जौहर सहित 8 के खिलाफ केस दर्ज

Published

on

बिहार के मुजफ्फरपुर में सीजेएम कोर्ट में दर्ज कराया गया परिवाद

लखनऊ। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में अभिनेता सलमान खान, फिल्म प्रोड्यूसर करण जौहर, निर्माता एकता कपूर और संजय लीला भंसाली के सहित 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। फिल्मी हस्तियों के खिलाफ यह केस बिहार के मुजफ्फरपुर में दर्ज किया गया है। अधिवक्ता सुधीर ओझा ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि इन सभी के खिलाफ सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाकर सीजेएम कोर्ट में मामला दर्ज कराया गया है। अधिवक्ता ने अपने पत्र में अभिनेत्री कंगना रनौत को गवाह बनाया है। कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई के लिए 3 जुलाई की तारीख तय की है।

यह भी पढ़ें-खान एक्टर्स ने सुशांत व नील नितिन मुकेश का उड़ाया था मजाक, देखें video

परिवाद दायर कराने वाले वकील सुधीर ओझा ने कहा है कि एक साजिश के तहत फिल्म निर्माता करण जौहर, आदित्य चोपड़ा, साजिद नाडियाडवाला, सलमान खान, संजय लीला भंसाली, भूषण कुमार, एकता कपूर और निर्माता-निर्देशक दिनेश विजान सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मे रिलीज नहीं होने दे रहे थे। यह लोग इंडस्टी के लोगों को भी सुशांत के खिलाफ भड.काते थे। मौका मिलने पर अपमानित करते थे।

सुशांत को आत्महत्या के लिए मजबूर किया गया

बीते सोमवार को युवा सुशांत की आत्महत्या के बाद से ही बाॅलीवुड के गाॅड फाॅदर कहे जाने वाले सितारों के खिलाफ देश भर में रोष है। सुशांत के प्रशंसक ही नहीं बल्कि फिल्मी दुनिया के नामचीन सितारों ने भी रुपहले पर्दे के पीछे का काला सच उजागर किया है। कहा जा रहा है कि सुशांत की कामयाबी बाॅलीवुड के कुछ लोगों को रास नहीं आ रही थी, इसीलिए उन्हें मानसिक तौर पर इतना परेशान किया गया कि एक प्रतिभावान अभिनेता को आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा।

पिता ने कहा, इंडस्ट्री में बन रहे हालातों से परेशान थे सुशांत

डिप्रेशन में आकर आत्महत्या की थ्यौरी से इनकार करते हुए सुशांत के पिता ने भी मुंबई पुलिस के सामने अपना बयान दर्ज कराया है। बेटे की मौत से बेहाल केके सिंह ने कहा है कि उन्हें सुशांत के तनाव में होने की जानकारी नहीं है। केके सिंह कहा है कि सुशांत इंडस्ट्री में बन रहे हालातों से परेशान थे। अभिनेता ने खुद यह बात उनसे बताई थी। केके सिंह ने बताया है कि पिछले कुछ महीनों में दो से तीन बार सुशांत ने मुझसे कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में चल टेंशन की वजह से वह लो (हतोत्साहित) महसूस कर रहे हैं। केके सिंह बुधवार को बेटे की अस्थियां लेकर मंुबई से पटना लौट आए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

1991 बैच के सीनियर आईएएस कामरान रिजवी पटना मेट्रो के बनाए गए चेयरमैन…

Published

on

लखनऊ। 1991 बैच के यूपी कैडर के आईएएस अधिकारी कामरान रिजवी को पटना मेट्रो का चेयरमैन बनाया गया है। पटना मेट्रो में चेयरमैन पद काफी समय से खाली पड़ा था। केंद्र सरकार की ओर से कामरान रिजवी को पटना मेट्रो का निदेशक नियुक्त किया गया है। फिलहाल कामरान रिजवी केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय में एडिशनल सेक्रेटरी के पद पर तैनात हैं। कामरान रिजवी की तैनाती के बाद यह माना जा रहा है, कि पटना के मेट्रो के काम में तेजी आ सकती है।

इसे भी पढ़ें- Lucknow: पूर्व मंत्री शैलेंद्र यादव ललई कोरोना वायरस से संक्रमित, पीजीआई में भर्ती

केंद्र सरकार ने पूर्व में आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के एडिशनल सेक्रेट्री सिद्धार्थ मीना को चेयरमैन नियुक्त किया था। लेकिन बोर्ड का काम पूरा हो पाता इससे पहले ही उनका तबादला केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण परिषद के चेयरमैन पद पर हो गया। तब से पटना मेट्रो के चेयरमैन का पद खाली था। माना यह जा रहा है कि आईएएस अधिकारी कामरान रिजवी ने सरकार के प्रोजेक्ट मनरेगा में काफी अच्छा कार्य किया है। जिसकी वजह से केंद्र सरकार ने उन्हें इस महत्वपूर्ण पद पर तैनाती देते हुए पटना मेट्रो का चेयरमैन बनाया है। कामरान रिजवी आईआईटी दिल्ली से बीटेक और एमटेक हैं, इसके बाद वह प्रशासनिक सेवा में आये हैंhttp://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 12, 2020, 1:42 am
Fog
Fog
31°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 83%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:51 am
sunset: 6:33 pm
 

Recent Posts

Trending