Connect with us

बिहार

बिहार: बाल बाल बचे ‘तेजस्वी यादव’, चुनावी सभा के दौरान मची अफरा-तफरी, जानिए आखिर हुआ क्या था!

Published

on

सांकेतिक चित्र

लोकसभा चुनाव के दौरान सभी पार्टियां अपना प्रचार करने में लगी हुई हैं। ऐसे में पार्टी के बड़े नेता प्रत्याशियों के लिए वोट अपील करने पहुंच रहे हैं। ऐसे में राजद सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव भी राजद प्रत्याशी अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के लिए आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे। तेजस्वी यादव की इसी जनसभा में एक हादसा हो गया जिसमे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बाल-बाल बच गए।

आपको बता दें कि गुरुवार को मुंगेर में आयोजित चुनावी सभा के दौरान चुनावी मंच टूट गया। इस दौरान तेजस्वी यादव समेत कई नेता मंच से नीचे गिर गए। लेकिन राहत की बात रही कि किसी को गंभीर चोट नहीं लगी।

मंच के टूटते ही लोगों में अफरातफरी मच गई। सभा में पहुंची जनता इधर-उधर भागने लगी। हालांकि मंच पर मौजूद नेता पहले ही माइक से यह घोषणा कर रहे थे कि मंच पर क्षमता से ज्यादा लोग चढ़ गए हैं इसलिए इसे खाली कर दिया जाए। लेकिन इस घोषणा का असर मंच पर मौजूद लोगों पर नहीं हुआ। आखिरकार मंच भरभराकर धाराशायी हो गया। जानकारी के मुताबिक जिस मंच से तेजस्वी यादव भाषण देने वाले थे उस मंच पर महिला और पुरूष मिलाकर करीब 50 से अधिक लोग चढ़ गए थे। मंच पर जरुरत से ज्यादा लोगों के चढ़ जाने के कारण ही मंच टूट गया।

बता दें कि आज मुंगेर प्रखंड के चरवाहा स्कूल परिसर में चुनावी सभा का आयोजन किया गया था। इस सभा में तेजस्वी यादव के पहुंचने के बाद काफी लोग मंच पर आ गए। मंच से स्थानीय नेताओं ने अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के पक्ष में वोट देने की अपील कर रहे थे। मंच से ही जय प्रकाश नारायण यादव ने पहले ही लोगों से अपील की थी कि आपलोग मंच को खाली कर दें। लेकिन किसी ने नहीं सुनी और मंच टूट गया। http://www.satyodaya.com

बिहार

बिहार: डीजीपी ने तोड़े ट्रैफिक नियम, बिना सीट बेल्ट गाड़ी की सवारी

Published

on

फाइल फोटो

पटना। नए मोटर व्हीकल कानून को लेकर लोगों में आक्रोश बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। जहां बिहार की राजधानी पटना में डीजीपी ही ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ाते नजर आए। उन्होंने सीट बेल्ट भी नहीं लगाई हुई थी। जबकि सड़क पर वाहन चलाने वाले लोग पुलिस से खासकर नाराज चल रहे हैं। क्योंकि भारी संख्या में चालान काटा जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे गुरुवार को एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए छपरा गए थे। जहां डीजीपी अपनी गाड़ी में बैठे हुए थे और उन्होंने सीट बेल्ट भी नहीं लगाई थी। इसी कार्यक्रमों से निकलने के दौरान सारन रेंज के डीआईजी विजय कुमार वर्मा और जिले के एसपी भी बिना सीट बेल्ट लगाए अपनी गाड़ी में बैठे और रवाना हो गए। बता दें कि जब पुलिस का मुखिया ही कानून का उल्लंघन करते नजर आएंगे तो आम लोगों से कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि वह ट्रैफिक नियमों का पालन करें।

ये भी पढ़े- ट्रक और डीसीएम में हुई भीषण टक्कर, ड्राइवर घायल

इस मामले में जिले के मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर का कहना है कि गाड़ी पर चाहे व्यक्ति आगे की सीट पर बैठा हो या पीछे की सीट पर उसे सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य है। ऐसा नहीं करना ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि उनकी नजर में अभी यह मामला सामने नहीं आया है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

बिहार: गैस सिलेंडर फटने से तीन की मौत, एक दर्जन से ज्यादा घायल

Published

on

प्रतिकात्मक फोटो

बिहार में भीषण सड़क दुर्घटना हुई है। जहां नौगछिया जिले में गैस सिलेंडर फटने से तीन लोगों की जलकर मौत की खबर है। इस हादसे में 13 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जिसके बाद घायलों को इलाज के लिए भागलपुर के अस्पताल में भर्ति कराया गया है। जिसमें कई लोगों हालत गंभीर बनी हुई है।

ये भी पढ़े-सरकार ने क्यों लगाया नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना? गडकरी ने बताई वजह

जानकारी के मुताबिक ट्रक के धक्के से बाइक पर बांधा गैस सिलेंडर फट गया जिससे आग लग गई। गैस सिलेंडर फटने से पूरे क्षेत्र से हड़कंप मच गया। वहीं आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और बाइक पर सवार युवक के साथ कई लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

बिहार: समारोह का आनंद ले रहे मंत्री, विधायक समेत सैकड़ों लोग अचानक हो गए अंधे!

Published

on

लखनऊ। सोचिए किसी समारोह में बेहतरीन कार्यक्रम का आनंद उठा रहे हों, तभी अचानक से वहां बैठे सभी लोगों को आंखों से दिखना बंद हो जाए, इतना ही नहीं कुछ समय के लिए सभी लोग अंधे हो जाएं! बिहार के गया में गुरुवार को एक ऐसा ही वाक्या हुआ। खबरों के मुताबिक गया के टिहरी में बुधवार रात एक भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। पूरी बिल्डिंग को हैलोजन बल्बों से प्रकाशित किया गया था। सभी लोग कार्यक्रम का आनंद उठा रहे थे कि अचानक सभी को की नजर धुंधली होने लगी और फिर दिखना बंद हो गया। ऑनन-फानन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से डाॅक्टरों ने मेडिकल काॅलेज भेज दिया। हैलोजन लाइटों की वजह से करीब 200 से 250 लोगों की आंखों की रौशनी प्रभावित हो गयी।
समारोह का आनंद उठाने वालों में बिहार सरकार के मंत्री संतोष कुमार निराला और स्थानीय जेडीयू विधायक अभय कुशवाहा शामिल हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में गया प्रशासन ने फिलहाल जांच के आदेश दे दिए हैं। पीड़ितों का इलाज कर रहे विशेषज्ञ चंद्रशेखर प्रसाद ने बताया कि लाइटिंग की रेडिएशन की वजह से ये घटना हुई है।

यह भी पढ़ें-नए ट्रैफिक नियम का कांग्रेस ने किया विरोध, कहा- अबकी बार पॉकेटमार सरकार….

डाॅक्टरों की टीम लोगों का इलाज कर रही है। कुछ लोगों की स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। डाॅक्टरों ने बताया कि प्रभावित लोगों को पूरी तरह से ठीक होने में दो से तीन दिन लग सकते हैं। तेज लाइटिंग ने सभी को अस्थाई रूप से अंधा बना दिया है।
जेडीयू विधायक अभय कुशवाहा का कहना है कि टेकारी के रानीगंज में बुधवार की शाम शिक्षविद शीतल प्रसाद कि पुण्यतिथि के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम स्थल पर हेलोजन लगा था जिस पर कोई कवर नहीं था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 17, 2019, 8:31 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 33°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:22 am
sunset: 5:39 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending