Connect with us

बिहार

बिहार :- जनता की सुरक्षा का जिम्मा उठाने वाला सब इंस्पेक्टर हारा जिंदगी की जंग, बैरक में लगा ली खुद को फांसी…   

Published

on

पुलिस के कन्धों पर जनता की सुरक्षा का दायित्व इसलिए डाला जाता है क्योंकि वो मजबूत हैं। उन्हें ट्रेंड किया गया है। मगर पुलिस वाले भी इंसान हैं। समस्याएं इनके जीवन में भी हैं। वो परिस्थितियां इनके साथ भी बन जाती हैं जिसमें खुद को मारने के सिवा कोई अन्य रास्ता नहीं सूझता। शायद ऐसे हालत रहे होंगे भोजपुर जिले के कर्मामेपुर ओपी में तैनात सब इंस्पेक्टर प्रकाश रजक के।

सब इंस्पेक्टर प्रकाश रजक ने मंगलवार को पुलिस बैरक में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। सुसाइड की खबर सुनते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही सब इंस्पेक्टर प्रकाश रजक की पोस्टिंग इस थाने में हुई थी। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस पदाधिकारी थाने पर पहुंचे खुदकुशी की वजह तलाश करने में जुट गए हैं।

प्रकाश रजक के गले में फंदा डालकर झूल जाने की जानकारी दोस्तों को तब लगी जब वह काफी समय तक कमरे से बाहर नहीं निकले। प्रकाश ने आत्महत्या क्योंकि इन कारणों का अभी पता नहीं लगा है।

मृतक प्रकाश रजक नवगछिया, भागलपुर जिले के मूल निवासी थे। जिले म़े छह साल से कार्यरत थे। वर्तमान म़े दारोगा की पोस्टिंग कारनामेपुर ओपी में थी। घटना के समय अपने बेरक में थे। इस बीच दारोगा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर लिया । परिजनों को सूचित कर दिया गया है।

घटना के बाद साथी सिपाही कुछ भी बोलने से इंकार कर रहे हैं। रजक ने क्यों सुसाइड की अब तक इसका खुलासा नहीं हो पाया है। फिलहाल शव पुलिस बैरक में ही पड़ा है। परिजनों को सूचित कर दिया गया है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही बांका जिले के एक दारोगा ने भी जहर खाकर सुसाइड कर ली थी। http://www.satyodaya.com

बिहार

पटना: डेंगू के मरीजों को देखने अस्पताल पहुंचे अश्वनी चौबे, युवकों ने फेंकी स्याही…

Published

on

डेंगू की बीमारी

फाइल फोटो

पटना। यूपी के अलावा बिहार की राजधानी पटना में भी डेंगू की बीमारी अपना पांव पसारे हुए है। डेंगू की बीमारी से हजारों मरीज रोजाना मर रहे हैं। ऐसे में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य अश्वनी चौबे पर 2 अज्ञात युवकों ने स्याही फेंक दी है।

जानकारी के मुताबिक मंगलवार को अश्विनी चौबे पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में डेंगू पीड़ितों से मिलने पहुंचे थे। तभी एक छात्र ने कुछ मांगों को लेकर अश्विनी चौबे पर स्याही फेंक दी। स्याही फेंकने के बाद छात्र फरार हो गए।

ये भी पढ़ें:मैनपुरी: बीजेपी जिलाध्यक्ष आलोक गुप्ता पर बाइक सवार बदमाशों ने बरसाईं गोलियां…

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे मंगलवार को डेंगू के मरीजों को देखने और वार्डों का निरीक्षण करने पीएमसीएच पहुंचे थे। वह वार्ड का निरीक्षण करके लौट रहे थे, तभी गाड़ी पर सवार युवकों ने उन पर स्याही फेंक दी। अश्विनी चौबे पर स्याही फेंकने के बाद आरोपी युवक फरार हो गया। हालांकि पुलिस आरोपी युवकों को पकड़ने की कोशिश में जुटी हुई है। लेकिन वह सफल नहीं हो सके।

दो युवकों ने घटना को दिया अंजाम

जानकारी के मुताबिक, दो युवाओं ने अश्विनी चौबे के चेहरे को निशाना बनाते हुए स्याही फेंकी और फरार हो गए। स्याही फेंकने के बाद चौबे की सुरक्षा में लगे जवानों ने दोनों को पकड़ने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सके। अश्विनी चौबे ने स्याही फेंकने की इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये वही लोग हैं जो अपराध जगत से नाता रखते हैं और किसी जमाने में अपराध के क्षेत्र में काफी आगे थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

बिहार: महानंदा नदी में 80 यात्रियों से भरी नौका पलटी, 5 की मौत

Published

on

कटिहार: पश्चिम बंगाल के मालदा में महानंदा नदी में गुरुवार रात एक बड़ी नौका पलट गई। जानकारी के मुताबिक जिस वक्त ये हादसा हुआ तब नौका में करीब 80 यात्री सवार थे। वहीं इस घटना में 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि राष्ट्रीय आपदा बल (NDRF) की टीम ने 28 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

साथ ही करीब 40 लोग नदी में लापता हो गए है, जिनकी तलाश अभी जारी है। हादसे की सूचना मिलते ही एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया।  मालदा जिला के डीएम ने भी मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया।  

ये भी पढ़ें: संजय निरुपम के बदले अंदाज, कहा कांग्रेस को हमारी जरूरत नहीं…..

बताया जा रहा है कि घटना मालदा जिले के चंचल पुलिस थाना इलाके की है। जगन्नाथपुर में महानंदा नदी में लोगों से भरी नाव उत्तरी दिनाजपुर के लिए रवाना हुई थी, लेकिन उससे पहले ही हादसे का शिकार हो गई। मुकुंदपुर घाट पर पहुंचने से पहले ही नाव महानंदा नदी में डूब गई। दुर्घटना का कारण महानंदा नदी का जलस्तर अधिक होना व नाविक का नाव पर से नियंत्रण खो देना बताया जा रहा है।

वहीं नाव पर यात्रियों के साथ साइकिल और मोटरसाइकिल भी रखे हुए थे। सूत्रों के अनुसार सवार सभी यात्री उत्तरी दिनाजपुर में बैच उत्सव देखने जा रहे थे, इस दौरान संतुलन बिगड़ने ने नाव बीच नदी में पलट गई। मृतकों में एक बिहार के कटिहार का रहने वाला था। लापता लोगों में भी कई बिहार के बताए जा रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

बिहार

बिहार में बाढ़ का कहर: अब तक 73 की मौत, कई जगहों पर सड़ रही लाशें

Published

on

फाइल फोटो

पटना। बिहार में बाढ़ के कहर ने लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है, वहीं लोगों की मरने की संख्या बढ़ती जा रही है। जहां राजधानी पटना के इलाके में बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में मरने वालों की संख्या गुरुवार को 73 तक पहुंच गई है। हालात इतने खराब हो गए हैं कि राहत और बचाव कार्यों में जुटी टीम ने कई जगहों पर लोगों के सड़ रही लाशों को निकाला है।

ये भी पढ़े- सलमान खान को सोशल मीडिया पर धमकी देना पड़ा भारी, 2 युवक गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार मूसलाधार बारिश ने राज्य की राजधानी सहित राज्य के 15 जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा कर दी है। राज्य के आपदा प्रबंधन ने कहा कि हम भारी बारिश की वजह से होने वाले जानमाल के नुकसान पर नजर बनाए हुए हैं। हालांकि विभाग जिलेवार सूचना देने में असमर्थ है। भागलपुर में जिला प्रशासन ने 12 लोगों के हताहत होने की पुष्टि की है। पटना शहर के कई हिस्सों में भी आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। जिला प्रशासन, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के साथ मिलकर भोजन की व्यवस्था करने में जुटा है। फंसे नागरिकों के लिए पीने का पानी और दवाई की भी व्यवस्था की जा रही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 19, 2019, 2:31 am
Fog
Fog
23°C
real feel: 27°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:37 am
sunset: 5:05 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending