Connect with us

व्यापार

गो-तस्करी की आशंका में अलवर में एक और हत्या, पीट-पीटकर ली जान

Published

on

 

नई दिल्ली । देश में गोहत्या की शंका के चलते मॉब लिंचिंग के मामले थम नहीं रहे हैं । अब राजस्थान के अलवर में एक बार फिर गो-तस्करी के शक में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या किए जाने का मामला सामने आया है । मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एक व्यक्ति अपने साथ दो गाय लेकर जा रहा था । तभी कुछ लोगों ने गोतस्करी का आरोप लगाकर पीड़ित को पीटना शुरू कर दिया ।

मृतक का नाम अकबर बताया जा रहा है । मामला अलवर जिले के रामगढ़ इलाके के गांव लल्लावंडी का है जहां बीती रात स्थानीय लोगों ने अकबर को गो-तस्कर बताकर पीटना शुरू कर दिया । पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है ।
इस मामले में एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने प्रतिक्रिया देकर मोदी सरकार पर प्रहार किया है । उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘गाय को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीने का नैतिक अधिकार है और एक मुस्लिम को मारा जा सकता है क्योंकि उनके ‘जीने’ का नैतिक अधिकार नहीं है । मोदी शासन के चार साल- लिंच राज ।’

उल्लेखनीय है कि इससे पहले 2017 में अलवर में ही 55 साल के पहलू खान की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी । इस हत्याकांड के बाद देशभर में जबरदस्त आक्रोश फैला था । जिस वक्त पहलू पर हमला हुआ उस वक्त वह राजस्थान में गाय खरीदने के बाद हरियाणा जा रहे थे । डेयरी व्यवसाय करने वाले पहलू खान की हमले के दो दिन बाद मौत हो गई थी ।

भीड़ ने उन्हें पशु तस्कर समझकर हमला किया था । मामले में राजस्थान पुलिस ने छह आरोपियों को क्लीनचिट दे दी थी जबकि नौ अन्य आरोपियों के खिलाफ आपराधिक मामला चलाए जाने की बात कही थी ।http://www.satyodaya.com

व्यापार

वाणिज्यकर के 4500 अफसर व कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए 5 करोड़

Published

on

लखनऊ। पूरी दुनिया इस समय कोरोना महामारी का सामना कर रहा है। कोरोना संक्रमण अब भारत में भी गंभीर स्थिति में पहुंच चुका है। देश में संक्रमित लोगों की संख्या 3000 के पार पहुंच गयी है। वहीं मरने वालों का आंकड़ा सैकड़ा छूने के करीब है। महामारी को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरे देश को 21 दिनों के लिए लाॅकडाउन कर दिया है। लाॅकडाउन से प्रभावित देश के नागरिकों को राहत पहुंचाने के लिए सरकार के साथ ही तमाम सामाजिक संस्थाएं आगे आकर गरीबों की मदद कर रही है। उत्तर प्रदेश के सीएम ने आवाहन पर कई राजनेता, अभिनेता,  और छोटे छोटे संस्थाओं ने लोगों को आर्थिक मदद दे रहे है।

इसे भी पढ़ें- #कोरोना से जंग: 21 दिन के महा राहत अभियान में जुटा है कमला सेवा संस्थान

ऐसे में कोरोना वायरस संक्रमण के बाद उपजी विषम परिस्थिति में सरकार का सहयोग करने के लिए वाणिज्यकर विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ और वाहन चालक संघ के 4500 अधिकारियों व कर्मचारियों ने कोरोना महामारी से उत्पन्न आपदा में जरूरतमंदों को सहयोग देने के लिए आर्थिक सहायता दी है। इन सभी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है। एक दिन का मूल वेतन करीब पांच करोड़ रुपए है।

उत्तर प्रदेश वाणिज्य कर चतुर्थ श्रेणी संघ के प्रदेश महामंत्री ने सुरेश सिंह यादव ने बताया कि प्रदेश के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का 1 दिन का वेतन राजकीय कोष में जमा करने की घोषणा की है।  प्रदेश में 3250 कर्मचारी है, इनका औसतन वेतन एक दिन का 13 से 14 रूपये है। इस आधार पर 4166500 की सहायता करेगा। जबकि वाहन चालक के प्रदेश महामंत्री प्रेम प्रकाश ने व प्रदेश के वाहन चालकों का 1 दिन का वेतन देने की घोषणा की है। जिनकी संख्या 449 इनका भी औसतन वेतन 13 से 14 रूपये के करीब है। इस आधार पर लगभग 688500 रूपये मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कराए जाएगे।

इसे भी पढ़ें-लखनऊ: ड्यूटी पर जा रहे सफाई कर्मचारी को पीटने वाला दारोगा लाइन हाजिर

सुरेश यादव एवं प्रेम प्रकाश ने अपने सहयोगी कर्मचारियों से अपील की है, कि जो अधिकारी ड्यूटी पर कालाबाजारी रोकने हेतु लगाये गए है। वह ईमानदारी से इसको पूरा-पूरा सहयोग करें, और कालाबाजारी करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। इसके अलावा उत्तर प्रदेश वाणिज्य कर सेवा संघ के प्रदेश अध्यक्ष वाणिज्य कर के राजवर्धन सिंह ने अपने 800 अधिकारियों का 1 दिन का वेतन देने की घोषणा की है। इनके द्वारा लगभग 25 लाख रूपये की धनराशि मुख्यमंत्री राहत कोष मे जमा की जाएगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

लॉकडाउन के उल्लंघन पर पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR

Published

on

लखनऊ। कोरोना महामारी को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। जिसकी वजह से लोगों को सड़कों पर आने और कहीं भी भीड़ लगाने की इजाजत नहीं है। हालांकि किसी मेडिकल इमरजेंसी के हालात में ही सड़कों पर आ सकते हैं। बावजूद इसके उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर लॉकडाउन तोड़ने के मामले सामने आए हैं हाल ही में लॉकडाउन उल्लंघन मामले में नोएडा में 11 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गयी है।

नोएडा के थाना सेक्टर 20 में बुधवार को पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। ये सभी लोग घर की छत पर इकठ्ठा होकर नमाज पढ़ रहे थे। दरअसल जिले में धारा 144 लागू है, जिसके कारण यहां भीड़ इकट्ठा करने पर रोक है। लेकिन बावजूद इसके इन लोगों ने भीड़ जुटा कर नमाज पढ़ी और कानून का उल्लंघन किया पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया गया है।

इसे भी पढ़ें-सूबे में कोरोना मामले में इजाफा, राजधानी में 10 मरीज, यूपी में कुल संख्या 118 पहुंची

धार्मिक कार्यक्रम आयोजित करने पर मुकदमा

वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में लॉकडाउन के दौरान चौक इलाके में धार्मिक कार्यक्रम आयोजित करने पर चौक के नक्खास तिराहा निवासी आरिफ के खिलाफ ये मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि, इन्होंने पुलिस की चेतावनी के बावजूद घर में 25 लोग जुटाए और ‘नजर’ कार्यक्रम आयोजित किया।

नक्खास तिराहा स्थित कैसर बिल्डिंग के रहने वाले आरिफ पर आरोप है, कि इन्होंने जिलाधिकारी के आदेशों का उल्लंघन किया। आरिफ ने रात करीब 10 बजे नजर कार्यक्रम का आयोजन किया। इसमें 25 लोग शामिल हुए मामले में चौक थाने के एसआई द्वारा मना करने के बाद भी चोरी छिपे इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

लखनऊ लाॅकडाउनः लुआक्टा ने जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया राशन

Published

on

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय शिक्षक संघ (लुआक्टा) ने मंगलवार को राजधानी के कुर्मांचल नगर में गरीबों व जरूरतमंदों को राशन सामग्री वितरित की। लाॅकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए चल रही लुआक्टा की मुहिम के तहत यहां की झुग्गी झोपड़ियों में चल रहे सामूहिक किचन में एक समय का राशन दिया गया। कुर्मांचल नगर का यह सामुदायिक भोजन केंद्र जनसहयोग से चल रहा है। जिससे यहां की 4 बस्तियों के 50 परिवारों के लगभग 160 लोगों को भोजन मिल रहा है।

यह भी पढ़ें-गरीबों, मजदूरों की मदद के लिए सिपेट ने लखनऊ नगर निगम को दिए 5 लाख रुपए

भोजन पकाने का कार्य स्वयं जरूरत मन्द लोग खुद ही कर रहे हैं। राशन बांटने वालों में लुआक्टा की तरफ से डॉ राजीव शुक्ला, डॉ प्रोतिमा पुरी, डॉ सुनीता कुमार, डॉ मेहंदी अब्बास जैदी शामिल रहे। जबकि तमाम शिक्षकों ने इसमें सहयोग दिया था। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 4, 2020, 11:45 pm
Mostly clear
Mostly clear
22°C
real feel: 22°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 43%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:24 am
sunset: 5:55 pm
 

Recent Posts

Trending