Connect with us

व्यापार

मारूति सुजुकी ने भी माना, ओला-ऊबर ने भारत के कार बाजार को नुकसान पहुंचाया

Published

on

नई दिल्ली। इन दिनों में देश की अर्थव्यवस्था सुस्त है, जीडीपी की वृद्धि दर 5 प्रतिशत पर आ गयी है और देश के कई सेक्टर मंदी की मार झेल रहे हैं। देश का ऑटो सेक्टर भी मंदी से जूझ रहा है। हाल ही में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अर्थव्यवस्था के उपचारात्मक उपायों का ऐलान करते हुए था कि ऑटो सेक्टर में मंदी की वजह कुछ अन्य वजहें भी हैं। वित्त मंत्री ने कहा था कि युवाओं द्वारा ओला-उबर का ज्यादा इस्तेमाल करना भी वाहन बिक्री घटने की एक वजह है। इस पर कांग्रेस और इंडस्ट्री के कई लोगों ने वित्त मंत्री की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि ओला और ऊबर की मार्केट में मौजूदगी से भी इस सेक्टर पर प्रभाव पड़ा है। केन्द्रीय वित्त मंत्री की इस बात का समर्थन अब मारूति सुजुकी ने भी किया है।
देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारूति के चेयरमैन आरसी भार्गव एक इंटरव्यू में कहा कि वित्त मंत्री की बात 100 फीसदी सच है। आज का युवा कार खरीदने की अपेक्षा ओला-ऊबर से काम चला कर अपनी पसंद के अन्य गैजेट्स खरीद रहा है। कहा कि ओला और उबर जैसी राइड-हेलिंग कंपनियों की वजह से भारतीय युवा अब कहीं आने-जाने के लिए कार खरीदने की जरूरत नहीं समझते। भार्गव ने कहा कि भारत में महंगाई तो बढ़ी लेकिन लोगों की क्रय शक्ति नहीं बढ़ पायी है। नए करों के चलते कारों की कीमत बढ़ी है। http://www.satyodaya.com

व्यापार

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी का 2021 तक कर्जमुक्त करने का लक्ष्य

Published

on

रिलायंस जियों में अब तक 10 फीसदी हिस्सेदारी बेच चुके मुकेश अंबानी

लखनऊ। रिलायंस इंडस्ट्रीज कर्जमुक्त होने की दिशा में काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि मार्च 2021 तक इस लक्ष्य की ओर आगे बढ़ने में अग्रसर है। इसके लिए रिलायंस ने पिछले कुछ सप्ताह में कंपनी से 78 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेशक जुटा चुकी है। कंपनी ने पिछले माह के दौरान इक्विटी के रूप में 1.3 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं। हमारा अनुमान है कि यदि अरामको सौदे में देरी भी होती है, तो भी कंपनी 2020-21 में अपना समूचा 1.6 लाख करोड़ रुपये का नेट डेट चुका पाएगी।

मुकेश अंबानी के नियंत्रण वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी डिजिटल इकाई में अल्पांश हिस्सेदारी फेसबुक तथा निजी इक्विटी कंपनियों मसलन सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, केकेआर और जनरल अटलांटिक को बेचकर कुल 78,562 करोड़ रुपये की राशि जुटाई है। इसके अलावा कंपनी राइट्स इश्यू के जरिये भी 53,125 करोड़ रुपये जुटा रही है। कंपनी का समायोजित शुद्ध कर्ज 2.57 लाख करोड़ रुपये कुछ ऊंचा है, और इसे चुकाने में अधिक समय लगेगा।

कंपनी पर एडलवाइस पर एक शोध रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘हालिया सौदों के बाद हमने रिलायंस इंडस्ट्रीज के बही-खाते का विश्लेषण किया है। कंपनी ने पिछले माह के दौरान इक्विटी के रूप में 1.3 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं। हमारा अनमान है कि यदि अरामको सौदे में देरी भी होती है, तो भी कंपनी 2020-21 में अपना समूचा 1.6 लाख करोड़ रुपये का शुद्ध ऋण चुका पाएगी।

इसे भी पढ़ें-लॉकडाउन 0.5: DM ने की बैठक, मार्केट में सभी नियमों व प्रोटोकॉल का कराएं पालन

एडलवाइस ने कहा है कि कंपनी की दूरसंचार इकाई जियो का पूंजीगत खर्च काफी हद तक पूरा हो गया है। ऐसे में रिलायंस इंडस्ट्रीज तेल और गैस क्षेत्र से कम आय के बावजूद 2020-21 में 20,000 करोड़ रुपये का मुक्त नकदी प्रवाह (एफसीएफ) हासिल कर पाएगी।

ब्रोकरेज कंपनी ने कहा, ‘‘हमारा अनुमान है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज जियो में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। इसके अलावा राइट्स इश्यू से मिलने वाली राशि, ईंधन के खुदरा कारोबार में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी बीपी को 7,000 करोड़ रुपये में बेचने आदि के बाद कंपनी के पास 1.3 लाख करोड़ रुपये की नकदी होगी। ऐसे में कंपनी 2020-21 में कर्जमुक्त होने के लक्ष्य को हासिल कर पाएगी।’’http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

यूपी में कोविड अस्पतालों एवं अन्य चिकित्सा सुविधाओं को और सुदृढ़ किया जाए- CM योगी

Published

on

मुख्यमंत्री ने हर जनपद में एल-1, एल-2 और एल-3 कोविड अस्पताल उपलब्ध

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में एल-1, एल-2 व एल-3 कोविड अस्पतालों में बेड की कुल क्षमता देश में सबसे ज्यादा एक लाख से अधिक करने तथा कोविड-19 की टेस्टिंग क्षमता के 10 हजार पार करने पर प्रसन्नता की है। मुख्यमंत्री ने आगामी 15 जून तक टेस्टिंग क्षमता को बढ़ाकर 15 हजार करने तथा जून माह के अन्त तक बढ़ाकर 20 हजार किए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने आज अपने आवास पर उच्च स्तरीय बैठक में लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के हर जनपद में एल-1 और एल-2 कोविड अस्पताल उपलब्ध हैं। एल-1 कोविड अस्पतालों में सामान्य बेड के साथ ही आक्सीजन आपूर्ति की सुविधा से युक्त बेड भी उपलब्ध हैं और एल-2 कोविड अस्पतालों में आक्सीजन युक्त बेड के साथ ही वेंटीलेटर की सुविधा से युक्त बेड भी उपलब्ध हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मार्च के पहले सप्ताह में जब प्रदेश में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया तो उस समय राज्य में इसकी टेस्टिंग क्षमता 50 थी। अब केन्द्र सरकार के सहयोग से वर्तमान में प्रदेश की टेस्टिंग क्षमता को विकसित कर 10 हजार से अधिक कर लिया गया है।

मुख्यमंत्री ने बैठक में निर्देश देते हुए कहा कि 1 जून से रेल सेवा प्रारंभ होने के कारण रेलवे स्टेशनों पर सभी यात्रियों की समुचित स्क्रीनिंग की जाए। स्क्रीनिंग हेतु रेलवे स्टेशनों पर आवश्यक रूप से प्रशासन पुलिस व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को तैनात किया जाय। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश सरकार की ओर से रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर विभिन्न राज्यों से प्रदेश में आने वाले कामगारों श्रमिकों को ऐसे हैंडबिल उपलब्ध कराए जाए जिसमें कोरोनावायरस के विषय में बरती जाने वाली सभी सावधानियों के बारे में भी बताया गया हो। जिससे इन कामगारों श्रमिकों को कोरोनावायरस के संबंध में बरती जाने वाली सावधानी की पहले से ही जानकारी रहे।

वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि 1 जून से खाद्यान्न वितरण का अगला चरण शुरू होगा। इसके दृष्टिगत सभी तैयारियां समय से पूरी कर ली जाए। गोदाम से राशन की दुकान तक खाद्यान्न की सप्लाई पूरी पारदर्शिता के साथ की जाए। उन्होंने कहा कि ग्राम स्तर पर पूरी पारदर्शिता और सप्लाई किए जाने के लिए अधिकारियों की नियुक्ति की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर हाल में सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में प्रत्येक जरूरतमंद परिवार को खाद्यान्न उपलब्ध हो। प्रदेश में कोई भूखा नहीं रहना चाहिए और जरूरतमंद परिवारों के राशन कार्ड भी तत्काल बनवाए जाए।

इसे भी पढ़ें-सेवा कार्य रोकने के लिए यूपी कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी सरकार की योजना- ललन कुमार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आकाशीय बिजली जैसी आपदाओं से होने वाली जनहानि, पशुहानि को रोकने के लिए तकनीक के साथ-साथ राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को पूरी कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश देते हुए कहा कि तकनीक के प्रयोग से आकाशीय बिजली से होने वाले जन और पशु हानियों को रोका जा सकेगा। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के निराश्रित व्यक्तियों को ग्राम प्रधान निधि से आर्थिक सहायता प्रदान की जाय जिससे निराश्रित व्यक्ति के पास राशन खाद्यान्न और आर्थिक सहायता की दिक्कत ना हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ सहित अन्य लोगों के प्रशिक्षण में तेजी लाया जाए। प्रशिक्षण का कार्यक्रम सबसे महत्वपूर्ण कार्यों में से है। इसलिए चिकित्सकों और पैरा मेडिकल स्टाफ प्रशिक्षण का कार्यक्रम निरंतर संचालित किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य तथा प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा को कोविड और नान कोविड अस्पतालों में लगातार संवाद बनाए रखने और अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा नियमित रूप से राउंड के भी निर्देश दिये।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

Lockdawn 0.4: लखनऊ में लालबाग, लाटूश रोड समेत कई बाजारें आज से खोली जाएंगी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को बाजार खोलने की मंजूरी के बाद खुल गए हैं। लॉकडाउन के चौथे चरण में राजधानी में प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। लॉकडाउन 4.0 में सोशल डिसटेंसिंग के नियमों का पालन करते बाजारों को खोलने में जिला प्रशासन ने राहत दी है।

इसे भी पढ़ें- 30 को मई क्यों मनाया जाता है हिंदी पत्रकारिता दिवस, जानें इसका पूरा इतिहास

शुक्रवार को प्रशासनिक अफसरों और व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों के बीच वार्ता के बाद रात में प्रशासन की ओर से बाजारों को खोलने की गाइडलाइन जारी की गई। इसके तहत आज से शहर के लालबाग, लाटूश रोड की बाजार खुली रहेगी। कैसरबाग, चौक बाजार के समेत कई बाजार खोले जाएंगें । इसके साथ अमीनाबाद बाजार 1 जून से खुलेगा।

सदर बाजार को अभी नहीं खोला जाएगा। वहीं प्रतिबंधित क्षेत्रों में अभी दुकानें नहीं खुलेंगी। वहीं दुकानों पर फिजिकल डिस्टेसिंग समेत मास्क व सैनिटाइजर के प्रयोग को लेकर कड़े निर्देश भी दिए गए हैैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 2, 2020, 6:33 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 33°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 83%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:27 pm
 

Recent Posts

Trending