Connect with us

व्यापार

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी का 2021 तक कर्जमुक्त करने का लक्ष्य

Published

on

रिलायंस जियों में अब तक 10 फीसदी हिस्सेदारी बेच चुके मुकेश अंबानी

लखनऊ। रिलायंस इंडस्ट्रीज कर्जमुक्त होने की दिशा में काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि मार्च 2021 तक इस लक्ष्य की ओर आगे बढ़ने में अग्रसर है। इसके लिए रिलायंस ने पिछले कुछ सप्ताह में कंपनी से 78 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेशक जुटा चुकी है। कंपनी ने पिछले माह के दौरान इक्विटी के रूप में 1.3 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं। हमारा अनुमान है कि यदि अरामको सौदे में देरी भी होती है, तो भी कंपनी 2020-21 में अपना समूचा 1.6 लाख करोड़ रुपये का नेट डेट चुका पाएगी।

मुकेश अंबानी के नियंत्रण वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी डिजिटल इकाई में अल्पांश हिस्सेदारी फेसबुक तथा निजी इक्विटी कंपनियों मसलन सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, केकेआर और जनरल अटलांटिक को बेचकर कुल 78,562 करोड़ रुपये की राशि जुटाई है। इसके अलावा कंपनी राइट्स इश्यू के जरिये भी 53,125 करोड़ रुपये जुटा रही है। कंपनी का समायोजित शुद्ध कर्ज 2.57 लाख करोड़ रुपये कुछ ऊंचा है, और इसे चुकाने में अधिक समय लगेगा।

कंपनी पर एडलवाइस पर एक शोध रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘हालिया सौदों के बाद हमने रिलायंस इंडस्ट्रीज के बही-खाते का विश्लेषण किया है। कंपनी ने पिछले माह के दौरान इक्विटी के रूप में 1.3 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं। हमारा अनमान है कि यदि अरामको सौदे में देरी भी होती है, तो भी कंपनी 2020-21 में अपना समूचा 1.6 लाख करोड़ रुपये का शुद्ध ऋण चुका पाएगी।

इसे भी पढ़ें-लॉकडाउन 0.5: DM ने की बैठक, मार्केट में सभी नियमों व प्रोटोकॉल का कराएं पालन

एडलवाइस ने कहा है कि कंपनी की दूरसंचार इकाई जियो का पूंजीगत खर्च काफी हद तक पूरा हो गया है। ऐसे में रिलायंस इंडस्ट्रीज तेल और गैस क्षेत्र से कम आय के बावजूद 2020-21 में 20,000 करोड़ रुपये का मुक्त नकदी प्रवाह (एफसीएफ) हासिल कर पाएगी।

ब्रोकरेज कंपनी ने कहा, ‘‘हमारा अनुमान है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज जियो में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। इसके अलावा राइट्स इश्यू से मिलने वाली राशि, ईंधन के खुदरा कारोबार में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी बीपी को 7,000 करोड़ रुपये में बेचने आदि के बाद कंपनी के पास 1.3 लाख करोड़ रुपये की नकदी होगी। ऐसे में कंपनी 2020-21 में कर्जमुक्त होने के लक्ष्य को हासिल कर पाएगी।’’http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

व्यापार

रिलायंस ने पेश की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप “जियोमीट”, जानिए जूम को कैसे देगी टक्कर

Published

on

40 मिनट से अधिक की बैठक के लिए मासिक शुल्क देना होगा 15 डॉलर

लखनऊ। अब रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जूम को टक्कर देने की तैयारी कर ली है। फेसबुक और इन्टेल जैसी कंपनियों को अपने डिजिटल कारोबार में हिस्सेदारी बेचकर अरबों डॉलर जुटाने के बाद मुकेश अंबानी की कंपनी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग बाजार में रिलायंस जियो ने ‘जियोमीट’ के नाम से नया ऐप उतारा है । जिसमें मेजबान समेत 100 लोग एक साथ असीमित समय तक फ्री वीडियो कांफ्रेंसिंग कर सकेंगे।

रिलायंस के इस कदम को प्रतिद्वंद्वी जूम के साथ ‘कीमत युद्ध’ के रूप में देखा जा रहा है। बीटा परीक्षण के बाद जियोमीट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप एंड्रॉयड, आईओएस, विंडोज, मैकओएस और वेब पर बृहस्पतिवार शाम से उपलब्ध ’है। कंपनी की वेबसाइट के अनुसार जियोमीट पर एचडी ऑडियो और वीडियो कॉल की गुणवत्ता मिलेगी। इसमें एक साथ 100 लोगों को जोड़ा जा सकता है। यहां तक की जियोमीट में वीडियो कांफ्रेंसिंग की कोई समय सीमा तय नही की गई है जबकि जूम ऐप पर फ्री वीडियो कॉलिंग के लिए मात्र 40 मिनट की अवधि होती है।

इसमें स्क्रीन साझा करने, पहले से बैठक का समय तय करने और अन्य फीचर्स है। खास बात यह है कि इसमें जूम की तरह 40 मिनट की समयसीमा नहीं है। कंपनी ने दावा किया कि इसमें कॉल्स 24 घंटे तक जारी रखी जा सकती है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक ‘कूटलेखन’ और पासवर्ड से संरक्षित रहेगी।

कंपनी के सूत्रों ने कहा कि जूम पर 40 मिनट से अधिक की बैठक के लिए मासिक शुल्क 15 डॉलर है। सालाना आधार पर यह 180 डॉलर बैठेगा। वहीं जियोमीट इससे अधिक सुविधा मुफ्त में उपलब्ध करा रही है। इससे जूम बैठक आयोजित करने वाले को जियोमीट का इस्तेमाल करने पर सालाना 13,500 रुपये की बचत होगी।

गूगल प्ले स्टोर पर इस ऐप के कई फीचर्स की जानकारी दी गई है। इसके अनुसार जियोमीट के लिए मोबाइल नंबर या ई-मेल आईडी के जरिये आसानी से ‘साइन अप’ किया जा सकता है। इसमें तुरंत बैठक आयोजित की जा सकती है। एचडी ऑडियो और वीडियों गुणवत्ता वाली बैठक का समय पहले से तय किया जा सकता और बैठक में भाग लेने वाले लोगों को इसकी जानकारी दी जा सकती है।

इसे भी पढ़ें- LUCKNOW : बेखौफ दबंगों ने थाने के पास युवक को पीटा, झोंका फाॅयर

जियोमीट के जरिये एक दिन में कितनी भी बैठकें आयोजित की जा सकती हैं और कोई भी बैठक बिना किसी बाधा के 24 घंटे चल सकती है। प्रत्येक बैठक पासवर्ड से संरक्षित है। बैठक आयोजित करने वाला व्यक्ति ‘वेटिंग रूम’ की सुविधा का इस्तेमाल कर सकता है। इससे कोई भी भागीदार बैठक में बिना अनुमति शामिल नहीं हो सकता। इसमें ग्रुप बनाने की अनुमति है। सिर्फ एक क्लिक पर कॉलिंग या चैटिंग की जा सकती है। गूगल प्ले स्टोर और आईओएस पर इस ऐप के पांच लाख डाउनलोड पहले ही हो चुके हैं।

यह ऐप ऐसे समय पेश की गई है जबकि सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा और डेटा गोपनीयता पर खतरे के मद्देनजर चीन से संबंधित 59 ऐप पर रोक लगाई है। इनमें टिकटॉक भी शामिल है। कंपनी सूत्रों ने कहा कि जियोमीट में समय की कोई सीमा नहीं होने की वजह से शिक्षकों को अपनी ऑनलाइन कक्षाओं को छोटा करने की जरूरत नहीं होगी। इस ऐप के जरिये राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सेमिनार तथा सांस्कृतिक और सामाजिक कार्यक्रम आयोजित किए जा सकते हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

पड़ोसी को फंसाने के लिए उसकी दुकान में रखा था तमंचा व गांजा, चार युवक गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार स्थित पटेलपुरम इलाके में दुकानदार को असलहे और गांजे में फसाने वाले गैंग के लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक पकडे गए पुलिस के मुखबिर समेत 4 लोगों के पास से 3 तमंचे, 700 ग्राम गांजा भी बरामद हुआ है। गोमतीनगर विस्तार थाना क्षेत्र के पटेलपुरम स्थित लक्ष्मी मार्केट में षड्यंत्र में दुकानदार को फंसाने वाले 4 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

एडिशनल डीसीपी अमित कुमार के मुताबिक क्षेत्र में मिठाई की दुकान चलाने वाले रणजीत यादव ने पड़ोसी दुकानदार यासीन को फंसाने के लिए उसकी दुकान में तमंचे व गांजा से भरा बैग रख दिया और पुलिस को सूचना दे दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने यासीन समेत अन्य दुकानदार को हिरासत में लिया। लेकिन एक सीसीटीवी की फुटेज ने सारी साजिश का पर्दाफाश कर दिया। सीसीटीवी देखने पर पता चला कि मामला यासीन को फंसाने का था। जिसके बाद गैंग का खुलासा हुआ।

यह भी पढ़ें-यूपी कांग्रेस अध्यक्ष ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि, जवानों के परिवार का लेंगे हालचाल

पुलिस ने इस मामले में मुखबिर रणजीत कश्यप समेत राजकुमार कश्यप, विवेक शुक्ला और अभिषेक मिश्रा को गिरफ्तार किया है। मामले में वांछित अभियुक्त दुकानदार रंजीत यादव और अशोक यादव अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। पुलिस ने इनके पास से 315 बोर के 2 तमंचे और 720 ग्राम गांजा भी बरामद किया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

हरियाणा: रोहतक से 15 KM दूर हिली धरती, तीव्रता 2.1 मापी गई

Published

on

रोहतक​: उत्तर भारत के अलग-अलग हिस्सों ​में पिछले कई दिनों से भूकंप के झटकों को आने का सिलसिला जारी है। गुरुवार आज हरियाणा के रोहतक में सुबह सवा 4 बजे के करीब भूंकप के झटके ​महसूस किये गए हैं. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 2.1 रही। ​

यह भी पढ़ें: गलवान झड़प: तीनों सेनाएं अलर्ट पर, सभी सैनिकों की छुट्टी रद्द

​बीते कुछ समय से जम्मू-कश्मीर, दिल्ली, गुजरात, झारखंड, ओडिशा में कम तीव्रता के भूकंप के झटके ​आने से लोग दहशत में आ गए थे. ​पिछले एक सप्ताह में देश में कम तीव्रता के 25 भूकंप आ चुके हैं। 16 जून को कश्मीर में आया भूकंप इससे पहले, कश्मीर में मंगलवार को एक ​कम तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया​​ गया था। जिसकी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 5.8 मापी गई, भूकंप का केंद्र तजाकिस्तान क्षेत्र में था और इसकी गहराई पृथ्वी की सतह के भीतर 100 किलोमीटर थी। 


​गुजरात में 24 घंटे के अंदर ​भूकंप​ के ​3​ झटके ​
15 जून को गुजरात के राजकोट जिले में सोमवार कम तीव्रता के दो भूकंप आए। इसके एक दिन पहले रविवार को क्षेत्र में 5.3 तीव्रता का भूकंप आया था। राजकोट के उत्तर पश्चिम में 132 किमी दूर रिक्टर पैमाने पर 3.5 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया जबकि दूसरा भूकंप 4.1 तीव्रता का था, जो अपराह्न् 12.57 बजे इसके उत्तर पश्चिम में उत्तर की ओर 118 किलोमीटर दूर आया था। रविवार रात 8.13 बजे इसी जिले में 5.3 तीव्रता का एक भूकंप आया था. अहमदाबाद सहित राज्य के कई हिस्सों में भी भूकंप महसूस किया गया था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 5, 2020, 9:24 am
Fog
Fog
29°C
real feel: 36°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 100%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:49 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending