Connect with us

व्यापार

दुश्मनों पर अचूक वार करेगी निर्भय, डीआरडीओ ने किया सफल परीक्षण

Published

on

1000 किलोमीटर तक मार करेगी सब-सोनिक क्रूज मिसाइल 

नई दिल्ली। दुश्मनों को भयभीत करने के लिए भारतीय सेना के बेड़े में एक और अचूक हथियार ’निर्भय’ मिसाइल जल्द ही शामिल हो जाएगी। सोमवार को स्वदेशी तकनीक से बनाई गई सब-सोनिक क्रूज मिसाइल निर्भय का सफल परीक्षण किया गया है। ओडिसा के परीक्षण केन्द्र से 1000 किलोमीटर तक मार करने वाली इस स्वदेशी सब सोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। इससे पहले भी इस मिसाइल के कई सफल परीक्षणों का आयोजन किया जा चुका है। अब जल्द ही इसे सेना में शामिल कर लिया जाएगा। इस मिसाइल से भारत को रक्षा क्षेत्र में और मजबूती मिली है। यह मिसाइल बिना भटके अपने निशाने पर अचूक मार करने में सक्षम है।
इस मिसाइल को भारत की रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (डीआरडीओ) ने अकेले दम पर विकसित किया है। यह मिसाइल क्षमता में अमेरिका के प्रसिद्ध टॉमहॉक मिसाइल के बराबर है। निर्भय मिसाइल 300 किलोग्राम तक के परमाणु वारहेड को अपने साथ ले जा सकती है। इस मिसाइल की सटीकता बहुत ज्यादा है।

यह भी पढ़ें-मायावती का सीएम योगी पर पलटवार, कहा- ‘BJP का रवैया घोर जनविरोधी’

इस मिसाइल से भारत की सैन्य ताकत को मजबूती मिलेगी। इस मिसाइल के भारतीय सेना में शामिल होते ही पाकिस्तान, चीन समेत कई देश भारतीय सेना के हमलों की जद में आ जाएंगे। यह मिसाइल कुछ सेकेंड में ही दुश्मन देशों के किसी भी इलाके को नेस्तानाबूद करने में सक्षम है। डीआरडीओ के वैज्ञानिकों के मुताबिक ओडिशा के समुद्री तट पर बने केंद्र से सुबह किए गए परीक्षण को कामयाबी हासिल हुई है। इस मिसाइल को भारतीय तकनीक से बनाया गया है। इसके साथ ही डीआरडीओ के वैज्ञानिकों ने मिसाइल की डिजाईन भी यहीं तैयार की है। जानकारी के मुताबिक, यह मिसाइल 200 से 300 किलोग्राम तक की आयुध सामग्री आसानी से ले जा सकती है।

नहीं मिला विदेशी सहयोग

अपने पड़ोसी देशों चीन और पाकिस्तान से बढ़ते खतरे को देखते हुए भारत ने एक लंबी दूरी की सब सोनिक क्रूज मिसाइल बनाने के बारे में योजना बनाई। लेकिन मिसाइल टेक्नोलॉजी कंट्रोल रिजीम की वजह से निर्धारित रेंज से ज्यादा की मिसाइल विकसित करने के लिए कोई विदेशी सहयोगी नहीं मिलने वाला था। जिसके बाद डीआरडीओ ने इस मिसाइल को अकेले विकसित करने का फैसला किया।

कई बार के प्रयास के बाद मिली कामयाबी

बता दें कि इससे पहले भी डीआरडीओ के वैज्ञानिक इस मिसाइल का कई बार परीक्षण कर चुके हैं। निर्भय का पहला परीक्षण 12 मार्च 2013 को किया गया था और उस समय मिसाइल में खराबी आने के कारण उसने बीच रास्ते में ही काम करना बंद कर दिया था। दूसरा परीक्षण 17 अक्तूबर 2014 को किया गया जो सफल रहा था। 16 अक्तूबर 2015 को किए गए अगले परीक्षण में मिसाइल 128 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद अपने रास्ते से भटक गई थी। इसके बाद 21 दिसंबर 2016 को परीक्षण किया गया उस समय भी यह निर्धारित रास्ते से भटक गई थी। इसके अलावा नवंबर 2017 में इस मिसाइल का परीक्षण किया गया था। वैज्ञानिकों ने इस परीक्षण को सफल बताया था। यह सभी परीक्षण ओडिशा के चांदीपुर में डीआरडीओ के परीक्षण रेंज से किए गए थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

व्यापार

हुनरमंद महिलाओं को प्रमाणपत्र देने के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू

Published

on

लखनऊ। राजधानी के खुर्रमनगर स्थित आईक्यू प्लाजा में रविवार को महिलाओं के लिए तीन दिवसीय आरपीएल प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। जाइन आईटी ब्रेन्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन कौशल विकास मिशन लखनऊ की एमआईएस मैनेजर आरती तिवारी ने किया। तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य ऐसी महिलाओं को प्रमाणपत्र देना है। जो पहले से ही सिलाई की जानकारी रखती हैं या अपना स्वयं का व्यवसाय कर रही हैं, लेकिन उनके पास कोई प्रमाणपत्र नहीं है।

आरती तिवारी ने बताया कि ऐसे लोगों को कौशल विकास मिशन के माध्यम से प्रमाणीकृत किया जायेगा। योजना के अन्तर्गत प्रशिक्षार्थियों को ड्रेस और किट का वितरण किया गया। संस्था के डायरेक्टर श्रीश चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा, हुनरमन्द एवं कार्य में दक्षता होने के बावजूद भी इनके पास दिखाने को कोई प्रमाण पत्र नहीं होता। जिसके चलते इन महिलाओं को अपने व्यवसाय के लिये ऋण लेने में भी परेशानी होती है। प्रमाण पत्र के बाद इन हुनरमंद लोगों को को ये सुविधाएं आसानी से मिल सकेंगी।

यह भी पढ़ें-राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कुमार केशव को किया सम्मानित

प्रशिक्षण में इन प्रशिक्षार्थियों को डिजिटल लेन-देन के बारे में भी सिखाया जायेगा। जिससे यह प्रशिक्षार्थी भी वर्तमान डिजिटल युग के साथ कदम से कदम मिला कर चल सकें। इस अवसर पर संस्था के कार्यक्रम संयोजक शशिकान्त सिंह, कार्यक्रम संचालिका दीपशिखा, कम्पनी के प्रोग्राम हेड विवेक उपाध्याय, सुशील कुमार, राकेश यादव भी उपस्थित रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

शाहिद कपूर से ‘BREAKUP’ पर 13 साल बाद करीना ने तोड़ी चुप्पी…

Published

on

लखनऊ: करीना कपूर और शाहिद कपूर बी-टाउन के सबसे पॉपुलर कपल रह चुके हैं। दोनों ने आज से लगभग 13 साल पहले एक दूसरे को डेट किया था और दोनों की शादी की खबरें भी सामने आई थीं। लेकिन अचानक बिना किसी को कुछ बताए ये दोनों अलग हो गए थे।

बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर इन दिनों फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की तैयारी में लगी हुई हैं। जब भी करीना कपूर की फिल्मों की बात की जाती है तो उनकी ‘जब वी मेट’ हर किसी के दिमाग में तुरंत आ जाती है।

हाल ही में ने अनुपमा चोपड़ा को दिए अपने इंटरव्यू में अपनी फिल्म ‘जब वी मेट’ के बारे में बेबो ने बात की, इसके साथ ही उन्होंने फिल्म में को-स्टार शाहिद कपूर से अपने ब्रेकअप पर भी चुप्पी तोड़ी। इसके साथ ही उन्होंने ‘टशन’ के सेट पर सैफ अली खान से हुई मुलाकात के बारे में भी जिक्र किया।

यह भी पढ़ें: ‘पृथ्वीराज’ में क्लासिकल डांस करेंगी मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर

बता दें करीना ने अपने इंटरव्यू में कहा कि, ‘भाग्य के भी अपने कुछ रूल्स होते हैं। यही वजह है कि लाइफ उसी के तौर तरीकों पर है। ‘टशन’ और ‘जब वी मेट’ के वक्त काफी कुछ हुआ और तभी हम दोनों के रास्ते एक-दूसरे के लिए अलग हो गए थे। करीना ने ये भी बताया कि शाहीद से अलग होने के बाद मैं ‘टशन’ के सेट पर सैफ अली खान से मिली। इसके बाद मानो मेरी पूरी जिंदगी बदल गई’।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

व्यापार

मदरसा सुल्तानपुर मदारिस में पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित

Published

on

लखनऊ। चौक स्थित मदरसा सुल्तानपुर मदारिस में गुरुवार को पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि महापौर संयुक्ता भाटिया के साथ स्वामी सारंग व ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती यूनिवर्सिटी के कुलपति भी मौजूद रहे। मदरसा परिसर में छात्रों व मेहमानों ने मिलकर करीब 100 पौधे जमीन में रोपित किए और उनमें पानी डाला। इस मौके पर महापौर ने छात्रों का अधिक से अधिक पेड़ लगाने के लिए प्रोत्साहित किया।

यह भी पढ़ें-बीएस-4 ने परिवर्तन चौक से हजरतगंज तक निकाली रैली आरक्षण बचाओ रैली

मदरसा के प्रिसिपल अंसार रजा ने कहा कि पौधारोपण सबाब का काम है। क्योंकि इससे सभी लोगों को स्वच्छ आबो-हवा मिलती है। साथ ही हमारी धरती और पर्यावरण सुरक्षित होती है। अंसार रजा ने कहा कि हर धर्म में पौधरोपण को पुण्य का काम बताया गया है। हम लोगों ने इस कार्यक्रम की शुरूआत की है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 26, 2020, 5:43 am
Fog
Fog
14°C
real feel: 15°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:04 am
sunset: 5:35 pm
 

Recent Posts

Trending