Connect with us

देश

26 मार्च राशिफल: जानिए किन राशियों के लिए शुभ रहेगा आज का दिन

Published

on

🐏 राशि फलादेश मेष :-
(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
पराक्रम व प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। विशेष सम्मान हो सकता है। विवेक का प्रयोग करें। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। लंबी यात्रा की योजना बन सकती है। स्थायी संपत्ति में वृद्धि के योग हैं। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। जल्दबाजी में कोई व्यवहार न करें।

🐂 राशि फलादेश वृष :-
(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
किसी भी प्रकार के विवाद में न पड़ें। हल्की हंसी-मजाक से बचें। चोट व रोग से परेशानी संभव है। दांपत्य जीवन में आनंद का वातावरण रहेगा। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति लाभदायक बनेगी। आय में वृद्धि होगी। नौकरी में मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। लाभ होगा।

यह भी पढ़े :- CoronaHarega: कन्नौज मेडिकल कॉलेज को जया बच्चन ने दी एक करोड़ की निधि

👫 राशि फलादेश मिथुन :-
(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
किसी अपने ही व्यक्ति से विवाद हो सकता है। स्वाभिमान को चोट लग सकती है। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। वाहन व मशीनरी आदि के प्रयोग में लापरवाही न करें। कारोबार ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी।

🦀 राशि फलादेश कर्क :-
(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
किसी गंभीर बीमारी की शुरुआत हो सकती है, लापरवाही न करें। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। अनहोनी की आशंका रह सकती है। कोर्ट-कचहरी तथा सरकारी मामलों की बाधा दूर होकर स्थिति अनुकूल रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। पूजा-पाठ आदि पर व्यय होगा।

🦁 राशि फलादेश सिंह :-
(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
ईर्ष्यालु व्यक्तियों से सावधान रहें। कोई शारीरिक पीड़ा हो सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। शत्रुओं का पराभव होगा। आर्थिक नीति में बदलाव हो सकता है। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी।

👩🏻‍🦰 राशि फलादेश कन्या :-
(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
परिवार के छोटे सदस्यों की बाहर से शिकायत आ सकती है, ध्यान दें। चोट व रोग से हानि की आशंका है, लापरवाही न करें। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। पुरानी लेनदारी वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कारोबार में वृद्धि होगी। जल्दबाजी न करें।

⚖ राशि फलादेश तुला :-
(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
खर्च की मद में इजाफा होगा। बजट बिगड़ेगा। कर्ज लेना पड़ सकता है। किसी व्यक्ति के उकसावे में नहीं आएं। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। आय बनी रहेगी।

🦂 राशि फलादेश वृश्चिक :-
(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ के योग हैं। सट्टे, जुए व लॉटरी से दूर रहें। रोजगार में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। भाग्य का सहारा रहेगा। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। चोट व रोग से बचें। किसी बड़ी समस्या से निजात मिल सकती है।

🏹 राशि फलादेश धनु :-
(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
दूर से अतिथियों का आगमन होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। आय में वृद्धि होगी। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। किसी मांगलिक कार्य में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। व्यस्तता रहेगी। प्रमाद न करें।

🐊 राशि फलादेश मकर :-
(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
मेहनत का फल पूरा-पूरा मिलेगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। आय में वृद्धि होगी। कोई बड़ा कार्य प्रारंभ करने का मन बनेगा। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। निवेश शुभ फल देगा। समय की अनुकूलता का लाभ लें। भरपूर प्रयास करें।

🏺 राशि फलादेश कुंभ :-
(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
यात्रा में जल्दबाजी न करें। मन में दुविधा व संशय रहेंगे। कार्य की सफलता के लिए प्रयास अधिक करना पड़ेंगे। गलतफहमी से विवाद हो सकता है। भावनाओं पर अंकुश आवश्यक है। हितशत्रुओं से सावधान रहें। कारोबार ठीक चलेगा। आय होगी। चिंता बनी रहेगी।

🐡 राशि फलादेश मीन :-
(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। विद्यार्थी वर्ग शोध कार्य व शैक्षणिक गतिविधियों में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। नौकरी मे कोई नया विचार क्रियान्वित हो सकता है। कार्य की प्रशंसा होगी।http://www.satyodaya.com

देश

Navratri 2020: कोरोना से बचने को इस मंत्र से करें कलश स्थापना

Published

on

लखनऊ । इस बार चैत्र नवरात्र की शुरूआत ऐसे समय में हो रही है, देश में महामारी का खौफ पसरा हुआ है। जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सब कुछ ठहर सा गया है। चीन से निकला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में मौत का तांडव कर रहा है। इस माहौल में मां शक्ति की आराधना शुरू हुई है। मान्यता है कि इन 9 दिनों में मां दुर्गा अपने विभिन्न स्वरूपों में धरती पर विचरण कर अपने भक्तों के कष्ट मिटाकर उन्हें आर्शीवाद देती हैं। हर तरह के कष्टों से छुटकारा पाने के लिए देवी के विभिन्न रूपों की मंत्रों से आराधना की जाती है। तो इस बार कोरोना से अपनी, अपने परिवार, देश और दुनिया की रक्षा के लिए कलश स्थापना करते समय इस विशेष देवी मंत्र का उच्चारण करना लाभप्रद हो सकता है।

“रोगानशेषानपहंसि तुष्टा रुष्टा तु कामान् सकलानभीष्टान्।
त्वामाश्रितानां न विपन्नराणां त्वामाश्रिता ह्याश्रयतां प्रयान्ति॥

अर्थ :- देवि! तुम प्रसन्न होने पर सब रोगों को नष्ट कर देती हो और कुपित होने पर मनोवाञ्छित सभी कामनाओं का नाश कर देती हो। जो लोग तुम्हारी शरण में जा चुके हैं, उन पर विपत्ति तो आती ही नहीं। तुम्हारी शरण में गये हुए मनुष्य दूसरों को शरण देनेवाले हो जाते हैं।

या फिर

ऊं ह्लीं ऊं ।

या

ऊं ऐं ह्रीं क्लीं श्रीं चामुण्डायै विच्चे । । मंत्र का भी उच्चारण किया जा सकता है।

(श्रीदुर्गा सप्तशती में महामारी का उल्लेख है। महामारी नाश और आरोग्यता के लिए संपूर्ण देवी पाठ है। विधि-विधान से नहीं हो पाए तो सूक्ष्म में यह करें…

  1. देवी कवच, अर्गला स्तोत्र और कीलकम, सप्तश्लोकी दुर्गा का पाठ ( कीलकम् और कवच का पाठ अधिक करें)
  2. देहि सौभाग्यम-आरोग्यम देहि मे परमं शिवम् का जाप करें
  3. जाप बोलकर नहीं करें क्यों कि कोरोना वायरस फैल रहा है
  4. इस बार मानसिक पूजा करें।
  5. एकांत पूजा करें। सामूहिक एकत्रीकरण से बचें
  6. परिवारीजन दूर-दूर बैठें या घर का मुखिया सभी का नाम लेते हुए घट स्थापना कर दे
  7. किसी भी बीमार व्यक्ति को पूजा में सम्मिलित न करें

हल्दी का पोंछा लगाएं

नवरात्र वातावरण के साथ ही मनसा, वाचा कर्मणा शुद्धि का भी पर्व है। तीन प्रकार के व्रत कहे गए हैं। एक काय यानी शरीर से। दूसरे वचन से। तीसरा कर्म से। मानसिक जाप सर्वश्रेष्ठ है। यूं श्री दुर्गा सप्तशती वाचन का पाठ है। लेकिन वायरस के चलते इसमें हमको कीलकम का पालन करना होगा। श्रीदुर्गा सप्तशती का यह अध्याय गुप्त है।

यह भी पढ़ें-CM योगी ने शक्ति अराधना से देश-दुनिया के लिए मांगी कोरोना से जंग में जीत

महामारी नाशक है। इसलिए कीलक का पाठ करें। पूजासे पहले हल्दी से घर का पोंछा लगाएं ताकि नकारात्मकता समाप्त हो। हल्दी का सेवन इस दौरान बढ़ा दें।

मानसिक जाप करें-कम आहार लें

वायरस के चलते धर्माचार्यों की सलाह है कि देवी पाठ बोलकर नहीं वरन मानसिक करें। जितना मानसिक जाप करेंगे, उतना ही स्वास्थ्य की दृष्टि से श्रेष्ठ रहेगा। पीतांबरा, शाकुंभरी, कात्यायनी, चंडिका और कूष्मांडा देवी की विशेष आराधना करें। लेकिन ज्यादा कर्मकांड से बचें। सामर्थ्य के अनुसार व्रत रखें लेकिन आहार कम लें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

PM मोदी ने नवरात्रि को कोरोना से लड़ने वाले डॉक्टरों, पुलिसकर्मियों को किया समर्पित

Published

on

नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को देशवासियों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए इस वर्ष की अपनी साधना को मानवता की उपासना करने वाले तथा काेरोना वायरस के फैलाव को रोकने में लगे सभी नर्स, डॉक्टर, मेडिकल स्टॉफ, पुलिसकर्मी और मीडियाकर्मी के उत्तम स्वास्थ्य के लिये समर्पित की।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस से अब तक 18,589 मौतें, 4,14,884 संक्रमित

मोदी ने ट्वीट कर कहा,“सभी देशवासियों को नववर्ष विक्रम संवत 2077 की हार्दिक शुभकामनाएं। यह नववर्ष आप सबके जीवन में समृद्धि और उत्तम स्वास्थ्य लेकर आए।”

मोदी ने एक अन्य ट्वीट कर कहा, “आज से नवरात्रि शुरू हो रही है। वर्षों से मैं मां की आराधना करता आ रहा हूं। इस बार की साधना मैं मानवता की उपासना करने वाले सभी नर्स, डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी और मीडियाकर्मी, जो कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जुटे हैं, के उत्तम स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं सिद्धि को समर्पित करता हूं।”http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कोरोना वायरस से अब तक 18,589 मौतें, 4,14,884 संक्रमित

Published

on

बीजिंग: विश्व के अधिकांश देशों में फैल चुके कोरोना वायरस का प्रकोप थमने का नाम नहीं लेे रहा है और अब तक इस खतरनाक वायरस से 18,589 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 4,14,884 लोग इससे संक्रमित हुए हैं। भारत में भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता जा रहा है और देश अब तक इससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 519 हो गयी है। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से कुल 10 लोगों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: दूसरे जनपदों के कोरोना मरीजों को न लाया जाए केजीएमयू: प्रो. वीरेन्द्र


स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि देश में कोरोना के 519 मामलों की पुष्टि हो चुकी है जिनमें से 476 मरीज भारतीय हैं जबकि 43 विदेशी नागरिक हैं। कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है और लेकिन अभी तक इससे सबसे गंभीर रूप से प्रभावित चीन के लिए राहत की बात यह है कि वुहान में पिछले तीन दिन से कोई मामला सामने नहीं आया है। इस वायरस को लेकर तैयार की गयी एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन में हुई मौत के 80 प्रतिशत मामले 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के थे। चीन में 81,218 लोगों की कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और करीब 3,281 लोगों की इस वायरस के चपेट में आने के बाद मौत हो चुकी है।


पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना को लेकर सबसे गंभीर स्थिति इटली से सामने आयी है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बुरी तरह प्रभावित इटली में इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6820 हो गयी है। इटली के नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रमुख एंजेलो बोरेली ने मंगलवार को टेलीविजन पर एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कोरोना वायरस से 743 लोगों की मौत हुई है। इटली में कोरोना संक्रमण के 5249 नए मामले सामने आए हैं जिससे संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 69176 हो गयी है। स्पेन में इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 2808 हो गयी है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक स्पेन में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 39,885 हो गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

March 26, 2020, 9:56 am
Partly sunny
Partly sunny
28°C
real feel: 30°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 54%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 5:33 am
sunset: 5:51 pm
 

Recent Posts

Trending