Connect with us

देश

चुनाव नतीजे आने के बाद ‘दीदी’ का साथ छोड़ देंगे उनके 40 विधायकः पीएम मोदी

Published

on

पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल और झारखण्ड में की चुनावी सभाएं

रांची/कोलकाता। चौथे चरण के मतदान के बीच सोमवार को पश्चिम बंगाल के श्रीरामपुर में चुनावी रैली करने पहुंचे पीएम मोदी ने दावा किया कि दीदी (ममता बनर्जी) के 40 विधायक भाजपा के संपर्क में हैं और चुनाव नतीजे आने के बाद वे दीदी का साथ छोड. देंगे। पीएम मोदी ने कहा, पहले सिर्फ मोदी को गालियां दी जाती थी, लेकिन अब तो ईवीएम को भी दी जा रही है। तृणमूल कांग्रेस के गुंडे लोगों को वोट डालने से रोक रहे हैं। विपक्ष का प्रचार अभियान मोदी को गालियां देने पर केन्द्रित है। अगर आप इन्हें निकाल देंगे तो कुछ नहीं बचेगा। मोदी ने प. बंगाल में कहा- दीदी, 23 मई को जब नतीजे आएंगे तब हर जगह कमल खिलेगा और आपके विधायक आपको छोड़ देंगे।
इससे पहले झारखंड के कोडरमा में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस चाहती है कि सरकार की डोर उन्हें मिल जाए और वो आपके साथ खिलौनों की तरह खेलती रहे। उन्हें आपके बच्चों की फिक्र नहीं है। पहली बार मताधिकार का प्रयोग कर रहे युवाओं को ‘मिशन महामिलावट के प्रति आगाह करते हुए सोमवार को कहा कि विपक्ष का महागठबंधन देश में पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं चाहता। झारखंड के कोडरमा में जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस एक कमजोर सरकार चाहती है जिसे वह ‘रिमोट कंट्रोलश् से चला सके।

विपक्ष पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘मिशन महामिलावट यानि केंद्र में ऐसी खिचड़ी सरकार, जो कमजोर रहे, जिस सरकार में ये लोग करोड़ों-अरबों रुपए इधर से उधर कर पाएं, जो इनके परिवारों को, इनके रिश्तेदारों की गुलाम बनकर काम करे। ये किसी भी कीमत पर देश में एक मजबूत, पूर्ण बहुमत वाली सरकार नहीं चाहते। महागठबंधन पर कटाक्ष करते हुए मोदी ने कहा, ‘ये लोग किसी के नहीं हैं। इन लोगों को जहां अपना वोटबैंक नहीं दिखता, ये उस इलाके को गरीब बनाकर रखते हैं, पिछड़ा बनाकर रखते हैं, वहां के लोगों को पूछते तक नहीं हैं। गरीब आदिवासी भाई-बहनों के साथ भी इन लोगों ने यही किया है।

यह भी पढ़ें-लखनऊ सीट पर राजनाथ सिंह के खिलाफ शिवपाल ने कांग्रेस उम्मीदवार का किया समर्थन, जानिए क्यों…

विपक्ष अपना भविष्य को बचाने में जुटा हैं। झारखंड में हुई लूट-खसोट को लेकर मुख्यमंत्रियों तक को जेल जाना पड़ा। पीएम मोदी ने कहा, हम रेलवे के ईस्टर्न कॉरिडोर पर काम कर रहे हैं। सड़कों की स्थिति भी पहले से बेहतर हुई है। ये काफी पहले हो जाता, लेकिन कांग्रेस सरकार ने आपका हित नहीं देखा। वे पिछड़ों के लाभ के फैसले टालते रहते थे। कांग्रेस और महामिलावटियों के राज में किसानों को अपना गांव-घर छोड़ना पड़ा था। जिन गांवों में कभी लाल आतंक दिखता था, वहां अब लोग लौटने लगे हैं। सुरक्षाबलों के हमारे जवानों को नमन करता हूं। लेकिन कांग्रेस इन वीर बेटे-बेटियों को लेकर कहती है कि नौजवान दो वक्त की रोटी पाने के लिए सेना में भर्ती होते हैं। उनके पास खाने के लिए रोटी नहीं होती। वे दुश्मनों को मारने और अपनों की सुरक्षा के लिए सीमा पर जाते हैं। कांग्रेस के लोग सेना प्रमुख को गली का गुंडा कहते हैं।

प. बंगाल में तृणमूल के 211 विधायक, भाजपा के सिर्फ तीन

बता दें कि 2016 विधानसभा चुनाव में प. बंगाल की 294 विधानसभा सीटों में से तृणमूल ने 211 सीटें जीती थीं। कांग्रेस के खाते में 44 और भाजपा के पास 3 सीटें गई थीं। 2014 के लोकसभा चुनाव में कुल 42 सीटों में से तृणमूल ने 34 जीती थीं। कांग्रेस को 4 और भाजपा को 2 सीटें मिली थीं।http://www.satyodaya.com

देश

भारतीय सेना में पहली महिला न्यायाधीश बनीं ज्योति शर्मा

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय सेना में पहली महिला न्यायाधीश ज्योति शर्मा की नियुक्ति की गई है। ज्योति शर्मा लेफ्टिनेंट कर्नल महिला जज एडवोकेट जनरल अधिकारी के रूप में भारतीय सेना में कार्य करेंगी। वह सैन्य कानूनी विशेषज्ञ के रूप में पूर्वी अफ्रीकी देश सेशेल्स की सरकार को अपनी सेवाएं देंगी।

भारतीय सेना में यह पहला मौका है। जब किसी महिला न्यायाधीश की नियुक्ति की गयी है। यह एक ऐतिहासिक क्षण है, क्योंकि इससे पहले किसी भी महिला को न्यायाधीश के तौर पर भारतीय सेना में नियुक्त नहीं किया गया है। ज्योति शर्मा विदेश से जुड़े मामले देखेंगी।

बता दें कि भारत में न्यायाधीश एडवोकेट जनरल अधिकारी का पद सेना के लेफ्टिनेंट को दिया जाता है। यह सेना का न्यायिक प्रमुख होता हैं। भारतीय सेना की न्यायाधीश एडवोकेट जनरल एक अलग विभाग है। इसमें कानूनी रूप से योग्य सेना के अधिकारी शामिल होते है। गौरतलब है कि एडवोकेट जनरल अधिकारी सभी तरह से सेना को कानूनी मदद देते हैं।

यह भी पढ़ें:- राहुल-राफेल और सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट का आया फैसला, जानिए क्या….

सेना में शादीशुदा महिलाओं का प्रतिबंध

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने अपनी कानूनी शाखा न्यायाधीश एडवोकेट जनरल में आवेदन करने के लिए विवाहित महिलाओं पर प्रतिबंध लगाया हैं। इसे लेकर अदालत में याचिका भी दायर की गई थी। जिस पर सुनवाई करते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय ने सेना को सही ठहराया। उन्होंने कहा कि सेना चाहती है कि महिलाएं कठिन ट्रेनिंग को बिना किसी छुट्टी के पूरा करे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

भारत के इस गांव में लड़के और लड़कियां एक-दूसरे को पान खिलाकर करते हैं पसंद

Published

on

शादी

फाइल फोटो

नई दिल्ली। देश-दुनिया के हर कोने में अलग-अलग रस्में और परम्पराएं हैं। इसी तरह हर raj राज्य में शादी को लेकर भी कई सारी परम्पराएं हैं। ऐसे में चलिए आज हम भारत के मध्यप्रदेश के हरदा की एक ऐसी परम्परा के बारे में बताएंगे जिसके बारे में सुनकर आप हैरान हो जाएंगे।

मध्यप्रदेश के हरदा जिले में स्थित आदिवासी अंचल में विवाह का जो तीरका आज चलन है।उसके बारे में शायद ही किसी को पता हो। हरदा के आदिवासी अंचल में रहने वाले युवक- युवती अनोखे तरीके से अपनी शादी की रस्में निभाते है। जिला मुख्यालय से तकरीबन 70 किलोमीटर दूर आदिवासी अंचल में स्थित ‘मोरगढ़ी’ गांव में हर साल दिवाली के एक सप्ताह बाद एक अनोखा मेला लगता है।इस मेले में बड़ी संख्या में आदिवासी युवक-युवतियां शामिल होते हैं।

ये भी पढ़ें:प्रेम-प्रसंग के चलते नर्स ने चलती कार में की आत्महत्या, चालक गिरफ्तार…

ठिठिया बाजार नामक इस मेले में युवक और युवती अपने जीवनसाथी का चुनाव करते हैं। इसके लिए युवक और युवती एक-दूसरे को पान खिलाते है। जी हां, यहां पर परंपरा है जिसके तहत लोग अपनी पसंद का साथी चुनने के बाद पान खिलाते है। मोरगढ़ी गांव में कई सालों से यह परम्परा चली आ रही हैं।

सारा दिन मेला घूमने के बाद युवक और युवतियां एक दूसरे को पान खिला कर अपने जीवनसाथी के रूप स्वीकार कर लेती हैं। जिसके बाद उनकी शादी का भी ऐलान हो जाता है।इसके बाद दोनों अपने घर के लिए चले जाते है और शादी की जानकारी लड़की के घरवालों को पहुंचा दी जाती हैं ताकि परिवार वाले लड़की के लिए लड़के की खोजबीन बंद कर दें। और युवक और युवती ने जिसको पसंद किया है घरवाले उसी से उसकी शादी करा दें। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

एक बार फिर बढ़ी पेट्रोल की कीमत, जानिए अब क्या है रेट…..

Published

on

पेट्रोल की कीमत

फाइल फोटो

नई दिल्ली। पेट्रोल की कीमत में एक बार फिर गुरुवार को 15 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया। जबकि डीजल के रेट में किसी भी तरह का बदलाव नहीं हुआ है। आज दिल्ली, मुंबई और कोलकाता में पेट्रोल 15 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है तो वहीं चेन्नई में पेट्रोल 16 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी देखी गई है। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक गुरुवार को दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में पेट्रोल क्रमश: 73.45 रुपये, 79.12 रुपये, 76.15 रुपये और 76.34 रुपये प्रति लीटर के भाव पर मिल रहा है। वहीं इन चारों महानगरों में डीजल क्रमश: 65.79 रुपये, 69.01 रुपये, 68.20 रुपये और 69.54 रुपये प्रति लीटर के भाव पर बिक रहा है।

हमेश सुबह 6 बजे बदलती हैं कीमतें

बता दें पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना घटते बढ़ते रहते हैं। पेट्रोल-डीजल का नया दाम सुबह 6 बजे से लागू हो जाता है। इनकी कीमत में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन सब कुछ जोड़ने के बाद इसकी कीमत लगभग दोगुनी हो जाती है।

जानिए घर बैठे कैसे जानें पेट्रोल-डीज़ल के दाम

अगर आप भी चाहते हैं कि घर बैठे पेट्रोल-डीजल के दाम पता चल जाएं तो SMS के जरिए जान लें। अगर आप सुबह 6 बजे के बाद पेट्रोल-डीज़ल का रेट चेक करना चाहते हैं तो 92249 92249 नंबर पर एसएमएस भेजकर भी पेट्रोल-डीजल के भाव के बारे में पता कर सकते हैं। इसके लिए आपको RSP<स्पेस> पेट्रोल पंप डीलर का कोड लिखकर 92249 92249 पर भेजना पड़ेगा। मतलब साफ है कि आप अगर दिल्ली में हैं और मैसेज के जरिए पेट्रोल-डीजल का भाव जानना चाहते हैं तो आपको RSP 102072 लिखकर 92249 92249 पर भेजना होगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 15, 2019, 8:52 am
Mostly sunny
Mostly sunny
16°C
real feel: 19°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 98%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:55 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending