Connect with us

देश

टिकटाॅक सहित 59 चीनी ऐप भारत में बैन, यहां देखिए पूरी लिस्ट

Published

on

लखनऊ। सीमा पर चीनी हरकतों का जवाब देने के लिए मोदी सरकार ने एक ओर बड़ा कदम उठाया है। कम्युनिस्ट सरकार को आर्थिक मोर्चे पर चोट पहुँचाने के लिए मोदी सरकार ने सोमवार को टिक-टाॅक ओर यूसी ब्राउजर सहित 59 चीनी ऐप को देश में बैन कर दिया है। सुरक्षा एजेंसियों की चेतावनी के बाद सरकार ने इन ऐप को #TikTokसुरक्षा के लिए खतरनाक मानते हुए यह कदम उठाया है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने कहा था कि इन ऐप के जरिए चीन भारतीयों ग्राहकों की निजी जानकारियां चोरी कर रहा है। हाल ही में यूपी एसटीएफ ने भी ऐसा ही अंदेशा जाहिर करते हुए करीब 50 चीनी ऐप पर सरकार से बैन लगाने को कहा था।#China

इन ऐप पर लगी पाबंदी

TikTok, Shareit, Kwai, UC Browser, Baidu map, Shein, Clash of Kings, DU battery saver, Helo, Likee, YouCam makeup, Mi Community, CM Browers, Virus Cleaner, APUS Browser, ROMWE, Club Factory, Newsdog, Beutry Plus, WeChat, UC News, QQ Mail, Weibo, Xender, QQ Music, QQ Newsfeed, Bigo Live, SelfieCity, Mail Master, Parallel Space, Mi Video Call – Xiaomi, WeSync, ES File Explorer, Viva Video – QU Video Inc, Meitu, Vigo Video, New Video Status, DU Recorder, Vault- Hide, Cache Cleaner DU App studio, DU Cleaner, DU Browser, Hago Play With New Friends, Cam Scanner, Clean Master – Cheetah Mobile, Wonder Camera, Photo Wonder, QQ Player, We Meet, Sweet Selfie, Baidu Translate, Vmate, QQ International, QQ Security Center, QQ Launcher, U Video, V fly Status Video, Mobile Legends, DU Privacy

यह भी पढ़ें-योगी सरकार ने 21 मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों के किए तबादले

बता दें कि 15 जून की रात लद्दाख की गलवान घाटी में हुई खूनी झड़प के बाद से ही दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं। सीमा पर लगातार चीन की तरफ से उकसावे वाली हरकतें की जा रही हैं। भारत सरकार ने इससे पहले देश के अंदर सभी निर्माण कार्यों व ठेकों में चीनी कंपनियों की भागीदारी खत्म करने के लिए निर्देश दिए थे।http://www.satyodaya.com

देश

अरुणाचल प्रदेश: असम राइफल्स-पुलिस की बड़ी कार्रवाई, NSCN-IM के 6 उग्रवादी ढेर

Published

on

नई दिल्ली। अरुणाचल प्रदेश में असम राइफल्स और अरुणाचल प्रदेश पुलिस ने शनिवार को उग्रवादियों के खिलाफ संयुक्त बड़ी कार्रवाई करते हुएबनगा उग्रवादी संगठन NSCN (IM) के 6 उग्रवादियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया है।  सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि तिरप जिले के जनरल क्षेत्र के खोंसा में कुछ उग्रवादी छिपे हुए हैं। इसके बाद असम राइफल्स ने दो टीमें बनाई। शनिवार तड़के सुबह जनरल एरिया में उग्रवादियों के साथ मुठभेड़ हुई।

सुरक्षाबलों की उग्रवादियों के साथ हुई गोलाबारी में छह उग्रवादी मार गिराए गए है। उनके पास से 6 हथियारों के साथ लड़ाई में काम आने वाले सामान मिले हैं। मुठभेड़ में असम राइफल्स का एक जवान भी घायल भी घायल हो जिस है। घायल जवान की हालत स्थिर बताई जा रही है। जवान का इलाज सैन्य अस्पताल में चल रहा है।

यह भी पढ़ें:- UP: 55 घण्टे का लॉकडाउन जारी, प्रदेश बार्डर पर पुलिस तैनात

अरुणाचल प्रदेश के डीजीपी आर. पी. उपाध्याय  ने बताया कि एसआईबी अरुणाचल प्रदेश की ओर से दी गई खुफिया जानकारी के आधार पर 6 असम राइफल्स और अरुणाचल प्रदेश पुलिस ने लॉन्गडिंग जिले में आज सुबह ऑपरेशन किया। इस दौरान ऑपरेशन में NSCN -IM से जुड़े 6 उग्रवादी मार गिराये गये हैं। असम राइफल्स का एक जवान भी घायल हुआ है। मारे गए उग्रवादियों के पास से चार एके 47 और दो चाइनीज एमक्यू हथियार बरामद हुए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

एनकाउंटर के बाद अब विकास दुबे की संपत्ति पर सरकार की नजर, ED ने शुरू की जांच

Published

on

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाला गैंगस्टर विकास दुबे मुठभेड़ में मारा गया। जानकारी के मुताबिक अब गैंगस्टर विकास दुबे की संपत्ति की जांच होगी.  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विकास दुबे की संपत्तियों की जांच शुरू कर दी है। ईडी ने यूपी पुलिस से विकास दुबे और उसके परिवार के सदस्यों, सहयोगियों के साथ आपराधिक गतिविधियों में सहयोगियों का विवरण मांगा है। प्रवर्तन निदेशालय ने विकास दुबे के खिलाफ आपराधिक मामलों की वर्तमान स्थिति की भी जानकारी मांगी है।

ED ने कानपुर पुलिस को लिखी चिट्ठी 

विकास दुबे की संपत्तियों के बारे में ब्यौरा मांगते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने कानपुर पुलिस को चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में विकास दुबे और उससे जुड़े हुए संबंधियों और सहयोगियों की संपत्ति का ब्यौरा मांगा गया है। प्रवर्तन निदेशालय खुद विकास दुबे और उसके परिवार के सदस्यों के साथ-साथ सहयोगियों की संपत्ति की भी जांच करेगी। विकास दुबे और उसके सहयोगियों खिलाफ आपराधिक मामलों की वर्तमान स्थिति की भी जानकारी मांगी है।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे के अंतिम संस्कार के बाद छोटे बेटे संग दीप प्रकाश के घर लखनऊ पहुंची ऋचा

दुबई, थाईलैंड में निवेश की काली कमाई
इडी ने विकास दूबे की संपत्ति की सूची उतर प्रदेश पुलिस से मांगी है। विकास दुबे के नाम से लखनऊ में दो बड़े मकान हैं। जय बाजपेयी, जो कि विकास दुबे का फाइनेंसर और सबसे विश्वस्त था, उसके माध्यम से विकास दुबे ने अपनी काली कमाई का हिस्सा दुबई और थाईलैंड में निवेश किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नोटबंदी के पहले के करीब 6.30 करोड़ रुपये की नगदी को विकास दुबे ने 2% सूद पर चलाया था. बताया जा रहा है कि जय बाजपेयी ने इस 2% को 5% छूट पर मार्केट में दे रखा है। विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे से पुलिस ने कई मामलों में पूछताछ की है और खासकर नेताओं और व्यापारियों के साथ संबंध को लेकर भी पूछताछ हुई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कोरोना बना काल : पुणे और ठाणे में 10 दिनों का फिर Lockdown, नांदेड में कर्फ्यू

Published

on

पुणे​: देश ​में कोरोना वायरस संक्रमण के फैल रहे मामले की रोकथाम के लिए महाराष्ट्र के पुणे, पिंपड़ी-चिंचवाड और जिले के कुछ अन्य हिस्सों में 13 जुलाई से 10 दिनों का लॉकडाउन लगाया जाएगा। जबकि ठाणे में जारी लॉकडाउन की अवधि को 19 जुलाई तक बढ़ा दिया गया है। एवं नांदेड़ में 12 से 20 जुलाई तक कर्फ्यू लगाया जाएगा। एक अधिकारी ने ​बातचीत में बताया, कि पुणे, पिंपड़ी-चिंचवाड और जिले के कुछ अन्य हिस्सों में 13 जुलाई की आधी​ ​रात को लॉकडाउन प्रभाव में आएगा। जो 23 जुलाई तक चलेगा। बता दें कि पुणे जिले में गुरुवार को 1803 नए मरीजों के सामने आने से कोविड-19 संक्रमण के मामले 34,399 हो गए, जबकि अबतक 978 लोगों की जान चली गई है।

यह भी पढ़ें: लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन कराए पुलिस, यात्रियों को न हो असुविधा: सीएम योगी


अधिकारी के अनुसार, उपमुख्यमंत्री और जिला संरक्षक मंत्री अजीत पवार की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में लॉकडान लगाने का निर्णय लिया गया। संभागीय आयुक्त (पुणे संभाग) दीपक म्हेसेकर ने कहा, कि 13-18 जुलाई के दौरान लॉकडाउन सख्त होगा और केवल दूध, दवा की दुकानें एवं क्लीनिक को खुलने की इजाजत होगी।

बताते चलें, कि बीते गुरुवार को ठाणे में कोविड के कुल मामले 12,053 हो गए जबकि जिले में कुल 48,856 तक पहुंच गए। उधर, नांदेड़ जिले में 12 जुलाई से 20 जुलाई तक कर्फ्यू लगा रहेगा। जिला प्रशासन के दिशानिर्देश के मुताबिक, कर्फ्यू के दौरान दवा दुकानें और सरकारी कार्यालय सामान्य रूप से खुले रहेंगे। जबकि राशन की दुकानें, सब्जियों की दुकानें, दूध की दुकानें और रसोई गैस की दुकानें निर्धारित अविध के दौरान ही खुलेंगी। जिले में शुक्रवार सुबह तक कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर 558 हो गए।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 12, 2020, 7:37 am
Fog
Fog
29°C
real feel: 35°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 83%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:52 am
sunset: 6:33 pm
 

Recent Posts

Trending