Connect with us

देश

जयंती विशेष : यश भारती से सम्मानित शायर अनवर जलालपुरी ने गीता का उर्दू में किया था अनुवाद

Published

on

मैं हर बे-जान हर्फ़-ओ-लफ़्ज़ को गोया बनाता हूं
कि अपने फ़न से पत्थर को भी आईना बनाता हूं…

अनवर जलालपुरी उर्दू अदब के बड़े नामों में एक हैं, उन्होंने श्रीमद् भागवत गीता का उर्दू में अनुवाद किया था। उन्हें यश भारती पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।मुशायरों की जान माने जाने वाले जलालपुरी ने अकबर द ग्रेट धारावाहिक के संवाद भी लिखे थे।

अनवर जलालपुरी का जन्म 6 जुलाई 1947 को जलालपुर,संयुक्त प्रांत अब अम्बेडकर नगर, उत्तर प्रदेश में हुआ था। उनका असल नाम ‘अनवर अहमद’ था। उन्होंने 1966 में गोरखपुर विश्वविद्यालय से स्नातक किया। इसके बाद अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से अंग्रेजी में और अवध विश्वविद्यालय से उर्दू साहित्य में भी एम.ए. किया। अनवर जलालपुरी का अहम काम ‘गीता’ को उर्दू शायरी में ढालने का है। ‘गीता’ के 701 श्लोकों को उन्होंने 1761 उर्दू अशआर में तब्दील किया है।अनवर कहते थे ‘आज के दौर में जब इंसान-इंसान के खून का प्यासा हो रहा है, समाज में संवेदनशीलता ख़त्म होती जा रही है तब गीता की शिक्षा बेहद प्रासंगिक है। मुझे लगता था कि अगर शायरी के तौर पर इसे आवाम के सामने पेश करूं तो एक नया पाठक वर्ग इसकी तालीम से फ़ायदा उठा सकेगा।”

उन्होंने पहले 1982 में ‘गीता’ पर पीएचडी का रजिस्ट्रेशन कराया था। जब अध्ययन करना शुरू किया तो उन्हें लगा कि ये विषय बहुत बड़ा है। और शायद वे इसके साथ न्याय नहीं कर सकेंगे। चूंकि वे कवि थे, इसलिए इसके श्लोकों का उर्दू में पद्य के रूप में अनुवाद करने की कोशिश करने लगे।पहले इसमें उन्हें बहुत समय लगा, मगर फिर 10 सालों तक लगातार काम करने के बाद अनवर ने इस नामुमकिन से लगने वाले काम को मुमकिन कर दिखाया।

उनका यह भी कहना था कि- “साहित्य, दर्शन और धर्मों का तुलनात्मक अध्ययन करना शुरू से मेरी आदत में शुमार था। ‘गीता’ मुझे इसलिए अच्छी लगी क्योंकि इसमें दार्शनिक रोशनी के साथ साहित्यिक चाशनी भी है। इसकी तर्जुमानी के दौरान मैंने महसूस किया कि दुनिया की तमाम बड़ी किताबों में तकरीबन एक ही जैसा इंसानियत का पैगाम है। पूरी ‘गीता’ पढ़ने के बाद मैंने करीब 100 ऐसी बातें खोज निकालीं, जो क़ुरान और हदीस की हिदायतों से बहुत मिलती-जुलती हैं। मतलब साफ है कि अपने वक्त की आध्यात्मिक ऊंचाई पर रही शख्सियतों की सोच तकरीबन एक जैसी ही है। हम जिस मिले-जुले समाज में रह रहे हैं, उसमें एक-दूसरे को समझने की जरूरत है। मगर दिक्कत ये है कि हम समझाने की कोशिश तो करते हैं, मगर सामने वाले वो बात समझना नहीं चाहते हैं।”

2 जनवरी, 2018 को मस्तिष्क में आघात लगने से 70 वर्ष की आयु में अनवर जलालपुरी की मौत हो गयी। मौत से पहले वे उर्दू में ढली ‘गीता’ की शायरियों की ऑडियो सीडी लगभग बनवा चुके थे, जिसे भजन सम्राट अनूप जलोटा ने अपने सुरों से सजाया और पाकिस्तान जाकर गाया भी।

अनवर जलालपुरी की मौत से जो सबसे बड़ा नुकसान हुआ, वो ये कि मुशायरे का टीचर चला गया। एक टीचर के तौर पर वे हमेशा यही चाहते थे कि मुशायरे का स्तर ख़राब न होने पाए। मुशायरा सांप्रदायिकता या अश्लीलता की तरफ न जाये। वे संचालक के तौर पर नहीं बल्कि टीचर की तरह मुशायरे को चलाते थे। कभी किसी ने ख़राब शेर पढ़ा, गलत वाक्य बोला, तो वहीं टोक दिया। पर इतनी सख्ती के बावजूद उर्दू की दुनिया उनसे बच्चो की सी मोहब्बत करती थी। शायद इसलिए क्यूंकि ताउम्र उन्होंने भी प्यार बांटने के अलावा और कुछ नहीं किया।

देश

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल की ‘शस्त्र पूजा’ पर सवाल उठने पर दिया ये जवाब

Published

on

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस की तीन दिवसीय यात्रा समाप्त करके वापस देश लौट आए है। देश लौटते ही उन्होंने राफेल विमान की शस्त्र पूजा पर मचे बवाल पर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि पूजा पाठ पर सवाल उठाना ठीक नहीं है।

उन्होंने कहा, “चाहें जिसको जो कहना है कहे जो मुझे उचित लगा मैंने किया। भविष्य में भी जो उचित लगेगा मैं करूंगा। हमारी आस्था है, कोई न कोई एक सुपरपावर है, बचपन से ही मैं उसे मानता आया हूं। पूजा करने पर कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। अगर कोई दूसरे धर्म का मानने वाला होता तो वो भी उसके मुताबिक पूजा कर सकता था। चाहें वो मुस्लिम होता या क्रिश्चियन होता हमको कोई आपत्ति न होती हम उसका स्वागत करते।”

ये भी पढ़ें- छेड़छाड़ का विरोध करने पर लखनऊ मेट्रो में कार्यरत महिला को नौकरी से निकाला

राजनाथ सिंह राफेल विमान रिसीव करने के लिए फ्रांस के दौरे पर थे। बता दें, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस ने इतना दिखावा नहीं किया था जब उस समय सरकार बोफोर्स गन जैसा हथियार लेकर आई।

गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा कि फ्रांस की उनकी यात्रा बेहद सार्थक रही और इससे भारत तथा फ्रांस के द्विपक्षीय रक्षा संबंध और प्रगाढ़ होंगे। राजनाथ सिंह ने रवाना होने से पहले ट्वीट किया था कि शुक्रिया फ्रांस! मेर्सी! यह यात्रा बेहद सार्थक रही।” उन्होंने कहा,‘‘इस यात्रा के नतीजे भारत और फ्रांस के बीच रक्षा सहयोग और मजबूत करेंगे। राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों, रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली और फ्रांस सरकार के आतिथ्य के प्रति मेरा आभार।”http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

Maharashtra Election 2019: सांगली में शाह के निशाने पर रही कांग्रेस और एनसीपी

Published

on

नई दिल्ली। हरियाणा विधानसभा चुनाव के साथ महाराष्ट्र में भी चुनाव का बिगुल बज चुका है। 21 अक्टूबर नजदीक आते ही राजनीतिक पार्टियों का सियासी परा चढ़ने लगा है। बीजेपी और कांग्रेस के साथ ही अन्य दलों के शीर्ष नेता लगातार चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसी के चलते गुरुवार को बीजेपी सरकार के गृह मंत्री अमित शाह महाराष्ट्र के सांगली में रैली की। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले के बहाने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भारत को दो देश से मुक्ति मिल गई है। राहुल को आड़े हाथ लेते हुए शाह ने कहा राहुल कहते थें कि कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी, लेकिन अब पूरा कश्मीर शांत है।

एक जवान मारे तो बदले में 10 दुश्मन मारेंगे

सांगली में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि पीएम ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाकर भारत को अखंड किया है। शाह ने कहा, जब मोदी जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म करने का फैसला किया। तो कांग्रेस और एनसीपी ने इसका कड़ा विरोध किया। जब पूरा देश कश्मीर का एकीकरण चाहता था। तब कांग्रेस-एनसीपी ने विरोध किया। कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी लेकिन 5 अगस्त से 5 अक्टूबर एक महीना हो गया, एक भी गोली नहीं चलानी पड़ी। पीएम मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित की है। अगर एक भी भारतीय जवान शहीद हुआ तो उसके बदले में 10 दुश्मन मारे जाएंगे।

यह भी पढ़ें :- कांग्रेस प्रतिनिधियों से मिलने के बाद जेरेमी कॉर्बिन का कश्मीर पर विवादित बयान

गृह मंत्री अमित शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यहां की जमीन पशु मेले के लिए जानी जाती है। उन्होंने नाना पाटिल को भी प्रणाम किया। इसके बाद उन्होंने मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथ लिया। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले का कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध किया था, लेकिन इस मुद्दे पर आज पूरी दुनिया भारत के साथ है। पाकिस्तान अकेला पड़ गया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चुनावी शंखनाद हो चुका है। एक तरह भाजपा और शिवसेना देवेंद्र फणनवीस के नेतृत्व में चुनाव लड़ रहे हैं और दूसरी ओर कांग्रेस और एनसीपी जैसी परिवारवादी पार्टियां चुनावी मैदान में हैं। शाह कहा कि अभी-अभी लोकसभा का चुनाव हुआ है। जिसमें महाराष्ट्र की महान जनता ने मोदी जी की झोली में कमल ही कमल भर दिए। इसके कारण मोदीजी प्रधानमंत्री बने और 300 से ज्यादा सीटों के साथ भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

कांग्रेस प्रतिनिधियों से मिलने के बाद जेरेमी कॉर्बिन का कश्मीर पर विवादित बयान

Published

on

नई दिल्ली। राफेल विमान की पूजा को लेकर कांग्रेस पार्टी लोगों के निशाने से अभी उतरी ही नही थी। अब उस पर एक और मुसीबत बनकर टूट पड़ी है। कांग्रेस पार्टी अब एक नई मुसीबत में फंस गई है। दरअसल ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन ने कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। कांग्रेस पार्टी की प्रतिनिधि के तौर पर गुरमिंदर रंधावा भी मौजूद थीं। इस मुलाकात में कश्मीर का मुद्दा उठाया गया है। इस मीटिंग में ब्रिटेन के कॉर्बिन ने कहा कि क्षेत्र में तनाव कम करने की कोशिश होनी चाहिए और हिंसा का दौर खत्म होना चाहिए। बीजेपी ने इस पूरे मामले पर ट्वीट कर कहा है कि कांग्रेस पार्टी को जवाब देना चाहिए कि उनके नेताओं ने विदेशी नेताओं से चर्चा के दौरान क्या बात कही है।

ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन ने कहा, ‘भारत की कांग्रेस पार्टी के ब्रिटिश प्रतिनिधियों के साथ काफी अच्छी मीटिंग हुई है। इस मीटिंग में हमने कश्मीर में मानवाधिकार की स्थिति पर चर्चा की। कश्मीर में तनाव को तुरंत कम किए जाने की जरूरत है और क्षेत्र में लंबे समय से चल रहा हिंसा और डर का दौर खत्म होना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- मानहानि के मामले में कोर्ट में पेश हुए राहुल गांधी, खुद को बताया बेकसूर

भारतीय जनता पार्टी ने कॉर्बिन के इस बयान को बेहद कड़ाई से लिया है। बीजेपी ने ट्वीट कर कांग्रेस पार्टी से इसका जवाब मांगा है। बीजेपी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘भय उत्पन्न करने वाला! देश की जनता कांग्रेस पार्टी से सफाई चाहती है कि उनके नेताओं ने विदेशी नेताओं से क्या बात की है? देश की जनता कांग्रेस पार्टी को उनकी इस धोखेबाजी के लिए करारा जवाब देगी।’http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 11, 2019, 11:01 am
Hazy sunshine
Hazy sunshine
31°C
real feel: 38°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 58%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 5:33 am
sunset: 5:13 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending