Connect with us

क्राइम-कांड

बागपत: बिना अनुमति दाढ़ी रखने पर निलंबित हुआ SI, 3 बार दी गई थी हिदायत

Published

on

बागपत। उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद के रामाला थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर इंतसार अली को बिना अनुमति लंबी दाढ़ी रखने के आरोप में पुलिस अधीक्षक ने निलंबित करते हुए पुलिस लाइन भेज दिया। बताया जा रहा है कि पुलिस अधीक्षक ने दरोगा इंतसार अली को तीन बार दाढ़ी कटवाने की चेतावनी दी थी। साथ ही उन्हें दाढ़ी रखने के लिए विभाग से अनुमति लेने को भी कहा था। लेकिन पिछले कई महीनों से दरोगा इंतसार अली आदेश की अनदेखी करते हुए दाढ़ी रख रहे थे। सहारनपुर निवासी इंतसार अली यूपी पुलिस में एसआई के पद पर भर्ती हुए थे। पिछले तीन साल से वह बागपत जिले में कार्यरत हैं। लॉकडाउन से पहले उन्हें रमाला थाने में तैनाती दी गई थी। पुलिस विभाग के नियमों के विपरीत लंबी दाढ़ी रखने को लेकर चर्चा में आए थे।

यह भी पढ़ें: राशिफल: मिथुन राशि वालों को बिजनेस में सफलता मिलेगी, नई योजना बनेगी

एसपी अभिषेक सिंह ने न्यूज़ 18 से बताया कि पुलिस मैनुअल के अनुसार, पुलिस बल में तैनात रहते हुए सिख समुदाय के पुलिसकर्मियों को छोड़कर कोई भी अन्य अधिकारी या कर्मचारी दाढ़ी नहीं रख सकता और अगर कोई रखना चाहता है तो उसे प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। लेकिन, दारोगा इंतसार अली बिना अनुमति के ही दाढ़ी रख रहे थे। जिसकी शिकायत मिल रही थी। काफी समझाने और नोटिस देने के बावजूद भी उन्होंने दाढ़ी नहीं कटवाकर अनुसाशनहीनता दिखाई है। इस पर दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की गई है।
एसआई इंतसार अली का कहना है कि वह नवंबर 2019 से ही अनुमति के प्रयास में लगा हुआ है। लेकिन अभी तक विभाग से अनुमति नहीं मिल सकी है।http://satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम-कांड

बरेली के कथित लव-जेहाद मामले में आया नया मोड़, युवती का वीडियो भी वायरल

Published

on

By

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ दिनों में लव-जेहाद के कई मामले सामने आ चुके हैं। आगरा, कानपुर, सुल्तानपुर और मेरठ सहित कई जनपदों में हाल में ऐसे मुद्दों पर काफी हंगामा मच चुका है। भोली-भाली लड़कियों को प्यार के जाल में फंसाकर उनका धर्म परिवर्तन कराकर निकाह किया गया। यूपी बरेली एक ऐसा ही एक मामला इन दिनों चर्चा में है। यहां रहने वाले समुदाय विशेष के एक युवक हिन्दू समाज की युवती को अपने प्यार में फंसाकर बहला-फुसला कर भगा ले गया। चैतरफा हंगामे के बीच लड़की का एक वीडियो भी वायरल हुआ है। जिसमें युवती कह रही है कि अब वह बालिक हो चुकी है। जो कुछ भी हुआ है, वह उसकी मर्जी से हुआ। बिलाल के साथ शादी भी उसने अपनी मर्जी से की है।

कोचिंग के लिए निकली और फिर नहीं लौटी

17 अक्टूबर को कोचिंग के लिए निकली युवती अचानक गायब हो गयी। परिजनों ने जब उसकी खोज-खबर शुरू की तो पता चला कि वह एक युवक के साथ गई है। इसके बाद युवती के पिता ने इलाके के बिलाल घोसी, उसकी मां-बहन, उसके दोस्त विशाल व शिवम के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई।

कई वर्षों से युवती के पीछे पड़ा था बिलाल

युवती सहेलियों व परिजनों का कहना है कि बिलाल पिछले कई वर्षों से उसके पीछे पड़ा हुआ था। दो वर्ष पहले बिलाल ने युवती के साथ छेड़छाड़ की थी। परिजनों को पता चलने ने पर बिलाल के घर जाकर उसके पिता रजा से शिकायत भी की थी। पीडि.त पिता का आरोप है कि पुलिस से भी शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय बिलाल को चेतावनी देकर छोड़ दिया था। युवती की सहेलियों ने बताया कि बिलाल इसके बाद भी युवती को छेड़ता रहा। वह कई लड.कियों को अपने प्यार के जाल में फंसाकर उनका यौन शोषण कर चुका है।

माथे पर तिलक और हाथ पर कलावा बांधता था बिलाल

हिन्दू समाज की युवतियों को फंसाने के लिए बिलाल घोसी अपने माथे पर चंदन का तिलक लगाता था और कलाई पर कलावा बांधता था। खुद के मुस्लिम होने की पहचान छिपाकर वह सोशल मीडिया पर हिन्दू लड़कियों को अपने प्यार के झांसे में लेता था।

आठवीं फेल है बिलाल, बीएससी कर रही है छात्रा

परिजनों ने बताया कि बिलाल और छात्रा सातवीं तक एक साथ पढ़ते थे। आठवीं में फेल होने के बाद बिलाल अपने पिता के दूध के कारोबार में मदद करने लगा। इलाके में ही उसकी डेयरी की दुकान है। जबकि छात्रा ने पढ़ाई जारी रखी। युवती इस समय बीएससी करने के साथ कम्प्यूटर की कोचिंग कर रही थी। पिता ने बताया कि सब कुछ जानते हुए भी बेटी बिलाल के प्यार के झांसे में आ गई।

हिन्दू संगठनों में आक्रोश, थाने पर हंगामा

कथित लव जेहाद के इस मामले को लेकर कई दिनों से जमकर बवाल भी मचा हुआ है। भाजपा, बजरंगज दल सहित कई हिन्दू संगठनों ने स्थानीय थाने में हंगामा किया। पुलिस द्वारा अभद्रता करने पर भीड़ ने थाने में तोड़फोड़ शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज कर दिया। मामला लखनऊ तक पहुंचा। हंगामा बढ़ने पर शासन थाने के कई पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

आठ लाख रुपए और मां के जेवर भी ले गयी युवती

युवती के पिता एक निजी स्कूल में कैशियर हैं। पुलिस को दी तहरीर में पिता ने बताया कि युवती अपने साथ घर में रखे हुए आठ लाख रुपए और अपनी मां के जेवर भी ले गयी है। पिता बेटी की हत्या किए जाने की भी आशंका जाहिर की है। पुलिस युवक-युवती की तलाश में जुटी हुई है। दोनों की अंतिम लोकेशन हल्द्वानी, मुरादाबाद होते हुए दिल्ली में मिली है। हालांकि अभी तक दोनों को बरामद नहीं किया जा सका है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

6 साल की मासूम को जिंदा जलाया, फिर बोरी से ढक दी अधजली लाश, फैली सनसनी

Published

on

By

चंडीगढ़। पंजाब के होशियारपुर जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जिले के गांव टांडा के जलालपुर में देर शाम उस समय अफरा-तफरी मच गई। जब एक 6 साल की मासूम बच्ची को जिंदा जला देने का मामला सामने आया। उसकी अधजली लाश को बोरी से ढक दिया गया। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही टांडा पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बच्‍ची के शव को अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस के मुताबिक, इसका पता लगाया जा रहा है। कि मासूम की हत्या से पहले उसके साथ रेप तो नहीं किया गया। फिलहाल बच्ची के अधजले शव को पोस्मार्टम के लिए अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। बता दें किं इस घटना के बारे में उस समय पता चला जब गांव जलालपुर में बड़ी संख्या में इकठ्ठे हुए लोगों ने टांडा पुलिस को घटना के बारे में सूचित किया। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और लड़की के बारे में छानबीन करनी शुरू की।

यह भी पढ़ें: बागपत: बिना अनुमति दाढ़ी रखने पर निलंबित हुआ SI, 3 बार दी गई थी हिदायत

दोपहर से लापता थी बच्ची
जानकारी के मुताबिक 6 साल की बच्ची के पिता का नाम राहुल है जो सुजीत सिंह नाम के एक व्यक्ति का ड्राइवर है। बच्ची की मां के मुताबिक, उसकी लड़की दोपहर से ही गायब थी। लड़की की तलाश करने पर पता चला कि सुरजीत सिंह का बेटा उनकी बच्ची को अपने साथ ले गया है। इसके बाद जब सुरजीत सिंह की हवेली में जाकर देखा गया तो बोरी के साथ लड़की की अधजली लाश पड़ी हुई थी।
बता दें कि टांडा पुलिस ने बच्ची के शव को कब्जे मै ले लिया  है और पुलिस जांच में जुट गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच की बात कर रही है। पुलिस का कहना है कि जांच जारी है और जल्द ही सारी सच्चाई सामने आ जाएगी। पुलिस की मानें तो जल्द ही आरोपी उनकी गिरफ्त में होगा।http://satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

ऑपरेशन के नाम पर ऐंठे 80 हजार रूपए, ऑपरेशन न होने का आरोप

Published

on

By

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की सरकार भले ही स्वास्थ्य विभाग को लेकर चिंतित हो। लेकिन प्राइवेट हॉस्पिटलों की मनमानियां आए दिन देखने को मिल रही है। उसके बावजूद सीएमओ व डीएम इन प्राइवेट हॉस्पिटल पर कोई भी कार्यवाही नहीं करते। जिसके कारण ही प्राइवेट हॉस्पिटलों की मनमानियां बढ़ती जा रही हैं और इसके शिकार गरीब तबके के लोग होते दिख रहे हैं। ऐसा ही एक मामला जानकीपुरम के न्यू इंडिया नर्सिंग होम का देखने को मिला है। आरोप है पथरी का ऑपरेशन करने के नाम पर मोटी रकम वसूली और बिना ऑपरेशन किये ही उसको घर भेज दिया।

जानकीपुरम थाना क्षेत्र स्थित जानकीपुरम गार्डन में न्यू इंडिया नर्सिंग होम में सीतापुर से पथरी का इलाज कराने आया दीपक नामक युवक इस नर्सिंग होम का शिकार हो गया। पीड़ित दीपक का आरोप है हॉस्पिटल के डॉक्टर ने पथरी के इलाज के नाम पर उससे 80000 ₹ ऐंठ लिए लेकिन उसका ऑपरेशन नहीं किया गया। आरोप है कि नर्सिंग होम के डॉक्टर ने न चीरा लगाया न टाका सिर्फ पेट पर पट्टी को टेप से चिपकाकर बोला ऑपरेशन हो गया। पीड़ित जब घर पहुंचा तो उसके दर्द फिर उठा इस तरह दर्द उठने पर जब अल्ट्रासाउंड कराया तो उसमें फिर पथरी निकलने पर उसके होश उड़ गए। इस बात की शिकायत लेकर जब पीड़ित हॉस्पिटल पहुंचा तो उसको धमकाकर भगा दिया गया। जिसके बाद पीड़ित अपने परिवार के साथ जानकीपुरम थाने पर बैठ कर न्याय की गुहार लगा रहा है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान: कराची में एक बिल्डिंग में बड़ा धमाका, 3 की मौत 15 घायल

पीड़ित की मां का आरोप है जब वह सभी लोग न्यू इंडिया नर्सिंग होम पहुंचे तो डॉक्टरों ने उन सभी को धमकाना शुरू कर दिया। तभी बुजुर्ग मां ने पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो डॉक्टर आग बबूला हो गए और उन्होंने जहर का इंजेक्शन लगाने की बात कह डाली। इस तरह की बातों से घबराकर जब परिजन थाने पहुंचे तो न्यू इंडिया नर्सिंग होम के डॉक्टर ने महमूदाबाद में हुए अल्ट्रासाउंड को मानने से ही इनकार कर दिया। जिसके बाद ही पीड़ित ने एक बार फिर लखनऊ में अपना अल्ट्रासाउंड कराया जिसमें पथरी होने की बात सामने आई।

अब देखने वाली बात तो यह है कि प्राइवेट नर्सिंग होम पर लगातार गरीब मजदूरों के साथ धन उगाही की जा रही है। लेकिन जिम्मेदार इन नर्सिंग होम कर कोई कार्रवाई नहीं करते नजर आते हैं। साथ ही बताते चलें कि इस घटना पर जब नर्सिंग होम के जिम्मेदारों से बात की गई तो उन्होंने कुछ भी बोलने से साफ इंकार कर दिया है। लेकिन देखने वाली बात तो यह होगी कि प्राइवेट नर्सिंग होम पर जिस तरह धन उगाही के मामले सामने आ रहे हैं उस पर जिम्मेदार अधिकारी किया कुछ कार्रवाई करते हैं।http://satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

कार की नंबर प्लेट पर लिखवाया अखिलेश यादव, SSP ने काटा चालान

Published

on

By

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक शख्स के अपनी गाड़ी के नम्बर प्लेट पर अखिलेश यादव लिखना भारी पड़ गया मामला वाराणसी के फूलपुर थाना क्षेत्र के बाबतपुर इलाके का है जहां वाराणसी पुलिस कप्तान अमित पाठक की नजर एक चार पहिया वाहन पर पड़ी तो उसका चालान कट गया स्कॉर्पियो गाड़ी की नंबर प्लेट की जगह पर अखिलेश यादव लिखा था जिसके बाद मोटर व्हीकल एक्ट के तहत उसका चालान किया गया

दरअसल, एसएसपी अमित पाठक की नजर चार पहिया वाहन के नम्बर प्लेट पर पड़ी जिस पर बड़े-बड़े शब्दों में अखिलेश यादव लिखा हुआ था जबकि गाड़ी नम्बर एक कोने में लिखा हुआ था कप्तान अमित पाठक ने तुरंत अपना काफिला रोका और गाड़ी के पास जाकर गाड़ी मालिक से पूछताछ कीगाड़ी मालिक ने रौब झड़ने की कोशिश की लेकिन अखिलेश यादव वाले नम्बर प्लेट होने के बावजूद कप्तान ने गाड़ी को सीज करने का निर्देश दे दिया जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने गाड़ी थाने ले जाकर खड़ी कर दी एसएसपी के इस कार्रवाई के बाद शहर में इसकी चर्चा है तो वहीं समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में रोष भी है

यह भी पढ़ें: उपचुनाव से ठीक पहले सिंधिया खेमे के दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा, CM ने दी मंजूरी

सपा ने जताया रोष
समाजवादी पार्टी के युवजन सभा के जिला अध्यक्ष सत्य प्रकाश सोनकर ने बताया कि सरकार विपक्ष के नेताओं को निशाना बना रही है जिसका जरिया यूपी पुलिस बनी हुई है समाजवादी नेता लगातार जनता की आवाज उठा रही है जिसे पुलिस द्वारा दबाने की कोशिश की जा रही है उधर आरटीओ से मिली जानकारी के अनुसार, उपरोक्त चार पहिया वाहन बड़ागांव क्षेत्र के वाजिदपुर गांव निवासी मूलचंद लालमन के नाम से रजिस्टर्ड हैhttp://satyodaya.com

Continue Reading

Trending